9 अमरूद के फायदे और प्रकार (9 Amazing Benefits Of Guava & Types Of Guava Fruit)
guava-mishry

9 अमरूद के फायदे और प्रकार (9 Amazing Benefits Of Guava & Types Of Guava Fruit)

अगर आपको ऐसा फल चाहिए जिससे आपको फाइबर, मिनरल्स और विटामिन के गुण मिलें तो आप अपनी डाइट में अमरूद को शामिल कर सकते हैं।

अमरूद ट्रॉपिकल फलों में से एक है जिसको पूरी दुनिया में इसके रसीलेदार और फायदे के लिए खाया जाता है। इस फल का जन्म सेंट्रल अमेरिका और मैक्सिको में हुआ था और हाल ही के कुछ सालों में इसकी डिमांड में काफी उछाल आया है। अमरूद अपनी पत्तियों के साथ बहुत ज्यादा लाभदायक है और इससे होने वाले कई फायदो को लेकर अभी भी जांच जारी है। अमेरिका के मध्यकालीन युग में इसको पारंपरिक गतिविधियों के लिए इस्तेमाल किया जाता था। फाइटोकेमिकल्स जैसे कि कैरोटीनॉयड, पॉलीफेनोल, गैलोसैचिन, ल्यूकोसायनिडिन के त्वाच में मौजूद होते हैं। लाल- नारंगी रंग के अमरूद में कैरोटीनॉयड और पॉलीफेनोल ज्यादा मात्रा में पाया जाता है। यहां तक की जो तेल इस फल से निकाला जाता है उसमें विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जिस कारण आप इस फल को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इसके अलावा डायट्री फाइबर, विटामिन सी और सामान्य मात्रा में फोलिक एसिड भी इसमें पाया जाता है जो इसको सर्दियों का सेहतमंद फल बनाता है।

अमरूद के फायदे

कई सारे पोष्टिक आहार से भरपूर अमरूद को अपनी डाइट में शामिल करने के बाद आपको इससे कई सारे फायदे मिलेंगे। आइए अमरूद से जुड़े फायदो के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करते हैं।

वीडियो- अमरुद के फायदे यहां से देखें

https://www.youtube.com/watch?v=Eicum_eTUsA

1. एंटीऑक्सीडेंट

अमरूद विटामिन और फाइटोकेमिकल्स से भरपूर होने के कारण एक अच्छा एंटीऑक्सीडेंट का माध्यम है। फ्री रेडिकल खून में पाए जाते हैं जो स्वस्थ सेल के साथ मिल जाते हैं। ऐसा होने से स्वस्थ सेल को नुकसान पहुंचता है। वहीं अगर आपकी डाइट में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा बनी रहेगी तो फ्री रेडिकल स्वस्थ सेल के साथ नहीं मिल पाएंगे और नुकसान होने के भी कम आसार हैं।

आपकी डाइट में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा बनी रहेगी तो
फ्री रेडिकल स्वस्थ सेल के साथ नहीं मिल पाएंगे

2. स्वस्थ पाचन शक्ति

अमरूद डायट्री फाइबर से भरपूर होता है। डायट्री फाइबर का सेवन करने से आपका पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है जिससे खाना धीरे- धीरे पचता है। ऐसा करने से पाचन में दिक्कत नहीं आती है। फाइबर को पचने में समय लगता है और साथ ही ज्यादा मेहनत भी लगती है जिससे शरीर का मैटाबोलिज्म बढ़ता है।

3. वजन कम करने में मदद

जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि अमरूद में फाइबर पाया जाता है। अपनी डाइट में फाइबर को शामिल करने से आपका पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है जिससे आप बार-बार खाना नहीं खाते हैं। फाइबर को पचने में ज्यादा समय लगता है जिससे शरीर का मैटाबोलिज्म भी बढ़ता है और वजन कम होने में मदद मिलती है।

यह भी पढ़ें- वजन कम करने के उपाय (How To Lose Weight Naturally)

4. डायबटीज फ्रेंडली

हालांकि अमरूद काफी पोष्टिक आहार से भरा हुआ है लेकिन इसमें मौजूद कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स सबको हैरान कर देता है। खाने में फाइबर होने से यह आपकी पाचन शक्ति को धीरे कर देता है जिससे खून में शुगर के कण कम जाते हैं। जिससे अग्न्याशय (pancreas) को सही मात्रा में इंसुलिन बनाने के समय मिलता है और साथ ही शरीर का ब्लड ग्लूकोज लेवल भी सामान्य बना रहता है।

5. लो ब्लड प्रेशर

जितनी भी आप दिन में खाने की चीजे खाते हैं उन सभी में कुछ मात्रा में सोडियम होता है। इस मिनरल का सेवन करने के फायदे कम हैं लेकिन इसका सेवन अधिक मात्रा में करने से नुकसान भी हो सकते हैं। अधिक मात्रा में सोडियम का सेवन करने से ब्लड वेसल्स सिकुड़ जाती हैं जो ब्लड प्रेशर को बढ़ा देती हैं। अमरूद फास्फोरस जैसे मिनरल से भरपूर होता है जिस कारण सोडियम का असर शरीर पर नहीं होने देता है।

अमरूद फास्फोरस जैसे मिनरल से भरपूर होता है जिस
कारण सोडियम का असर शरीर पर नहीं होने देता है।

6. तनाव से लड़ने में मदद

अमरूद में पोटैशियम के अलावा जो सबसे जरुरी मिनरल है वो है मैग्नीशियम। यह मिनरल आपकी मांसपेशियों और नसों को आराम देता है। आपकी नसों को आराम देने के साथ- साथ यह आपको तनाव से लड़ने में मदद करता है और साथ ही अच्छी नींद लाने में भी मदद करता है।

7. वायरल इंफेक्शन से बचाव

पुराने समय में दवाई के रुप में इस्तेमाल किया जाना अमरूद का सबसे जरुरी काम था। विटामिन सी से भरपूर होने के कारण अमरूद आपको कई वायरल इंफेक्शन से बचाकर रखता है जैसे कि खांसी, ज़ुखाम आदि। यह इंफेक्शन से घिरे हुए शरीर के हिस्से को स्वस्थ करने में मदद करता है।

8. स्वस्थ त्वचा

विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण यह आपके शरीर के साथ- साथ त्वचा को भी फ्री रेडिकल से बचाकर रखता है। इसके अलावा विटामिन सी आपकी त्वचा में पानी की मात्रा को बनाएं रखने में मदद करता है जिससे त्वचा में नमी बनी रहती है और त्वचा स्वस्थ रहती है।

संबंधित आर्टिकल
अनार का जूस पीने के फायदे और कुछ नुकसान।
हरा सेब (ग्रीन एप्पल) के फायदे।
नारंगी संतरे (मेंडरिन संतरे) के फायदे और नुकसान।

9. सेहतमंद मुंह

अमरूद को एंटी- इंफ्लामेट्री की खूबी के कारण भी जाना जाता है। इसको खाने से आपका मुंह स्वस्थ रहता है और दातों पर गंदी परत भी जमा नहीं होती है।

अमरूद के प्रकार

अमरूद के कई सारे प्रकार हैं। इसकी अच्छी बात यह है कि हर बार अमरूद खाने पर इसका अलग स्वाद मिलेगा। नीचे दी गई जानकारी से आप अमरूद के प्रकार से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

इसकी अच्छी बात यह है कि आपको हर बार अमरूद का अलग स्वाद मिलेगा।

1. नींबू अमरूद

हालांकि अमरूद का पेड़ छोटा होता है लेकिन इसके कई प्रकार हैं। साथ ही इसके अलग- अलग स्वाद होते हैं जैसे कि कुछ मसालेदार या फिर कुछ खट्टे भी होते हैं। यह अंदर से पीला होते हैं और इसमें अमरूद और नींबू दोनों का स्वाद आता है।

2. स्ट्रॉबेरी अमरूद

यह नींबू अमरूद से मिलता झुलता है लेकिन यह बिल्कुल अलग पेड़ से आता है। इसका नाम इसके स्वाद के कारण है क्योंकि इसका स्वाद थोड़ा- थोड़ा स्ट्रॉबेरी के स्वाद से मिलता है। इसका स्वाद स्वीट और फ्रूटी है जो हर किसी को अच्छा लगता है।

3. रेड मलेशियन

यह लाल रंग के फल आपके गार्डन में जरुर रोनक लेकर आएंगे। यह मीडियम साइज के अमरूद हैं और इनमें विटामिन ए, सी और ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इससे हम कह सकते हैं कि यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर फल है।

आखिर में

अमरूद के पेड़ को छाया में उगाया जाता है जिस कारण इससे कई सारे फायदे जुड़े हुए हैं। इसके अलावा भी इसके कई सारे फायदे हैं। इसके पोष्टिक आहार के बारे में आपको इस आर्टिकल से पता चल गया होगा। अमरूद को अपनी डाइट में शामिल करने से आप इसके लाभ उठा सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि किसी भी चीज को सही मात्रा में खाने से ही उसके फायदे मिलते हैं।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments