दूध के 9 प्रभावशाली फायदे, डिश और नुकसान - मिश्री
दूध के प्रभावशाली फायदे, डिश और नुकसान

दूध के 9 प्रभावशाली फायदे, डिश और नुकसान

दूध पीने के फायदे कैल्शियम से भरपूर होने के अलावा कई सारे हैं। दूध के फायदे वजन कम, स्वस्थ पेट, सेहतमंद दिल आदि से भी जुड़े हुए हैं।

दूध खत्म मिलना चाहिए।

दूध पीने से शक्तिमान जैसी ताकत आती है।

क्या आपने भी यह सभी बातें अपने माता- पिता से बचपन में सुनी हैं? इस सवाल का जवाब अधिकतर लोगों का हां ही होगा। दूध पीने के फायदे के बारे में यह बात सभी को पता है कि हड्डियां मजबूत होती हैं और कैल्शियम से भरपूर होता है। लेकिन आज आपको बता दें कि दूध के फायदे इनके अलावा भी कई सारे होते हैं। जैसे कि दूध के फायदे वजन कम करने के लिए, सेहतमंद दिल के लिए, डायबिटीज में आदि में लाभदायक होते हैं। इसके साथ दूध से कई सारे प्रोडक्ट बनते हैं जिनका सेवन आप आसानी से और स्वादिष्ट तरीके से कर सकते हैं। फायदे से भरपूर होने के साथ-साथ दूध के कुछ नुकसान भी हैं। इन सभी से जुड़ी जानकारी आप इस आर्टिकल से प्राप्त कर सकते हैं।

जैसा कि आपको पहले ही बताया है कि दूध पीने के फायदे कैल्शियम के अलावा कई और पौष्टिक तत्व से जुड़े हुए हैं। मिल्क पीने से आपको और कौन से पौष्टिक तत्व प्राप्त होते हैं से जुड़ी जानकारी नीचे दी गई टेबल से प्राप्त कर सकते हैं।

पोषण मात्रा – 244 ग्राम
कैलोरी 146
प्रोटीन 8 ग्राम
फैट 8 ग्राम
कैल्शियम 28% (रेफ्रेंस डेली इनटेक (आरडीआई))
विटामिन डी 24% (आरडीआई)
राइबोफ्लेविन 26% (आरडीआई)
विटामिन बी12 18% (आरडीआई)
पोटैशियम 10% (आरडीआई)
फास्फोरस 22% (आरडीआई)
सेलेनियम 13% (आरडीआई)

दूध के फायदे

दूध के फायदे लगभग शरीर के हर एक अंग से जुड़े हुए हैं। दूध विटामिन, मिनरल्स, प्रोटीन, एंटीऑक्सीडेंट और सेहतमंद फैट से भरपूर होता है। इन सभी के कारण दूध पीने के फायदे बढ़ जाते हैं। यहां से आप दूध पीने के फायदे से जुड़ी विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

1. मजबूत हड्डियां

दूध पीने के फायदे हड्डियां मजबूत करने में मदद करते हैं। यह एक ऐसा फायदा है जिसके बारे में बचपन से ही सभी को पता होता है। आपको बता दें कि शरीर का 99% कैल्शियम हड्डियों और दांतों में पाया जाता है। जिस कारण से दूध पीना बहुत जरूरी हो जाता है। दूध पीने से बढ़ती उम्र में हड्डियों से जुड़ी बीमारी होने के आसार कम होने में मदद मिलती है इसलिए पूरे दिन में दूध का सेवन जरूर करना चाहिए। इसके साथ ही यह भी कहा जाता है कि गाय का दूध सबसे ज्यादा पौष्टिक होता है और यह आसानी से पच जाता है।

2. प्रोटीन

कैल्शियम के अलावा दूध के फायदे प्रोटीन से भरपूर होते हैं। आपको बता दें कि 1 कप दूध में 8 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है। इसके साथ ही दूध पीने के फायदे अमीनो एसिड से जुड़े हुए हैं जो सेहतमंद शरीर के लिए जरूरी होते हैं। दूध के गुण प्रोटीन के कारण जाने जाते हैं इसलिए कसरत करने वाले लोगों की डाइट में दूध जरूर शामिल होता है। कसरत करते समय मांपेशियों में सूजन हो जाती है यहां पर दूध पीने के फायदे अपना काम करते हैं। दूध पीने से बढ़ती उम्र में मांसपेशियों में होने वाली परेशानी से राहत मिलने में मदद मिलती है।

दूध की स्मूथी
दूध के फायदे प्रोटीन से भरपूर

3. वेट लॉस

दूख पीने के फायदे वजन कम करने के लिए भी जाने जाते हैं। आपको बता दें कि प्रोटीन का सेवन करने से पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है जिससे आप बार- बार खाना नहीं खाते हैं। इसके अलावा डाइट में कैल्शियम शामिल करने से मोटापा होने के आसार कम हो जाते हैं। डाइट में होल मिल्क शामिल करने से वजन कम होने में मदद मिलती है।

4. सेहतमंद दिल

सेहतमंद दिल रखने के लिए जरूरी है कि डाइट में स्वस्थ चीजे शामिल करें। दूध पीने के फायदे सेहतमंद दिल के लिए जाने जाते हैं। दूध में पोटैशियम पाया जाता है जो ब्लड वेसल्स को डाइलेट करता है और ब्लड प्रेशर सामान्य बनाए रखने में मदद करता है। इसलिए दूध के फायदे अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।

संबंधित आर्टिकल: हल्दी दूध पीने के लाजवाब फायदे

गिलास में दूध
दूध के लाभ सेहतमंद दिल के लिए

5. डिप्रेशन

क्या आपको पता है दूध पीने के फायदे डिप्रेशन के लिए भी जाने जाते हैं। दूध में विटामिन डी पाया जाता है जो सेरोटोनिन प्रोड्यूज करने में मदद करता है। यह एक तरह का होर्मोन होता है जो खुशी देने में और मूड अच्छा करने में मदद करते हैं। विटामिन डी की कमी होने पर दूध को डाइट में शामिल किया जा सकता है।

6. अच्छी नींद

दूध पीने के फायदे अच्छी नींद के लिए खासतौर पर जाने जाते हैं। अगर रात में अच्छी नींद नहीं आती है और सुबह तरोताज़ा तरीके से नहीं होती है। ऐसे में सोने से 30- 45 मिनट पहले गर्म दूध पीना शुरू कर सकते हैं। जैसा कि आपको पता है दूध में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिसके कई सारे फायदे हैं और उनमें से एक फायदा अच्छी नींद से जुड़ी हुआ है।

संबंधित आर्टिकल: दूध में घी मिलाकर पीने के लाजवाब फायदे

सीरियल्स
दूध के फायदे अच्छी नींद के लिए

7. स्वस्थ पेट

दूध पीने के फायदे सेहतमंद पेट के लिए जाने जाते हैं। रोजाना दूध पीने से पेट की परेशानियां दूर रहने में मदद मिलती है। दूध पीने की सलाह सुबह खाली पेट कम दी जाती है क्योंकि दूध पचने में समय लगता है और यह भारी भी होता है। अगर सुबह दूध पीने से आपके बच्चे को तकलीफ हो रही है तो दूध पीने का समय बदलें।

8. सेहतमंद त्वचा

आपने यह तो सुना ही होगा कि पुराने समय में महारानियां दूध से नहाती थी क्योंकि दूध के फायदे त्वचा के लिए कई सारे हैं। आपको बता दें कि दूध में लैक्टिक एसिड पाया जाता है जो त्वचा सेहतमंद बनाने में मदद करता है। त्वचा पर दूध लगाने से नमी बनी रहती है। त्वचा पर कच्चा दूध लगाने से गंदगी निकालने में मदद मिलती है जिससे त्वचा साफ हो जाती है।

9. मजबूत बाल

दूध के पौष्टिक तत्व के बारे में आर्टिकल के शुरूआत में ही आपको बताया गया है। और बार- बार यह भी बताया गया है कि दूध के फायदे कैल्शियम होने के कारण सबसे ज्यादा जाने जाते हैं। दूध से बाल धोने से चमक आ जाती है। बाल बढ़ने और मजबूत करने के लिए प्रोटीन की जरूरत होती है जो दूध में भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे बालों की जड़े मजबूत होती हैं।

दूध के प्रोडक्ट

दूध एक ऐसी सामग्री है जिससे कई सारी चीजें बनाई जाती हैं। दूध के फायदे दूध के प्रोडक्ट से भी लिए जा सकते हैं। अगर आप दूध कम पसंद करते हैं तो इसके प्रोडक्ट डाइट में शामिल कर सकते हैं। दूध के प्रोडक्ट से जुड़ी जानकारी नीचे से ले सकते हैं।

  • दही
  • लस्सी
  • पनीर
  • चीज़
  • योगर्ट
  • क्रीम
  • बटर
  • कस्टर्ड
  • आइसक्रीम
दूध और चीज़
दूध के प्रोडक्ट

दूध से बनने वाली डिश

वैसे तो दूध से कई सारी डिश बनाई जाती हैं। यहां से आप उन डिश से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं जिसमें दूध मुख्य सामग्री है। दूध से बनाई गई डिश स्वादिष्ट होने के साथ- साथ सेहतमंद भी होती हैं। दूध से बनने वाली डिश से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. खीर

खीर बनाने की विधि

  • खीर बनाने कि लिए सबसे पहले पतीले में दूध डालें और उबालें।
  • दूध उबलने के बाद चावल डालें और अच्छे से उबलने दें।
  • उबलने के बाद इसमें स्वादानुसार चीनी डालें।
  • अब खीर तब तक उबलने दें जब तक यह गाढ़ी ना हो जाए।
  • खीर में अपने पसंद के ड्राई फ्रूट्स डालें।
  • गर्म या ठंडी खीर खा सकते हैं।

2. पनीर

पनीर से कई सारी स्वादिष्ट डिश बनाई जा सकती हैं लेकिन अगर आप पनीर घर में ही बना लें तो इससे बनने वाली हर डिश का स्वाद दोगुना हो जाएगा। घर में बनाया गया पनीर सॉफ्ट होता है। घर में पनीर बनाने की विधि बहुत आसान है।

पनीर बनाने की विधि

  • पनीर बनाने के लिए सबसे पहले पतीले में दूध उबलने के लिए रख दें।
  • जैसे ही दूध में उबाल आने वाला हो वैसे ही इसमें आधा कप लस्सी या नींबू का रस डालें।
  • नींबू के रस से पनीर खट्टा बन जाता है। लस्सी का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।
  • लस्सी डालने के बाद पनीर बनने लगेगा।
  • पनीर बनने के बाद इस पकने दें।
  • अच्छे से पनीर बनने के बाद दूसरे पतीले के ऊपर सूती और साफ कपड़ा लगाएं।
  • सूती कपड़े के ऊपर पनीर छान लें।
  • पनीर सूती कपड़े में रह जाएगा और लस्सी का पानी पतीले में रह जाएगा।
  • अब कपड़े को टाइट बांध लें और पनीर के ऊपर भारी चीज रख दें।
  • भारी चीज रखने से पनीर से सारी लस्सी निकल जाएगी जिससे पनीर खट्टा नहीं होगा।
  • 30 मिनट बाद सूती कपड़े में से पनीर निकाल लें और आकार में काट लें।
  • अगर आपको कुछ समय बाद पनीर इस्तेमाल करना है तो पानी में डालकर पनीर फ्रिज में रख दें ताकि पनीर सख्त ना हो जाए।
पनीर टिक्का
दूध से घर में पनीर बनाएं।

3. मैंगो शेक

मैंगो शेक बनाने के लिए दूध एक मुख्य सामग्री है। मैंगो शेक में सही मात्रा में दूध डालना बेहद जरूरी है क्योंकि मैंगो शेक ज्यादा पतला और ज्यादा गाढ़ा अच्छा नहीं लगता है। मैगो शेक घर में आसानी से बनाया जा सकता है।

मैंगो शेक बनाने की विधि

  • मैंगो शेक बनाने के लिए सबसे पहले आम के छिलके उतार लें और छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • अब मिक्सर में आम के टुकडें और चीनी डालें और पीस लें।
  • आम के साथ चीनी डालने से यह अच्छे से घुल जाती है।
  • अब इसमें दूध डालें और अच्छे से मिक्स करें।
  • अगर दूध बहुत ज्यादा गाढ़ा लग रहा है तो थोड़ा पानी भी डाल सकते हैं। पानी डालने से स्वाद बिगढ़ता नहीं है।
  • मैंगो शेक गिलास में निकाल लें।
  • इसके ऊपर बादाम पीसकर डाल सकते हैं या फिर अपने पसंद की टॉपिंग शामिल कर सकते हैं।
मैंगो शेक
मैंगो शेक घर में बनाएं।

4. घर की आइसक्रीम

गर्मियों में रोजाना आइसक्रीम मिल जाए तो दिन बन जाता है। हर घर की आइसक्रीम बनाने की रेसिपी अलग होती है। अगर आप यह रेसिपी फॉलो करना चाहते हैं तो अवश्य करें।

आइसक्रीम बनाने की विधि

  • आइसक्रीम बनाने के लिए 20 मिनट दूध पकने दें।
  • अब दूध में चीनी डालें और 5 मिनट पकने दें।
  • एक कटोरी में सामान्य दूध लें और इसमें कस्टर्ड पाउडर अच्छे से मिलाएं।
  • जिस कटोरी में कस्टर्ड वाला दूध है वो उबले हुए दूध में डालें और 5 मिनट पकने दें।
  • अब आइसक्रीम का दूध ठंडा होने दें।
  • आइसक्रीम का दूध सामान्य होने के बाद इसे मिक्सर में डालें।
  • मिक्सर में बादाम, काजू या फिर अपने पसंद के ड्राई फ्रूट्स डालें और पीस लें।
  • अब यह मिश्रण आइसक्रीम के बर्तन में डालें और फ्रीजर में रख दें।
  • कुछ घंटों बाद फ्रीजर में आइसक्रीम देख लें कि आइसक्रीम जमी है या नहीं। उसके बाद ही फ्रीजर से निकालें और खाएं।
आइसक्रीम
घर में दूध से आइसक्रीम बनाएं।

5. रबड़ी

रबड़ी बनाना आसान है क्योंकि इसमें बहुत कम सामग्री की जरूरत होती है। रबड़ी बनाते समय इस बात का खास ध्यान रखना है कि दूध कितना उबल रहा है और कितनी गैस पर उबल रहा है।

रबड़ी बनाने की विधि

  • रबड़ी बनाने के लिए कढ़ाई में दूध डालें और 10 मिनट फुल गैस पर उबलने दें।
  • अब 10 मिनट दूध मीडियम गैस पर उबलने दें।
  • रबड़ी बनाने के लिए दूध तब तक उबालें जब तक दूध आधा ना हो जाए।
  • हर समय दूध को करछी से चलाने की जरूरत नहीं है।
  • हर 2-3 मिनट में दूध करछी से चलाएं जिससे दूध नीचे चिपक ना जाए।
  • अब इसमें स्वादानुसार चीनी डालें और अच्छे से मिलाएं।
  • जब आपको लगे दूध आधा हो गया है तब इसमें अपनी पसंद के अनुसार ड्राई फ्रूट्स डालें।
  • अब रबड़ी पकने दें और रबड़ी तैयार है।

दूध से एलर्जी

दूध के ऑप्शन के बारे में बात करना इसलिए जरूरी है क्योंकि कई लोगों को दूध या डेयरी प्रोडक्ट से एलर्जी होती है। जब डेयरी प्रोडक्ट इम्यून सिस्टम पर अजीब तरीके से असर करते हैं तब लैक्टोज असहिष्णुता (Lactose Intolerance) हो सकता है। यह अधिकतर बच्चों में पाया जाता है। बच्चों को गाय के दूध, बकरी के दूध आदि से एलर्जी हो सकती है। लैक्टोज असहिष्णुता होने पर पेट में दिक्कत, उलटी, मल में खून जैसे लक्षण हो सकते हैं।

दूध से एलर्जी होने पर डॉक्टर के द्वारा सलाह दी जाती है कि डेयरी प्रोडक्ट से दूर रहना चाहिए। डेयरी प्रोडक्ट से दूर रहने का मतलब है कई सारे पौष्टिक आहार से दूर रहना। लेकिन ऐसा नहीं है। अगर आपको भी दूध से एलर्जी है तो आपके लिए कई सारे ऑप्शन मौजूद हैं जिन्हे दूध की जगह उपयोग कर सकते हैं। दूध के ऑप्शन से जुड़ी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं।

दूध के ऑप्शन 

जिन लोगों को दूध से एलर्जी होती है उन लोगों को दूध के ऑप्शन अपनी डाइट में शामिल करने जरूरी हो जाते हैं। दूध के आप्शन से जुड़ी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं।

1. बादाम का दूध

गाय के दूध की जगह बादाम का दूध डाइट में शामिल किया जा सकता है। इसमें गाय के दूध के मुकाबले कैलोरी और फैट की मात्रा कम होती है।

बादाम का दूध
बादाम का दूध डाइट में शामिल कर सकते हैं।

2. नारियल का दूध

नारियल का दूध नारियल के गुद्दे और पानी से बनता है। नारियल दूध साउथ ईस्ट एशिया, साऊथ एशिया और ईस्ट एशिया में पारंपरिक रूप से खाने में इस्तेमाल किया जाता है। इसका टैक्शर क्रीमी होता है। आजकल नारियल दूध बहुत पॉपुलर हो रहा है।

नारियल का दूध
नारियल का दूध सेहतमंद होता है।

3. सोय दूध

सोय मिल्क सोयाबीन से बनाया जाता है। यह प्रोटीन का बहुत अच्छा स्रोत है। गाय के दूध की जगह सोय का दूध भी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

सोय दूध
सोय दूध लाभदायक होता है।

4. ओट्स का दूध

ओट मिल्क को होल ओट्स से निकाला जाता है। इसका टैक्शर क्रीमी होता है। ओट मिल्क कई फ्लेवर में आता है जैसे कि वनिला, चॉकलेट आदि।

5. चावल का दूध

चावल का दूध चावल से बनाया जाता है। चावल का दूध फ्लेवर में भी उपबल्ध है। गाय के दूध से एलर्जी होने पर चावल का दूध एक अच्छा ऑप्शन है।

6. काजू का दूध

काजू के दूध की स्थिरता क्रीमी होती है और यह विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होता है। लैक्टोज होने पर काजू का दूध डाइट में शामिल किया जा सकता है।

दूध के नुकसान

दूध के नुकसान टॉपिक पढ़कर आप सोच रहे होंगे कि क्या दूध के नुकासन भी होते हैं। आपको बता दें कि जिस चीज के फायदे होते हैं उसके नुकसान भी होते हैं।

  • लैक्टोज असहिष्णुता (Lactose Intolerance) दूध से होने वाली एलर्जी होती है। इस बीमारी के दौरान दूध का सेवन करने से डाइजेशन में दिक्कत हो सकती है।
  • कभी- कभी दूध का सेवन करने से कब्ज, दस्त, उलटी भी लग सकती है।

सारांश

दूध पीने के फायदे हम लोग बचपन से सुनते आ रहे हैं। लेकिन आज आपको दूध पीने के फायदे विस्तार रूप से पता चल होंगे। बच्चों को दूध का सेवन जरूर करवाना चाहिए जिससे आगे चलकर हड्डियों या मांसपेशियों से जुड़ी परेशानी होने के आसार कम हो जाए।

इसके अलावा दूध के कई प्रोडक्ट भी उपलब्ध हैं जिनको आप डाइट में शामिल कर सकते हैं। कई लोग ऐसे होते हैं जिनको दूध से एलर्जी होती है जिसमें दूध के कारण इम्यूनिटी पर गलत असर पड़ता है। दूध की जगह दूसरे ऑप्शन डाइट में शामिल कर सकते हैं लेकिन इससे पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

आपकी पसंदीदा दूध से बनने वाली डिश कौन- सी है? हमें कमेंट में जरूर बताएं।

FAQs

दूध के फायदे से जुड़े जरूरी सवालों के जवाब यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. दूध पीने से क्या नुकसान हो सकते हैं?

अगर आपको दूध से एलर्जी है तो पेट में दर्द, डाइजेशन में दिक्कत, उलटी जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। दूध से एलर्जी अधिकतर बच्चों में पाई जाती है इसलिए डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

2. दूध कैसे पीना चाहिए- गर्म या ठंडा?

आप दोनों तरह से दूध पी सकते हैं। वैसे कहा जाता है कि रात को गर्म दूध पीने से अच्छी नींद आती है और सर्दी में भी गर्म दूध पीना सही रहता है।

3. एक दिन में कितने गिलास दूध पीने चाहिए?

एक अध्ययन के अनुसार, बच्चों और बड़े लोगों को 3 कप फैट फ्री या लो फैट दूध का सेवन करना चाहिए जो फल और सब्जियों के बराबर फायदे देते हैं।

4. दूध कब पीना चाहिए?

सुबह के अलावा दूध को कभी भी पी सकते हैं। सुबह खाली पेट दूध पीने से दूध पेट के लिए भारी हो सकता है जिसको पचने में समय लगता है। इसके अलावा रात को सोने से पहले गर्म दूध पीने से अच्छे से नींद आने में मदद मिलती है।

5. क्या रोजाना दूध पीना सेहतमंद है?

रोजाना दूध पीना सेहतमंद माना जाता है क्योंकि यह कई सारे पौष्टिक आहार से भरपर होता है। रोजाना दूध पीने से बढ़ती उम्र में हड्डियों और मांसपेशियों से जुड़ी दिक्कतें होने के आसार कम हो जाते हैं।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments