दूध पीने के फायदे, डिश, नुकसान (Benefits, Uses, Side Effects Of Milk In Hindi)

दूध पीने के फायदे (Doodh Peene Ke Fayde) कैल्शियम से भरपूर होने के अलावा भी कई सारे हैं। दूध के फायदे (Benefits Of Milk In Hindi) वजन कम, स्वस्थ पेट, सेहतमंद दिल आदि से भी जुड़े हुए हैं।

दूध खत्म मिलना चाहिए।

दूध पीने से शक्तिमान जैसी ताकत आती है।

क्या आपने भी यह सभी बातें अपने माता- पिता से बचपन में सुनी हैं? इस सवाल का जवाब अधिकतर लोगों का हां ही होगा। दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) के बारे में यह बात तो सभी को पता है कि हड्डियां मजबूत होती हैं और कैल्शियम से भरपूर होता है। लेकिन आज आपको बता दें कि दूध के फायदे (doodh ke fayde) इनके अलावा भी कई सारे होते हैं। जैसे कि दूध के फायदे (doodh ke fayde) वजन कम करने के लिए, सेहतमंद दिल के लिए, डायबिटीज में आदि में लाभदायक होते हैं। इसके साथ दूध से कई सारे प्रोडक्ट बनते हैं जिनका सेवन आप आसानी से और स्वादिष्ट तरीके से कर सकते हैं। फायदे से भरपूर होने के साथ-साथ दूध के कुछ नुकसान भी हैं। इन सभी से जुड़ी जानकारी आप इस आर्टिकल से प्राप्त कर सकते हैं।

दूध को डाइट में जरुर शामिल करें।
विषय सूची

दूध के पौष्टिक तत्व (Milk Nutritional Value In Hindi)

जैसा कि आपको पहले ही बताया है कि दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) कैल्शियम के अलावा कई और पौष्टिक तत्व से जुड़े हुए हैं (1)। मिल्क पीने से आपको और कौन से पौष्टिक तत्व प्राप्त होते हैं से जुड़ी जानकारी नीचे दी गई टेबल से प्राप्त कर सकते हैं।

पोषणमात्रा – 244 ग्राम
कैलोरी146
प्रोटीन8 ग्राम
फैट8 ग्राम
कैल्शियम28% (रेफ्रेंस डेली इनटेक (आरडीआई))
विटामिन डी24% (आरडीआई)
राइबोफ्लेविन26% (आरडीआई)
विटामिन बी1218% (आरडीआई)
पोटैशियम10% (आरडीआई)
फास्फोरस22% (आरडीआई)
सेलेनियम13% (आरडीआई)

दूध के फायदे (Benefits Of Milk In Hindi)

दूध के फायदे (doodh ke fayde) लगभग शरीर के हर एक अंग से जुड़े हुए हैं। दूध विटामिन, मिनरल्स, प्रोटीन, एंटीऑक्सीडेंट और सेहतमंद फैट से भरपूर होता है। इन सभी के कारण दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) बढ़ जाते हैं। यहां से आप दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) से जुड़ी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

1) दूध पीने के फायदे हड्डियां मजबूत करने के लिए (Benefits Of Drinking Milk For Strong Bones In Hindi)

दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) हड्डियां मजबूत करने में मदद करते हैं। यह एक ऐसा फायदा है जिसके बारे में बचपन से ही सभी को पता होता है। आपको बता दें कि शरीर का 99% कैल्शियम हड्डियों और दांतों में पाया जाता है (2)। जिस कारण से दूध पीना बहुत जरुरी हो जाता है। दूध पीने से बढ़ती उम्र में हड्डियां से जुड़ी बीमारी होने के आसार कम होने में मदद मिलती है इसलिए पूरे दिन में दूध का सेवन जरुर होना चाहिए। इसके साथ ही यह भी कहा जाता है कि गाय का दूध सबसे ज्यादा पौष्टिक होता है और इसे पचने में भी आसानी होती है।

99% कैल्शियम हमारी हड्डियों और दांतों में पाया जाता है।

2) दूध के फायदे प्रोटीन से भरपूर (Benefits Of Milk Is A Good Source Of Protein In Hindi)

कैल्शियम के अलावा दूध के फायदे (doodh ke fayde) प्रोटीन से भी भरपूर होते हैं। आपको बता दें कि 1 कप दूध में 8 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है। इसके साथ ही दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) जरुरी एमिनो एसिड से भी जुड़े हुए हैं जो सेहतमंद शरीर के लिए जरुरी होते हैं। दूध के गुण प्रोटीन के कारण जाने जाते हैं इसलिए कसरत करने वाले लोगों की डाइट में दूध जरुर शामिल होता है। कसरत करते समय मांपेशियों में सूजन हो जाती है यहां पर दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) अपना काम करते हैं। दूध पीने से बढ़ती उम्र में मांसपेशियों में होने वाली परेशानी से राहत मिलने में मदद मिलती है (3) (4) (5)।

3) दूध के गुण वजन कम करने के लिए (Benefits Of Milk For Weight Loss In Hindi)

दूख पीने के फायदे वजन कम करने के लिए भी जाने जाते हैं। आपको बता दें कि प्रोटीन का सेवन करने से पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है जिससे आप बार- बार खाना नहीं खाते हैं (6) (7)। इसके अलावा डाइट में कैल्शियम शामिल करने से मोटापा होने के आसार कम हो जाते हैं। डाइट में होल मिल्क शामिल करने से वजन कम होने में मदद मिलती है।

दूध के फायदे (doodh ke fayde) वजन कम करने में मदद करते हैं।

4) दूध के लाभ सेहतमंद दिल के लिए (Benefits of Milk For Healthy Heart In Hindi)

सेहतमंद दिल रखने के लिए जरुरी होता है कि आप अपनी डाइट में स्वस्थ चीज़ें शामिल करें। दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) सेहतमंद दिल के लिए भी जाने जाते हैं। दूध में पौटेशियम पाया जाता है जो ब्लड वेसल्स को डाइलेट करता है और ब्लड प्रेशर सामान्य बनाए रखने में मदद करता है। इसलिए दूध के फायदे (doodh ke fayde) अपनी डाइट में जरुर शामिल करें।

5) दूध पीने के फायदे डिप्रेशन के दौरान (Benefits Of Milk During Depression In Hindi)

क्या आपको पता है दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) डिप्रेशन के लिए भी जाने जाते हैं। दूध में विटामिन डी भी पाया जाता है जो सेरोटोनिन प्रोड्यूज करने में मदद करता है। यह एक तरह का होर्मोन होता है जो खुशी देने में और मूड अच्छा करने में मदद करते हैं। विटामिन डी की कमी होने पर दूध को डाइट में शामिल किया जा सकता है।

दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) डिप्रेशन में मदद करते हैं।

6) दूध के फायदे अच्छी नींद के लिए (Benefits of Milk for Good Sleep In Hindi)

दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) अच्छी नींद लाने के लिए खासतौर पर जाने जाते हैं। अगर आपको रात में अच्छी नींद नहीं आती है और आपकी सुबह तरोताज़ा तरीके से नहीं होती है तो सोने से 30- 45 मिनट पहले गर्म दूध पीना शुरु कर सकते हैं। जैसा कि आपको पता है दूध में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिसके कई सारे फायदे हैं और उनमें से एक फायदा अच्छी नींद से जुड़ी हुआ है।

7) दूध के गुण स्वस्थ पेट के लिए (Benefits Of Milk for Healthy Stomach In Hindi)

दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) सेहतमंद पेट के लिए भी जाने जाते हैं। रोजाना दूध पीने से पेट की परेशानियां दूर रहने में मदद मिलती है। दूध पीने की सलाह सुबह खाली पेट कम दी जाती है क्योंकि दूध को पचने में थोड़ा समय लगता है और यह भारी भी होता है। अगर सुबह दूध पीने से आपके बच्चे को तकलीफ हो रही है तो दूध पीने का समय बदलें।

दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) स्वस्थ पेट के लिए।

8) दूध के लाभ त्वचा के लिए (Benefits of Milk For Skin In Hindi)

आपने यह तो सुना ही होगा कि राजा- महाराजाओं के समय में महारानियां दूध से नहाती थी क्योंकि दूध के फायदे (doodh ke fayde) त्वचा के लिए कई सारे हैं। आपको बता दें कि दूध में लैक्टिक एसिड पाया जाता है जो त्वचा को सेहतमंद बनाने में मदद करता है। त्वचा पर दूध लगाने से त्वचा में नमी बनी रहने में मदद मिलती है। त्वचा पर कच्चा दूध लगाने से त्वचा में से गंदगी निकलने में मदद मिलती है जिससे त्वचा साफ हो जाती है।

9) दूध के फायदे सेहतमंद बालों के लिए (Benefits Of Milk For Healthy Hair In Hindi)

दूध के पौष्टिक तत्व के बारे में आर्टिकल के शुरुआत में ही आपको बताया गया है। और बार- बार यह भी बताया गया है कि दूध के फायदे (doodh ke fayde) कैल्शियम होने के कारण सबसे ज्यादा जाने जाते हैं। दूध से बाल धोने पर बालों में चमक आ जाती है। बालों को बढ़ने और मजबूत होने के लिए सबसे ज्यादा प्रोटीन की जरुरत होती है जो दूध में भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे बालों की जड़ों को मजबूत होने में मदद मिलती है।

दूध के फायदे (doodh ke fayde) सेहतमंद बालों के लिए।

दूध के प्रोडक्ट (Products Of Milk In Hindi)

दूध एक ऐसी चीज़ है जिससे कई सारी चीज़ें बनाई जाती है। दूध के फायदे (doodh ke fayde) दूध के अलावा कई सारे प्रोडक्ट से लिए जा सकते हैं। अगर आप दूध थोड़ा कम पसंद करते हैं तो दूध के प्रोडक्ट अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। दूध के प्रोडक्ट से जुड़ी जानकारी नीचे से ले सकते हैं।

चीज़ के प्रकार

दूध से बनने वाली डिश (Dishes To Make With Milk In Hindi)

वैसे तो दूध से कई सारी डिश बनाई जाती हैं। यहां से आप उन डिश से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं जिसमें दूध मुख्य सामग्री है। दूध से बनाई गई डिश स्वादिष्ट होने के साथ- साथ सेहतमंद भी होती हैं। दूध से बनने वाली डिश से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1) खीर (Kheer)

खीर बनाने की विधि

  • खीर बनाने कि लिए सबसे पहले पतीले में दूध डालें और उबालें।
  • दूध उबले के बाद इसमें चावल डालें और अच्छे से उबलने दें।
  • उबले के बाद इसमें अपने स्वाद के अनुसार चीनी डालें।
  • अब खीर को तब तक उबलने दें जब तक यह गाढ़ी ना हो जाए।
  • अब खीर में अपने पसंद के ड्राई फ्रूट्स डालें।
  • खीर को गर्म या फिर ठंडा करने के बाद भी खा सकते हैं।
दूध से स्वादिष्ट खीर बनाएं।
इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

2) पनीर (Paneer)

पनीर से कई सारी स्वादिष्ट डिश बनाई जा सकती हैं लेकिन अगर आप यह पनीर घर में ही बना लें तो पनीर से बनने वाली हर डिश का स्वाद दोगुना हो जाएगा। घर में बनाया गया पनीर सोफ्ट होता है। घर में पनीर बनाने की विधि बहुत आसान है।

पनीर बनाने की विधि

  • पनीर बनाने के लिए सबसे पहले पतीले में दूध उबलने के लिए रख दें।
  • जैसे ही दूध में उबाल आने को हो वैसे ही दूध में आधा कप लस्सी, नींबू का रस डालें।
  • नींबू के रस से पनीर खट्टा बन सकता है। अगर हो सके तो लस्सी का इस्तेमाल करें।
  • लस्सी डालने के बाद पनीर बनने लगेगा।
  • पनीर बनने के बाद पनीर को पकने दें।
  • अच्छे से पनीर बनने के बाद दूसरे पतीले के ऊपर सूती और साफ कपड़ा लगाएं।
  • सूती कपड़े के ऊपर पनीर छान लें।
  • पनीर सूती कपड़े में रह जाएगा और लस्सी का पानी पतीले में रह जाएगा।
  • अब कपड़े को टाइट बांध लें और पनीर के ऊपर भारी चीज रख दें।
  • भारी चीज रखने से पनीर से सारी लस्सी निकल जाएगी जिससे पनीर खट्टा नहीं होगा।
  • 30 मिनट बाद सूती कपड़े में से पनीर निकाल लें और आकार में काट लें।
  • अगर आपको कुछ समय बाद पनीर इस्तेमाल करना है तो पानी में डालकर पनीर फ्रिज में रख दें ताकि पनीर सख्त ना हो जाए।
दूध से घर में पनीर बनाएं।

3) मैंगो शेक (Mango Shake)

मैंगो शेक बनाने के लिए दूध एक मुख्य सामग्री है। मैंगो शेक में सही मात्रा में दूध डालना बेहद जरुरी है क्योंकि मैंगो शेक ज्यादा पतला और ज्यादा गाढ़ा अच्छा नहीं लगता है। मैगो शेक घर में आसानी से बनाया जा सकता है।

मैंगो शेक बनाने की विधि

  • मैंगो शेक बनाने के लिए सबसे पहले आम के छिलके उतार लें और छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • अब मिक्सर में आम के टुकडें और चानी डालें और पीस लें।
  • आम के साथ चीनी डालने से चीनी अच्छे से घुल जाती है।
  • अब इसमें दूध डालें और अच्छे से मिक्स करें।
  • अगर आपको दूध बहुत ज्यादा गाढ़ा लग रहा है तो आप थोड़ा पानी भी डाल सकते हैं। पानी डालने से स्वाद बिगढ़ता नहीं है।
  • मैंगो शेक गिलास में निकाल लें।
  • इसके ऊपर बादाम पीसकर भी डाल सकते हैं या फिर अपने पसंद की टोपिंग डालें और आपका मैंगो शेक तैयार है।
मैंगो शेक घर में बनाएं।

4) घर की आइसक्रीम (Homemade Ice Cream)

गर्मियों में रोजाना आइसक्रीम मिल जाए तो दिन बन जाता है। हर घर की आइसक्रीम बनाने की रेपिपी अलग होती है। अगर आप यह रेसिपी फोलो करना चाहते हैं तो अवश्य करें।

आइसक्रीम बनाने की विधि

  • आइसक्रीम बनाने के लिए सबसे दूध 20 मिनट के लिए पकने दें।
  • अब दूध में चीनी डालें और 5 मिनट पकने दें।
  • अब एक कटोरी में सामान्य दूध लें और इसमें कस्टर्ड अच्छे से मिलाएं।
  • जो कटोरी में कस्टर्ड वाला दूध है वो उबले हुए दूध में डालें और 5 मिनट पकने दें।
  • अब आइसक्रीम का दूध ठंडा होने दें।
  • आइसक्रीम का दूध सामान्य होने के बाद इसे मिक्सर में डालें।
  • मिक्सर में बादाम, काजू या फिर अपने पसंद के ड्राई फ्रूट्स डालें और पीस लें।
  • अब आइसक्रीम के मिश्रण को आइसक्रीम के बर्तन में डालें और फ्रीजर में रख दें।
  • कुछ घंटों बाद फ्रीजर में आइसक्रीम देख लें कि आइसक्रीम जमी है या नहीं। उसके बाद ही फ्रीजर से आइक्रीम निकालें और खाएं।
घर में दूध से आइसक्रीम बनाएं।

5) रबड़ी (Rabdi)

रबड़ी बनाना आसान है क्योंकि इसमें बहुत कम सामग्री की जरुरत होती है। रबड़ी बनाते समय इस बात का खास ध्यान रखना है कि दूध कितना उबल रहा है और कितनी गैस पर उबल रहा है।

रबड़ी बनाने की विधि

  • रबड़ी बनाने के लिए कढ़ाई में दूध डालें और दूध को 10 मिनट के लिए फुल गैस पर उबले दें।
  • अब 10 मिनट के लिए दूध को मीडियम गैस पर उबलने दें।
  • रबड़ी बनाने के लिए दूध को तब तक उबालें जब तक दूध आधा ना हो जाए।
  • हर समय दूध को करछी से चलाने की जरुरत नहीं है।
  • हर 2-3 मिनट में दूध को करछी से चलाएं जिससे दूध तली में चिपन ना जाए।
  • अब इसमें अपने स्वाद के अनुसार चीनी डालें और अच्छे से मिलाएं।
  • जब आपको लगे दूध आधा हो गया है तब इसमें अपनी पसंद के अनुसार ड्राई फ्रूट्स डालें।
  • अब रबड़ी को पकने दें और अब आपकी रबड़ी तैयार है।
दूध से स्वादिष्ट रबड़ी बनाएं।
इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

दूध से एलर्जी (Milk Allergy In Hindi)

दूध के ऑप्शन के बारे में बात करना इसलिए जरुरी है क्योंकि कई लोगों को दूध या डेयरी प्रोडक्ट से एलर्जी होती है। जब डेयरी प्रोडक्ट इम्युन सिस्टम पर अजीब तरीके से असर करते हैं तब लैक्टोज असहिष्णुता (Lactose Intolerance) हो सकता है। यह अधिकतर बच्चों में पाया जाता है। बच्चों को गाय के दूध, बकरी के दूध आदि से एलर्जी हो सकती है। लैक्टोज असहिष्णुता होने पर पेट में दिक्कत, उलटी, मल में खून जैसे लक्षण हो सकते हैं।

दूध से एलर्जी होने पर डॉक्टर के द्वारा सलाह दी जाती है कि डेयरी प्रोडक्ट से दूर रहना चाहिए। डेयरी प्रोडक्ट से दूर रहने का मतलब है कई सारे पौष्टिक आहार से दूर रहना। लेकिन ऐसा नहीं है। अगर आपको भी दूध से एलर्जी है तो आपके लिए कई सारे ऑप्शन मौजूद हैं जिनको आप दूध की जगह पर अपना सकते हैं। दूध के ऑप्शन से जुड़ी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं।

दूध के ऑप्शन (Milk Alternatives In Hindi)

जिन लोगों को दूध से एलर्जी होती है उन लोगों को दूध के ऑप्शन अपनी डाइट में शामिल करने जरुरी हो जाते हैं। दूध के आप्शन से जुड़ी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं।

1. बादाम का दूध (Almond Milk)

गाय के दूध की जगह बादाम का दूध डाइट में शामिल किया जा सकता है। इसमें गाय के दूध के मुकाबले कैलोरी और फैट की मात्रा कम होती है।

बादाम का दूध डाइट में शामिल कर सकते हैं।

2. नारियल का दूध (Coconut Milk)

नारियल का दूध नारियल के गुद्दे और पानी से बनता है। नारियल दूध साउथ ईस्ट एशिया, साऊथ एशिया और ईस्ट एशिया में पारंपरिक रूप से खाने में इस्तेमाल किया जाता है। इसका टैक्शर क्रीमी होता है। आजकल नारियल दूध बहुत पॉपुलर हो रहा है।

नारियल का दूध सेहतमंद होता है।

3. सोय दूध (Soy Milk)

सोय मिल्क सोयाबीन से बनाया जाता है। यह प्रोटीन का बहुत अच्छा माध्यम है। गाय की दूध की जगह सोय का दूध भी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

सोय दूध लाभदायक होता है।

4. ओट्स का दूध (Oats Milk)

ओट मिल्क को होल ओट्स से निकाला जाता है। इसका टैक्शर क्रीमी होता है। ओट मिल्क कई फ्लेवर में आता है जैसे कि वनिला, चॉकलेट आदि।

ओट्स का दूध गुणकारी होता है।

5. चावल का दूध (Rice Milk)

चावल का दूध चावल से बनाया जाता है। चावल का दूध फ्लेवर में भी उपबल्ध है। गाय के दूध से एलर्जी होने पर चावल का दूध एक अच्छा ऑप्शन है।

इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

6. काजू का दूध (Cashew Milk)

काजू के दूध की स्थिरता क्रीमी होती है और यह विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होता है। लैक्टोज होने पर काजू का दूध डाइट में शामिल किया जा सकता है।

दूध के नुकसान (Side Effects Of Milk In Hindi)

दूध के नुकसान टॉपिक पढ़कर आप सोच रहे होंगे कि क्या दूध के नुकासन भी होते हैं। आपको बता दें कि जिस चीज के फायदे होते हैं उसके नुकसान भी होते हैं।

  • लैक्टोज असहिष्णुता (Lactose Intolerance) दूध से होने वाली एलर्जी होती है। इस बीमारी के दौरान दूध का सेवन करने से डाइजेशन में दिक्कत हो सकती है।
  • कभी- कभी दूध का सेवन करने से कब्ज, दस्त, उलटी भी लग सकती है।

आखिर में

दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) हम लोग बचपन से सुनते आ रहे हैं। लेकिन आज आपको दूध पीने के फायदे (doodh peene ke fayde) विस्तार रूप से पता चल होंगे। बच्चों को दूध का सेवन जरुर करवाना चाहिए जिससे आगे चलकर हड्डियों या मांसपेशियों से जुड़ी परेशानी होने के आसार कम हो जाए। इसके अलावा दूध के कई प्रोडक्ट भी उपलब्ध हैं जिनको आप डाइट में शामिल कर सकते हैं। कई लोग ऐसे होते हैं जिनको दूध से एलर्जी होती है जिसमें दूध के कारण इम्युनिटी पर गलत असर पड़ता है। दूध की जगह दूसरे ऑप्शन डाइट में शामिल कर सकते हैं लेकिन इससे पहले डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

FAQs

  1. दूध पीने से क्या नुकसान हो सकते हैं? (Why is milk bad for you?)

    अगर आपको दूध से एलर्जी है तो पेट में दर्द, डाइजेशन में दिक्कत, उलटी जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। दूध से एलर्जी अधिकतर बच्चों में पाई जाती है इसलिए डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

  2. दूध कैसे पीना चाहिए- गर्म या ठंडा? (How to drink milk- Hot or Cold?)

    आप दोनों तरह से दूध पी सकते हैं। वैसे कहा जाता है कि रात को गर्म दूध पीने से अच्छी नींद आती है और सर्दी में भी गर्म दूध पीना सही रहता है।

  3. एक दिन में कितने गिलास दूध पीने चाहिए? (How many glasses of milk should you drink in a day?)

    अमेरिकी के लिए संघीय सरकार के आहार संबंधी दिशानिर्देश के अनुसार बच्चों और बड़ों को 3 कप फैट फ्री या लो फैट दूध का सेवन करना चाहिए जो फल और सब्जियों के बराबर फायदे देते हैं।

  4. दूध कब पीना चाहिए? (When should we drink milk?)

    सुबह के अलावा दूध को कभी भी पी सकते हैं। सुबह खाली पेट दूध पीने से दूध पेट के लिए भारी हो सकता है जिसको पचने में समय लगता है। इसके अलावा रात को सोने से पहले गर्म दूध पीने से अच्छे से नींद आने में मदद मिलती है।

  5. क्या रोजाना दूध पीना सेहतमंद है? (Is it good to drink milk everyday?)

    रोजाना दूध पीना सेहतमंद माना जाता है क्योंकि यह कई सारे पौष्टिक आहार से भरपर होता है। रोजाना दूध पीने से बढ़ती उम्र में हड्डियों और मांसपेशियों से जुड़ी दिक्कतें होने के आसार कम हो जाते हैं।

लेखक के बारे में

सुरभि शर्मा मिश्री में हिंदी लेखिका हैं। इ्न्हें सवाल पूछना बहुत पसंद है शायद इसी कारण से इनके आर्टिकल आपको विस्तार जानकारी के साथ मिलेंगे। इनका कहना है कि अपने शौक को करियर में बदलने से अच्छा और क्या हो सकता है। लिखने के साथ- साथ और भी कई शोक रहे हैं लेकिन अब इन्हें लगता है कि यह अपना पसंदीदा काम कर रही हैं। 

इस लेखक द्वारा अधिक लेख

Leave a Reply on दूध पीने के फायदे, डिश, नुकसान (Benefits, Uses, Side Effects Of Milk In Hindi)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*