सूजन कम करने के लिए खाने की लिस्ट

शरीर में सूजन होने से जलन भी हो सकती है। इसलिए जरुरी है कि आप अपनी डाइट में एंटी- इंफ्लामेट्री खाने को शामिल करें। इससे आपका दिल भी स्वस्थ रहेगा और सभी अंग सही से तरीके से काम करेंगे।

शरीर में सूजन होने से सेल का काम कम हो जाता है साथ ही सेल में दर्द पैदा होने लगता है। ऐसा तब होता है जब शरीर के सेल बाहर के खतरनाक बैक्टीरिया के संपर्क में आते हैं। सूजन होने से दर्द, जलन, लाल धब्बे जैसी परेशानी हो सकती है। इससे बचने के लिए सबसे अच्छा और सेहतमंद तरीका है कि अपनी डाइट में एंटी- इंफ्लानेट्री खाने को शामिल कर लिया जाए। बैंलेस डाइट में सभी तरह का खाना होने से सूजन के आसार कम हो जाते हैं।

सबसे पहला कदम एंटी- इंफ्लामेट्री डाइट के लिए आपको अपनी डाइट से ऐसे खाने को हटना है जिससे आपको लगता है कि सूजन होती है या फिर हो सकती है।

इन खाने को आप अपनी एंटी- इंफ्लामेट्री डाइट में शामिल कर सकते हैं

एंटी- इंफ्लामेट्री फूड्स

1. ओलिव ऑयल

ओलिव ऑयल अच्छे फैट से भरपूर है और साथ ही बाकी वेजिटेबल ऑयल के मुकाबले ओलिव ऑयल को सबसे सेहतमंद माना जाता है। इसके अलावा इसमें स्ट्रोंग एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो ब्लड कोलेस्टॉल को सामान्य बनाए रखने के साथ- साथ एंटी- इंफ्लामेट्री की खूबी भी है जिससे फ्री रेडिकल का खतरा कम हो जाता है। ओलिव ऑयल में ओलियोकांथल नाम का एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है, जो एक एडिटिव भी है जिसको एंटी इंफ्लामेट्री दवाओं में इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा ओलिव ऑयल में मौजूद फैटी एसिड भी सूजन के लेवल को कम करने का काम करता है (1)।

olive oil-mishry
ओलिव ऑयल अच्छे फैट से भरपूर है और साथ ही बाकी वेजिटेबल ऑयल के मुकाबले ओलिव ऑयल को सबसे सेहतमंद माना जाता है।

2. टमाटर

टमाटर में भारी मात्रा में पोष्टिक आहार मौजूद हैं। बिना किसी शक के टमाटर ताकतवर एंटीऑक्सीडेंट हैं जिसको आप अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। विटामिन सी और पोटैशियम से भरपूर होने के कारण टमाटर के फायदे आपके स्ट्रोंग इम्यून सिस्टम में साफ दिखाई देते हैं। इसके अलावा टमाटर में ताकतवर एंटीऑक्सीडेंट, लाइकोपीन नाम से जाना जाता है। यह एंटीऑक्सीडेंट सूजन को कम करने में मदद करता है और साथ ही सूजन के आसार को भी कम करता है।

tomato-mishry
टमाटर में ताकतवर एंटीऑक्सीडेंट, लाइकोपीन नाम से जाना जाता है।

3. मिर्च

मिर्च को सिर्फ खाने में फ्लेवर लाने के लिए इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए। स्पाइसी खाने की इच्छा को पूरा करने के लिए मिर्च दद करती है लेकिन यह एंटी- इंफ्लामेट्री गुणों के साथ भी आती है। बेल पेपर और चिल्ली पेपर, दोनों में ही भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो सूजन को कम करने में मदद करता हैं। क्वेरसेटिन और सिनापिक एसिड ऐसे दो एंटीऑक्सीडेंट हैं जो फ्लेवर से भरपूर खाने में पाए जाते हैं।

chilles-mishry
बेल पेपर और चिल्ली पेपर, दोनों में ही भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो सूजन को कम करने में मदद करता हैं।

4. हल्दी

हल्दी खाने के कई फायदे में से एक सूजन को कम करने के लिए भी जाना जाता है। हल्दी में करक्यूमिन नाम का कंपाउंड पाया जाता है जो सूजन के खिलाफ काम करता है। हल्दी को जलन, गठिया, जोड़ो में दर्द, किडनी में परेशानी के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। खाने में हल्दी मिलाने से खाने में अपने आप एंटी- इंफ्लामे्री के गुण आ जाते हैं।

turmeric-mishry
हल्दी को जलन, गठिया, जोड़ो में दर्द, किडनी में परेशानी के
इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

5. ग्रीन टी

चाय के कम से कम ऑक्सीकरण (oxidized) संस्करण के रूप को ग्रीन टी कहा जाता है। ग्रीन टी में सबसे अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। ग्रीन टी में एपिगलोकेटेशिन गलेट नाम का एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो एंटी- इंफ्लामेट्री कंपाउंड जैसे कि साइटोकाइन को प्रोड्यूज होने से रोकता है। इसके अलावा यह एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल के खतरे को कं करने में मदद करता है जो सूजन को बढ़ाने में मदद करते हैं।

green tea-mishry
ग्रीन टी में सबसे अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं।

संबंधित आर्टिकल
ग्रीन टी की वराइटी – ग्रीन टी के पॉपुलर फ्लेवर।
मिश्री रिव्यू- बेस्ट एवरीडे ग्रीन टी फॉर बिगिनर्स।

6. कोको

एंटीइंफ्लामेट्री डाइट तो फोलो करने मतलब यह नहीं है कि आप मीठा खाना छोड़ दें। कोको, मीठे और कड़वा होने के साथ- साथ एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो कई सारे फायदे अपने साथ लेकर आता है। चॉकलेट में फ़्लावनोल्स नाम का एंटीऑक्सीडेंट मौजूद है जो सूजन को कम करने में मदद करता है और सेल को फ्री रेडिकल से बचाकर रखता है। लेकिन यह इस पर निर्भर करता है कि आपने किस तरह की चॉकलेट का चुना है। आपकी चॉकलेट में कोको की मात्रा होनी चाहिए जैसे कि डार्क चॉकेलट जिसमें 70% कोको होता है और सेहतमंद ऑप्शन भी माना जाता है।

dark chocolate-mishry
डार्क चॉकलेट में कोको की मात्रा 70% होती है।

7. अंगूर

अंगूर कई सारे पोष्टिक आहार से भरपूर होता है। अंगूर में रेस्वेराटॉल नाम के कंपाउंड की अच्छी मात्रा पाई जाती है जिसके कई सारे फायदे हैं और उनमें से एक सूजन कम करने में मदद। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है जिसके कारण यह सूजन के आसार को कम कर देता है।

grapes-mishry
अंगूर कई सारे पोष्टिक आहार से भरपूर होता है।

अन्य एंटी- इंफ्लामेट्री खाने की चीजें

ऊपर हमने मुख्य खाने की चीजों के बारे में जानकारी दी है जिनको डाइट शामिल करना जरुरी है। इसके अलावा भी कई सारे फूड हैं जिनको आप अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इनकी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

8. जामुन

9. चिया बीज

यह भी पढ़ें- चिया बीज के फायदे और नुकसान (Health Benefits Of Chia Seeds & Side-Effects)

10. मछली (खासकर जो फैटी एसिड से भरपूर हैं)

11. ब्रोकली

12. एवोकैडो

13. मशरूम

आखिर में

आपको अपनी डाइट अपने तरीके से तय करनी है। आपको अपने शरीर की जरुरत के अनुसार अलग- अलग पोष्टिक आहार को डाइट में शामिल करना है। एंटी- इंफ्लामेट्री डाइट में क्या शामिल करना चाहिए कि जानकारी आप ऊपर से ले सकते हैं। सेहतमंद जिंदगी जीने का मतलब है बैलेंस डाइट। बैलेंस डाइट में सभी आहार सही मात्रा में शामिल होते हैं। बैलेंस डाइट को फोलो करें और सेहतमंद रहें।

Leave a Reply on सूजन कम करने के लिए खाने की लिस्ट

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*