हल्दी दूध के फायदे- 10 कारण हल्दी दूध पीने के
benefits of haldi doodh

हल्दी दूध के फायदे- 10 कारण हल्दी दूध पीने के

हल्दी दूध डाइट में शामिल करने से आपको किस तरह के फायदे मिल (Turmeric Milk Benefits) सकते हैं? घर में कैसे बनाएं हल्दी दूध और डाइट में कैसे करें शामिल, यहां से जानें।

क्या आपकी मां आपको चोट लगने पर हल्दी का दूध पिलाती है? क्योंकि मां को सबकुछ पता है जो बेस्ट है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि हल्दी दूध के फायदे (haldi ka doodh benefits in hindi) क्या हैं? हल्दी का दूध पीने से ठीक कैसे हो जाते हैं? आज हम आपको इन सभी सवालों के जवाब देने वाले हैं। सदियों से आयुर्वेद के द्वारा मामूली दर्द, गले में सूजन के लिए हल्दी दूध के लाभ बताए गए हैं। जब आप बीमार होते हैं तब हल्दी दूध के लाभ काम आते हैं। हल्दी दूध बनाने की विधि बेहद सिपंल है और इसको आप किचन में आसानी से मिलने वाली सामग्री से बना सकते हैं। अगर आपने अभी तक हल्दी दूध नहीं पीया है तो हल्दी दूध के फायदे इन हिंदी (haldi milk benefits in hindi) में जानकारी लेना बहुत जरुरी हो गया है।

Buy Turmeric Milk Mix Online

10 हल्दी दूध के फायदे (10 Amazing Benefits Of Turmeric Milk)

हल्दी दूध के फायदे में स्ट्रोंग इम्यूनिटी, शरीर को आराम, पोषण से भरपूर फायदे शामिल हैं। सदियों से आयुर्वेद के द्वारा बताए जाने पर हल्दी दूध के लाभ लिए जा रहे हैं। हल्दी का दूध कई सारे सेहत और सुदंरता के फायदे से भरपूर है। यहां से आप हल्दी दूध के फायदे इन हिंदी (haldi milk benefits in hindi) में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

1. खांसी- जुकाम (For Soothing Common Cold And Cold)

जब खांसी- जुखाम होता है तो पूरा शरीर टूट जाता है और सरदर्द भी होने लगता है। हल्दी दूध के फायदे (haldi ka doodh benefits in hindi) में से यह फायदा सबसे आम है। हल्दी दूध पीने से यह शरीर में बीमारी से लड़ता है और दोबारा से ताज़ा महसूस कराने में मदद करता है। एंटी- वायरल और एंटी- बैक्टीरियल खूबी होने के कारण हल्दी दूध के लाभ बढ़ जाते हैं। इस खासियत से खांसी- जुखाम और गले में दर्द से आराम मिलता है।

2. जोडों के दर्द में आराम (Helps In Reducing Joint Pains)

हल्दी में मौजूद करक्यूमिन के कारण ही हल्दी दूध के फायदे बढ़ जाते हैं। इसके अलावा इसमें एंटी- इंफ्लामेट्री खूबी भी है और साथ ही हल्दी का दूध कैल्शियम से भरपूर होता है जो हड्डियों को मजबूत करने में मदद करता है। करक्यूमिन और कैल्शियम के मिश्रण से शरीर को हल्दी के दूध के लाभ बहुत सारे मिलते हैं। यह जोडों के दर्द और बाकी कई तरह के दर्द को दूर रखने में मदद करता है। हल्दी दूध के फायदे आपको खुद नज़र आएंगे खासकर जो लोग ऑस्टियोपोरोसिस और रुमेटीइड गठिया की बीमारी से गुजर रहे हैं।

हल्दी दूध के फायदे जोड़ों के दर्द के लिए
हल्दी दूध के फायदे जोड़ों के दर्द के लिए

3. स्ट्रांग इम्यूनिटी (Builds Immunity)

इम्यूनिटी स्ट्रोंग करने के एंटीऑक्सीडेंट का सेवन करना बेहद जरुरी है। और यह एंटीऑक्सीडेंट आपको हल्दी दूध पीने से मिल सकते हैं क्योंकि हल्दी में करक्यूमिन मौजूद है जो एंटीऑक्सीडेंट लेने का अच्छा आधार है। हल्दी दूध के फायदे (turmeric milk benefits in hindi) इम्यूनिटी स्ट्रोंग करने के लिए लाभदायक है। यह शरीर को इंफेक्शन और बाकी बीमारी से लड़ने में मदद करता है। यह आपके शरीर को अंदर से साफ भी रखता है।

4. एंटी- इंफ्लामेट्री, एंटी- बैक्टीरियल और एंटी- वायरल गुणों से भरपूर (Has Anti-Inflammatory, Antibacterial And Antiviral Properties)

हल्दी के दूध के फायदे में सबसे महत्तवपूर्ण फायदा यह है कि यह एंटी- इंफ्लामेट्री, एंटी- बैक्टीरियल और एंटी- वायरल की खूबी के साथ आता है। यह खूबियां आपको हर तरह के दर्द से राहत देती हैं। भागते या खेलते समय गिर जाना, दुर्घटना या सर्जरी के दौरान ठीक होने के लिए हल्दी दूध के लाभ काम आते हैं। जो लोग रोजाना दवाई खाते हैं, इसके साथ हल्दी दूध पीने की सलाह दी जाती है क्योंकि इससे आपके शरीर को आराम मिलता है साथ ही दर्द में भी राहत मिलती है।

More Options Of Turmeric Milk Mix To Buy

5. सांस की बीमारी (Helps In Stabilizing Respiratory Ailments)

अगर आपको भयावह साइनस (flared sinuses) या फेफड़ों में इंफेक्शन काफी लंबे समय से है तो आपको हल्दी दूध के लाभ मिल सकते हैं, इसके लिए आपको रोजाना हल्दी दूध पीना होगा। हल्दी दूध के फायदे (turmeric milk benefits in hindi) इसमें मौजूद करक्यूमिन के कारण हैं जो हल्दी दूध को एंटी- माइक्रोबियल खूबी देता है। यह शरीर में गर्मी लेकर आता है जिससे शरीर में से गंदगी निकल जाती है। रोजाना हल्दी दूध पीने से कई बीमारी से राहत मिल सकती है जैसे कि सांस लेने में परेशानी, साइनस, फेफड़े में इंफेक्शन, अस्थमा और ब्रोंकाइटिस।

6. स्वस्थ लिवर (Detox Liver And Purify The Blood)

एक गिलास हल्दी दूध पीने से आपको हल्दी दूध के फायदे मिल सकते हैं। रोजाना हल्दी दूध पीने से लिवर में से सारी गंदगी निकल जाती है जिसके बाद आपको ताज़ा और सेहतमंद महसूस होता है। एक अध्ययन में यह साबित हुआ है कि हल्दी में पाए जाने वाला करक्यूमिन, शरीर के एंडोथेलियल फ़ंक्शन को सुधारने का काम करता है। इसका मतलब है कि यह ब्लड वेसल्स के काम को सुधारने में मदद करता है। ऐसा होने से खून अच्छे से साफ होता है और पूरे शरीर में खून का बहाव सही बना रहता है।

हल्दी दूध के फायदे स्वस्थ लिवर के लिए
हल्दी दूध के फायदे स्वस्थ लिवर के लिए

7. ऐंठन (Relief Against Cramps)

हमने आपको पहले भी बताया है किहल्दी दूध के फायदे हर तरह के दर्द से राहत देते हैं। मासिक धर्म (menstruation) के समय महिलाएं हल्दी दूध का सेवन कर सकती हैं। हल्दी दूध के लाभ से महिलाओं को पेट और पेरों में दर्द से राहत मिलती है। गर्म हल्दी दूध भी गर्भवति महिलाओं को आराम देता है। करीब 1000 साल से महिलाएं हल्दी दूध के फायदे शिशु के लिए दूध बढ़ाने के लिए और पेट में बच्चे को स्वस्थ रखने के लिए पीती आ रही हैं।

8. सेहतमंद दिमाग (Improved Brain Health)

मनुष्य के दिमाग को सही से काम करने के लिए बीडीएनएफ सही मात्रा में चाहिए होता है। बीडीएनएफ को मस्तिष्क-व्युत्पन्न न्यूरोट्रॉफिक कारक (brain-derived neurotrophic factor) कहा जाता है। कई अध्ययन में यह कहा गया है कि हल्दी में मौजूद करक्यूमिन में बीडीएनएफ को सुधारने की क्षमता होती है जिससे दिमाग को एक्टिव रहने में मदद मिलती है। हल्दी दूध के फायदे में यह फायदा भी शामिल है। इससे आपकी याद करने की क्षमता बढ़ती है और बढ़ती उम्र में भूलने की बीमारी और पागलपन के आसार कम हो जाते हैं।

सेहतमंद दिमाग के लिए हल्दी दूध के कई फायदे हैं
सेहतमंद दिमाग के लिए हल्दी दूध के कई फायदे हैं

9. एक्टिव रहने में मदद (To Perk You Up!)

बीडीएनएफ को सुधारने में करक्यूमिन मदद करता है जिससे आपको आराम भी मिलता है। इससे डिप्रेशन दूर रहता है। कई मेडिकल रिसर्च में यह पाया गया है किहल्दी दूध के फायदे डिप्रेशन में काम आते हैं वो भी बिना कोई नुकसान किए। रोजाना हल्दी दूध पीने से आपको ज्यादा आराम महसूस होगा और पहले से ज्यादा खुश भी रहने लगेंगे।

10. सेहतमंद त्वचा (Beauty Benefits)

हल्दी दूध के फायदे सेहत और दिमाग से जुड़े होने के अलावा सुंदरता से भी जुड़े हुए हैं। हल्दी दूध के लाभ इसके एंटी- माइक्रोबियल और एंटी- इंफ्लामेट्री होने के कारण हैं। इससे आपकी त्वचा चमकदार और सोफ्ट होती है और मुँहासे, झुर्रियाँ दूर रहते हैं।

हल्दी दूध के फायदे त्वचा के लिए कुछ इस प्रकार हैं-

  • रोजाना हल्दी दूध पीने से चेहरा चमक जाता है।
  • हल्दी में करक्यूमिन पाया जाता है जिसमें एंटी- बैक्टीरियल खूबी होती है जो मुँहासों का इलाज करती है और त्वचा को साफ भी करती है।
  • सोने से पहले हल्दी दूध के फायदे कई हैं जैसे कि अच्छी नींद आना, चमकदार त्वचा आदि।

हल्दी में करक्यूमिन नाम का कैमिकल पाया जाता है जो कई सारे फायदो के साथ आता है। इसको कॉस्मेटिक सामग्री, हर्बल पूरक, खाने में स्वाद सामग्री और खाने में रंग की तरह इस्तेमाल किया जाता है। इस अध्ययन में यह बताया गया है कि कैसे करक्यूमिन इंसान की सेहत पर असर डालता है और इसके फायदे क्या हैं।

11. मजबूत बाल (Strong Hair)

हल्दी दूध के फायदे बालों के लिए भी हैं। हल्दी दूध से बालों की जडों से जुड़ी सारी परेशानी दूर हो जाती है जैसे कि खुजली, पतले बाल और सूजन। इससे फंगल इंफेक्शन भी सही हो जाता है जो बालों के झड़ने का मुख्य कारण है।

हल्दी दूध बालों के झड़ने की समस्या को दूर कर सकता है क्योंकि यह जडों को पोषण देता है। इसके अलावा यह बालों को मजबूत बनाता है जिससे बालों का झड़ना कम हो जाता है।

हल्दी, एंटी- सेप्टिक और एंटी- इंफ्लामेट्री असर के साथ आती है। हल्दी दूध पीने से या फिर हल्दी का पेस्ट बालों की जडों में लगाने से रूसी कम हो जाती है।

हल्दी दूध के फायदे सेहतमंद त्वचा के लिए
हल्दी दूध के फायदे सेहतमंद त्वचा के लिए

हल्दी दूध बनाने की विधि (How To Make Turmeric Milk Easily At Home)

अब जब आपको हल्दी दूध के फायदेके बारे में पता चल गया है तो आप इसको पीना चाहेंगे। लेकिन हल्दी दूध बनाने के लिए आपको सबसे पहले इसकी रेसिपी का पता होना जरुरी है। इसलिए हम आपके लिए घर में आसानी से हल्दी दूध बनाने की विधि लेकर आए हैं।

हल्दी दूध बनाने की सामग्री

हल्दी दूध बनाने के लिए इन सामग्री का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

एक गिलास हल्दी दूध बनाने के लिए-

  • दूध- लगभग 120 एमएल
  • 1 चम्मच हल्दी पाउडर या 1 इंच कच्ची हल्दी का टुकड़ा

ऑप्शन

  • शहद– 1 चम्मच
  • अपनी पसंद के अनुसार बाकी के मसाले जैसे कि दालचीनी, अदरक, इलायची, अजवाइन और काली मिर्च।

हल्दी दूध बनाने की विधि

  • सभी सामग्री को अच्छे से मिक्स कर लें और दूध को 10 मिनट तक उबलने दें।
  • ऐसा करने से सभी सामग्री दूध में मिल जाएगी जिससे सभी फ्लेवर दूध में अच्छे से आ जाएंगे।
  • 10 मिनट बाद आप देखेंगे कि दूध का रंग बदल गया है और खुशबू आ गई है। गैस स्टोव बंद कर दें और दूध को गिलास में छान लें।
घर में हल्दी दूध कैसे बनाएं
घर में हल्दी दूध कैसे बनाएं

हल्दी दूध से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

हल्दी दूध का सेवन करने से पहले कुछ जरूरी बातें हैं जिससे जुड़ी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

  • अलग स्वाद के लिए आप दालचीनी पाउडर मिला सकते हैं।
  • अगर आप बच्चों के लिए हल्दी दूध बना रहे हैं तो सिर्फ प्राकृतिक मिठास का इस्तेमाल करें जैसे कि शहद, मेपल सिरप, नारियल चीनी, ताड़ चीनी आदि। रिफाइंड चीनी का इस्तेमाल ना करें और बड़े लोग इसे बिना मीठा डाले पी सकते हैं।
  • आप हल्दी दूध को ज्यादा मात्रा में बना सकते हैं जो फ्रिज में रख सकते हैं। लेकिन इसको 4- 5 दिनों में इस्तेमाल कर लें और दोबारा इस्तेमाल करने से पहले दोबारा गर्म कर लें।
  • अगर आप दस्त या फिर पाचन शक्ति की परेशानी से राहत पाने के लिए हल्दी दूध बना रहे हैं तो लो- फैट दूध का ही इस्तेमाल करें। दूध में ज्यादा फैट होने से पाचन शक्ति की परेशानी बढ़ सकती है।
  • क्या आप शाकाहारी हैं? कोई बात नहीं। आप आसानी से सोय, बादाम, नारियल, अखरोट के दूध से हल्दी दूध बना सकते हैं। हल्दी दूध को और भी ज्यादा स्वादिष्ट बनाने के लिए अपना कोई भी अनोखा तरीका अपना सकते हैं।

FAQs

1. हल्दी दूध कितने दिन पीना चाहिए? (For how long I should drink turmeric milk?)

दिन में 1 गिलास हल्दी दूध पीना लाभदायक साबित हो सकता है क्योंकि यह एंटी- माइक्रोबियल, एंटी- इंफ्लामेट्री गुणों से भरपूर होती है। हल्दी दूध के फायदे लगभग 4-8 हफ्ते बाद दिखने शुरु हो जाते हैं।

2. दूध में हल्दी मिलाकर कैसे पीना चाहिए? (How should I drink milk with turmeric?)

सबसे पहले दूध उबालें और एक चुटकी हल्दी डालें। और मीठे के लिए गुड़/ चीनी डाल सकते हैं। हल्दी दूध सोने से गर्म या गुनगुना पी सकते हैं।

3. हल्दी दूध पीने से नुकसान क्या है? (What are the side effects of haldi doodh?)

अधिक मात्रा में हल्दी/ हल्दी दूध पीने से पेट में दर्द, मितली, चक्कर आना, दस्त जैसी दिक्कतें हो सकती हैं।

4. एक गिलास दूध में कितनी हल्दी डालनी चाहिए? (How much turmeric should I use to make haldi doodh?)

आधा कप दूध (120 एमएल) में एक छोटा चम्मच हल्दी पाउडर का इस्तेमाल किया जा सकता है।

आखिर में

एक सिंपल हल्दी दूध से आपको कितने सारे फायदे मिलते हैं। हल्दी दूध के फायदे सेहत, दिमाग, त्वचा और बालों से जुड़े हुए हैं। हल्दी दूध के लाभ उठाने के लिए रोजाना इसको पीना शुरु कर दें। हल्दी दूध को बनाना बेहद आसान है। इसको बनाने के लिए जो सामग्री चाहिए वो आसानी से हर भारतीय किचन में मिल जाती है। साथ ही यहां आपको हल्दी दूध पीने से जुड़े कुछ टिप्स भी दिए गए हैं। तो आप क्या सोच रहें हैं, जाइए और आज से ही हल्दी दूध के फायदे प्राप्त करें।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
16 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments