इमली के फायदे, इस्तेमाल, नुकसान (Tamarind- Benefits, Uses, Side Effects In Hindi)

इमली के फायदे, इस्तेमाल, नुकसान (Tamarind- Benefits, Uses, Side Effects In Hindi)

benefits of tamarind

इमली के फायदे, इस्तेमाल, नुकसान (Tamarind- Benefits, Uses, Side Effects In Hindi)

इमली के फायदे (Benefits Of Tamarind) लगभग पूरे शरीर के लिए हैं जैसे कि सेहतमंद दिल, स्वस्थ लिवर, बाल, त्वचा, दांत आदि। इमली का इस्तेमाल कैसे करें, यहां से जानें।

इमकी का नाम सुनते ही इसका खट्टा- मीठा स्वाद सबसे पहले याद आता है। आपको बता दें कि इमली के फायदे (imli ke fayde) इस खट्टे- मीठे स्वाद के कारण कई सारे हैं। इमली एक ट्रॉपिकल फल है जिसको कई देशों के साथ- साथ भारत में भी उगाया जाता है। इमली के फायदे (imli ke fayde) एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर हैं जो दिल को सेहतमंद बनाने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा इमली के फायदे मैग्नीशियम से भी भरपूर हैं जो ब्लड प्रेशर सामान्य बनाने में सहायता करते हैं। इसके साथ ही इमली का इस्तेमाल खाने में सबसे ज्यादा किया जाता है जिससे खाने का स्वाद खट्टा- मीठा और लाजवाब हो जाता है। इमली के फायदे (imli ke fayde), इस्तेमाल, नुकसान से जुड़ी जानकारी इस आर्टिकल से प्राप्त कर सकते हैं।

 

इमली के फायदे (imli ke fayde) डाइट में शामिल करें।

 

विषय सूची

इमली के पौष्टिक तत्व (Tamarind Nutritional Value In Hindi)

इमली के फायदे (imli ke fayde) इसमें मौजूद पौष्टिक तत्व के कारण मिलते हैं। इस खट्टी- मीठी इमली के कई फायदे हैं अगर इसका सेवन सही तरह किया जाए। खाने के स्वाद को बढ़ाने वाली इमली के पौष्टिक तत्व से जुड़ी जानकारी नीचे दी गई टेबल से ले सकते हैं (1)।

 

पोषण मात्रा – 120 ग्राम
मैग्ननीयिम 28% (रेफ्रेंस डेली इनटेक (आरडीआई))
पोटैशियम 22% आरडीआई
आयरन 19% आरडीआई
कैल्शियम 9% आरडीआई
फोस्फॉरस 14% आरडीआई
विटामिन बी1 34% आरडीआई
विटामिन बी2 11% आरडीआई
विटामिन बी3 12% आरडीआई

 

इमली के फायदे (Benefits of Tamarind In Hindi)

अगर आपको पता चले कि इमली के फायदे (imli ke fayde) बहुत सारे हैं तो आप इसे अपनी डाइट में जरुर शामिल करना चाहेंगे। इसके के स्वाद के कारण इमली के लाभ अधिकतर लोग आसानी से शामिल करना चाहेंगे। इमली के गुण सेहतमंद दिल से भी जुड़े हुए हैं। इमली के फायदे (imli ke fayde) से जुड़ी विस्तार से जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

 

इमली के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर हैं (Benefits Of Tamarind Are Full Of Antioxidants)

इमले खाने के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर हैं। एंटीऑक्सीडेंट हमारे शरीर को बहारी रोगजनक तत्वों से बचाकर रखने में मदद करते हैं। बहारी रोगजनक फ्री रेडिकल होते हैं जो बीमारी पैदा करने के मुख्य कारण होते हैं। फ्री रेडिकल आपके शरीर के स्वस्थ सेल के साथ मिल जाते हैं और इन्हें अस्वस्थ बना देते हैं। यहां पर एंटीऑक्सीडेंट अपना काम करते हैं। फ्री रेडिकल को स्वस्थ सेल के साथ मिलने से पहले ही खत्म कर देते हैं। इसलिए शरीर में एंटीऑक्सीडेंट होने बेहद जरुरी हैं। अपने शरीर को एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर रखने के लिए आप इमली को डाइट में शामिल कर सकते हैं।

 

इमली खाने के फायदे (imli khane ke fayde) एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर हैं।

 

इमली खाने के फायदे सेहतमंद दिल के लिए (Benefits Of Imli For Healthy Heart)

इमली के फायदे सेहतमंद दिल के लिए भी जाने जाते हैं। इमली में मौजूद फ्लेवोनॉयड्स कोलेस्ट्रॉल लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद करता है। हाई कोलेस्ट्रॉल वाले हैम्स्टर पर किए गए एक अध्ययन में यह दिखाया गया है कि इमली के अर्क की मदद से कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होने में मदद मिलती है और साथ ही खराब कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कम होता है (2)। इमली में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करते हैं जो दिल को सेहतमंद बनाए रखने के लिए जरुरी है (3)।

 

इमली के गुण- एंटी फंगल, एंटी वायरल, एंटी बैक्टीरियल (Tamarind Have Anti-Fungal, Antiviral And Antibacterial Effects)

इमली खाने के फायदे (imli khane ke fayde) कई गुणों से भरपूर होते हैं जैसे कि एंटी- फंगल, एंटी- वायरल और एंटी- बैक्टीरियल। इमली में प्राकृतिक कंपाउंड होते हैं जिनमें एटी- माइक्रोबियल गुण होते हैं (4)। इमली के फायदे (imli ke fayde) पांरपरिक दवाई के रूप में भी इस्तेमाल किए जाते हैं। इमली को मलेरिया होने पर इस्तेमाल किया जाता है (5)। लेकिन अभी भी इस विषय पर रिसर्च जारी है।

 

इमली के फायदे कई गुणों से भरपूर होते हैं।

 

इमली के फायदे कब्ज और दस्त में लाभदायक (Tamarind Benefits In Constipation And Diarrhea)

इमली खाने के फायदे (imli khane ke fayde) बहुत लंबे समय से लिए जा रहे हैं। इमली का इस्तेमाल पारंपरिक दवाई के रूप में भी किया जाता है। आपको बता दें कि इमली को दस्त और कब्ज में इस्तेमाल किया जा सकता है। इमली के फायदे (imli ke fayde)

इसमें मौजूद डाइटरी फाइबर, पोटैशियम आदि के कारण हैं। यह सभी पौष्टिक तत्व दस्त और कब्ज से राहत देने में मदद करते हैं। दस्त के दौरान इमली की पत्तियों को पानी में मिलाकर दिया जाना चाहिए। लेकिन इसके बावजूद डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

Buy Tamarind/Imli Online

इमली में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं (Benefits Of Tamarind As A Antiseptic)

इमली के गुण बहुत लंबे समय से इंसानों को पता हैं। पहले के ज़माने में प्राकृतिक चीजों को बीमारी ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। आपको बता दें कि इमली के फायदे (imli ke fayde) मलेरिया ठीक करने के लिए इस्तेमाल किए जाते थे। कई अध्ययनों में यह बताया गया है कि इमकी के अर्क में प्राकृतिक कंपाउंड होते हैं जिनमें एंटी- माइक्रोबियल गुण होते हैं। यह गुण मलेरिया को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किए जा सकते हैं।

 

इमली में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं।

 

इमली खाने के फायदे स्वस्थ लिवर के लिए (Benefits Of Imli For Healthy Liver)

इमली के फायदे (imli ke fayde) स्वस्थ लिवर के लिए भी जाने जाते हैं। शरीर में ज़हरीले पदार्थ की मात्रा ज्यादा होने पर इमली लिवर के बचाव में मदद करती है। ज्याद टोक्सिक पदार्थ का सेवन करने से लिवर में टोक्सिक पदार्थ की मात्रा बढ़ सकती है जिससे लिवर अपना काम सही से नहीं कर पाएगा।

 

इमली के फायदे गर्भवति महिला के लिए (Benefits Of Tamarind During Pregnancy)

इमली खाने के फायदे (imli khane ke fayde) गर्भवति महिला के लिए खासतौर पर जाने जाते हैं। गर्भवति महिला को मिलती होना आम बात माना जाता है जिसके लिए इमली के फायदे (imli ke fayde) लंबे समय से जाने जाते हैं। इमली खाने से मितली से राहत मिलने में मदद मिलती है। इमली को सीधा खाया जा सकता है।

 

इमली खाने के फायदे (imli khane ke fayde) गर्भवति महिलाओं के लिए भी हैं।

 

इमली खाने के फायदे वजन कम करने के लिए (Tamarind Benefits For Weight Loss)

आपको बता दें कि इमली के फायदे (imli ke fayde) वजन कम करने के लिए भी जाने जाते हैं। इमली में हाइड्रॉक्सिल एसिड पाया जाता है जो फैट को बर्न करने में मदद करता है। इमली का सेवन सही मात्रा में करने से वजन कम होने में मदद मिल सकती है। इस बात का ध्यान रखें कि इमली का सेवन वजन कम करने के लिए सही मात्रा में ही करें।

More Options Of Imli To Buy

इमली के लाभ आंखों के लिए (Benefits Of Imli For Eyes)

इमली के फायदे (imli ke fayde) आंखों के लिए भी मौजूद हैं। आंखों में धूल मिट्टी जाने से आंखों में जलन और यहां तक की सूजन भी हो सकती है। आंखों की जलन दूर करने के लिए इमली के पत्तों का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसा करने से आंखों को ठंडक मिल सकती है।

 

इमली के फायदे (imli ke fayde) आंखों के लिए कई सारे हैं।

 

इमली के फायदे दांतों के लिए (Benefits Of Tamarind For Teeth)

अगर आपको अपने दांतों स्ट्रोंग, स्वस्थ रखना चाहते हैं तो इमली के फायदे (imli ke fayde) आपके काम आ सकती हैं। इमली में कई गुण होते हैं जैसे कि एंटी- बैक्टीरियल, एंटी- माइक्रोबियल जो दांतों की सड़न से लड़ने में मदद करते हैं। इसके साथ दांतों में कीड़े लगने के आसार भी कम हो जाते हैं। दांतों को स्वस्थ रखने के लिए आप इमली के पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

 

इमली के लाभ त्वचा के लिए (Tamarind Benefits For Skin In Hindi)

इमली के फायदे (imli ke fayde) सेहत के साथ- साथ त्वचा के लिए भी मौजूद हैं। मुहांसों के लिए इमली के फायदे (imli ke fayde) बहुत काम आ सकते हैं। इमली में मौजूद गुण त्वचा को साफ करने में मदद कर सकते हैं। इमली का इस्तेमाल त्वचा के लिए बहुत आसानी से किया जा सकता है।

एक कटोरी में इमली का अर्क, दही और हल्दी पाउडर मिक्स करें और पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को त्वचा पर 15- 20 मिनट के लिए लगाकर रखें और फिर पानी से धो लें। ऐसा करने से त्वचा से गंदगी निकल जाती है और त्वता ताज़ा हो जाती है।

 

इमली के फायदे (imli ke fayde) बालों के लिए।

 

इमली के फायदे बालों के लिए (Benefits Of Tamarind For Hair In Hindi)

इमली के फायदे (imli ke fayde) बालों के लिए मौजूद हैं। बदलते मौसम, धूल- मिट्टी, गंदगी, पसीने के कारण बाल कमज़ोर हो जाते हैं और रूसी भी बढ़ जाती है। ऐसा करने बाल झड़ने लग जाते हैं। बाल झड़ने के लिए घरेलू उपाय अपनाने चाहिए। इमली को भी स्वस्थ बालों के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

इमली को गर्म पानी में भिगाएं और थोड़ी देर बाद बालों पर यह मिश्रण लगाएं। मिश्रण को 30 मिनट के लिए लगाकर रखें और मालिश करें। इसके बाद पानी से बालों को धो लें।

 

इमली से बनने वाली डिश (Dishes To Make With Tamarind In Hindi)

इमली खाने के फायदे (imli khane ke fayde) जानने के बाद आपको यह भी जानना जरुरी है कि इमली से क्या बनाया जा सकता है। वैसे तो इमली का इस्तेमाल किसी भी डिश के स्वाद को बढ़ाने के लिए किया जाता है। यहां से आप इमली इस्तेमाल करने के तरीके से जुड़ी आइडिया ले सकते हैं।

 

इमली की चटनी (Tamarind Chutney)

इमली की चटनी जितनी स्वादिष्ट होती है उतना चटनी बनानी आसान है। इमली की चटनी को किसी भी चीज के साथ खाया जा सकता है। इसके साथ इमली की चटनी को स्टोर भी किया जा सकता है।

इमली की चटनी बनाने की विधि

 

  • इमली की चटनी बनाने के लिए पानी गर्म करें।
  • गर्म पानी में इमली डालें।
  • इमली की गुठली को इमली के गुद्दे से अच्छे से अलग कर लें।
  • अब इमली को छान लें और गुठली अलग कर लें।
  • गैस पर बर्तन रखें और उसमें छानी हुई इमली डालें।
  • इमले की उबलने दें।
  • इमली उबले के बाद इसमें गुड़, काला नमक, सौंठ, जीरा पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और अच्छे से मिलाएं और इमली की चटनी पकने दें।
  • 10 मिनट तक इमली की चटनी पकने दें।
  • इमली की चटनी तैयार है और इसे आप फ्रिज में स्टोर भी कर सकते हैं।

 

इमली की चटनी घर में बनाएं।
इमेज क्रडिट- commons.wikimedia.org

 

इमली का अचार (Tamarind Pickle)

आपको बता दें कि इमली का अचार भी बनाया जा सकता है। इमली का अचार बनाना आसान है। इमली का अचार बनाने की विधि की जानकारी नीचे से ले सकते हैं।

इमली का अचार बनाने की विधि

 

  • इमली का अचार बनाने के लिए सबसे पहल साबुत इमली लें और इन्हें अच्छे से धो लें।
  • इमली पर थोड़ा पानी छिड़के और इन्हें साइड में रख दें।
  • अब जीरा पाउडर, धनिया पाउडर, सौंफ और लाल मिर्च लें और रोस्ट कर लें।
  • अब गैस पर बर्तन रखें और सरसों का तेल गर्म करें।
  • तेल गर्म होने के बाद इसमें सौंफ डालें।
  • अब इसमें गुड़ के टुकड़ें डालें और पिघलने दें।
  • गुड़ पिघलने के बाद इसमें इमली डालें।
  • 5 मिनट के लिए पकाएं।
  • अब नमक डालें और पकाएं।
  • अब इसमें भुना हुआ मसाला डालें और पकाएं।
  • इमली का अचार ठंडा होने दें।
  • ठंडा होने के बाद अचार तैयार है।

 

इमली का अचार स्टोर करें।
इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

 

इमली का पानी गोल गप्पे के लिए (Tamarind Water For Gol Gappe)

अगर आपने घर में गोल गप्पे बनाए हैं तो इमली का पानी बनान भी जरुरी है। इमली का खट्टा- मीठा पानी आसानी से बनाया जा सकता है।

इमली का पानी बनाने की विधि

 

  • गोल गप्पों के लिए इमली का पानी बनाने के लिए सबसे पहले गर्म पानी इमली डालें।
  • इमली से गुद्दा और गुठली अलग कर लें।
  • इमली का पानी छान लें और गुठली अलग कर लें।
  • अब इमली के पानी में नमक, काला नमक, लाल मिर्च पाउडर, भुना हुआ जीरा पाउडर, बारीक कटा हुआ धनिया और प्याज डालें।
  • अच्छे से मिलाएं।
  • गोल गप्पों के लिए इमली का पानी तैयार है।

 

इमली के चावल (Tamarind Rice)

इमली के चावल साउथ इंडिया में ज्यादा पॉपुलर हैं। आप चाहें देश के किसी भी कोने में रहें, हर जगह का स्वाद आपकी किचन में आसानी से आ सकता है। इमली वाले चावल बनाने की विधि यहां से जानें।

इमली के चावल बनाने की विधि

 

  • इमली के चावल बनाने के लिए सबसे पहले इमली को गर्म पानी डालें।
  • इमली से गुठली और गुद्दे अलग कर लें और छान लें।
  • अब कढ़ाई में तेल डालें।
  • तेल गर्म होने के बाद सरसों के बीज, उड़द दाल डालें और अच्छे से पकाएं।
  • अब साबुत लाल मिर्च, हींग, हल्दी, प्याज, करी पत्ता डालें और सोते करें।
  • अब इमली का पानी और स्वाद के अनुसार नमक डालें।
  • यह मिश्रण पकने के बाद इसमें उबले हुए चावल डालें।
  • इमली वाले चावल तैयार हैं।

 

खट्टे- मीठे इमली के चावल आसानी से बनाएं।
इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

 

इमली के नुकसान (Side Effects Of Tamarind In Hindi)

इमली के फायदे (imli ke fayde) जानने के साथ- साथ यह जरुरी है कि इमली के नुकसान के बारे में जानकारी प्राप्त करें। आपको बता दें कि अधिक मात्रा में इमली का सेवन करने से इमली के नुकसान हो सकते हैं। इसलिए इमली का सेवन करते समय इस बात का खास ध्यान रखें। इमली के नुकसान से जुड़ी जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

 

  • डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही गर्भवति महिला इमली का सेवन करें।
  • अधिक मात्रा में इमली खाने से ब्लड शुगर लेवल कम हो सकता है।
  • अगर आप कोई सर्जरी करवाने वाले हैं तो इमली का सेवन लगभग 2 हफ्ते पहले बंद कर दें। इमली का सेवन करने से ब्लड क्लोटिंग में दिक्कत हो सकती है।
  • इमली से एलर्जी होने पर त्वचा पर खुजली, जलन आदि हो सकता है।
  • गले में दर्द, खराश होने पर इमली का सेवन ना करें।

 

आखिर में

इमली के फायदे (imli ke fayde) कई सारे हैं जैसे कि इमली दिल को स्वस्थ रखती है, इसके साथ ही दांतों, बालों और त्वचा को भी स्वस्थ बनाने में मदद करते हैं। लेकिन यह सारी फायदे तभी मिलेंगे जब आप इमली का सेवन सही मात्रा में करेंगे। गर्भवति महिलाएं इमली का सेवन ध्यानपूर्वक करें और डॉक्टर से सलाह जरुर लें। इमली से कई सारी डिश भी बनाई जा सकती हैं। इमली के डिश के आइडिया भी आप इस आर्टिकल से ले सकते हैं। इमली खाने के फायदे (imli khane ke fayde) सही मात्रा में लें और स्वस्थ रहें।

 

FAQs

 

  1. इमली खाने के नुकसान क्या हैं? (What are the side effects of tamarind?)

    अधिक मात्रा में इमली खाने से नुकसान हो सकते हैं जैसे कि कब्ज, दस्त, मिलती, लिवर में दिक्कत आदि।

  2. एक दिन में कितनी मात्रा में इमली खानी चाहिए? (How much tamarind should I eat daily?)

    एक दिन 100 ग्राम इमली खाने से इमली में मौजूद अधिकतर पौष्टिक तत्व मिल जाते हैं।

  3. क्या इमली खाना अच्छा है? (Is eating tamarind good for you?)

    सही मात्रा में इमली खाने के कई फायदे मिल सकते हैं जैसे कि सेहतमंद दिल, स्वस्थ दांत, बाल, त्वचा और लिवर।

  4. क्या इमली से वजन कम होता है? (Can tamarind reduce belly fat?)

    सही मात्रा और सही तरीके से इमली खाने से वजन कम होने में मदद मिल सकती है। इमली खाने से मेटाबोलिज्म बढ़ता है जिससे फैट बर्न होने में मदद मिलती है।

 

लेखक के बारे में

सुरभि शर्मा मिश्री में हिंदी लेखिका हैं। इ्न्हें सवाल पूछना बहुत पसंद है शायद इसी कारण से इनके आर्टिकल आपको विस्तार जानकारी के साथ मिलेंगे। इनका कहना है कि अपने शौक को करियर में बदलने से अच्छा और क्या हो सकता है। लिखने के साथ- साथ और भी कई शोक रहे हैं लेकिन अब इन्हें लगता है कि यह अपना पसंदीदा काम कर रही हैं। 

इस लेखक द्वारा अधिक लेख

 

सुरभि शर्मा

मेरा नाम सुरभि शर्मा है। मिश्री में मैं हिंदी लेखक के तौर पर काम करती हूं। मुझे दो काम बहुत पसंद हैं- लिखना और खाना और ताजुब की बात है कि मेरा काम भी इसी से जुड़ा हुआ है। खाने से जुड़ी सही और सटीक जानकारी लोगों को देने मैं अपनी जिम्मेदारी समझती हूं जिससे लोगों को हमेशा बेस्ट के बारे में पता चले। मेरी कोशिश हमेशा अपने रीडर्स को सही जानकारी देने की रहेगी।

Comments (2)

  • Pawan agarwal Reply

    Imlee high pressure walo ko Lani chahi ya nahi
    Agar aspirin lata ho to

    July 18, 2021 at 4:58 pm
    • mishryhindi Reply

      हैलो पवन अग्रवाल
      इमली के फायदे लो ब्लड प्रेशर और खराब कोलेस्ट्रॉल लेवल कम बनाए रखने के लिए जाने जाते हैं। इमली में मौजूद हाई फाइबर और पोटैशियम ब्लड प्रेशर लेवल कम बनाए रखने में लाभदायक हैं। रोजाना डाइट में शामिल करने के लिए आप एक्सपर्ट की भी सलाह ले सकते हैं।
      आप किस तरह से इमली डाइट में शामिल करते हैं?
      धन्यवाद।

      July 19, 2021 at 3:06 pm

Leave a Reply on इमली के फायदे, इस्तेमाल, नुकसान (Tamarind- Benefits, Uses, Side Effects In Hindi)

Your email address will not be published. Required fields are marked *