मिश्री मम्स

मिश्री मम्स

मिश्री में हम हमेशा रिव्यू करने के लिए नए और बेहतर तरीके ढूंढते रहते हैं। मिश्री मम्स उनमें से एक नई पहल है जिसको हाल ही में हमारे द्वारा लांच किया गया है जिसमें हमारा सहयोग मोम्स करेंगी।

मम्स क्यों?

पहली बात यह है कि, घर में खाने के प्रोडक्ट को लेकर मां ही फैसला करती हैं।

दूसरी बात यह है कि, खाने को लेकर किसी भी तरह की सलाह लेने के लिए सभी मां के पास ही जाते हैं।

मिश्री मम्स के माध्यम से हमारा मकसद मोम्स के साथ मिलकर एक कम्यूनिटी बनाने का है जिसमें विश्वसनीय और भरोसेमंद रिव्यू की मदद से ग्राहक बेहतर प्रोडक्ट खरीद सकते हैं। हमने असली मोम्स ग्राहकों के साथ हाथ मिलाया है जो अलग- अलग केटेगरी जैसे कि स्नैक्स, बेवरेज, रेडी-टू-ईट मील्स आदि फूड प्रोडक्ट का रिव्यू करेंगी।

मिश्री मम्स के रिव्यू कैसे किए जाते हैं?

मिश्री की संपादकीय टीम यह फैसला करती है कि किन प्रोडक्ट का रिव्यू किया जाना है। फिर हम ऑनलाइन और ऑफलाइन माध्यम की मदद से प्रोडक्ट खरीदते हैं।

इसके बाद मिश्री मोम्स के पास प्रोडक्ट भेजते हैं और वो इन्हें ट्राए, फ्राई और टेस्ट करती हैं।

सभी मिश्री मम्स अलग- अलग बैकग्राउंड से आती हैं लेकिन इनका एक पैशन इनको एक जैसा बनाता है- परिवार के लिए खाने की सही च्वाइस।

यह मोम्स स्मार्ट, मजाकिया, अच्छी जानकारी के साथ और बहुत अच्छी तरह से अपना पक्ष रखती हैं…

वो यहां हैं!

स्मिता आनंद | खेल परिधान डिजाइनर

यह पोटर, परिधान डिजाइनर, खाना पसंद करने वाली और तीन बच्चों की मां हैं। स्मिता व्यस्त महिला हैं जिनको अपने दिन में कई तरह के रूप निभाने में मज़ा आता है। अपने परिवार की अच्छी सेहत का खास ध्यान रखने के साथ- साथ यह सही पोषण की मात्रा पर भी ध्यान देती हैं। यह आध्यात्मिकता और विचारधारा पर किताबें पढ़ना पसंद करती हैं और इस बात को मानती हैं कि अगर कोई व्यक्ति किसी रूप को चुनता है तो उस रूप में अपने आपको वास्तविकता में बदल सकता है।

नेहा सक्सेना बग्गा | वेलनेस कोच

नेहा सक्सेना बग्गा वेलनेस कोच होने के साथ- साथ दो बच्चों की मां भी हैं। नेहा, लोगों के फिटनेस गोल पाने में मदद करती हैं। नेहा के हर काम में पैशन होता है। इनका सबसे बड़ा मिशन साफ और प्लास्टिक फ्री भारत है। इसके लिए यह अपने आस- पास गुरुग्राम में कई गतिविधियों में बच्चों को शामिल कर प्रयास करती हैं।

सौगात सिंह | होम मेकर

सौगात की दिन और रात अपने जुड़वा बच्चों की देख- रेख में निकल जाता है। अपने बच्चों की तरफ देखते ही ये खुशियों से भर जाती हैं। प्रोडक्ट को चुनते समय यह इस बात पर ध्यान देती हैं कि प्रोडक्ट बच्चों के लिए कितना अच्छा है और वो अपने बच्चों की किस तरह से शारीरिक और मानसिक सेहत का ध्यान रख सकती हैं। यह पशु और पक्षियों से भी प्रेम करती हैं।

पूजा दलाल | होम मेकर

पूजा दलाल घूमना, पढ़ना पसंद करती हैं और बहुत एक अच्छी कुक भी हैं। इन सभी के साथ यह दादी मां भी हैं। पूजा सेवानिवृत्त सेना अधिकारी की पत्नी हैं। यह अपनी जिंदगी का हर एक पल पूरी तरह से जीती हैं और हर पल को उत्सव की तरह मनाती हैं। इनके अनुसार उम्र सिर्फ नंबर है और जिंदगी के अनुभवों का मज़ा लेना ही असली मज़ा है। घूमने से इनके चेहरे पर मुस्कान आती है।

नुपुर बग्गा | योगा एक्सपर्ट

नुपुर बग्गा योगा पिलाटेस और ज़ुम्बा इंस्ट्रक्टर हैं और इनके दो बेटे हैं। नुपुर का मानना है कि फिटनेस का मतलब सिर्फ बाहर से अच्छा दिखना नहीं होता है इसके अलावा दिमाग और भावनात्मक स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना जरुरी है। यह बच्चों के लिए योगा क्लास करती हैं और साथ ही पैशन से भरपूर रनर हैं। इन्होंने देश के कई शहरों में कई मैराथन सफल तरीके से पूरी की हैं।

निशा अग्रवाल | फैशन डिजाइनर, बडिंग एस्ट्रोलॉजर

इनके पास लड़ने की क्षमता होने के साथ- साथ यह ज्ञान से भरपूर हैं। हमारी मिश्री मम निशा अग्रवाल ने बहुत बहादुरी के साथ कैंसर का सामना किया है। यह च्वाइस से फैशन डिजाइनर हैं और पैशन से ज्योतिषी हैं। ऐसे जज्बे को हमारा सलाम है।

पूजा मिहानी | संस्थापक, पीएम फिटनेस

पूजा मिहानी अपने स्पार्कल व्यक्तित्व के साथ मिश्री मम्स में शामिल हो गई हैं। यह एक प्रमाणित पोषण विशेषज्ञ और खाने की शौकीन हैं। इनके दो बच्चें हैं। यह बच्चों के लिए ऐसा वातावरण बनाना चाहती हैं जिसमें खेल- कूद बाहर से ज्यादा जुड़ा हुआ हो।

ऋचा वत्सला | मीडिया प्लानर

ऋचा वत्सला अपने काम के साथ के साथ बाकी चीजों के बीच में अच्छा बैलेंस बनाए रखती हैं। ये चित्रकारी करती हैं और हैंड मेड साबुन बनाती हैं। इनकी स्थापित ब्रांड है जिसमें ये इको फ्रेंडली रोटी रेप बनाती हैं जिससे हर घर में पन्नी (foil) का इस्तेमाल बंद हो जाए। इन सबके साथ वो अपने बेटे का ध्यान रखती हैं। इनके घर में छत पर गार्डन जिसको इन्होंने बहुत सुंदर तरीके से रखा है और साथ ही इनके घर में एक कुत्ता भी है और उसका भी उतना ही ध्यान रखती हैं।

कनिका मैनी तिवारी | संस्थापक निदेशक, सी.ई.ओ

हमारी अगली मिश्री मम ‘एक महिला सेना’ कहावत पर भरोसा करती हैं। कनिका मैनी तिवारी तीन बच्चों की मां हैं और अमायरा नाम की ब्रांड की संस्थापक हैं जो बच्चों के एथनिक कपड़े बनाती हैं। इनका मकसद संतुष्ट ग्राहकों के साथ अच्छा रिश्ता बनाने का है।

नुपुर अग्रवाल कालरा | बेकर और बाइकर

यह बेकर और बाइकर हैं। मिश्री मम्स में नई मम हैं नुपुर कालरा जिन्होंने अपने खुद के नियम बनाएं हैं। नुपुर का अपना सफल ब्रांड एनके हेल्दी बैक है। यह ब्लॉगर भी हैं और इन्होंने अभी ऑनलाइन एक समुदाय बनाया है जिसमें लोग खाने, घूमने आदि चीजों के लेकर एक दूसरे से जुड़ सकते हैं। स्थायी खाद्य उद्यमों को बढ़ावा देना इस ऑनलाइन समुदाय के मुख्य मकसद में से एक है। मिश्री मम्स में आपका स्वागत है।

अगर आपको मिश्री मम बनना है तो, हमें यहां लिखें।