विटामिन सी डाइट के 8 अनोखे फायदे और नुकसान - मिश्री
विटामिन सी डाइट के 8 अनोखे फायदे और नुकसान

विटामिन सी डाइट के 8 अनोखे फायदे और नुकसान

विटामिन सी के फायदे शरीर से लेकर त्वचा के लिए मौजूद हैं। विटामिन सी डाइट में क्या शामिल करें, यहां से जानें।

यह विटामिन इम्यूनिटी स्ट्रांग रखने में मदद करता है और साथ प्लांट फूड से आयरन अब्जॉर्ब करने में भी मदद करता है। क्या आप इस विटामिन का नाम पहचान सकते हैं?

शरीर के लिए सभी विटामिन बहुत जरूरी होते हैं, आज हम विटामिन सी के फायदे के बारे में बात करेंगे। विटामिन सी सेहत, त्वचा और बालों के लिए बेहद लाभदायक है। आपको बता दें कि विटामिन सी पानी में आसानी से घुल जाता है जिस कारण यह शरीर में नहीं बन पाता है साथ ही यह शरीर में स्टोर भी नहीं हो पाता है। विटामिन सी लेने के लिए फल और सब्जियों अच्छा आधार हैं।

महिलाओं को एक दिन में 70-75 एमजी विटामिन सी का सेवन करना जरूरी है। वहीं पुरुष को एक दिन में 90-95 एमजी विटामिन सी का सेवन करना जरूरी है। विटामिन सी आसानी से फल और सब्जियों में मिल जाता है। इस आर्टिकल से आप विटामिन सी के फायदे, नुकसान और विटामिन सी फूड्स से जुड़ी जानकारी विस्तार से प्राप्त कर सकते हैं।

अन्य विटामिन की तरह विटामिन सी शरीर के लिए बहुत जरूरी है। विटामिन सी शरीर में बनता नहीं है और साथ ही स्टोर भी नहीं हो सकता है इसलिए डाइट में विटामिन सी का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। डाइट में विटामिन सी से भरपूर कई तरह के फूड्स शामिल कर सकते हैं। लेकिन उससे पहले आइए विटामिन सी डाइट के फायदे के बारे में जान लेते हैं।

1. एंटीऑक्सीडेंट

विटामिन सी के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं जो हमारे शरीर के लिए बहुत लाभदायक हैं। एंटीऑक्सीडेंट तनाव और रोजाना की तकलीफ से लड़ने में मदद करता है। एंटीऑक्सीडेंट डाइट में सही मात्रा में लेने से बुढ़ापे में होने वाली परेशानियां जल्दी से नहीं आती हैं। जिन चीजों में विटामिन सी मिलता है उन सभी में एंटीऑक्सीडेंट जरूर मौजूद होता है। रोजाना विटामिन सी का सेवन करने से स्वस्थ रहता है। विटामिन सी से दिल स्वस्थ रहता है जिससे की दिल की बीमारी होने का खतरा कम हो जाता है।

साबुत और कटा हुआ संतरा
विटामिन सी के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं

3. स्वस्थ दिमाग

विटामिन सी का सेवन लगातार करने से दिमाग स्वस्थ रहता है इसलिए विटामिन सी के फायदे बढ़ जाते हैं। नर्वस सिस्टम को रोजाना विटामिन सी भरपूर मात्रा में चाहिए होता है। विटामिन सी सही मात्रा में लेने से दिमाग के द्वारा की जाने वाली गतिविधियों में सुधार होता रहता है। जिससे दिमाग स्वस्थ रहता है और रोजाना के काम बिना किसी रुकावट के आराम से हो जाते हैं। विटामिन सी के फायदे खासतौर पर बुढ़ापे में नज़र आते हैं।

4. इंफेक्शन

विटामिन सी के फायदे बीमारी से दूर रखने के लिए जाने जाते हैं। विटामिन सी बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। इसके होने से खांसी, जुकाम जैसी बीमारियों से बचे रहते हैं और यह बीमारी होने पर उनसे लड़ता भी है। विटामिन सी ठंड लगने के बाद बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करता है। शुरूआती खांसी- जुकाम होने पर दवाई लेने से पहले घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

कटा हुआ हरा नींबू
विटामिन सी के फायदे इंफ्केशन से बचाव के लिए

5. आयरन

विटामिन सी लेने से शरीर आयरन अच्छे से अब्जॉर्ब करने में मदद करता है जिससे आयरन की मात्रा सामान्य बनी रहती है। आपको यह सलाह दी जाती है कि विटामिन सी और आयरन का सेवन एक साथ करना चाहिए। दोनों का सेवन एक साथ करने से यह दोनों आसानी से पच जाते हैं। यह दोनों तत्व आसानी से पच जाते हैं। आयरन शरीर में सही मात्रा में खून ले जाने में मदद करता है इसलिए विटामिन सी के फायदे डाइट में शामिल करना और भी जरूरी बन जाता है।

6. सेहतमंद त्वचा

विटामिन सी के फायदे सेहत के साथ- साथ त्वचा के लिए भी कई सारे मौजूद हैं। विटामिन सी में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट त्वचा का बचाव फ्री रेडिकल और सूरज की हानिकारक किरणों से करते हैं। विटामिन सी के फायदे त्वचा बचाव बीमारियों से करने में मदद करता है।

दही प्राकृतिक स्किन केयर प्रोडक्ट है। दही विटामिन सी से भरपूर होती है। दही में नींबू की कुछ बूंदे डालें और अच्छे से मिक्स करें। अब इस मिश्रण को त्वचा पर लगाएं और 10-15 मिनट पर पानी से धो लें। इसके अलावा बेसन, नींबू का रस और दही का मिश्रण भी त्वचा के लिए लाभदायक माना जाता है। ऐसा आप हफ्ते में एक बार त्वचा से गंदगी निकालने के लिए कर सकते हैं।

संतरा और संतरे का जूस
विटामिन सी के फायदे सेहतमंद त्वचा के लिए

7. स्कर्वी

विटामिन सी की कमी होने से स्कर्वी हो सकती है। स्कर्वी जैसी बीमारी से बचे रहने के लिए विटामिन सी का सेवन सही मात्रा में करना जरूरी है। यह बीमारी ज्यादातर बच्चों में पाई जाती है। इसलिए बच्चों की डाइट में विटामिन सी से भरपूर फल और सब्जियां जरुर शामिल करें। इसके साथ ही बच्चों को खेलने के लिए भी जरूर भेजें, ऐसा करने से सूरज की किरणों से डायरेक्ट विटामिन सी मिलता है।

8. डिटॉक्स

विटामिन सी बाहर की गंदगी से बचाकर रखता है। यह सूरज की हानिकारण किरणों से भी बचाकर रखता है। इसलिए विटामिन सी की मात्रा डाइट में जरूर होनी चाहिए। विटामिन सी के फायदे शरीर से गंदगी निकालने में मदद करते हैं जिससे शरीर अंदर से स्वस्थ रहता है।

9. कोलेजन प्रोडक्शन

कोलेजन एक तरह का प्रोटीन है। इसमें शरीर का 1/3 हिस्से का प्रोटीन होता है। निखरती त्वचा, स्वस्थ बाल, नाखून, मजबूत हड्डियां चाहिए है तो सही मात्रा में कोलेजन प्रोटीन का होना जरूरी है। इसलिए अपनी डाइट में किसी ना किसी तरह विटामिन सी के फायदे जरूर शामिल करें। विटामिन सी डाइट में शामिल करने के लिए नीचे से विटामिन सी से भरपूर फूड्स की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

विटामिन सी से भरपूर फूड्स

विटामिन सी के फायदे शरीर के लिए बेहद जरूरी है। विटामिन सी का सेवन करने से दिमाग, त्वचा आदि सभी मजबूत रहते हैं साथ ही यह खांसी और जुकाम से भी बचाकर रखता है। विटामिन सी ज्यादातर कच्चे फल और सब्जियों में पाया जाता है। विटामिन सी से भरपूर फल और सब्जी की जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. खट्टे फल

जब भी विटामिन सी की बात होती है तब खट्टे फलों का ज़िक्र जरुर होता है। यह तो सभी को पता है कि खट्टे फलों में जैसे कि संतरे और नींबू में विटामिन सी की मात्रा बहुत अच्छी पाई जाती है। लेकिन खट्टे फलों में भी विटामिन सी की मात्रा अलग- अलग हो सकती है। खट्टे फलों को उगाने के तरीके में विविधता होने के कारण विटामिन सी की मात्रा कम या ज्यादा हो सकती है। जो फल ऑर्गेनिक तरीके से उगाए जाते हैं उन फलों में विटामिन सी की मात्रा ज्यादा होती है। और जो बाकी तरीके से फल उगाए जाते हैं उन फलों में विटामिन सी की मात्रा कम होती है।

कटा हुआ संतरा, नींबू
खट्टे फल विटामिन सी का अच्छा आधार है

2. गोभी

सब्जियों की बात करें तो गोभी में सबसे ज्यादा मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। और पूरी दुनिया में गोभी को बाकी सब्जियों के मुकाबले सबसे ज्यादा खाया भी जाता है। विटामिन सी के साथ- साथ गोभी में विटामिन बी और विटामिन के भी पाया जाता है।

फूल गोभी
100 ग्राम गोभी में 48.2 एमजी विटामिन सी पाया जाता है।

3. ब्रोकोली

ब्रोकोली गोभी के परिवार से ही है जिस कारण से इसमें भी भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया है। आपको बता दें कि ब्रोकोली में गोभी से ज्यादा मात्रा में विटामिन सी होता है। 100 ग्राम ब्रोकोली खाने से आप रोज़ाना का 20% विटामिन सी प्राप्त कर सकते हैं। गोभी की तरह ही ब्रोकोली को भी बाकी की सब्जियों के साथ रोस्ट कर खाया जाता है। इसके अलावा आप ब्रोकोली को उबाल कर भी खा सकते हैं।

ब्रोकली
विटामिन सी डाइट में ब्रोकली शामिल कर सकते हैं।

4. पालक और हरी सब्जी

यह तो हम बचपन से सुनते आ रहे हैं कि हरी सब्जियों में सबसे अधिक मात्रा में विटामिन सी होता है। पालक की तरह बाकी की हरी सब्जियों में भी विटामिन सी पाया जाता है। विटामिन सी के अलावा हरी सब्जी में प्रोटीन, फाइबर और विटामिन के भी पाया जाता है। कुछ हरी सब्जियों को कच्चा भी खाया जाता है। भारत में पालक बहुत खाई जाती है जैसे कि पालक पनीर, साग, सरसों का साग आदि।

सफेद कटोरी में पालक के पत्ते
डाइट में हरी सब्जियां जरूर शामिल करें।

5. टमाटर

टमाटर हर रसोई में आसानी से मिल जाएगा। टमाटर से ही लगभग सभी सब्जियां बनाने की तैयारी की जाती है। टमाटर से विटामिन सी लेने का एक अच्छा आधार है। 100 ग्राम टमाटर पूरे दिन का 17% विटामिन सी देता है। टमाटर देश के हर कोने में खाया जाता है। यह हर डिश में सबसे जरूरी सामग्री होती है। इसको हम कच्चा या सलाद में भी खा सकते हैं।

लाल टमाटर का पौधा
टमाटर विटामिन सी के फायदे से भरपूर है।

6. पपीता

फलों की बात करें तो पपीते में भी भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। 100 ग्राम पपीता खाने से रोज़ाना का 75% विटामिन सी का सेवन किया जा सकता है। पपीता खाने से पेट स्वस्थ रहता है जिससे पूरा शरीर स्वस्थ रहता है। वैसे तो विटामिन सी का सेवन करने के लिए कई सारे आधार है। लेकिन सबसे जरूरी यह है कि हम कितना विटामिन सी का सेवन कर रहे है।

कटा हुआ पपीता
पपीता विटामिन सी की कमी दूर करने में मदद कर सकता है।

7. स्ट्रॉबेरी

स्ट्रॉबेरी दिखने में तो सुंदर होती ही है इसके साथ ही यह एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी से भी भरपूर हैं। कई अध्ययन में यह पाया गया है कि स्ट्रॉबेरी डाइट में शामिल करने से कई गंभीर बीमारी होने के आसार कम होने में मदद मिलती है। स्ट्रॉबेरी को डायरेक्ट खा सकते हैं या फिर स्ट्रॉबेरी शेक, चीज़ केक में शामिल कर सकते हैं। आपको बता दें कि 150 ग्राम स्ट्रॉबेरी में 89 एमजी विटामिन सी होता है। इसके अलावा कीवी, केले में भी भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है।

सफेद कटोरी में स्ट्रॉबेरी
स्ट्रॉबेरी विटामिन सी से भरपूर होती है।

8. मिर्च

डाइट में विटामिन सी शामिल करना है तो लाल और हरी मिर्च शामिल कर सकते हैं। जिन लोगों को तीखा और मिर्च खाना पसंद है उन लोगों के लिए डाइट में विटामिन सी शामिल करना आसान है। कई अध्ययन में भी यह बताया गया है कि मिर्च के फायदे वजन कम करने में भी मदद करते हैं। इसके साथ ही आपको विटामिन सी के फायदे भी मिल जाते हैं। जिन लोगों को मिर्च बेहद पसंद है वो लोग कच्ची मिर्च खाने के साथ खाते हैं वहीं अधिकतर लोग तड़के में मिर्च का उपयोग करते हैं।

संबंधित आर्टिकल: विटामिन ई डाइट के लाजवाब फायदे

कटोरी में लाल मिर्च
सही मात्रा में डाइट में मिर्च शामिल करें।

विटामिन सी की कमी के लक्षण

अगर किसी में विटामिन सी की कमी है तो लगभग 8 से 12 हफ्ते बाद इन लक्षण से पता चलेगा।

• भूख में कमी
• वजन घटना
• थकान
• चिड़चिड़ापन
• सुस्ती

अगर किसी में विटामिन सी की कमी होती है तो लगभग 1 से 3 महीने के बाद आपको इन संकेतों से पता चलेगा।

• एनीमिया
• मायगेलिया या दर्द साथ में हड्डी में दर्द
• सूजन या फुलाव
• पेटीचिया या त्वचा के नीचे घून से धब्बे होना
• कॉर्कस्क्रू बाल
• मसूड़ों की बीमारी और दांतों का गिरना
• खराब घाव भरना
• साँसों की कमी
• मूड में बदलाव और डिप्रेशन

इलाज के समय मुंह से या फिर इंजेक्शन के माध्यम से विटामिन सी दिया जाता है।

24 घंटे के अंदर ही बीमार आदमी अपने अंदर सुधार देखने लग जाता है जैसे कि थकान, सुस्ती, आलस, दर्द, एनोरेक्सिया, ब्रूसिंग और कमजोरी में सुधार होने लगता है। बीमार व्यक्ति 1 से 2 हफ्ते में ठीक होने लगता है और 3 महीने में विटामिन सी की कमी को पूरी तरह से दूर भी किया जा सकता है।

विटामिन सी डाइट के नुकसान

अगर किसी चीज के फायदे हैं तो उसके नुकसान भी हैं। वैसे ही अधिक मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से शरीर को नुकसान भी हो सकता है। विटामिन सी के नुकसान से जुड़ी सारी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. आयरन की मात्रा का बढ़ना

अधिक मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से नुकसान हो सकता है। आयरन की मात्रा बढ़ने से कई सारी बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है। आयरन की मात्रा ज्यादा होने से दिल, लिवर और जी मिचलाना जैसी दिक्कतें हो सकती हैं।

2. किडनी पर बुरा असर

विटामिन सी का सेवन अधिक मात्रा में करने से किडनी पर असर पड़ सकता है। विटामिन सी एक ऐसा एंटीऑक्सीडेंट है जो आसानी से घुल जाता है। विटामिन सी शरीर में स्टोर नहीं होता है और यह यूरीन के माध्यम से शरीर से बाहर निकल जाता है। अगर विटामिन सी की मात्रा रोजाना की मात्रा से अधिक हो जाती है तो यह एक्स्ट्रा विटामिन सी किडनी में जमा होने लग जाता है जिसकी वजह से पथरी की बीमारी हो सकती है।

इसके अलावा ऐसी कई सारी बीमारी हैं जो विटामिन सी की अधिक मात्रा से हो सकती है। यह बीमारी छोटी लगती है लेकिन इसका बुरा असर बड़ा हो सकता है। ऐसी बीमारी के होने के संकेत की जानकारी आप नीचे से देख सकते हैं।

आखिर में

विटामिन सी के फायदे कई सारे हैं अगर इसका सेवन सही मात्रा में किया जाए। विटामिन सी के फायदे बहुत ज्यादा जरूरी इसलिए हो जाते हैं क्योंकि यह शरीर में स्टोर नहीं हो पाता है और आसानी से निकल जाता है। इसके लिए विटामिन सी से भरपूर फूड्स खाना बेहद जरूरी है। विटामिन सी बीमारी होने पर उससे लड़ने में मदद करता है। विटामिन सी से भरपूर डाइट होने के कारण बीमार होने के आसार कम होने में मदद मिलती है।

विटामिन सी के फायदे के साथ- साथ नुकसान भी हैं। विटामिन सी के फायदे लेने के लिए इसका सेवन सही मात्रा में करें। कई लोगों को विटामिन सी की कमी भी हो सकती हैं। भूख कम लगना, वजन घटना, मिलती जैसे आसार विटामिन सी की कमी के आसार हो सकते हैं इसलिए डॉक्टर की सलाह जरुर लें।

आप किस रूप में विटामिन सी डाइट में शामिल करते हैं? हमें कमेंट में जरूर बताएं।

FAQs

1. क्या विटामिन सी का सेवन रोजाना कर सकते हैं?

सही मात्रा में विटामिन सी का सेवन किया जा सकता है। एक दिन में 65 से 90 एमजी विटामिन सी का सेवन किया जा सकता है।

2. विटामिन सी के फायदे त्वचा के लिए क्या हैं?

विटामिन सी में एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो त्वचा को फ्री रेडिकल से बचाकर रखने में मदद करता है। इसके साथ ही विटामिन सी त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाकर रखने में मदद करता है।

3. विटामिन सी के नुकसान क्या हैं?

अधिक मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से दस्त, मितली, उलटी, सरदर्द आदि हो सकता है।

4. रोजाना कितनी मात्रा में विटामिन सी का सेवन करना चाहिए?

एक दिन में 65 से 90 एमजी विटामिन सी का सेवन किया जा सकता है। अधिक मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से नुकसान भी हो सकता है।

5. किस फल में सबसे ज्यादा मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है?

खरबूजा, खट्टे फल-जूस, कीवी, आम, पपीता, अनानस, तरबूज आदि में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
2 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments