सेंधा नमक के 11 फायदे, उपयोग और नुकसान - मिश्री
सेंधा नमक के फायदे, उपयोग और नुकसान

सेंधा नमक के 11 फायदे, उपयोग और नुकसान

सेंधा नमक के फायदे सेहतमंद दिल से लेकर स्ट्रेस दूर करने से जुड़े हुए हैं। सेंधा नमक का पानी क्यों इतना पॉपुलर है? यहां से जानें।

सेंध नमक एक प्रकार का मिनरल है और इसमें सोडियम क्लोराइड के आइसोमेट्रिक क्रिस्टल हैं। इसे पूरी दुनिया में खाने में इस्तेमाल किया जाता है।

सेंधा नमक का नाम आमतौर पर व्रत से जुड़ा हुआ है और इसका उपयोग भी व्रत के समय अधिकतर लोगों के द्वारा किया जाता है। लेकिन आपको बता दें कि सेंधा नमक के फायदे कई सारे हैं और आप इन्हें जरूर शामिल करना चाहेंगे।

व्रत में उपयोग करने के अलावा सेंधा नमक से नहाना सबसे पॉपुलर है। सेंधा नमक के पानी से नहाने से बॉडी डिटॉक्स हो जाती है। इसके अलावा सेंधा नमक के फायदे अधिकतर शरीर के हर अंग से जुड़े हुए हैं। सेंधा नमक के फायदे से जुड़ी अधिक जानकारी आप इस आर्टिकल से ले सकते हैं। लेकिन उससे पहले सेंधा नमक के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं।

सेंधा नमक को विज्ञान की भाषा में मैग्नीशियम सल्फेट कहा जाता है। सेंधा नमक का इस्तेमाल व्रत में साधारण नमक की जगह किया जाता है। व्रत के अलावा आप आमतौर पर भी सेंधा नमक के फायदे प्राप्त कर सकते हैं।

सेंधा नमक के फायदे

सेंधा नमक के फायदे कई सारे हैं अगर इसका इस्तेमाल सही तरीके से किया जाए। सेंधा नमक के फायदे अगर आपने सिर्फ व्रत के लिए सुने हैं तो आप इस आर्टिकल की मदद से अधिकतर फायदे जान सकते हैं। सेंधा नमक के फायदे लेने के लिए इसके फायदों के बारे में जानना बेहद जरूरी है। अधिक जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. दर्द और सूजन

सेंधा नमक के फायदे कई घरेलू उपाय के तौर पर पॉपुलर हैं। थकान भरे दिन के बाद गर्म पानी में सेंधा नमक डालें और पैर भिगाकर बैठें या फिर इस पानी से नहा भी सकते हैं। ऐसा करने से शरीर को आराम मिलता है और अगर पैरों में दर्द है तो राहत मिलती है। गठिया के दर्द में सेंधा नमक से नहाने से सुकून मिल सकता है। कई अध्ययन में लोगों के द्वारा बताया गया है कि सेंधा नमक से नहाने या फिर पैर भिगाने के बाद दर्द और सूजन से राहत मिल सकती है।

घुटने में दर्द
सेंधा नमक के फायदे दर्द से राहत देने में मदद करते हैं

2. स्वस्थ डाइजेशन

बिना समय या फिर अस्वस्थ खाने से अपच या डाइजेशन में दिक्कत हो जाती है। पाचन शक्ति की परेशानी से राहत पाने के लिए सेंधा नमक के फायदे घरेलू उपाय के तौर पर इस्तेमाल किए जा सकते हैं। कभी- कभी डाइजेशन में दिक्कत होने पर एक गिलास पानी में 1 चुटकी सेंधा नमक डालकर खाली पेट पी लें। ऐसा करने से डाइजेशन में हो रही परेशानी से राहत मिल सकती है। इसका उपयोग लंबे समय के लिए ना करें। पाचन शक्ति में ज्यादा परेशानी होने पर डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

3. कब्ज 

कब्ज से राहत पाने के लिए मैग्नीशियम को लाभदायक माना जाता है। सेंधा नमक मैग्नीशियम से भरपूर है इसलिए सेंधा नमक के फायदे कब्ज से राहत पाने में मदद कर सकते हैं। सेंधा नमक का उपयोग कब्ज के घरेलू उपाय के तौर पर कर सकते हैं। कब्ज होने पर आमतौर पर पानी के साथ सेंधा नमक का सेवन किया जाता है। कब्ज के लिए सेंधा नमक का उपयोग सही मात्रा में ही करें। अधिक मात्रा में सेवन करने से सेंधा नमक के नुकसान हो सकते हैं। इस बात का भी खास ध्यान रखें कि कब्ज के लिए सेंधा नमक का उपयोग कभी- कभी किया जा सकता है। लंबे समय के कब्ज होने पर डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

पेट में दर्द
सेंधा नमक के फायदे कब्ज के लिए

4. मांसपेशियां

सेंधा नमक के फायदे मांसपेशियों की सूजन और जकड़न से राहत दिलाने में मदद करते हैं। कसरत करते समय शरीर द्वारा मैग्नीशियम का उपयोग किया जाता है और यह शरीर से ग्लूकोज इस्तेमाल करता है। कसरत करते समय मांसपेशियों पर ज़ोर पड़ता है जिससे मांसपेशियों में सूजन और जकड़न हो जाती है। ऐसे समय में सेंथा नमक के फायदे आपके काम आ सकते हैं।

कई अध्ययन में लोगों का यह मानना है कि सेंधा नमक के पानी से नहाने से मांसपेशियों में आराम मिलता है। लेकिन अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि त्वचा के द्वारा मैग्नीशियम अब्जॉर्ब किया जाता है या नहीं। इसलिए सेंधा नमक से नहाने को लेकर मांसपेशियों में आराम मिलने के विषय पर अभी अध्ययन जारी है।

संबंधित आर्टिकल: अजीनोमोटो के फायदे और नुकसान

5. चिंता

सेंधा नमक के फायदे शरीर में आराम देने के साथ- साथ चिंता कम करने भी मदद कर सकते हैं। सेंधा नमक के फायदे इसमें मौजूद मैग्नीशियम के कारण जाने जाते हैं। मैग्नीशियम के फायदे सेहतमंद दिमाग, अच्छी नींद और चिंता कम करने के लिए जाने जाते हैं। ऐसा कहा जाता है कि सेंधा नमक के पानी से नहाने से चिंता कम होने में मदद मिल सकती है क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है। इसके साथ ही आप डायरेक्ट सेंधा नमक सही मात्रा में खा सकते हैं जिसकी मदद से मैग्नीशियम का भी सेवन हो जाता है।

सर दर्द
सेंधा नमक के फायदे सर दर्द के लिए

6. सेंधा नमक का पानी

सेंधा नमक के फायदे कई सारे हैं और इसके साथ ही सेंधा नमक का पानी पीने के भी कई सारे फायदे हैं। आमतौर पर सेंधा नमक का पानी कब्ज से राहत पाने के लिए उपयोग किया जाता है। कब्ज के लिए सेंधा नमक का पानी सही मात्रा में ही सेवन करें। अधिक मात्रा और लंबे समय के लिए सेंधा नमक के पानी का सेवन करने से नुकसान हो सकते हैं जैसे कि कब्ज, दस्त आदि।

सेंधा नमक का पानी बनाने के लिए एक गिलास पानी में एक चुटकी नमक का उपयोग करें। अधिक मात्रा में सेंधा नमक उपयोग करने से स्वाद खराब हो सकता है और साथ ही नुकसान भी हो सकता है। सेंधा नमक के पानी से शरीर अंदर से साफ होने में मदद मिल सकती है।

Buy Sendha Namak Online

7. सेहतमंद दिल

ऐसा माना जाता है कि मैग्नीशियम दिल सेहतमंद रखने में मदद करता है। सेंधा नमक के फायदे मैग्नीशियम से भरपूर होते हैं। मैग्नीशियम की मदद से दिल में खून का बहाव सामान्य और सही बना रहता है जिससे दिल की बीमारी दूर रहती है। लेकिन इसके फायदे भी तभी होंगे जब आप इसका सेवन सही मात्रा में करेंगे। सिर्फ दिल के स्वास्थ्य के लिए सेंधा नमक का सेवन करना है तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

संबंधित आर्टिकल: मूंगफली के लाजवाब फायदे

नमक
सेंधा नमक के फायदे सेहतमंद दिल के लिए

8. सेहतमंद दिमाग

सेंधा नमक के फायदे दिमाग सेहतमंद बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। कई अध्ययनों में यह पता चला है कि मैग्नीशियम का सेवन करने से सेरोटोनिन की मात्रा बढ़ता है। सेरोटोनिन खुशी पैदा करने वाले होर्मोन होते हैं जो मैग्नीशियम के सेवन से शरीर में बढ़ जाते हैं। खुशी वाले होर्मोन बढ़ने से दिमाग सेहतमंद रहता है और चिंता दूर होने में भी मदद मिलती है।

9. स्वस्थ त्वचा

सेंधा नमक के फायदे सेहत के साथ- साथ त्वचा के लिए भी जाने जाते हैं। सेंधा नमक को बहुत अच्छा स्क्रबर भी माना जाता है जो त्वचा में मौजूद डेढ सेल हटाने में मदद करता है। त्वचा की परेशानी से राहत पाने के लिए सेंधा नमक लाभदायक हो सकता है। त्वचा के लिए सेंधा नमक इस्तेमाल करने से पहले हाथ पर सेंधा नमक लगाकर देखें क्योंकि लोगों की त्वचा संवेदनशील भी होती है जिन्हें एलर्जी होने के आसार ज्यादा होते हैं।

चम्मच में सेंधा नमक
सेंधा नमक के फायदे सेहतमंद त्वचा के लिए

10. स्वस्थ दांत

सेंधा नमक के फायदे दांतों को स्वस्थ और सफेद रखने में मदद कर सकते हैं। सेंधा नमक हाथ में लें और उंगलियों से दांतों की मालिश हल्के हाथ से करें। ऐसा करने से दांत स्वस्थ और सफेद रहने में मदद मिलती है।

10. गले में खराश

लड़की के गले में दर्द
सेंधा नमक के फायदे गले की खराश के लिए

बदलते मौसम के कारण गले में खराश हो जाती है। गले में हल्की खराश होने पर घरेलू उपाय कर सकते हैं। पानी गुनगुना करें और इसमें आधा चम्मच सेंधा नमक डालें। अब सेंधा नमक के पानी से गरारे करें। ऐसा करने से गले में आराम मिल सकते हैं।

सेंधा नमक का उपयोग कैसे करें

सेंधा नमक के फायदे लेने के लिए जरूरी है कि आपको इसके फायदे पता हों। सेंधा नमक के फायदे सही से पता होने पर आप इसके फायदे अच्छे से ले सकते हैं। सेंधा नमक का उपयोग कई तरह से और कई चीजों के लिए किया जा सकता है। लेकिन आपको बता दें कि लंबे समय के लिए या किसी भी बीमारी के लिए सेंधा नमक का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।

1. नहाना

सेंधा नमक का उपयोग नहाने के लिए पॉपुलर है। थकान भरे दिन के बाद सेंधा नमक के पानी से नहाने के बाद राहत मिल सकती है। ऐसा अभी साबित नहीं हुआ है लेकिन कई अध्ययनों में लोगों के द्वारा यह कहा गया है कि सेंधा नमक के पानी से नहाने से थकान, मांसपेशियों आदि में आराम मिलता है।

सेंधा नमक के पानी से नहाने के लिए टप में गुनगुना पानी डालें और इसमें 1-2 चम्मच सेंधा नमक डालें और मिक्स करें। इसके साथ बाद 15 से 20 मिनट के लिए सेंधा नमक के पानी में बैठे और फिर नहा लें। सेंधा नमक के पानी में आप कोई तेल भी मिला सकते हैं जैसे कि गुलाब का तेल, चमेली का तेल आदि।

सफेद कटोरी में नमक के साथ साबुत और फल
सेंधा नमक का उपयोग नहाने के पानी में कर सकते हैं

2. त्वचा

सेंधा नमक का उपयोग त्वचा के लिए भी किया जा सकता है। अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है तो पहले सेंधा नमक हाथ पर लगाकर देखें कि कोई बुरा असर हो रहा है या नहीं। त्वचा पर कोई बुरा असर ना होने पर आप सेंधा नमक चेहरा साफ करने वाली क्रीम में मिक्स करें और त्वचा पर हल्के हाथ से मालिश करें। 10-15 मिनट बाद साफ पानी से धो लें। ऐसा करने से डेढ सेल हटाने में मदद मिलती है।

3. सेहतमंद बाल

सेंधा नमक के फायदे शरीर और त्वचा के साथ- साथ बालों के लिए भी कई सारे हैं। बालों के लिए सेंधा नमक का उपयोग करने के लिए अपने कंडीशनर में सेंधा नमक मिला लें। ऐसा करने से बाल मजबूत बन सकते हैं।

4. सेंधा नमक का पानी पीने के लिए 

कब्ज, पाचन शक्ति का घरेलू उपाय करने के लिए सेंधा नमक के फायदे आमतौर पर लिए जाते हैं। पेट की परेशानी के लिए सेंधा नमक पानी में डालकर पीने से कब्ज से राहत मिल सकती है। इसके अलावा शरीर अंदर से साफ भी हो सकता है। सेंधा नमक का सेवन करते समय इसकी मात्रा का खास ध्यान रखें और सावधान रहें।

सेंधा नमक और साधारण नमक में क्या अंतर है?

साधारण नमक और सेंधा नमक में सिर्फ दो चीजें एक जैसी है वो है कि इनके नाम में ‘नमक’ शब्द आता है और यह देखने में एक जैसे लगते हैं। लेकिन करीब से देखने पर यह दोनों एक दूसरे से बिल्कुल अलग हैं।

साधारण नमक और सेंधा नमक अलग- अलग धातु से बने हैं जो इनके बीच में सबसे बड़ा अंतर है।

इन दोनों का स्वाद अलग है। जहां साधारण नमक का स्वाद ऐसा होता है कि इसे खाने में इस्तेमाल किया जा सकता है वहीं सेंधा नमक का स्वाद थोड़ा कढ़वा होता है जिस कारण से आमतौर पर इसका इस्तेमाल खाने में नहीं किया जाता है (व्रत के अलावा)।

लेकिन सेंधा नमक का उपयोग कई समय से कई बीमारी के इलाज में किया जाता है। सेंधा नमक मैग्नीशियम से भरपूर होता है जिस कारण से इसके उपयोग से दवाई भी बनाई जाती हैं।

सेंधा नमक के नुकसान

सेंधा नमक के फायदे कई सारे हैं और यह फायदे आसानी से लिए जा सकते हैं। लेकिन आपको बता दें कि फायदे के साथ- साथ सेंधा नमक के नुकसान भी हैं। जी हां, सही मात्रा या सही तरीके से इस्तेमाल ना करने पर सेंधा नमक के नुकसान हो सकते हैं। इसलिए इसका उपयोग करने से पहले उपयोग करने के बारे में जानकारी जरुर प्राप्त कर लें।

  • सेंधा नमक का उपयोग बहारी रूप के साथ -साथ खाने में भी किया जाता है। अगर आपका शरीर संवेदनशील है सेंधा नमक का उपयोग करते समय सावधान रहें।
  • जिन लोगों की त्वचा संवेदनशील होती है वो लोग सेंधा नमक का उपयोग त्वचा पर ना करें। या फिर जिन लोगों को स्किन इंफेक्शन होता है वो भी सेंधा नमक के उपयोग से दूर रहें। ऐसा करने से त्वचा पर इंफेक्शन या सूजन हो सकती है।
  • अधिक मात्रा में सेंधा नमक का सेवन करने से पेट से जुड़ी परेशानियां जैसे कि दस्त, कब्ज आदि परेशानियां हो सकती है।
  • अधिक मात्रा में सेंधा नमक का सेवन करने से मैग्नीशियम की मात्रा बढ़ सकता है जिससे नुकसान भी हो सकता है।
  • मैग्नीशियम की मात्रा बढ़ने से दिल को खतरा हो सकता है।
  • सेंधा नमक से नहाते समय ध्यान रखें कि कोई घाव या चोट नहीं है। चोट या घाव होने पर परेशानी हो सकती है।
  • अधिक मात्रा में सेंधा नमक का सेवन करने से चक्कर आना, सरदर्द आदि जैसी दिक्कत हो सकती है। इसलिए सेंधा नमक के सेवन के बाद पानी का सेवन करते रहें।
  • डायरेक्ट मुंह से सेंधा नमक का सेवन करते समय सावधानी रखें।
  • गर्भवति महिलाओं को सेंधा नमक का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।
  • किडनी की बीमारी से गुजर रहे लोग सेंधा नमक से दूर रहें और अगर उपयोग करना चाहते हैं तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  • छोटे बच्चे को सेंधा नमक का सेवन नहीं करवाना चाहिए।

आखिर में

सेंधा नमक के फायदे कई सारे हैं और यह फायदे आपको तभी मिल सकते हैं जब आप इसका सेवन सही मात्रा में और सही तरीके से करेंगे। सेंधा नमक के फायदे सेहतमंद दिल से लेकर सेहतमंद त्वचा तक जुड़े हुए हैं। सेंधा नमक के फायदे डायरेक्ट खाने से और सेंधा नमक के पानी से लिए जा सकते हैं।

लेकिन दोनों ही तरीको में सेंधा नमक की मात्रा का ध्यान रखना बेहद जरुरी है। अगर आप डायरेक्ट मुंह से सेवन कर रहे हैं तो पानी का सेवन ज्यादा करें जिससे पेट स्वस्थ रहे। और अगर नहाते समय इस्तेमाल कर रहे हैं तो ज्यादा देर पानी में ना रहें और अगर चोट या घाव है तो सावधान रहें। सेंधा नमक के फायदे के साथ- साथ नुकसान भी हैं इसलिए सेंधा नमक का सेवन और उपयोग सही मात्रा और सही तरीके से ही करें।

क्या आप सिर्फ व्रत में सेंधा नमक का उपयोग करते हैं? हमें कमेंट में बताएं।

FAQs

सेंधा नमक के फायदे से जुड़े दिलचस्प सवालों के जवाब यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. सेंधा नमक के उपयोग क्या है?

सेंधा नमक का इस्तेमाल कई समय से दर्द में राहत पीने के लिए किया जाता आ रहा है। सेंधा नमक से नहाना और पैर धोने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है जिससे चिंता कम करने में मदद मिलती है।

2. क्या सेंधा नमक के पानी से नहा सकते हैं?

सेंधा नमक से पैर भिगाने और नहाने से दर्द और सूजन में आराम मिल सकता है। सेंधा नमक के पानी से नहाने से पहले ध्यान रखें कि कोई चोट या घाव ना हो।

3. सेंधा नमक के फायदे क्या हैं?

सेंधा नमक के फायदे कई सारे हैं जैसे कि दर्द और सूजन में आराम, कब्ज में राहत, चिंता से राहत, अच्छी नींद, मैग्नीशियम से भरपूर आदि।

4. क्या सेंधा नमक त्वचा के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं?

गुनगुने पानी में 2-3 चम्मच सेंधा नमक डालें और साफ कपड़ा पानी में भिगाएं और आंखों के नीचे वाले हिस्से तक यह कपड़ा चेहरे पर डाल लें। ऐसे 3-4 बार कर सकते हैं जिससे त्वचा स्वस्थ रह सकती है।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
2 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments