रागी के 10 गुणकारी फायदे, नुकसान और डिश - मिश्री
रागी के गुणकारी फायदे, नुकसान और डिश

रागी के 10 गुणकारी फायदे, नुकसान और डिश

रागी सुपरफूड है। रागी के फायदे डाइट में लाजवाब तरीके से शामिल किए जा सकते हैं।

यह होल ग्रेन अनाज है जो ग्लूटेन फ्री है और साउथ इंडिया में इसका उपयोग रोजाना किया जाता है। क्या आप पहचान सकते हैं?

जब भी सेहतमंद खाने की बात होती है तो हम चावल या गेहूं से बनने वाली डिश की बात करते हैं लेकिन इन सभी के बीच रागी एक महत्वपू्ण अनाज है। रागी नॉन- ग्लूटेन और नॉन – एसिडिक है जिससे यह ग्लूटेन, गैस आदि से परेशान लोगों और बच्चों के लिए सही अनाज है।

पहली बार रागी खाने पर आपको इसका स्वाद थोड़ा कम अच्छा लग सकता है लेकिन रागी के फायदे जानने के बाद आप इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहेंगे। आपने कई बार रागी को टेस्ट किया होगा लेकिन इसका सेवन रोजाना नहीं करते होंगे। रागी के फायदे प्रोटीन, फाइबर, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, मिनरल्स से भरपूर होते हैं जिस कारण से यह सुपरफूड कहलाता है।

रागी के फायदे इसमें मौजूद पौष्टिक तत्व के कारण हैं। नीचे दी गई टेबल से आप रागी में मौजूद पौष्टिक तत्व से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 100 ग्राम रागी के पोषण तत्व कुछ प्रकार है।

 

पोषण मात्रा – 100 ग्राम
फाइबर 19.1 एमजी
कुल फिनोल 102 एमजी
कार्बोहाइड्रेट 72.6 ग्राम
कैल्शियम 344 एमजी
फास्फोरस 283 एमजी
आयरन 3.8 एमजी
मैग्नीशियम 137 एमजी
सोडियम 11 एमजी
पोटेशियम 408 एमजी
कॉपर 0.47 एमजी
मैग्नीज 5.49 एमजी
ज़िंक 2.3 एमजी
राइबोफ्लेविन 0.19 एमजी
नियासिन 1.1 एमजी

रागी के फायदे

रागी को सुपरफूड कहा जाता है क्योंकि यह जरूरी पौष्टिक तत्व से भरपूर है। अगर आप रागी को डाइट में शामिल करना चाहते हैं तो इसके फायदे के बारे में जरूर जान लें। किस तरह से आपको रागी के फायदे मिल सकते हैं, यहां से जानें।

1. कैल्शियम से भरपूर

आटा गूंथते हुए
रागी के फायदे कैल्शियम से भरपूर होते हैं

बाकी अनाज के मुकाबले रागी में 5 से 30 गुना ज्यादा कैल्शियम पाया जाता है। राष्ट्रीय पोषण संस्थान के अनुसार 100 ग्राम रागी में 344 एमजी कैल्शियम पाया जाता है जो पूरे दिन की कैल्शियम की जरूरत को पूरा करने के लिए अच्छा है। इससे कहा जा सकता है कि रागी के फायदे कैल्शियम से भरपूर होते हैं।

जैसा कि ऊपर बताया गया है कि रागी में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे हड्डियां, दांत मजबूत रहते हैं और ऑस्टियोपोरोसिस (हड्डियों से जुड़ी बीमारी) से बचाव मिलता है। कैल्शियम से भरपूर होने के कारण बढ़ते बच्चे और गर्भवति महिलाओं के लिए रागी के फायदे बढ़ जाते हैं। कैल्शियम के अलावा रागी के फायदे विटामिन डी से भी भरपूर हैं। विटामिन डी होने से कैल्शियम अब्जॉर्ब करना आसान हो जाता है। अगर आप सूरज की किरणों से विटामिन डी नहीं ले पा रहे हैं तो रागी डाइट में शामिल करने का सोच सकते हैं।

2. डायबिटीज

ब्लड शुगर लेवल नापने वाली मशीन
रागी के फायदे डायबिटीज में फायदेमंद हो सकते हैं

बाकी अनाज के मुकाबले रागी में पॉलीफेनोल्स और डाइटरी फाइबर पाया जाता है। रागी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है जिससे ब्लड शुगर लेवल बढ़ने के आसार कम हो जाते हैं। रागी के फायदे स्टार्च का आसानी से अब्जॉर्ब होना, डायबिटीज को लेकर सतर्क करना आदि से जुड़े हुए हैं।

3. एनीमिया

रागी के फायदे आयरन से भरपूर होने के कारण भी जाने जाते हैं। आयरन का सेवन करने से हीमोग्लोबिन में सुधार होता है जिससे एनीमिया होने के आसार कम हो जाते हैं। जिन लोगों को एनीमिया है उन लोगों को अपनी डाइट में आयरन से भरपूर डाइट फॉलो करनी चाहिए। आयरन की कमी को पूरा करने के लिए आप रागी कुकीज़ या रागी का हलवा भी खा सकते हैं। और यह ऑप्शन आयरन की दवाई खाने से तो बहुत अच्छा है।

4. एंटी एजिंग

बढ़ती उम्र के लक्षण त्वचा पर झुर्रियां, फाइन लाइन, काले धब्बे के रूप में दिखने लग जाते हैं। सेहतमंद खाने की आदत की मदद से बढ़ती उम्र के आसार देरी से आ सकते हैं। सेहतमंद डाइट में आप रागी के फायदे शामिल कर सकते हैं। रागी में अमिनो एसिड होते हैं जैसे कि मेथिओनिन और लाइसिन जो टिश्शू को झुर्रियों से बचाकर रखने में मदद करते हैं। रागी खाने के फायदे डाइट में शामिल करने से बढ़ती उम्र के आसार देरी से आने में मदद मिल सकती है।

5. आरामदायक

आजकल की भाग- दौड़ भरी जिंदगी में चिंता, बेचैनी, नींद ना आना लोगों में आम हो गया है। लेकिन यह चिंताजनक विषय है। इसके लिए डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है। इसके साथ ही अपनी डाइट का भी खास ध्यान रखें। ऐसी स्थिति में आप डाइट में रागी के फायदे शामिल कर सकते हैं। रागी में भरपूर मात्रा में अमिनो एसिड और ट्रिप्टोफैन पाए जाते हैं जो प्राकृतिक रूप से आराम देने वाले तत्व होते हैं। साल 2000 में मेड इंडिया के द्वारा किए गए अध्ययन में पाया गया है कि रागी के फायदे माइग्रेन में लाभदायक हैं।

संबंधित आर्टिकल: ज्वार के लाजवाब फायदे

Buy Ragi/Ragi Flour Online

6. वेट लॉस

वजन नापने वाली मशीन पर मापने वाला टैप
रागी के फायदे वेट लॉस के लिए

रागी के फायदे वजन कम करने में मदद कर सकते हैं। जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि रागी में डाइटरी फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे पेट लंबे समय तक भरा रहता है। डाइट में रागी शामिल करने से भूख कम लगती है और आप बार- बार कुछ खाते नहीं हैं। अगर आप वजन कम करने की सोच रहे हैं तो ब्रेकफास्ट में रागी शामिल कर सकते हैं जिससे कैलोरी का सेवन कम होता है।

7. एनर्जी

अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट और अनसैचुरेटेड फैट होने से शरीर और दिमाग आलसी बन जाता है। शरीर में एनर्जी लेवल बढ़ाना के रागी के फायदे काम आ सकते हैं। जो लोग शारीरिक काम ज्यादा करते हैं उन लोगों को अपनी डाइट में रागी जरूर शामिल करनी चाहिए।

संबंधित आर्टिकल: बाजरे के बेहतरीन फायदे

8. बच्चों के लिए बेहतर ऑप्शन

रागी की खिचड़ी बच्चों के लिए अच्छी होती है। इमेज क्रडिट- commons.wikimedia.org

अगर आप नए माता- पिता बने हैं और अपने बच्चे के लिए सेहतमंद खाना ढूंढ रहे हैं तो इसका जवाब है – रागी। जी हां, रागी बच्चों के लिए पोषण से भरपूर अनाज माना जाता है और साथ ही बच्चों के द्वारा इसको आसानी से पचाया जा सकता है।

रागी में आयरन, कैल्शियम और फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिस कारण से यह बच्चों के खाने के लिए बहुत अच्छा ऑप्शन बन जाता है। बच्चों को रागी की खिचड़ी खिला सकते हैं। इसके अलावा मार्किट में बच्चों के लिए रागी पाउडर, रागी बिस्किट और कई प्रोडक्ट उपलब्ध हैं।

9. ग्लूटेन फ्री

जिन लोगों को गेहूं से एलर्जी होती है वो लोग अकसर ग्लूटेन फ्री डाइट फॉलो करते हैं। रागी 100% ग्लूटेन फ्री है जिस कारण यह बाकी अनाज से अलग है।

10. बीमारी से बचाव

रागी के फायदे पौष्टिक तत्व से भरपूर हैं जिस कारण से यह कई गंभीर बीमारियों से बचाव करने में मदद करता है। रागी में मौजूद पौष्टिक तत्व और मिनरल्स, टिश्शू सही करने में मदद करते हैं। इसके साथ ही यह खराब कोलेस्ट्रॉल कम करने और चिंता, स्ट्रोक कम करने में मदद करते हैं। रागी को डाइट में शामिल करने से मेटाबोलिज्म बढ़ जाता है। रागी से पोषण की कमी नहीं होती है।

रागी से बनने वाली डिश

रागी के फायदे जानने के बाद आप इसे बहुत आसानी से डाइट में शामिल कर सकते हैं। इसके साथ ही रागी से कई डिश आसानी से बनाई जा सकती है। रागी से बनने वाली डिश के आइडिया आप नीचे से ले सकते हैं।

संबंधित आर्टिकल: अजीनोमोटो क्या है? इसका उपयोग कहां होता है?

1. रागी ओट्स लड्डू

ओट्स के लड्डू मीठी डिश है जिसे रागी के आटा, शहद, खजूर और दूध से बनाया जाता है। इसके ऊपर तिल के बीज और नारियल की कोटिंग होती है। यह एक परफेक्ट स्वीट ट्रीट हो सकती है उन लोगों के लिए जो मीठे को लेकर सर्तक रहते हैं।

रागी ओट्स लड्डू बनाने के लिए सामग्री

  • 1 ½  कप रागी आटा
  • 1 कप ओट्स
  • 20 पके हुए खजूर
  • 1 ½ दूध
  • 3 चम्मच घी
  • 1 चम्मच तिल के बीज
  • 10 -12 काजू

रागी ओट्स लड्डू बनाने की विधि

सबसे पहले ओट्स रोस्ट करें और मिक्सी में पीस लें। बिना बीज के खजूर और दूध को ग्राइंड कर लें और गाढ़ा पेस्ट बना लें। अब इसमें खजूर के छोटे- छोटे टुकड़े डालें। अब रोस्ट और सुखाए गए तिल के बीज और काजू डालें और लड्डू बनाएं।

2. रागी गेहूं डोसा

अगर आपको ब्रेकफास्ट में साउथ इंडियन खाना पसंद है तो डोसा एक स्वादिष्ट और सेहतमंद ऑप्शन है। नारियल की चटनी और सांभर के साथ डोसा और भी स्वादिष्ट लगता है।

रागी डोसा बनाने के लिए सामग्री

  • 1 कप रागी आटा
  • 1 कप गेहूं का आटा
  • लस्सी
  • नमक

रागी डोसा बनाने की विधि

  • सभी सामग्री अच्छे से मिक्स करें और डोसा बनाने के लिए सही स्थिरता मिल जाए।
  • पूरी रात भिगाएं और अगले दिन डोसा बनाएं।
  • डोसा, नारियल की चटनी और सांभर के साथ खाएं।

रागी के नुकसान

रागी के फायदे होने के साथ- साथ रागी के नुकसान भी हो सकते हैं। रागी का सेवन करने से पहले रागी के फायदे के साथ- साथ नुकसान से भी जुड़ी जानकारी प्राप्त कर लें। रागी में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है। अधिक मात्रा में रागी खाने से पथरी होने का खतरा बढ़ जाता है क्योंकि रागी में कैल्शियम होता है।

आखिर में

रागी के फायदे जानने के बाद हो सकता है कि आप इस पौष्टिक अनाज को नज़रअंदाज नहीं करेंगे। बाकी सभी अनाज के मुकाबले रागी को सबसे ज्यादा सेहतमंद और पोषण से भरपूर माना जाता है। रागी ऐसा अनाज है जिसका सेवन बच्चों से लेकर बड़े तक कर सकते हैं क्योंकि इसे पचाना आसान होता है।

रागी के फायदे के साथ- साथ रागी के नुकसान भी हैं जिसके बारे में भी आपको पता होना चाहिए। रागी को डाइट में आसानी से शामिल किया जा सकता है और इसके साथ रागी से कई सारी स्वादिष्ट डिश भी बनाई जा सकती हैं।

क्या आप रागी जैसे पौष्टिक अनाज को अपनी डाइट में शामिल करना चाहेंगे?

FAQs

रागी के फायदे से जुड़े सवालों के जवाब यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. क्या रागी का सेवन रोजाना किया जा सकता है?

रागी का सेवन रोजाना सही मात्रा में करने कई फायदे मिल सकते हैं। कैल्शियम, आयरन की कमी पूरी हो सकती है। रागी खाने से शरीर को अंदर से आराम भी मिलता है।

2. क्या रागी सेहत के लिए लाभदायक है?

रागी के फायदे सेहत के लिए कई सारे हैं जैसे कि वेट लॉस, मजबूत हड्डियां, डायबिटीज में लाभदायक, एनर्जी बढ़ाने के लिए आदि।

3. क्या रागी से बालों का झड़ना कम होता है?

जी हां, रागी में पाए जाने प्रोटीन बालों की जड़ों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं जिससे बालों का झड़ना कम हो सकता है। बालों के झड़ने से परेशानी लोगों को अपनी डाइट में रागी को जरूर शामिल करना चाहिए।

4. क्या रागी खाने से वजन बढ़ता है?

रागी में भरपूर मात्रा में डाइटरी फाइबर पाया जाता है जिससे लंबे समय के लिए पेट भरा रहता है और बार- बार खाते नहीं है। रागी खाने से मेटाबोलिज्म भी बढ़ता है जो वजन कम करने में मदद करता है।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
3 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments