अमूल खोया मावा रिव्यू - अमूल खोया की मावा बर्फी (Amul Khoa Mawa Review)
Amul Khoa Mawa Review

अमूल खोया मावा रिव्यू – अमूल खोया की मावा बर्फी (Amul Khoa Mawa Review)

हमने अमूल खोया (Amul Khoa) से मावा बर्फी बनाई है और इसके बारे में हमारा यह कहना है।

मिश्री रेटिंग
स्वाद
4 / 5
4
ताज़ापन
4 / 5
4
4
SUPERB!

Summary

हमें अमूल खोया का फ्लेवर ताज़ा लगा है। खोया की खुशबू बासी नहीं लगती है। इसकी खुशबू ताज़ा दूध की तरह है। अमूल खोया से बनाई गई मावा बर्फी में खोया का स्वाद बरकरार रहता है।

खोया सूखा होता है जिसे दूध को लंबे समय तक उबालने के बाद बनाया जाता है। भारत में खोया का इस्तेमाल मिठाई बनाने के लिए किया जाता है जैसे की गाजर का हलवा, पेड़ा, गुलाब जामुन, कोफ्ता आदि। मिठाई के लिए कुछ लोग घर में खोया बनाते हैं वहीं कुछ लगो विश्वसनीय लोकल डेयरी से खोया खरीदते हैं और वहीं कुछ लोग अमूल जैसी ब्रांड का पेक्ड खोया इस्तेमाल करते हैं। हिंदुस्तानी घर में अमूल के कई प्रोडक्ट उपयोग किए जाते हैं जैसे कि बटर, दही, चीज़, आईसक्रीम, डेयरी व्हाइटनर और फ्लेवर मिल्क। इस बार हमने अमूल खोया (Amul Unsweetened Khoa) ट्राई किया है। रिव्यू के समय हमने खोया का ताज़ापन और क्रीमी मिल्की फ्लेवर पर ध्यान दिया है। अमूल खोया की मदद से हमने मावा बर्फी बनाई है और इसके बारे में हमारे पास सिर्फ अच्छी बीतें है। अमूल खोया के बारे में हमारा यह कहना है।

क्विक रिव्यू

AMul-Khoa

अमूल खोया का स्वाद ताज़ा है और इसमें प्रेजरवेटिव या एडिटिव्स नहीं हैं।

कीमत – 75/- रुपए*

मात्रा – 200 ग्राम

*कीमत रिव्यू के समय

*पैक पर दी गई जानकारी के अनुसार

  • फ्रीजर में रखें।
  • अमूल दूध से बनाया गया है।
  • -18 डिग्री से कम में स्टोर करने पर इस प्रोडक्ट की शेल्फ लाइफ 365 दिन की है।
  • इस प्रोडक्ट के 100 ग्राम से 341 किलो कैलोरी मिलती हैं।

एक सामग्री से बनाया गया है – मिल्क सोलिड।

अमूल खोया का क्विक रिव्यू

हम खोया का इस्तेमाल क्यों करते हैं? खोया का उपयोग आमतौर पर किसी भी डिश की क्रीमीनेस बढ़ाने के लिए किया जाता है। हिंदुस्तानी मिठाई में खोया का उपयोग मुख्य सामग्री के तौर पर किया जाता है। खोया सख्त या सोफ्ट हो सकता है। यह इसकी नमी की मात्रा और उपयोग का मुख्य कारण क्या है पर निर्भर करता है। जैसे कि बट्टी और पिंडी खोया सख्त होता है जिससे सख्त बर्फी और पेड़ा बनाए जाते हैं, जिसकी शेल्फ लाइफ ज्यादा होती है। चिकना और धाप खोया में नमी की मात्रा ज्यादा होती है। दानेदार खोया का उपयोग कलाकंद जैसी मिठाई बनाने के लिए किया जाता है।

कीमत और पैकेजिंग – अमूल खोया सफेद पैक में आता है। 200 ग्राम अमूल खोया की कीमत 75/- रुपए है।

अमूल खोया मावा रिव्यू - कीमत और पैकेजिंग
अमूल खोया मावा रिव्यू - कीमत और पैकेजिंग

सूखे खोया की जांच (टैक्शर, सूरत) – अमूल खोया का टैक्शर बहुत मलाईदार है और छूने पर सोफ्ट चीज़ की तरह लगता है। यह बिल्कुल भी सख्त नहीं है। खोया का स्वाद क्रीमी दूध की तरह है और हम हैरान थे कि खोया का स्वाद कितना ताज़ा था।

सूखे खोया की जांच
सूखे खोया की जांच

हमने कैसे टेस्ट किया – हमने खोया का उपयोग सबसे आम तरीके से करने की कोशिश की है। पैक पर दी गई जानकारी के अनुसार हमने अमूल खोया का उपयोग मावा बर्फी बनाने के लिए किया है। भारी कढ़ाई में हमने खोया के टुकड़े डालें और मिक्स किया। बर्फी बनाने के लिए हमने हमारे टॉप पिक, विनोद स्टेनलेस स्टील कढ़ाई का इस्तेमाल किया है। इसके बाद हमने ⅓ कप चीनी डाली और तब तक मिक्स किया जब तक यह लिक्विड न बन जाए। इसके बाद हमने ताज़ा कसी हुई हरी इलायची डाली।

लगभग 15-18 मिनट बाद मिश्रण गाढ़ा होने लग गया। इसके बाद हमने कढ़ाई से मिश्रण चिकनी प्लेट में निकाल दिया। ठंडा होने के बाद हमने बर्फी के आकार में काट दिया और फिर बर्फी को चखा।

अमूल खोया से बनाई गई बर्फी
अमूल खोया से बनाई गई बर्फी

हमारा रिव्यू – क्या आपको लोकल मिठाई की दुकान की खुशबू याद है? बहुत बड़ी कढ़ाई में चीनी और दूध की महक आती हुई। हमारी टेस्ट किचन में कुछ ऐसी ही खुशबू आ रही थी।

पकाते समय, अमूल खोया का रंग क्रीमी-सफेद रंग से हल्का कारमेल जैसा हो गया था। कुछ पेक्ड खोया की तरह रिव्यू प्रोसेस के दौरान अमूल खोया का ताज़ापन गुम नहीं हुआ था। अमूल खोया से बनाई गई बर्फी का स्वाद ताज़ा था और हल्की मिल्की मिठास थी।

अमूल खोया रिव्यू
अमूल खोया रिव्यू

लेकिन हलवाई वालो की तरह हमारी मिठाई अच्छे से सेट नहीं हुई थी लेकिन इसका स्वाद ताज़ा और स्वादिष्ट था। खोया का फ्लेवर, प्रोडक्ट का ताज़ापन वो भी बिना एडिटिव्स के कारण हमें अमूल खोया पसंद आया है।

FAQs

1.अमूल खोया की कीमत क्या है? (What is the price of amul khoa?)

अमूल खोया के 200 ग्राम पैक की कीमत 75/- रुपए है।

2.अमूल खोया से क्या बना सकते हैं? (What can be made with amul khoa?)

अमूल खोया का उपयोग कई तरह की मिठाई बनाने के लिए किया जा सकता है जैसे कि बर्फी, गाजर का हलवा, पेड़ा, गुलाब जामुन आदि। खोया बनाने का समय न मिलने पर अमूल खोया एक अच्छा ऑप्शन बन सकता है।

*अगर आप हमारे रिव्यू से सेहमत हैं तो लाइक करें और अगर नहीं तो बताएं क्यों।

अगर आप कोई प्रोडक्ट रिव्यू करवाना चाहते हैं तो यहां बताएं।

*फूड एंड बेवरेज में रोज़ाना कुछ न कुछ नया आता रहता है। हमारे रिव्यू आपको किचन का सामान खरीदनें में मदद करेंगे।

*हमारे रिव्यू निष्पक्ष हैं और रिव्यू के लिए सभी प्रोडक्ट हमारे द्वारा खरीदें गए हैं। इससे जुड़ी सारी जानकारी आप यहां से पढ़ सकते हैं।

*इस रिव्यू के लिए किसी भी ब्रांड ने स्पान्सर नहीं किया है। सभी खर्चा हमारे द्वारा किया गया है।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments