साबूदाना के फायदे और नुकसान (Sabudana Benefits And Side Effects In Hindi)

साबूदाना के फायदे और नुकसान (Sabudana Benefits And Side Effects In Hindi)

benefits of sabudana

साबूदाना के फायदे और नुकसान (Sabudana Benefits And Side Effects In Hindi)

साबूदाना के फायदे (Sabudana Ke Fayde) सामान्य ब्लड प्रेशर से लेकर सेहतमंद त्वचा तक जुड़े हुए हैं। साबुदाना को डाइट में कैसे शामिल करें, यहां से जानें।

साबूदाना का नाम आमतौर पर व्रत के समय में सुनने को मिलता है। लेकिन आपको बता दें कि साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) कई सारे हैं जैसे कि गर्मी से राहत, सामान्य ब्लड प्रेशर, एनर्जी देने में मदद, मजबूत हड्डियां आदि। साबूदाना एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो सेहतमंद रहने में मदद करते हैं। इतने सारे साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) होने के बाद साबूदाना को डाइट में शामिल करना जरुरी हो जाता है। साबूदाना को बहुत आसानी से डाइट में शामिल किया जा सकता है। इस आर्टिकल से आप साबूदाना के फायदे, पौष्टिक आहार, उपयोग और नुकसान से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) डाइट में जरुर शामिल करें।

विषय सूची

साबूदाना के पौष्टिक तत्व (Sabudana Nutritional Value In Hindi)

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) इसमें मौजूद पौष्टिक तत्व के कारण मिलते हैं। साबूदाना के पौष्टिक तत्व से जुड़ी जानकारी नीचे दी गई टेबल से ले सकते हैं (1)।

पोषण मात्रा – 100 ग्राम)
कैलोरी 332
प्रोटीन 1 ग्राम से कम
फैट 1 ग्राम से कम
कार्बोहाइड्रेट 83 ग्राम
फाइबर 1 ग्राम से कम
ज़िंक 11% (रेफ्रेंस डेली इनटेक (आरडीआई))

Buy Sabudana Online

साबूदाना के फायदे (Benefits Of Sabudana In Hindi)

क्या आपको पता है साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) गर्मी से बचाव करने में मदद करते हैं। इसके साथ ही साबूदाना दिल को सेहतमंद रखने में भी मदद करता है। इसके अलावा साबूदाना के कई सारे फायदे हैं जिससे जुड़ी सारी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

 

1) साबूदाना के फायदे गर्मी दूर करने के लिए (Benefits Of Sabudana To Get Rid Of Heat In Hindi)

साबूदाना में मौजूद पौष्टिक तत्व गर्मी दूर करने में मदद करते हैं। आपको बता दें कि व्रत के समय साबूदाना का इस्तेमाल अधिकतर किया जाता है। व्रत वाले दिन बिना कुछ खाए रहा जाता है। इसके समय साबूदाने की डिश खाने से शरीर में गर्मी से राहत पाने में मदद मिलती है और साथ ही एनर्जी भी मिलती है। इसलिए व्रत में लोग साबूदाने का सेवन करते हैं।

 

ज्यादा सेहतमंद क्या है- फ्रूट या फ्रूट जूस?

 

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) गर्मी से राहत देने के लिए।

 

2) साबूदाना के गुण एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर (Benefits Of Sago Are Full Of Antioxidants In Hindi)

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) एंटीऑक्सीडेंट होने के कारण बढ़ जाते हैं। एंटीऑक्सीडेंट हमारे शरीर को फ्री रेडिकल के खतरे से बचाकर रखने में मदद करते हैं। फ्री रेडिकल ऐसे रोगजनक होते हैं जो शरीर में प्रवेश करने के बाद बीमारी पैदा करते हैं। जब फ्री रेडिकल का लेवल बहुत ज्यादा बढ़ जाता है सेल खराब हो जाते हैं जिससे दिल की बीमारी के आसार बढ़ जाते हैं (2)। लेकिन अगर आपकी डाइट में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद है तो यह फ्री रेडिकल से लड़ने में मदद करते हैं। एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल को खत्म करने में मदद करते हैं और बीमारी से भी दूर रखते हैं।

 

3) साबूदाना के लाभ सेहतमंद दिल के लिए (Benefits Of Sabudana For Healthy Heart In Hindi)

दिल को सेहतमंद बनाए रखने के लिए जरुरी है कि आप दिल को स्वस्थ रखने वाली खाने की चीजों को अपनी डाइट में शामिल करें। चूहों पर किए गए एक अध्ययन में यह पाया गया है कि साबूदाना खाने से कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होने में मदद मिलती है (3)। इसलिए साबूदाना को डाइट में शामिल करना एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है।

 

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) सेहतमंद दिल के लिए।

 

4) साबूदाना के फायदे सामान्य ब्लड प्रेशर के लिए (Benefits Of Sago For Managing Blood Pressure In Hindi)

क्या आपको पता है साबूदाना में पोटेशियम भी पाया जाता है जो शरीर में खून के बहाव को सामान्य बनाए रखने में मदद करता है। शरीर में खून क बहाव सामान्य बने रहने से सभी अंग अच्छे से काम करते हैं। इसके साथ ही ब्लड प्रेशर का लेवल भी सही रहता है। ब्लड प्रेशर सामान्य बने रहना दिल के सेहतमंद रहने से जुड़ा हुआ है।

 

5) साबूदाना के गुण मजबूत हड्डियों के लिए (Benefits Of Sabudana For Strong Bones In Hindi)

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) मजबूत हड्डियों से भी जुड़े हुए हैं क्योंकि साबूदाना में कैल्शियम भी पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाए रखने में मदद करता है। इसलिए छोटे बच्चों को साबूदाना खिलाया जाता है क्योंकि यह आसानी से पचता है और बच्चों की हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है।

 

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) मजबूत हड्डियों के लिए।

 

6) साबूदाना के लाभ वजन बढ़ाने के लिए (Benefits Of Sago Helps In Gain Weight In Hindi)

अगर आपका वजन सामान्य कम है और अपको वजन बढ़ाना है तो साबूदाना एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है। साबूदाना में कैलोरी ज्यादा होती है जिससे वजन बढ़ने में मदद मिलती है। वजन बढ़ाने के लिए आप साबूदाना की खिचड़ी अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

 

7) साबूदाना के फायदे स्वस्थ डाइजेशन के लिए (Benefits Of Sabudana For Healthy Digestion In Hindi)

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) पेट को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। अगर आपको पेट से जुड़ी परेशानी जैसी कि कब्ज की दिक्कत है तो आप साबूदाना को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। साबूदाना में फाइबर और प्रोटीन पाया जाता है जो पेट से जुड़ी परेशानी कम करने में मदद करते हैं। इसके साथ ही साबूदाना को पचाना बेहद आसान होता है जिससे पेट स्वस्थ रहता है।

 

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) स्वस्थ डाइजेशन के लिए।

 

8) साबूदाना के गुण सेहतमंद त्वचा के लिए (Benefits Of Sago For Healthy Skin In Hindi)

मौसम के अनुसार त्वचा का ध्यान रखना जरुरी है। खासतौर से गर्मियों में त्वचा के लिए साबूदाने के फायदे (sabudane ke fayde) इस्तेमाल करने चाहिए। साबूदाना में एंटीऑक्सीडेंट, ज़िंक, कॉपर, सेलेनियम पाए जाते हैं जो त्वचा को हानिकारक सूरज की किरणों से बचाकर रखने में मदद करते हैं। इसके साथ ही त्वचा को बचाव फ्री रेडिकल से करते हैं जो त्वचा को खराब बनाते हैं।

 

साबूदाना से बनने वाली डिश (Dishes To Make With Sabudana In Hindi)

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) जानने के बाद जरुरी है कि आप इसे अपनी डाइट में शामिल करें। साबूदाना को डाइट में कई तरह से शामिल किया जा सकता है। नीचे से आप साबूदाना से बनने वाली डिश के आइडिया ले सकते हैं।

 

1) साबूदना खिचड़ी (Sabudana Khichdi)

आमतौर पर व्रत के समय साबूदाना की खिचड़ी बनाई जाती है। अदर आपको कुछ हलका खाना है तो साबूदाना की खिचड़ी बना सकते हैं।

साबूदाना की खिचड़ी बनाने कि विधि

 

  • सबसे पहले साबूदाना लें और पानी में धो लें और पानी निकाल लें।
  • अब इसमें थोड़ा सा पानी डालें और 1-2 घंटे के लिए रख दें।
  • खिचड़ी बनाने वाले बर्तन में घी गर्म करें और जीरा, हरी मिर्च, अदरक, टमाटर डालें।
  • अच्छे से पकाएं।
  • उबले हुए आलू डालें और अच्छे से पकाएं।
  • अच्छे से पकने के बाद साबूदाना डालें।
  • इसमें नमक डालें और अच्छे से पकाएं।
  • आप चाहें तो भुनी हुई मूंगफली डाल सकते हैं।
  • आखिर में नींबू का रस और हरा धनिया डालें।
  • साबूदाना खिचड़ी तैयार है।

 

साबूदाना खिचड़ी घर में बनाएं।
इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

 

2) साबूदाना की खीर (Sabudana Kheer)

अगर आप अपनी सामान्य चावल वाली खीर के अलावा कुछ और ट्राई करना चाहते हैं तो साबूदाना की खीर बना सकते हैं। साबूदाना की खीर बनानी बेहद आसान है।

साबूदाना खीन बनाने की विधि

 

  • साबूदाना की खीर बनाने के लिए सबसे पहले साबूदाना 30 से 1 घंटा पानी में भिगाकर रखें।
  • अब दूध उबालें और फिर साबूदाना दूध में डालें।
  • अब खीर 10 मिनट पकाएं।
  • अपनी पसंद के ड्राई फ्रूट खीर में डालें।
  • अब अपने स्वाद के अनुसार चीनी डालें और पकाएं।
  • सिंपल साबूदाना की खीर तैयार है।

 

साबूदाना खीर जरुर ट्राई करें।
इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

 

3) साबूदाना के पापड़ (Sabudana Papad)

स्नैक्स टाइम में साबूदाना के पापड़ खा सकते हैं। साबूदाना के पापड़ बनाना आसान है।

साबूदाना के पापड़ बनाने की विधि

 

  • साबूदाना के पापड़ बनाने के लिए साबूदाना रातभर के लिए पानी में भिगा दें।
  • अगली सुबह पानी निकाल दें।
  • पानी उबालें और साबूदाना, नमक, काली मिर्च डालें और 10 मिनट पकाएं।
  • 10 मिनट बाद गैस बंद करें।
  • अब एक बड़ा प्लास्टिक लें और इस पर तेल लगा दें।
  • अब करछी से साबूदाना का घोल लें और प्लास्टिक पर गोल आकार में बनाएं।
  • इन्हें में धूप सूखा दें।
  • एक साइड से सूखने के बाद साबूदाना के पापड़ पलट दें।
  • 2 दिन के पापड़ को धूप में सूखने दें।
  • अच्छे से सूखने के इन्हें तेल में तलें और चाय के साथ खाएं।
  • साबूदाना के पापड़ एयर टाइट डिब्बे में स्टोर करें।

 

साबूदाना के पापड़ स्नैक्स की तरह खाएं।
इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

 

4) साबूदाना वडा (Sabudana Vada)

अगर आपको साउथ इंडियन खाना पसंद है तो उसमें आप साबूदाना को शामिल कर सकते हैं। साबूदाना के वडे बनाने की विधि नीचे से देख सकते हैं।

साबूदाना वडा बनाने की विधि

 

  • साबूदाना वडा बनाने के लिए रातभर के लिए साबूदाना पानी में भिगा दें।
  • अब साबूदाना एक बर्तन में डालें और इसमें उबले हुए आलू, हरी मिर्च, अदरक, हरा धनिया, नमक, नींबू का रस और मिला लें।
  • साबूदाना वडे के लिए मिश्रण तैयार है।
  • अब इस मिश्रण से वडे का आकार बनाएं।
  • अब तेल गर्म कर लें और गर्म तेल में वडे डालें और डीप फ्राई करें।
  • साबूदाना के वडे तैयार हैं।

 

साबूदाना वडा चटनी के साथ खाएं।
इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

 

साबूदाना के नुकसान (Side Effects Of Sabudana In Hindi)

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) के साथ- साथ कुछ नुकसान भी हैं। लेकिन यह नुकसान आपको तभी हो सकते हैं अगर आप साबूदाना का सेवन सही तरीके और सही मात्रा में नहीं करेंगे। साबूदाना का सेवन अधिक मात्रा में करने से आपको यह नुकसान हो सकते हैं।

 

  • साबूदाना का इस्तेमाल करने से पहले इसे अच्छे धोएं और प्रर्याप्त समय के लिए पानी में भिगाएं। बिना भिगाएं साबूदाना खाने से हानिकारक हो सकता है।
  • साबूदाना में से स्टार्च को हटाने के बाद ही इसका सेवन करें।
  • साबूदाना में कैलोरी की मात्रा ज्यादा होती है जिससे सामान्य से ज्यादा वजन बढ़ सकता है।

 

आखिर में

साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) लेने के लिए जरुरी है कि आप इसका सेवन सही तरीके से करें। सही तरीके से साबूदाना का सेवन करने से आपको इसके कई फायदे मिल सकते हैं जैसे कि सामान्य ब्लड प्रेशर, गर्मी से बचाव आदि। अगर साबूदाना को सही से नहीं खाया गया तो यह ज़हरीला भी हो सकता है। इसलिए इसको पकाना से पहले अच्छे से धोएं और फिर खाएं। साबूदाना से कई सारी स्वादिष्ट डिश बनाई जा सकती हैं जिनको आप मज़े से खा सकते हैं और साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) भी प्राप्त कर सकते हैं।

 

FAQs

 

  1. क्या साबूदाना सेहत के लिए लाभदायक है? (Is sabudana good for health?)

    साबूदाना के फायदे (sabudana ke fayde) कई सारे हैं जैसे कि सामान्य ब्लड प्रेशर, मजबूत हड्डियां, स्वस्थ पेट, सामान्य वजन, सेहतमंद दिल आदि।

  2. क्या साबूदाना बच्चों के लिए अच्छा है? (Is sago good for babies?)

    बच्चों के लिए साबूदाना बहुत अच्छा होता है क्योंकि साबूदाना को बच्चे आसानी से पचा सकते हैं। बच्चों के शुरुआती बढ़ते साल में साबूदाना बहुत लाभदायक माना जाता है।

  3. क्या साबूदाना को रोजाना खाया जा सकता है? (Can we eat sabudana daily?)

    अगर आप वजन बढ़ाने के साबूदाना खा रहे हैं तो इसका सेवन रोजाना किया जा सकता है।

  4. क्या साबूदाना वजन कम करने में मदद करता है? (Does sago help in weight loss?)

    साबूदाना में कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट ज्यादा मात्रा में पाए जाते हैं जो वजन बढ़ाने में मदद करते हैं। अगर आपको वजन बढ़ाना है तो साबूदाना को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

 

लेखक के बारे में

सुरभि शर्मा मिश्री में हिंदी लेखिका हैं। इ्न्हें सवाल पूछना बहुत पसंद है शायद इसी कारण से इनके आर्टिकल आपको विस्तार जानकारी के साथ मिलेंगे। इनका कहना है कि अपने शौक को करियर में बदलने से अच्छा और क्या हो सकता है। लिखने के साथ- साथ और भी कई शोक रहे हैं लेकिन अब इन्हें लगता है कि यह अपना पसंदीदा काम कर रही हैं। 

इस लेखक द्वारा अधिक लेख

सुरभि शर्मा

मेरा नाम सुरभि शर्मा है। मिश्री में मैं हिंदी लेखक के तौर पर काम करती हूं। मुझे दो काम बहुत पसंद हैं- लिखना और खाना और ताजुब की बात है कि मेरा काम भी इसी से जुड़ा हुआ है। खाने से जुड़ी सही और सटीक जानकारी लोगों को देने मैं अपनी जिम्मेदारी समझती हूं जिससे लोगों को हमेशा बेस्ट के बारे में पता चले। मेरी कोशिश हमेशा अपने रीडर्स को सही जानकारी देने की रहेगी।

Leave a Reply on साबूदाना के फायदे और नुकसान (Sabudana Benefits And Side Effects In Hindi)

Your email address will not be published. Required fields are marked *