अजीनोमोटो के फायदे, नुकसान और उपयोग-जाने कैसे करें इस्तेमाल

अजीनोमोटो के कुछ बेहतरीन फायदे, नुकसान और उपयोग

अजीनोमोटो के फायदे, नुकसान और उपयोग-जाने कैसे करें इस्तेमाल

अजीनोमोटो क्या है? क्या इसके फायदे हैं? इसके नुकसान क्या हैं? अजीनोमोटो का इस्तेमाल कैसे किया जाता है।

क्या आपने अजीनोमोटो का नाम कई बार सुना है? अजीनोमोटो खाने में डलने वाला पदार्थ जिसका इस्तेमाल आमतौर पर चाइनीज खाने में किया जाता है जैसे कि नूडल्स, सूप आदि। खाने में स्वाद बढ़ाने के लिए अजीनोमोटो का इस्तेमाल किया जाता है। कई बार आप सोचते होंगे कि घर में बनाए गए चाइनीज खाने का स्वाद होटल में मिलने वाले चाइनीज खाने की तरह क्यों नहीं हो पाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि होटल में अधिकतर चाइनीज डिश बनाने के लिए अजीनोमोटो का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन अजीनोमोटो को लेकर आमतौर पर नुकसान ही पॉपुलर हैं। लेकिन आज आप इस आर्टिकल से अजीनोमोटो के फायदे, नुकसान और उपयोग से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन उससे पहले अजीनोमोटो क्या है से जुड़ी और अधिक जानकारी प्राप्त कर लेते हैं।

एक चम्मच में अजीनोमोटो
अजीनोमोटो क्या है?

विषय सूची

अजीनोमोटो क्या है?

अजीनोमोटो को एमएसजी (मोनोसोडियम ग्लूटामेट) के नाम से भी जाना जाता है। अजीनोमोटो दिखने में नमक की तरह और चमकीला होता है। इसमें प्राकृतिक रूप से अमिनो एसिड मौजूद है। इसका इस्तेमाल अधिकतर चाइनीज खाने में किया जाता है। आपने भी देखा और चखा जरुर होगा कि भारत में मिलने वाले चाइनीज खाने में जैसे कि सूप, नूडल्स आदि का स्वाद अलग और स्वादिष्ट होता है, ऐसा अजीनोमोटो के कारण है। अब जब आप अगली बार चाइनीज खाना खाएंगे तो यह जरुर पता होगा कि अलग स्वाद किस कारण से आ रहा है।

एक कटोरे में नूडल्स
अजीनोमोटो का इस्तेमाल चाइनीज खाने में आमतौर पर किया जाता है।

Buy Ajinomoto Online

अजीनोमोटो के फायदे

हालांकि आपने अजीनोमोटो के नुकसान के बारे में ज्यादा सुना है लेकिन अजीनोमोटो के कुछ फायदे भी हैं। लेकिन आपको यह भी बता दें कि यह फायदे सेहत से जुड़े हुए कम ही हैं इसलिए इसका सेवन कम मात्रा में ही करें। अजीनोमोटो के फायदे से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. खाने का स्वाद बढ़ाने में मदद

जब भी हम कोई नई डिश ट्राई करते हैं तो सबसे पहले उसमें क्या देखते हैं? अधिकतर लोगों का जवाब होगा- स्वाद। तो अजीनोमोटो भी यही काम करता है। होटल के चाइनीज खाने में जो आपको ‘अलग’ स्वाद मिलता है वो अजीनोमोटो के कारण आता है। अजीनोमोटो का स्वाद ही इसकी सबसे बड़ी ताकत है जिससे हर खाने का स्वाद दो गुना हो जाता है। अंतरराष्ट्रीय डिश में भी अजीनोमोटो (एमएसजी) का इस्तेमाल किया जाता है।

2. प्राकृतिक रूप में अजीनोमोटो

अजीनोमोटो या एमएसजी या मोनोसोडियम ग्लूटामेट को कई प्राकृतिक स्रोतों से भी लिया जा सकता है जैसे कि सी -फूड, टमाटर, परमेसन चीज़, मशरूम आदि। अगर आपको मोनोसोडियम का सेवन करना ही है तो प्राकृतिक रूप से भी कर सकते हैं।

संबंधित आर्टिकल: हाई फाइबर से भरपूर फूड्स

अजीनोमोटो के फायदे खाने के स्वाद को बढ़ाने में मदद करते हैं।

More Option Of Ajinomoto To Buy

अजीनोमोटो का उपयोग

अजीनोमोटो का उपयोग सबसे ज्यादा खाने में डालने के लिए पॉपुलर है। यह बात सच है कि अजीनोमोटो का उपयोग खाने में फ्लेवर बढ़ाने के लिए किया जाता है लेकिन आपको बता दें कि इसका इस्तेमाल चाइनीज खाने के अलावा कई खाने की चीजों में किया जाता है। अजीनोमोटो के उपयोग से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. रेडी-टू-ईट फूड

अधिकतर रेडी- टू-ईट पेक्ड फूड में एमएसजी का इस्तेमाल किया जाता है। पेक्ड फूड में लंबे समय के लिए फ्लेवर से भरपूर बनाए रखने के लिए अजीनोमोटो का इस्तेमाल किया जाता है। अब जब भी आप मज़े से पेक्ड फूड खाएं तो उसमें स्वाद अजीनोमोटो के कारण ही है।

2. पोटेटो चिप्स

पोटेटो चिप्स को अधिकतर लोगों के द्वारा पसंद किया जाता है क्योंकि इनका स्वाद ही ऐसा होता है। फ्लेवर से भरपूर बनाने के लिए पोटेटो चिप्स में कई मसालों के साथ एमएसजी का उपयोग भी किया जाता है। इसलिए आलू के चिप्स का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए।

एक सफेद कटोरी में चिप्स
अधिकतर पेक्ड फूड में अजीनोमोटो पाया जाता है।

3. डीहाईड्रेटेड फूड

डीहाईड्रेटेड फूड जैसे कि नूडल्स, सूप आदि लंबे समय के लिए पैक रहते हैं जिसके लिए अजीवोमोटो का उपयोग किया जाता है। वैसे पेक्ड फूड का सेवन कम ही करना चाहिए।

संबंधित आर्टिकल: तिल के तेल के फायदे

अजीनोमोटो के नुकसान

आइए अब बात करते हैं अजीनोमोटो के नुकसान के बारे में जिसके लिए यह सबसे ज्यादा पॉपुलर है। किसी भी चीज का सेवन अधिक मात्रा में करने से उसके नुकसान भुगतने पड़ सकते हैं। वैसे ही जिन चीजों में अजीनोमोटो पाया जाता है उन चीजों का सेवन कम मात्रा में ही करना चाहिए। अजीनोमोटो के नुकसान से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

  • अजीनोमोटो का स्वाद नमक की तरह होता है इसलिए कहा जाता है कि हाई ब्लड प्रेशर वाले लोग अजीनोमोटो का सेवन ना करें।
  • अधिक मात्रा में अजीनोमोटो का सेवन करने से आंखों की रोशनी के लिए हानिकारक होता है।
  • अधिकतर पेक्ड फूड में अजीनोमोटो का इस्तेमाल किया जाता है जिससे मोटापा बढ़ने के आसार ज्यादा हो जाते हैं।
  • खासकर बच्चों को अजीनोमोटो का सेवन कम से कम करना चाहिए।
  • दिल की बीमारी से गुजर रहे लोगों को भी अजीनोमोटो का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अधिक मात्रा में रेगुलर अजीनोमोटो का सेवन करने से माइग्रेम की दिक्कत हो सकती है।

आखिर में

अजीनोमोटो कैमिकली बना है जिसको असल में एमएसजी (मोनोसोडियम ग्लूटामेट) कहा जाता है। जापान की अजीनोमोटो नाम की कंपनी ने इसकी खोज की है जिस कारण से इसको अजीनोमोटो नाम से जाना जाता है। अधिकतर हर चाइनीज और पेक्ड फूड में अजीनोमोटो पाया जाता है।

अजीनोमोटो स्वाद बढ़ाने वाले पदार्थ के लिए पॉपुलर है जिसको दुनियाभर में इस्तेमाल किया जाता है। अजीनोमोटो के नुकसान भी कई हैं लेकिन सही मात्रा में इसका इस्तेमाल सुरक्षित बताया गया है। लेकिन इसके बावजूद किसी भी चाइजीन डिश या पेक्ड फूड का सेवन नियमित रूप से ही करें।

FAQs

1. क्या अजीनोमोटो हानिकारक होता है?

अधिक मात्रा में और रोजाना अजीनोमोटो का सेवन करना हानिकारक हो सकता है। एमएसजी का सेवन करने से सीने में दर्द, सिरदर्द, आंखें कमज़ोर होना, उलटी आना आदि जैसी परेशानियां हो सकती हैं।

2. अजीनोमोटो का इस्तेमाल क्यों किया जाता है?

अजीनोमोटो नमक की तरह होता है जिसका इस्तेमाल आमतौर पर चाइनीज खाने को फ्लेवर और स्वादिष्ट बनाने के लिए किया जाता है। इसके अलावा अजीनोमोटो का इस्तेमाल पेक्ड फूड में भी किया जाता है जिससे इनकी शेल्फ लाइफ बढ़ जाती है।

3. अजीनोमोटो किससे बना होता है?

अजीनोमोटो मोनोसोडियम ग्लूटामेट, ग्लूटॉमिक एसिड का मिश्रण है। इनको फिर सुखाया जाता है जिसके बाद अजीनोमोटो पाउडर बनाया जाता है।

4. क्या अजीनोमोटो से वजन बढ़ता है?

चाइनीज फूड, पेक्ड फूड आदि में अजीनोमोटो या एमएसजी पाया जाता है। और कई अध्ययन में यह पाया गया है कि अजीनोमोटो का सेवन अधिक मात्रा में करने से वजन बढ़ सकता है।

5. क्या अजीनोमोटो और एमएसजी एक ही हैं?

जी हां, अजीनोमोटो या एमएसजी (मोनोसोडियम ग्लूटामे) एक ही हैं। एमएसजी बनाने वाली कंपनी का नाम अजीनोमोटो है क्योंकि एमएसजी की खोज इसी कंपनी ने की है तो इसके कंपनी के नाम से जाना जाता है।

टीम मिश्री

टीम मिश्री शोधकर्ता, समीक्षक, डिजिटल कंटेंट प्रोड्यूसर और लेखकों की टीम है जो टेस्ट किचन में हर रिव्यू का हिस्सा होते हैं। यह सभी प्रोडक्ट की रिव्यू, टेस्ट करते हैं और रिजल्ट पर पहुंचने से पहले उस प्रोडक्ट की विशेषताएं, अच्छी और बुरी बातों के बारे में विस्तार से चर्चा, विचार-विमर्श करते हैं। सभी रिव्यू में टीम के सदस्यों से महत्वपूर्ण सुझाव प्राप्त किए गए हैं और जहां से बाइलाइन पूरी टीम से संबंधित है - टीम मिश्री!

Comments (13)

  • हरिकेश मिश्रा Reply

    अति सुन्दर जानकारी हम आप का धन्यवाद करते है

    February 21, 2021 at 11:40 pm
    • mishryhindi Reply

      हैलो हरिकेश मिश्रा
      ऐसे कई आर्टिकल से जुड़ी जानकारी आप हमारी साइट से प्राप्त कर सकते हैं।
      धन्यवाद।

      February 22, 2021 at 9:43 am
    • Mohit nama Reply

      Thanks for information

      April 2, 2021 at 7:24 pm
  • Mohit nama Reply

    Thanks for information

    April 2, 2021 at 7:25 pm
  • Sanjay Gontia Reply

    खाद्य पदार्थों से संबंधित अनेक महत्वपूर्ण जानकारियां आप के द्वारा प्रदान की गई , जो उपयोगी और ज्ञान वर्धक हैं। आपके प्रयासों के लिए बहुत धन्यवाद।

    May 23, 2021 at 8:56 pm
    • mishryhindi Reply

      हैलो संजय
      आपके लिए स्वस्थ और अच्छी डाइट का मतलब क्या है?
      ऐसे कई आर्टिकल आप हमारी वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं।
      धन्यवाद।

      May 24, 2021 at 3:43 pm
  • दिलावर सिंह Reply

    इस जानकारी के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद, बहुत ही बढ़िया लिखा है।

    June 3, 2021 at 10:43 pm
    • mishryhindi Reply

      हैलो दिलावर सिंह
      ऐसे कई आर्टिकल आप हमारी वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं।
      धन्यवाद।

      June 4, 2021 at 9:15 am
      • Rinky Sahu Reply

        Aapke dwara di hui jankari se mera bhram door ho gaya ki ajinomoto nuksan karta h limit me istemaal ki gai chiz kabhi nuksan nahi karti ye bhi sach h dhanyavaad

        June 27, 2021 at 8:52 pm
        • mishryhindi Reply

          हैलो रिंकी साहू
          किसी भी चीज का सेवन सही मात्रा, सही समय पर करना लाभदायक साबित हो सकता है।
          धन्यवाद।

          July 5, 2021 at 4:16 pm
  • Rinky Sahu Reply

    Aapke dwara di hui jankari se mera bhram door ho gaya ki ajinomoto nuksan karta h limit me istemaal ki gai chiz kabhi nuksan nahi karti ye bhi sach h dhanyavaad

    June 27, 2021 at 8:51 pm
  • राजेश माटा Reply

    जानकारी देने के लिए आपका धन्यवाद

    July 22, 2021 at 8:11 pm
    • mishryhindi Reply

      हैलो राजेश माटा
      ऐसे कई आर्टिकल आप हमारी वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं।
      धन्यवाद।

      July 23, 2021 at 9:18 am

Leave a Reply on अजीनोमोटो के फायदे, नुकसान और उपयोग-जाने कैसे करें इस्तेमाल

Your email address will not be published. Required fields are marked *