फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में
फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में

हिंदी और इंग्लिश में जानिए फलों के नाम

फलों के नाम हिंदी में और फलों के नाम अंग्रेजी में से जुड़ी जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

फल, प्रकृति की सुंदर, स्वादिष्ट और सेहतमंद देन है। फल ऐसी खाने की चीज है जिसका सेवन हर कोई बिना किसी सोच- विचार के साथ कर सकता है। सेहतमंद डाइट में फलों का होना बेहद महत्वपूर्ण है। इनमें ऐसे पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जो कई बीमारियों से बचाव करते हैं।

इतनी शानदार खाने की चीज के बारे में जानकारी होनी जरूरी है। इस आर्टिकल से आप फलों के नाम हिंदी में (falon ke naam hindi mein) और इंग्लिश में (falon ke naam angreji mein) प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ ही फलों से जुड़ी अन्य जानकारी भी ले सकते हैं।

फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में (fruits name in hindi and english) कुछ प्रकार हैं।

फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में

पॉपुलर फलों का नाम हिंदी में (hindi phalon ke naam) क्या है और इन्हें इंग्लिश में (falon ke naam angreji mein) किस नाम से जाना जाता है। यहां से आप फलों के नाम हिंदी में और फलों के नाम अंग्रेजी (fruits name in hindi and english) से जुड़ी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

1. ड्रैगन फल = Dragon Fruit

ड्रैगन फ्रूट
ड्रैगन फ्रूट

ड्रैगन फ्रूट देखने में कमल के फूल की तरह होता है। यह कम बारिश वाली जगह पर उगता है। 100 ग्राम में 60 कैलोरी, 1.2 ग्राम प्रोटीन, 0 ग्राम फैट, 13 ग्राम कार्ब्स, 3 ग्राम फाइबर और 3% विटामिन सी रोजाना की जरूरत का मिलता है। ड्रैगन फ्रूट एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो फ्री रेडिकल जैसे तत्व से लड़ने में मदद करता है। ऐसे बहुत कम हुआ है कि ड्रैगन फल से एलर्जी हो सकती है। इसका उपयोग स्मूदी, फ्रूट साल्सा, जैम, आइसक्रीम, फ्रूट सलाद आदि बनाने के लिए किया जा सकता है।    

2. आड़ू/ सतालू = Peach

आडू
आडू

आड़ू सबसे सेहतमंद फलों में से एक है। इसकी मीठी खुशबू आनंदमय होती है। आपको बता दें कि एक बड़े आड़ू (147 ग्राम) में 68 कैलोरी, 2 ग्राम फाइबर, 1.3 ग्राम प्रोटीन के साथ विटामिन ए, सी और पोटैशियम भी पाया जाता है। आड़ू के फायदे कई सारे हैं जैसे कि इसका सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर लेवल सामान्य बना रहता है जिससे दिल सेहतमंद रहता है। फाइबर से भरपूर होने के कारण स्वस्थ डाइजेशन में मदद करता है। इसमें माइक्रोन्यूट्रिएंट्स और प्रीबायोटिक्स पाए जाते हैं जो सूजन कम करने में लाभदायक साबित हो सकते हैं। इसके अलावा यह स्ट्रांग इम्यूनिटी, सेहतमंद आंखें और त्वचा में भी मदद करता है।

3. कीवी = Kiwi

कटी हुई कीवी
कटी हुई कीवी

कीवी खाने में जितनी स्वादिष्ट होती है उतने ही लाभदायक कीवी के फायदे हैं। आपको बता दें कि 100 ग्राम कीवी में 64 कैलोरी, 14 ग्राम कार्ब्स, 3 ग्राम फाइबर, 0.44 फैट, 1 ग्राम प्रोटीन, 83% विटामिन सी (डेली वैल्यू), 9% विटामिन ई (डीवी), 34% विटामिन के (डीवी), 7% फोलेट (डीवी), 15% कॉपर (डीवी), 4% पोटैशियम (डीवी), 4% मैग्नीशियम (डीवी)। कीवी विटामिन सी और ई से भरपूर होता है जो प्लांट कंपाउंड का बेहतरीन स्रोत है। डाइट में कीवी शामिल करने से दिल की बीमारी होने के आसार कम हो सकते हैं। इसमें सॉल्युबल और इनसॉल्युबल फाइबर पाए जाते हैं जो स्वस्थ पाचन शक्ति में लाभदायक होते हैं। आमतौर पर आपने सुना होगा कि प्लेटलेट्स कम होने पर कीवी खाने के फायदे बढ़ जाते हैं।

4. नाशपाती = Pear

नाशपाती
नाशपाती

पूरी दुनिया में लगभग 100 से ज्यादा प्रकार की नाशपाती उगाई जाती है। यह मीठा और मुलायम फल है जो अपने साथ कई फायदे लेकर आता है। आपको बता दें कि एक मीडियम साइज नाशपाती में 101 कैलोरी, 1 ग्राम प्रोटीन, 27 ग्राम कार्ब्स, 6 ग्राम फाइबर, 12 विटामिन सी (डेली वैल्यू), 6 विटामिन के (डीवी), 4 पोटैशियम (डीवी), 16 कॉपर (डीवी) पाए जाते हैं। इसमें सॉल्युबल और इनसॉल्युबल फाइबर पाए जाते हैं जो स्वस्थ डाइजेशन और सेहतमंद आंत के लिए लाभदायक हैं। इसके अलावा नाशापाती में प्लांट कंपाउंड पाए जाते हैं जो दिल की बीमारी होने के आसार कम करने में मदद करते हैं। इनमें कैलोरी की मात्रा कम, पानी की मात्रा ज्यादा और फाइबर से भरपूर होती है जो वेट लॉस में मदद कर सकते हैं। नाशपाती को ओटमील, सलाद, स्मूदी में आसानी से शामिल कर सकते हैं।

5. कमरख, करम्बोला = Star Fruit

कमरख या स्टार फ्रूट
कमरख या स्टार फ्रूट

कमरख फल को अंग्रेजी में स्टार फ्रूट के नाम से जाना जाता है। इस फल के आकार के कारण इसका नाम स्टार फ्रूट है। यह खाने में खट्टा- मीठा होता है। मीडियम साइज स्टार फ्रूट के पौष्टिक तत्व कुछ प्रकार है- 28 कैलोरी, 6 ग्राम कार्ब्स, 3 ग्राम फाइबर, 1 ग्राम प्रोटीन, 52% विटामिन सी (आरडीआई), 4% विटामिन बी5 (आरडीआई), 3% फोलेट (आरडीआई), 6% कॉपर (आरडीआई), 3% पोटैशियम (आरडीआई), 2% मैग्निशियम (आरडीआई)। यह प्लांट कंपाउंड से भरपूर होता है जो कई बीमारियों से बचाव करता है। जिन लोगों को किडनी की दिक्कत उन्हें इसका सेवन नहीं करना चाहिए। या फिर डॉक्टर से सलाह जरूर लें।  

6. जामुन = Black Berry/ jawa plum

जामुन
जामुन

जामुन का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। जामुन गर्मियों का फल जो अपने साथ कई सारे फायदे लेकर आता है। यह विटामिन सी और आयरन से भरपूर होते हैं जो हीमोग्लोबिन बढ़ाने में मदद करते हैं। आयरन का सेवन करने से खून साफ होने में मदद करता है। डाइटरी फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण कोलेस्ट्रॉल लेवल सामान्य बना रहता है जिससे दिल सेहतमंद रहता है। इसके फायदे कब्ज, गैस, पेट में रुकावट जैसी दिक्कतों से राहत दिलाने में भी मदद करते हैं। कैलोरी की मात्रा कम और फाइबर से भरपूर होने के कारण वेट लॉस में मदद मिलती है। जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि जामुन का सेवन करने से खून साफ रहने में मदद मिलती है जिससे त्वचा भी स्वस्थ बनी रहती है। 

7. अंजीर = Fig Fruit

कटे और साबुत अंजीर
कटे और साबुत अंजीर

अंजीर मीठा फल है जिसमें बहुत सारे छोटे- छोटे बीज होते हैं। 40 ग्राम अंजीर में 30 कैलोरी, 0 ग्राम प्रोटीन, 0 ग्राम फैट, 8 ग्राम कार्ब्स, 1 ग्राम फाइबर, 3% कॉपर (डीवी), 2% मैग्नीशियम (डीवी), 2% पोटैशियम (डीवी), 2% राइबोफ्लेविन (डीवी), 2% थायमिन (डीवी), 3% विटामिन ब6 (डीवी), 2% विटामिन के (डीवी) पाया जाता है। अंजीर के फायदे कई सारे हैं जैसे कि सेहतमंद डाइजेशन, सेहतमंद दिल, सामान्य ब्लड शुगर लेवल, स्वस्थ त्वचा आदि। अंजीर को डाइट में कई तरह से शामिल किया जा सकता है जैसे कि ताज़ा फल, सूखा, अंजीर की पत्तियां, अंजीर की पत्तियों की चाय।

8. आम = Mango

प्लेट में कटे हुए आम
प्लेट में कटे हुए आम

इसके पौष्टिक तत्व और स्वाद के कारण आम को फलों का राजा कहा जाता है। यह रमायण और महाभारत के समय से मौजूद है। आम के फायदे कई सारे हैं जैसे कि पोषण से भरपूर, लो कैलोरी, डायबिटीज से बचाव, सेहतमंद प्लांट कंपाउंड, स्ट्रांग इम्यूनिटी, सेहतमंद डाइजेशन, स्वस्थ आंखें। एक कप (165 ग्राम) ताज़ा आम का पौष्टिक तत्व कुछ इस प्रकार है- 99 कैलोरी, 1.4 ग्राम प्रोटीन, 24.7 ग्राम कार्ब्स, 0.6 ग्राम फैट, 2.6 ग्राम फाइबर, 22.5 ग्राम शुगर, 67% विटामिन सी (डीवी), 20% कॉपर (डीवी), 18% फोलेट (डीवी), 12% विटामिन बी6 (डीवी), 10% विटामिन ए (डीवी), 10% विटामिन ई (डीवी), 6% विटामिन के (डीवी), 7% नायसिन (डीवी), 6% पोटैशियम (डीवी), 5% राइबोफ्लेविन (डीवी), 4% मैग्नीशियम (डीवी), 4% थायमिन (डीवी)। आम से कई डिश बनाई जा सकती है जैसे कि मैंगो साल्सा, स्मूदी, आइसक्रीम, केक, मैंगोशेक आदि। 

9. सीताफल/ शरीफा = Custard Apple

सीताफल
सीताफल

सीताफल/ शरीफा को अंग्रेजी में कस्टर्ड एप्पल कहा जाता है। इसके क्रीमी टैक्शर के कारण से कस्टर्ड एप्पल नाम दिया गया है। आमतौर पर इसका सेवन ठंडा किया जाता है। सीताफल के फायदे कई सारे हैं जैसे कि एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, मूड अच्छा करने में लाभदायक, स्वस्थ आंखें, सामान्य ब्लड प्रेशर, स्वस्थ डाइजेशन, सूजन से लड़ने में लाभदायक, स्ट्रांग इम्यूनिटी। सीताफल का सेवन स्वादिष्ट तरीके से किया जा सकता है जैसे कि सलाद, आइसक्रीम, मिल्कशेक, योगर्ट ड्रिंक्स आदि। 

10. सेब = Apple

पेड़ पर लटके हुए सेब
पेड़ पर लटके हुए सेब

यह बात बिल्कुल सही है कि दिन में एक सेब खाने से आप डॉक्टर से दूर रहेंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि सेब के फायदे पौष्टिक तत्व से भरपूर होते हैं। 200 ग्राम सेब में 104 कैलोरी, 28 ग्राम कार्ब्स, 5 ग्राम फाइबर, 10% विटामिन सी (डीवी), 6% कॉपर (डीवी), 5% पोटैशियम (डीवी), 5% विटामिन के (डीवी) पाया जाता है। सेब के फायदे कई सारे हैं जैसे कि वेट लॉस, सेहतमंद दिल, डायबिटीज होने के कम आसार, सेहतमंद आंत, अस्थमा में लाभदायक, स्वस्थ दिमाग आदि। 

11. अमरूद = Guava

पेड़ पर अमरूद
पेड़ पर अमरूद

अमरूद सर्दी का फल है जो हरे, पीले रंग के होते हैं और इनमें छोटे- छोटे बीज होते हैं। अमरूद के फायदे एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन सी, पोटैशियम और फाइबर से भरपूर होते हैं। इसके अलावा अमरूद खाने के फायदे लो ब्लड शुगर, सेहतमंद दिल, मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द में आराम, स्वस्थ पाचन शक्ति, वेट लॉस, स्ट्रांग इम्यूनिटी, सेहतमंद त्वचा में मदद करते हैं। आमतौर पर अमरूद का सेवन इसे काटकर काला नमक, सफेद नमक डालकर किया जाता है।

12. केला = Banana

केले
केले

केला हर मौसम का फल है और आमतौर पर यह साल भर मिलता है। केले के फायदे कई सारे हैं जैसे कि पौष्टिक तत्व से भरपूर, सामान्य ब्लड शुगर लेवल, सेहतमंद डाइजेशन, वेट लॉस, सेहतमंद दिल, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, लंबे समय तक पेट भरा रहता है। केले से कई डिश बना सकते हैं जैसे कि फ्रूट सलाद, ओटमील में डालें, बनाना शेक, बनाना पाई, बनाना केक, बनाना कुकी आदि।

13. अनानास = Pineapple

अनानास
अनानास

अनानास को अंग्रेजी में पाइन एप्पल के नाम से जाना जाता है। यह पाइन कोर्न की तरह दिखता है जिस वजह से यूरोपीय उपनिवेशवादियों ने इसका नाम पाइन एप्पल रख दिया था। अनानास के फायदे कई सारे हैं जैसे कि पोषण से भरपूर, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, स्वस्थ डाइजेशन, स्ट्रांग इम्यूनिटी, सूजन में आराम, गठिया में लाभदायक। सही मात्रा में रोजाना अनानास खाने से शरीर के अंग अंदर से साफ और स्वस्थ रहते हैं। एक दिन में एक कप अनानास का सेवन करना पर्याप्त है।

14. अंगूर = Grapes

अंगूर के गुच्छे
अंगूर के गुच्छे

अंगूर गुच्छे में आते हैं और आमतौर पर यह हरे और काले रंग में मिलते हैं। इनके साइज पर नहीं चाहिए क्योंकि अंगूर के फायदे काफी बड़े हैं। अंगूर के फायदे कई सारे हैं जैसे कि स्ट्रांग इम्यूनिटी, लो ब्लड प्रेशर, सेहतमंद दिल, सामान्य कोलेस्ट्रॉल, डायबिटीज से बचाव, स्वस्थ दिमाग, मजबूत हड्डियां आदि। 1 कप अंगूर पोषण से भरपूर होता है- 104 कैलोरी, 27 ग्राम कार्ब्स, 1 ग्राम प्रोटीन, 0.2 ग्राम फैट, 1.4 ग्राम फाइबर, 21% कॉपर (डीवी), 18% विटामिन के (डीवी), 9% थायमिन (डीवी), 8% विटामिन बी2 (डीवी), 8% विटामिन बी6 (डीवी), 6% पोटैशियम (डीवी), 5% विटामिन सी (डीवी), 5% मैग्निशियम (डीवी), 2% विटामिन ई (डीवी)। 

15. खरबूजा = Muskmelon

कटा और साबुत खरबूजा
कटा और साबुत खरबूजा

गर्मियों में खरबूजा डाइट में जरूर शामिल करने क्योंकि इससे शरीर हाइड्रेट रहता है। इसमें पानी की मात्रा होती है जिस वजह से इसका सेवन करना महत्वपूर्ण हो जाता है। इसके अलावा खरबूजा के फायदे कई सारे हैं जैसे कि स्ट्रांग इम्यूनिटी, स्वस्थ आंखें, सेहतमंद दिल, स्वस्थ आंत, वेट लॉस, स्ट्रेस में लाभदायक। इसे वेट लॉस डाइट में भी शामिल कर सकते हैं क्योंकि इसमें कैलोरी की मात्रा कम होती है और यह फाइबर से भरपूर होता है जो वेट लॉस के लिए जरूरी है। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है जो सेहतमंद त्वचा में मदद करता है।

16. तरबूज = Watermelon

कटा हुआ तरबूज
कटा हुआ तरबूज

तरबूज गर्मियों का फल है जो बाहर से हरा होता है और अंदर से लाल होता है जिसमें काले बीज होते हैं। यह खाने में जितना स्वादिष्ट होता है उतने ही लाभदायक इसके फायदे हैं। तरबूज के फायदे हाइड्रेट रहने में लाभदायक, पौष्टिक तत्व से भरपूर, सेहतमंद दिल, सूजन में आराम, मांसपेशियों के दर्द में आराम, सेहतमंद त्वचा आदि। अधिक मात्रा में तरबूज खाने से नुकसान भी हो सकते हैं क्योंकि यह पोटैशियम से भरपूर होता है। अधिक मात्रा में पोटैशियम का सेवन करने से दस्त, मितली, अपच, पेट में रुकावट जैसी दिक्कतें हो सकती है।   

17. नींबू = Lemon

दो नींबू
दो नींबू

शरीर हाइड्रेट रखने के लिए नींबू गर्मियों की दिनचर्या में महत्वपूर्ण हिस्सा बन जाता है। नींबू पानी पीने से गर्मी सहन करने की ताकत मिलती है। नींबू विटामिन सी, फाइबर और अन्य प्लांट कंपाउंड से भरपूर होते हैं। इसके अलावा नींबू के फायदे कई सारे हैं जैसे कि सेहतमंद दिल, वेट लॉस, पथरी से बचाव, सेहतमंद डाइजेश आदि। किसी भी सिंपल डिश में नींबू का रस डालने से अनोखा फ्लेवर शामिल हो जाता है। नींबू की मदद से कई शानदार ड्रिंक्स भी बनाई जाती हैं।

18. आंवला = Gooseberry

आंवला
आंवला

आंवला पौष्टिक तत्व से भरपूर होता है। आंवला के फायदे कई सारे हैं जैसे कि लो कैलोरी, लो फैट, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, सामान्य ब्लड शुगर लेवल, स्वस्थ दिमाग, सेहतमंद दिल, डाइट में शामिल करना आसान आदि। 1 कप (150 ग्राम) आंवला के पौष्टिक तत्व कुछ प्रकार है- 66 कैलोरी, 1 ग्राम प्रोटीन, 1 ग्राम से कम फैट, 15 ग्राम कार्ब्स, 7 ग्राम फाइबर, 46% विटामिन सी (डीवी), 9% विटामिन बी5 (डीवी), 7% विटामिन बी6 (डीवी), 12% कॉपर (डीवी)।

19. नारियल = Coconut

सूखा नारियल
सूखा नारियल

नारियल का उपयोग कई कारण से किया जाता है जैसे कि नारियल पानी, नारियल का दूध, नारियल का तेल आदि। पूरी दुनिया में नारियल अपने फ्लेवर, खाने में उपयोग किए जाने के कारण और सेहतमंद फायदे के लिए पॉपुलर हैं। नारियल के फायदे कई सारे हैं जैसे कि एंटी-बैक्टीरियल गुण, सामान्य ब्लड शुगर लेवल, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर। नारियल से कई डिश बना सकते हैं जैसे कि कोकोनट ओट्स, नारियल की चटनी, नारियल के लड्डू, नारियल की बर्फी, कोकोनट केक, कोकोनट आइसक्रीम आदि। 

20. खजूर = Date

प्लेट में खजूर
प्लेट में खजूर

खजूर खाने में मीठे होते हैं और यह सूखे और सॉफ्ट रूप में उपलब्ध हैं। स्वादिष्ट होने के साथ- साथ खजूर के फायदे पोषण से भरपूर होते हैं। आपको बता दें 100 ग्राम खजूर में 277 कैलोरी, 75 ग्राम कार्ब्स, 7 ग्राम फाइबर, 2 ग्राम प्रोटीन, 20% पोटैशियम (आरडीआई), 14% मैग्नीशियम (आरडीआई), 18% कॉपर (आरडीआई), 15% मैंगनीज (आरडीआई), 5% आयरन (आरडीआई), 12% विटामिन (आरडीआई)। खजूर फाइबर से भरपूर होते हैं जो कब्ज से राहत दिलाने में मदद करते हैं। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण कई बीमारी होने के आसार कम हो जाते हैं। डाइट में खजूर शामिल करने से दिमाग की सेहत अच्छी हो सकती है। इसके अलावा खजूर के फायदे मजबूत हड्डियां और सामान्य ब्लड शुगर बनाए रखने में भी मदद करते हैं।

21. खुबानी/ ज़र्दालू = Apricot

खुबानी
खुबानी

खुबानी पोषण से भरपूर होती है। 2 ताज़ा खुबानी (70 ग्राम) पौष्टिक तत्व कुछ इस प्रकार है- 34 कैलोरी, 8 ग्राम कार्ब्स, 1 ग्राम प्रोटीन, 0.27 ग्राम फैट, 1.5 ग्राम फाइबर, 8% विटामिन ए (डीवी), 8% विटामिन सी (डीवी), 4% विटामिन ई (डीवी), 4% पोटैशियम (डीवी)। खुबानी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है जिस वजह से डायबिटीज, दिल की बीमारी होने के आसार कम हो सकते हैं। विटामिन ए और ई से भरपूर होने के कारण खुबानी के फायदे स्वस्थ आंखों के लिए बढ़ जाते हैं। सूरज की किरणें, प्रदूषण से होने वाले नुकसान से बचाव मिल सकता है क्योंकि खुबानी के फायदे विटामिन सी, ई और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। इसके फायदे स्वस्थ आंत के लिए भी जाने जाते हैं। इस फल में प्राकृतिक रूप से पानी की मात्रा ज्यादा होती है जिससे ब्लड प्रेशर, शरीर का तापमान, दिल सेहतमंद रहता है। डाइट में खुबानी आसानी से शामिल कर सकते हैं जैसे कि ताज़ा स्नैक्स की तरह, योगर्ट या सलाद में शामिल करें, डेजर्ट बनाएं जैसे कि पाई, केक या पेस्ट्री।

22. मक्खन फल = Avocado

कटोरी में कटा हुआ एवोकाडो
एवोकाडो

हाल ही के समय मक्खन फल जिसे अंग्रेजी में एवोकाडो नाम से जाना जाता है, यह अपने सेहतमंद फायदे के लिए काफी पॉपुलर हो रहे हैं। फाइबर से भरपूर होने के कारण मक्खन फल के फायदे स्वस्थ आंत के लिए बढ़ जाते हैं। इसका सेवन करने से स्वस्थ पाचन शक्ति में भी मदद मिलती है। एवोकाडो के फायदे सेहतमंद दिल, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, एंटी-इंफ्लामेट्री, सेहतमंद वजन के लिए जाने जाते हैं। एवोकाडो डाइट में बहुत आसानी से शामिल किया जा सकता है जैसे कि ग्रीक योगर्ट, स्मूदी, सूप, सलाद, एवोकाडो ब्रेड, टोस्ट, टाको, ड्रेसिंग आदि।  

23. अनार = Pomegranate

बिखरे हुए अनार और अनार के दाने
बिखरे हुए अनार और अनार के दाने

अनार छीलने पर इसके अंदर लाल, रसीले और स्वादिष्ट अनार के दाने निकलते हैं जो अपने साथ कई फायदे लेकर आते हैं। अनार एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो फ्री-रेडिकल से बचाव करने में मदद करते हैं। इसका सेवन करने से सूजन से राहत मिल सकती है। डाइट में अनार शामिल करने से ब्लड प्रेशर सामान्य बना रहता है जिससे दिल की सेहत अच्छी बनी रहती है। सही मात्रा में अनार खाने से पथरी होने के आसार कम हो जाते हैं। इसमें ऐसे कुछ कंपाउंड होते हैं जो हानिकारक बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करते हैं। इनमें एलागिटैनिन्स नाम का कंपाउंड पाया जाता है जो दिमाग स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है।

24. संतरा = Orange

साबुत और कटा हुआ संतरा
साबुत और कटा हुआ संतरा

संतरे के फायदे विटामिन सी से भरपूर होते हैं और आपको बता दें कि हर प्रकार के संतरे में आपकी रोजाना की जरूरत का 100% से ज्यादा विटामिन सी पाया जाता है। इसके अलावा संतरे में कई पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जैसे कि 60 कैलोरी, 3 ग्राम फाइबर, 12 ग्राम शुगर, 1 ग्राम प्रोटीन, 14 माइक्रोग्राम विटामिन ए, 70 मिलीग्राम विटामिन सी, 6% कैल्शियम (डीवी), 237 मिलीग्राम पोटैशियम, 15.4 ग्राम कार्बोहाइड्रेट। संतरे के फायदे खराब सेल सुधारने में मदद, स्ट्रांग इम्यूनिटी और फ्री रेडिकल से लड़ने में भी मदद करते हैं।

25. मौसंबी = Sweet Lime

मौसंबी
मौसंबी

मौसंबी खट्टा फल है जिसका जूस आमतौर पर पॉपुलर है। यह लो कैलोरी फल है। औसत, एक मौसंबी 106 ग्राम की होती है जिसमें 45 कैलोरी, 0.8 ग्राम प्रोटीन, 53 एमजी विटामिन सी, 0.3 ग्राम फैट, 90.2 एमसीजी विटामिन ए. 41.64 ग्राम डाइटरी फाइबर पाया जाता है। मौसंबी के फायदे कई सारे हैं जैसे कि स्ट्रांग इम्यूनिटी, स्वस्थ डाइजेशन, हाइड्रेट, सेहतमंद आंखे, त्वचा और बाल, वेट लॉस में लाभदायक, छालों में असरदार, मजबूत हड्डियां, मितली और उलटी में लाभदायक आदि।

26. ब्लूबेरी/ नीलबदरी = Blueberry

कटोरी में ब्लूबेरी
कटोरी में ब्लूबेरी

ब्लूबेरी के फायदे विटामिन, मिनरल्स और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती हैं जो फ्री रेडिकल से लड़ने में मदद करते हैं। फ्री रेडिकल रोगजनक सेल होते हैं जो बीमारी का मुख्य कारण है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट कोलेस्ट्रॉल लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद करते हैं। हाई बी.पी होने पर ब्लूबेरी लाभदायक साबित हो सकती है। इसके अलावा डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल भी सामान्य बना रहता है। यह टाइप-2 डायबिटीज में लाभदायक हो सकती है। 

27. लीची = Lychee

कटोरी में लीची
कटोरी में लीची

लीची पानी और कार्ब्स से भरपूर होती है। इसमें 82% पानी और 16.5% कार्ब्स होता है। 100 ग्राम ताज़ा लीची में 66 कैलोरी, 0.8 ग्राम प्रोटीन, 16.5 ग्राम कार्ब्स, 15.2 ग्राम शुगर, 1.3 ग्राम फाइबर और 0.4 ग्राम फैट पाया जाता है। एक लीची में लगभग 9% विटामिन सी पाया जाता है। इसमें पोटैशियम भी पाया जाता है जो सेहतमंद दिल के लिए लाभदायक है।

28. स्ट्रॉबेरी = Strawberry

कटोरी में स्ट्रॉबेरी
कटोरी में स्ट्रॉबेरी

स्ट्रॉबेरी ब्राइट लाल, रसीली और मीठी होती हैं। यह विटामिन सी, मैंगनीज, फोलेट और पोटैशियम से भरपूर होती है। स्ट्रॉबेरी में एंटीऑक्सीडेंट और प्लांट कंपाउंड पाए जाते हैं जो सेहतमंद दिल और सामान्य ब्लड शुगर लेवल के लिए लाभदायक है। 100 ग्राम स्ट्रॉबेरी में 32 कैलोरी, 91% पानी, 0.7 ग्राम प्रोटीन, 7.7 ग्राम कार्ब्स, 4.9 ग्राम शुगर, 2 ग्राम फाइबर और 0.3 ग्राम फैट पाया जाता है। स्ट्रॉबेरी के फायदे कई सारे हैं जैसे कि सेहतमंद दिल, सामान्य ब्लड शुगर।

29. बेर = Jujube

बेर
बेर

बेर में कैलोरी की मात्रा कम होती है और यह फाइबर, विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होते हैं। 100 ग्राम बेर में 79 कैलोरी, 1 ग्राम प्रोटीन, 0 ग्राम फैट, 20 ग्राम कार्ब्स, 10 ग्राम फाइबर, 77% विटामिन सी (डीवी), 5% पोटैशियम (डीवी) पाया जाता है। बेर एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं जो फ्री रेडिकल के खतरे से बचाव करते हैं। बेर का सेवन करने से अच्छी नींद आने में मदद मिलती है। यह विटामिन सी से भरपूर होते हैं जो इम्यूनिटी स्ट्रांग बनाने में मदद करते हैं। इस फल में लगभग 50% कार्ब्स फाइबर से आता है जो डाइजेशन स्वस्थ बनाए रखने में मदद करते हैं।

30. चीकू/ नसबेरी = Sapodilla/Sapota

साबुत और कटा हुआ चीकू
चीकू

चीकू गोल आकार होता है जो बाहर से भूरे रंग का होता है। यह हाई कैलोरी फल है और 100 ग्राम में 83 कैलोरी होती है। चीकू के फायदे कई सारे हैं। ग्लूकोज और कैलोरी से भरपूर होने के कारण यह इंस्टेंट एनर्जी देने में मदद करता है। यह विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है जो इम्यूनिटी स्ट्रांग बनाने में मदद करते हैं। विटामिन, मिनरल्स, एंटीऑक्सीडेंट और डाइटरी फाइबर से भरपूर होने के कारण यह सेहतमंद त्वचा के लिए लाभदायक हैं। इसमें टेनिन नाम का कंपाउंड पाया जाता है जो स्वस्थ आंत बनाए रखने में मदद करता है। कैल्शियम और फास्फोरस से भरपूर होने के कारण यह हड्डियों को मजबूत बनाने में भी मदद करता है। मैग्नीशियम और पोटैशियम से भरपूर होने के कारण ब्लड प्रेशर सामान्य बना रहता है।

31. ग्लास मेवा = Cherry

चैरी
चेरी

ग्लास मेवा को अंग्रेजी में चैरी कहा जाता है। यह फल देखने में जितना सुंदर होता है उतने ही लाजवाब चैरी के फायदे हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट और एंटी- इंफ्लामेट्री गुणों से भरपूर है जो कई गंभीर बीमारी से बचाव कर सकता है। इसके साथ ही मांसपेशियों में सूजन और दर्द से राहत मिल सकती है। कई अध्ययन में पाया गया है कि चैरी का सेवन करने से दिल की सेहत अच्छी बनी रहती है। इसकी मदद से दिल की धड़कने सामान्य बनी रहती है और शरीर से एक्सट्रा सोडियम बाहर निकालने में मदद मिलती है। गठिया से जुड़ी दिक्कतें होने के आसार कम हो सकते हैं। चैरी जूस पीने से अच्छी नींद में मदद मिल सकती है। चैरी का सेवन स्नैक्स, ओटमील, चिया पुडिंग, फ्रूट सलाद, जूस, डेजर्ट, स्मूदी में कर सकते हैं।

32. कृष्णा फल = Passion Fruit

कृष्णा फल अपने खट्टे स्वाद के कारण जाना जाता है। यह विटामिन से भरपूर है जो स्ट्रांग इम्यूनिटी के लिए महत्वपूर्ण है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल से बचाव करते हैं जो बीमारी पैदा करने का मुख्य कारण है। आमतौर पर फलों में प्राकृतिक शुगर होती है लेकिन कृष्णा फल का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है जिससे ब्लड ग्लूकोज लेवल सामान्य बना रहता है। एक्सपर्ट की सलाह के बाद, यह डायबिटीज में अच्छा ऑप्शन बन सकता है। फाइबर से भरपूर होने के कारण डाइजेशन स्वस्थ तरीके से होता है। इसमें सही मात्रा में पोटैशियम पाया जाता है जो दिल सेहतमंद बनाए रखने में मदद करता है। कृष्ण फल का सेवन कच्चा फल, स्मूदी, ओटमील, सलाद ड्रेसिंग या डेजर्ट के रूप में कर सकते हैं। 

33. कटहल = Jackfruit

कटहल
कटहल

कटहल का उपयोग इसके अनोखे मीठे फ्लेवर के कारण कई डिश में किया जाता है। गर्मियों में कटहल बहुत आसानी से मिल जाता है। कटहल के फायदे कई सारे हैं जैसे कि सामान्य ब्लड शुगर लेवल, गंभीर बीमारी से बचाव, स्ट्रांग इम्यूनिटी, सेहतमंद त्वचा, स्वस्थ दिल। इसे डाइट में स्वादिष्ट तरीके से शामिल किया जा सकता है।

34. बेल = Wood Apple/Bael

बेलपत्र
बेलपत्र

गर्मियों से राहत पाने के लिए बेल का सेवन किया जाता है। भारत में गर्मी के मौसम में आपको सड़क किनारे बेल पत्र जूस जरूर मिलेगा। इसका सेवन गर्मी, लू सहन करने के लिए किया जाता है। यह अपने साथ कई फायदे लेकर आता है जैसे कि एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, स्वस्थ आंत, दस्त में आराम, स्ट्रांग इम्यूनिटी, स्वस्थ डाइजेशन, कब्ज से राहत। गुड़ के साथ बेल खाने से एनर्जी मिलती है। उबली हुई बेल की पत्तियों का सेवन करने से हाई ब्लड प्रेशर में आराम मिलता है।  

35. आलूबुखारा = Plum/ Sloe

आलूबुखारा के फायदे इसके पौष्टिक तत्व के कारण जाने जाते हैं। एक आलू बुखारा में 30 कैलोरी, 8 ग3ाम कार्ब्स, 1 ग्राम फाइबर, 7 ग्राम फाइबर, 5% विटामिन ए (डीवी), 10% विटामिन सी (डीवी), 5% विटामिन के (डीवी), 3% पोटैशियम (डीवी), 2% कॉपर (डीवी), 2% मैंगनीज (डीवी) पाया जाता है। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण फ्री रेडिकल के खतरे और सूजन से बचाव मिलता है। इसके अलावा कई फायदे जैसे कि लो ब्लड शुगर लेवल, मजबूत हड्डियां, सेहतमंद दिल आदि। आलू बुखारा डाइट में आसानी से शामिल किया जा सकता है जैसे कि सलाद, स्मूदी आदि।

36. रसभरी = Raspberry

कटोरी में रसभरी
रसभरी

रसभरी स्वादिष्ट होने के साथ- साथ बहुमुखी होती हैं जिसे डाइट में स्वादिष्ट तरीके से शामिल किया जा सकता है। इसके साथ ही रसभरी के फायदे कई सारे हैं जैसे कि लो शुगर, एंटी- एजिंग एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, फाइबर से भरपूर, डायबिटीज में लाभदायक, स्वस्थ दिमाग। इसका सेवन ओटमील, सलाद, साइड डिश, डेजर्ट की तरह किया जा सकता है।

37. गन्ना = Sugar Cane

गन्ने
गन्ने

भारत में सर्दियों में गन्ने का सेवन और गर्मियों में गन्ने के जूस का सेवन किया जाता है। गन्ने के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं जो इम्यूनिटी स्ट्रांग बनाने में मदद करते हैं। यह फ्री रेडिकल से भी लड़ने में मदद करते हैं जो बीमारी पैदा करने का मुख्य कारण है। गन्ने में प्राकृतिक रूप से सुक्रोज पाया जाता है जो एनर्जी देने में मदद करता है। गर्मियों में गन्ने का जूस पीने से शरीर हाइड्रेट रहता है। आयुर्वेद के अनुसार, पीलिया में में गन्ने के जूस का सेवन कर सकते हैं। गन्ने का जूस एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है जो लिवर इंफेक्शन से लड़ने में मदद करता है। यह पोटैशियम से भरपूर है जो स्वस्थ पाचन शक्ति में मदद करते हैं।        

38. शहतूत = Mulberry

लाल और काले शहतूत
काले शहतूत

ताज़ा शहतूत के फायदे कई सारे हैं। 100 ग्राम शहतूत में 43 कैलोरी, 88% पानी, 1.4 ग्राम प्रोटीन, 9.8 ग्राम कार्ब्स, 8.1 ग्राम शुगर, 1.7 ग्राम फाइबर और 0.4 ग्राम फैट पाया जाता है। शहतूत के फायदे लो कोलेस्ट्रॉल, सामान्य ब्लड शुगर लेवल में लाभदायक होते हैं। यह आयरन, विटामिन सी और अन्य प्लांट कंपाउंड के स्रोत है। 

39. खिरनी = Mimusops

खिरनी गर्मियों का फल है जिसका स्वाद मीठा होता है। यह विटामिन सी से भरपूर है जो इम्यूनिटी स्ट्रांग बनाने में मदद करता है। यह फ्री रेडिकल से लड़ने में मदद करता है जो बीमारी पैदा करने का मुख्य कारण है। इसमें विटामिन ए, बी, सी पाए जाते हैं जो सेहतमंद दिनचर्या के लिए अनिवार्य हैं।

40. जैतून = Olive Fruit

कटोरी में जैतून
जैतून

जैतून का साइज छोटा होता है लेकिन यह अपने साथ बड़े फायदे लेकर आते हैं। यह विटामिन ई और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। 100 ग्राम पके हुए जैतून में 115 कैलोरी, 80% पानी, 0.8 ग्राम प्रोटीन, 6.3 ग्राम कार्ब्स, 0 ग्राम शुगर, 3.2 ग्राम फाइबर और 10.7 ग्राम पाया जाता है। जैतून एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं जो गंभीर बीमारी से बचाव कर सकते हैं। इनमें फैटी एसिड पाया जाता है जो हाई ब्लड कोलेस्ट्रॉल और हाई ब्लड प्रेशर सामान्य बनाए रखने में मदद करता है जिससे दिल भी सेहतमंद रहता है। 

41. क्रैनबेरी = Cranberry

क्रैनबेरी
क्रैनबेरी

क्रैनबेरी बेरी परिवार से है। तेज़ और खट्टा स्वाद होने के कारण क्रैनबेरी का सेवन आमतौर पर जूस के रूप में किया जाता है। 100 ग्राम कच्ची, अनस्वीटन क्रैबेरी में 46 कैलोरी, 87%, 0.4 ग्राम प्रोटीन, 12.2 ग्राम कार्ब्स, 4 ग्राम शुगर, 4.6 ग्राम फाइबर और 0.1 ग्राम फैट पाया जाता है। क्रैनबेरी का सेवन करने से अच्छा कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ता है और खराब कोलेस्ट्रॉल लेवल कम रहता है। इसके साथ ब्लड प्रेशर लेवल कम रहता है जिससे दिल सेहतमंद रहता है।  

42. इमली = Tamarind

इमली
इमली

इमली का नाम लेते ही इसका स्वाद याद आ जाता है जिससे आंखें अपने आप बंद हो जाती हैं। चटपटी और फ्लेवर से भरपूर इमली के फायदे कई सारे हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है जो दिल की सेहत अच्छी बनाए रखने में मदद करती है। एक अध्ययन में पाया गया है कि इमली के अर्क का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है। यह मैग्निशियम से भरपूर है जो ब्लड प्रेशर सामान्य बनाए रखने में मदद करते हैं। इसमें एंटी-फंगल, एंटी-वायरल और एंटी- बैक्टीरियल गुण होते हैं। इमली का उपयोग कई तरह से किया जा सकता है जैसे कि खाने में इमली की चटनी, ड्रिंक और डेजर्ट बनाए जा सकते हैं। इसका इस्तेमाल दवाई के रूप में कब्ज, बुखार और मलेरिया में किया जाता है।

43. शकरकंद = Sweet Potato

शकरकंद
शकरकंद

शकरकंद को अंग्रेजी में स्वीट पोटैटो कहा जाता है जिसे भारत में सर्दियों में खाया जाता है। यह कई में मिलते हैं जैसे कि नारंगी, सफेद, बैंगनी। शकरकंद के फायदे कई सारे हैं। यह फाइबर से भरपूर होते हैं जो आंत स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इससे कब्ज से राहत मिलती है और पेट में रुकावट होने के आसार कम हो जाते हैं। यह बीटा- कैरोटीन से भरपूर होते हैं जो स्वस्थ आंखों के लिए लाभदायक हैं। मनुष्य के शरीर में बीटा- कैरोटीन विटामिन ए में बदल जाता है जो आंखों की रोशनी के लिए अच्छा होता है। बैंगनी शकरकंद का सेवन करने से दिमाग की सेहत अच्छी बनी रहती है। इनमें एंथोसायनिन नाम का कंपाउंड पाया जाता है जो स्वस्थ दिमाग रखने में मदद करते हैं।

सारांश

इस आर्टिकल से आप फलों के नाम हिंदी में (falon ke naam hindi mein) और फलों के नाम अंग्रेजी में (falon ke naam angreji mein) से जुड़ी विस्तार से प्राप्त कर सकते हैं। यहां से आप फलों से जुड़ी अन्य महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं जैसे कि पोषण, फलों के फायदे, क्या डिश बना सकते हैं, डाइट में कैसे शामिल करें।

यहां रक लगभग पॉपुलर फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में (fruits name in hindi and english) दिए गए हैं।

आप अपनी डाइट में फल कैसे शामिल करते हैं?

FAQs

फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में से जुड़ी जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

फलों के फायदे कई सारे हैं जैसे कि सामान्य ब्लड प्रेशर, अपच, सेहतमंद दिल, डायबिटीज और अन्य गंभीर बीमारी से बचाव रहता है।

रोजाना फलों का सेवन करने से डाइट में सही मात्रा में पौष्टिक तत्व, दिल की बीमारी होने के कम आसार, सामान्य ब्लड प्रेशर रहता है।

टॉप 10 सेहतमंद फल हैं- सेब, एवोकाडो, केला, खट्टे फल, नारियल, अंगूर, पपीता, अनानस, स्ट्रॉबेरी और तरबूज।

रोजाना खाने के लिए डाइट में अनानास, सेब, ब्लूबेरी, आम शामिल कर सकते हैं। इन्हें शामिल करने से सेहतमंद दिल, सूजन में आराम और इम्यूनिटी स्ट्रांग बनती है।

आमतौर पर फलों का सेवन सुबह या दोहपर के समय में करना चाहिए। सोने से पहले फल खाने से नींद आने में परेशानी और अपच हो सकती है। आयुर्वेद के अनुसार सोने से 3-4 घंटे पहले फलों का सेवन किया जा सकता है। इसके साथ ही डिनर और फल खाने में सही समय का अंतर भी होना जरूरी है क्योंकि इन दोनों का प्रभाव पाचन शक्ति पर अलग- अलग होता है।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments