लौंग के फायदे (Benefits Of Cloves In Hindi)

लौंग के फायदे (Laung Ke Fayde) डाइट में शामिल करना एक अच्छी और सेहतमंद आदत बन सकती है। लौंग के फायदे (Benefits Of Cloves) पेट से लेकर त्वचा तक के लिए जुड़े हुए हैं।

लौंग (laung) का इस्तेमाल किसी भी खाने में खुशबू और स्वाद के लिए किया जा सकता है। आपके मसाले डिब्बे में रखी लौंग के फायदे (laung ke fayde) कई सारे हैं। जैसे कि बैक्टीरिया से लड़ना, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, ब्लड शुगर लेवल सामान्य बनाए रखना, हड्डियां मजबूत करना आदि। लौंग (laung) का इस्तेमाल बेक्ड फूड, भारतीय खाने में किया जाता है। इस खुशबूदार मसाले का इस्तेमाल औषधि के रूप में भी किया जाता है। इसके अलावा लौंग का इस्तेमाल चीटियों को आने से रोकने के लिए भी कई भारतीय घरों में किया जाता है। लौंग के फायदे (laung ke fayde) से जुड़ी सारी जानकारी आप इस आर्टिकल से ले सकते हैं।

लौंग के फायदे (laung ke fayde) स्वस्थ लिवर, पेट आदि के लिए जाने जाते हैं।
विषय सूची

लौंग के पौष्टिक तत्व (Cloves Nutritional Value In Hindi)

लौंग (laung) मसाले को अपने खाने में जरुर शामिल करना चाहिए जिससे लौंग के फायदे (laung ke fayde) छूट ना जाएं। लौंग खाने के फायदे (laung khane ke fayde) कई सारे हैं और यह फायदे इसमें मौजूद पौष्टिक तत्व के कारण मिलते हैं। लौंग के पौष्टिक तत्व से जुड़ी सारी जानकारी नीचे दी गई टेबल से ले सकते हैं।

पोषणमात्रा –2 ग्राम)
कैलोरी6
विटामिन के2%
मैंगनीज55%
कार्बोहाइड्रेट1 ग्राम
फाइबर1 ग्राम

लौंग के फायदे (Benefits Of Cloves In Hindi)

लौंग के फायदे (laung ke fayde) लेने के लिए जरुरी है कि आप इसे अपनी डाइट में शामिल करें। लौंग खाने के फायदे (laung khane ke fayde) डाइट में आसानी से कैसे लिए जा सकते हैं से भी जुड़ी जानकारी यहां से ले सकते हैं। लौंग (laung) का सेवन करने से आपको नीचे दिए गए फायदे मिल सकते हैं।

1) लौंग खाने के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं (Benefits Of Cloves Are Full Of Antioxidants)

लौंग (laung) में ऐसे कई पौष्टिक तत्व होते हैं जो एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं (1)। अगर आप एंटीऑक्सीडेंट का सेवन सही मात्रा में करेंगे तो आपको फ्री रेडिकल से होने वाले नुकसान के आसार कम हो जाते हैं। फ्री रेडिकल ऐसे रोगजनक तत्व होते हैं जो आपके शरीर के स्वस्थ सेल के साथ मिल जाते हैं और बीमारी फैलाते हैं। लेकिन एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल को खत्म करने में मदद करते हैं। एक टेस्ट ट्यूब अध्ययन में यह पाया गया है कि फ्री रेडिकल के द्वारा पहुंचाएं गए नुकसान यूजेनॉल के कारण 5 गुना ज्यादा कम हो गए हैं। विटामिन ई से भी ज्यादा तेज़ी से इसने काम किया है जो एक एंटीऑक्सीडेंट है (2)।

लौंग के फायदे (laung ke fayde) एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं।

2) लौंग के फायदे बैक्टीरिया खत्म करने में मदद (Benefits Of Cloves Can Kill Bacteria)

लौंग (laung) को एंटी- बैक्टीरियल गुण के लिए भी जाना जाता है। टेस्ट ट्यूब अध्ययन में यह दिखाया गया है कि लौंग के तेल के इस्तेमाल से बैक्टीरिया खत्म करने में मदद मिलती है (3)। इसके अलावा दांतों को स्वस्थ रखने के लिए भी लौंग के फायदे (laung ke fayde) जाने जाते हैं। आपको बता दें कि लौंग के तेल का इस्तेमाल दांत में दर्द, मसूडो के दर्द में राहत देने में मदद करता है। आपको बता दें कि दांतों के दर्द में राहत थोड़ी देर के लिए ही मिलती है। दर्द बढ़ने पर डॉक्टर को जरुर दिखाएं।

एक टेस्ट ट्यूब अध्ययन में 40 लोगों को हर्बल माउथवॉश इस्तेमाल करने के लिए कहा गया जिसमें पेड़ का तेल, लौंग (laung) और तुलसी का इस्तेमाल किया गया है। 21 दिनों के बाद इन लोगों के मसूडो की सेहत में सुधार देखने को मिला है (4)।

3) लौंग खाने के फायदे ब्लड शुगर सामान्य बनाए रखने में मदद (Benefits Of Cloves For Regulating Blood Sugar)

कई रिसर्च में यह पाया गया है कि लौंग के फायदे (laung ke fayde) ब्लड शुगर लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद करते हैं। जानवरों पर किए गए अध्ययन में यह बताया गया है कि लौंग (laung) का अर्क ब्लड शुगर लेवल को सामान्य बनाए रखने में मदद करता है (5)। ब्लड शुगर लेवल सामान्य बने रहने से दिल की बीमारी होने के आसार भी कम हो जाते हैं।

लौंग के फायदे (laung ke fayde) ब्लड शुगर लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद करते हैं।

4) लौंग के फायदे मजबूत हड्डियां के लिए (Benefits Of Cloves For Strong Bones)

खान- पान पर ध्यान ना देने के कारण आजकल हड्डियां समय से पहले कमजोर होने लग जाती हैं। हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए लौंग के फायदे (laung ke fayde) भी जाने जाते हैं। लौंग (laung) में मैगनीज पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। लेकिन अभी फिलहाल हड्डियों को मजबूत बनाने का अध्ययन सिर्फ जानवरों पर किया गया है।

5) लौंग खाने के फायदे स्वस्थ लिवर के लिए (Benefits Of Cloves For Healthy Liver)

कई अध्ययनों में यह बताया गया है कि लौंग के फायदे (laung ke fayde) स्वस्थ लिवर रखने में मदद करते हैं। जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि लौंग के फायदे (laung ke fayde) एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं जो फ्री रेडिकल के खतरे से बचाव करने में मदद करते हैं। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण लिवर का बचाव फ्री रेडिकल से होता है जो बीमारी पैदा करने का मुख्य कारण होता है (6)।

लौंग के फायदे (laung ke fayde) स्वस्थ लिवर के लिए जाने जाते हैं।

6) लौंग के फायदे स्वस्थ पेट के लिए (Benefits Of Cloves For Healthy Stomach)

क्या आपको पता है लौंग के फायदे (laung ke fayde) स्वस्थ पेट के लिए भी जाने जाते हैं। खान- पान पर ध्यान ना देने के कारण पेट की परेशानियां हो सकती हैं जैसे कि पेट में छालें, पेट में दर्द आदि। पेट में ज्यादा जलन होने के कारण पेट को सुरक्षित करने वाली परत पेट से हट जाती है जिससे पेट में छाले हो सकते हैं। इन सभी परेशानियों में लौंग के फायदे मदद कर सकते हैं।

7) लौंग के फायदे त्वचा के लिए (Benefits Of Cloves For Skin)

लौंग के फायदे त्वचा के लिए भी जाने जाते हैं। लौंग में एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे त्वचा सेहतमंद रहती है। त्वचा के लिए लौंग का इस्तेमाल करने के लिए ओखल मूसल में लौंग डालें और पीस लें। अब इसमें नारियल तेल या तिल का तेल या ऑलिव ऑयल डालें। अच्छे से मिक्स करें और त्वचा पर लगा लें। त्वचा पर लगाने के बाद हल्के हाथों से मालिश कर सकते हैं।

लौंग के फायदे त्वचा के लिए भी कई सारे मौजूद हैं।

लौंग का इस्तेमाल कैसे करें (How To Use Cloves In Hindi)

लौंग (laung) का इस्तेमाल करने के लिए आपको इसे डाइट में शामिल करना जरुरी है। लौंग का इस्तेमाल कई तरह से और कई चीजों के लिए किया जा सकता है।

  • अगर आपके दांत में दर्द है तो लौंग का इस्तेमाल करने से दांत के दर्द में आराम मिल सकता है। लौंग का पेस्ट बनाकर दांतों की मालिश करें। यही कारण है कि आपको टूथपेस्ट में लौंग का इस्तेमाल अवश्य मिलेगा।
  • लौंग का इस्तेमाल खाने में भी किया जाता है।
  • लौंग (laung) का इस्तेमाल चाय बनाने के लिए किया जाता है। अपनी सामान्य चाय में 1-2 लौंग का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • अगर आप घर में कोई बेक्ड फूड बना रहे हैं तो उसमें लौंग का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • घर में केक और डेजर्ट में लौंग का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • दूध में डार्क चॉकलेट और लौंग का पाउडर डालकर बेवरेज बना सकते हैं।
  • अगर आपके घर में चीटियां आ रही हैं तो लौंग की कुछ कलियां चीटियों की आने वाली जगह पर रख सकते हैं।
  • चटनी बनाते समय भी लौंग का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • लौंग के तेल का इस्तेमाल दांत में दर्द, खराब पेट आदि के लिए किया जाता है।
लौंग की चाय पेट स्वस्थ रखे।

लौंग का तेल घर में कैसे बनाएं (How To Make Clove Oil At Home In Hindi)

लौंग के तेल के फायदे कई सारे हैं। लौंग के तेल का इस्तेमाल दांत के दर्द से राहत, सर्दी लगने पर, बैक्टीरिया खत्म करने के लिए किया जाता है। आपको बता दें कि लौंग का तेल घर में भी बनाया जा सकता है। घर में लौंग का तेल बनाने की विधि बेहद सिंपल है जिससे जुड़ी सारी जानकारी यहां से ले सकते हैं।

घर में लौंग का तेल बनाने की विधि

  • लौंग का तेल बनाने के लिए सबसे पहले लौंग लें और ओखल- मूसल में डालें और कूट लें।
  • अब इसमें आप चाहें तो तिल का तेल डालें या फिर ऑलिव ऑयल डाल सकते हैं।
  • दोनों को अच्छे से मिक्स कर लें।
  • अब लौंग के तेल को रुई से लें और दर्द वाली जगह जैसे कि दांत में लगा सकते हैं।
  • लौंग का तेल लगाने से दांत के दर्द में थोड़ी देर के लिए राहत मिल जाती है लेकिन इसके बावजूद डॉक्टर को जरुर दिखाएं।
लौंग का तेल घर में बनाएं।
इमेज क्रेडिट- commons.wikimedia.org

लौंग के नुकसान (Side Effects Of Cloves In Hindi)

लौंग के फायदे (laung ke fayde) जानने के बाद जरुरी है कि आप लौंग के नुकसान के बारे में भी जानकारी प्राप्त करें। वैसे तो लौंग के नुकसान बहुत कम ही हैं लेकिन यह थोड़े नुकसान भी लापरवाही के कारण बड़े बन सकते हैं। इसलिए लौंग (laung) का सेवन सही मात्रा में करना बेहद जरुरी है। लौंग के नुकसान से जुड़ी जानकारी यहां से ले सकते हैं।

  • अधिक मात्रा में लौंग का सेवन करने से जलन हो सकती हैं।
  • लौंग का तेल बच्चों के लिए नहीं होता है।
  • ज्यादा मात्रा में लौंग खाने से अचानक से ब्लड शुगर लेवल कम हो सकता है।
  • अनियंत्रित रूप से लौंग का सेवन करने से खून का बहाव ज्यादा हो सकता है।
  • अगर आपको किसी मसाले से एलर्जी होने के आसार हैं तो डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।
  • लौंग ज्यादा खाने से आंत में परेशानी हो सकती है।

आखिर में

भारतीय मसालों में शामिल मसालों के फायदे अनेक हैं। वैसे ही लौंग के फायदे (laung ke fayde) भी कई सारे हैं। हम नहीं चाहते हैं कि आप किसी भी तरह के खाने के फायदे अनाज रहें। सही मात्रा में सभी पौष्टिक तत्व का सेवन करना जरुरी है। वैसे ही लौंग में ऐसे कई पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जो सेहत के लिए बहुत लाभदायक होते हैं। लौंग के फायदे (laung ke fayde) शरीर में बैक्टीरिया पैदा नहीं होने देते हैं जो बीमारी के मुख्य कारण हैं। लौंग को कई तरह से डाइट में शामिल किया जा सकता है। अगर आपको किसी तरह की एलर्जी होने की संभावना है तो डॉक्टर से जरुर सलाह लें। इसके साथ ही लौंग के नुकसान के बारे में भी जानना जरुरी है जिससे आप लौंग का सेवन सही मात्रा में ही करें।

FAQs

  1. लौंक से क्या नुकसान हो सकते हैं? (What are the side effects of cloves?)

    लौंग का सेवन अधिक मात्रा में करने से ब्लड शुगर लेवल कम, खून का बहाव ज्यादा, आंत में दिक्कत, एलर्जी भी हो सकती है।

  2. लौंग का सेवन कैसे करना चाहिए? (How cloves should be eaten?)

    लौंग का सेवन बेक्ड फूड, खाने में तड़का लगाते समय या फिर पानी में लौंग भिगाकर फिर पानी और लौंग का इस्तेमाल कर सकते हैं।

  3. रोजाना लौंग का सेवन करने से क्या हो सकता है? (What happens if we eat cloves daily?)

    सही मात्रा में लौंग खाने के फायदे (laung khane ke fayde) कई हैं जैसे कि बैक्टीरिया का पैदा ना होना, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, मजबूत हड्डियां आदि। अधिक मात्रा में लौंग खाने से ब्लड शुगर लेवल कम, आंत में परेशानी होने के आसार बढ़ जाते हैं।

  4. क्या लौंग को कच्चा खाया जा सकता है? (Can I eat raw cloves?)

    लौंग को कच्चा नहीं खाया जा सकता है। लौंग का इस्तेमाल बेक्ड फूड, सब्जी में तड़का लगाने के लिए किया जा सकता है।

लेखक के बारे में

सुरभि शर्मा मिश्री में हिंदी लेखिका हैं। इ्न्हें सवाल पूछना बहुत पसंद है शायद इसी कारण से इनके आर्टिकल आपको विस्तार जानकारी के साथ मिलेंगे। इनका कहना है कि अपने शौक को करियर में बदलने से अच्छा और क्या हो सकता है। लिखने के साथ- साथ और भी कई शोक रहे हैं लेकिन अब इन्हें लगता है कि यह अपना पसंदीदा काम कर रही हैं। 

इस लेखक द्वारा अधिक लेख

Leave a Reply on लौंग के फायदे (Benefits Of Cloves In Hindi)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*