जौ के 13 अनोखे फायदे , नुकसान व बनाने की विधि – मिश्री
benefits of jau

जौ के 13 अनोखे फायदे , नुकसान, बनाने की विधि – सेहतमंद और उपयोगी

जौ के फायदे (Benefits Of Jau) सेहत के साथ- साथ त्वचा और बालों के लिए भी हैं। इसके अलावा जौ के पानी के फायदे (Benefits Of Barley Water) भी कई सारे हैं। जौ से बनने वाली डिश के आइडिया यहां से ले सकते हैं।

जब भी अनाज से जुड़ी बात करते हैं तो गेंहू, बाजरा आदि का नाम सबसे पहले आता है लेकिन जौ का नाम बहुत कम लोग लेते हैं। यहां से जौ के फायदे पढ़ने के बाद अनाज की टॉप लिस्ट में आप जौ का नाम भी जरुर शामिल करेंग। जौ के फायदे सामान्य कोलेस्ट्रॉल से लेकर वजन कम करने तक जुड़े हुए हैं। इसके साथ ही जौ के फायदे सेहतमंद त्वचा और बालों से भी जुड़े हुए हैं। जौ खाने के फायदे के साथ जौ के पानी के फायदे भी कई सारे हैं। जौ के फायदे से जुड़ी जानकारी आप इस आर्टिकल से प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन इससे पहले जौ के पौष्टिक तत्व से जुड़ी जानकारी भी जरुर प्राप्त कर लें।

जौ की लहराती फसल
जौ के फायदे

जौ के फायदे (Benefits Of Barley) इसमें मौजूद पौष्टिक तत्व के कारण मौजूद हैं। जौ में ऐसे कई सारे तत्व मौजूद हैं जो सेहतमंद जिंदगी जीने में मदद कर सकते हैं। जौ जैसे अनाज को डाइट में शामिल करने से आपको कई सारे फायदे मिल सकते हैं। जौ के पौष्टिक तत्व से जुड़ी जानकारी आप नीचे दी गई टेबल से प्राप्त कर सकते हैं।

पोषण मात्रा – 100 ग्राम
कैलोरी 354
प्रोटीन 12.5 ग्राम
फैट 2.3 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट 73.5 ग्राम
फाइबर 17.3 ग्राम
थियामिन 43% (रेफ्रेंस डेली इनटेक (आरडीआई))
कॉपर 25% (आरडीआई)
फोलेट 5% (आरडीआई)
विटामिन बी6 16% (आरडीआई)
आयरन 20% (आरडीआई)
मैग्नीशियम 33% (आरडीआई)
फास्फोरस 26% (आरडीआई)
ज़िंक 13% (आरडीआई)
नाइसिन 18% (आरडीआई)
पोटैशियम 13% (आरडीआई)
राइबोफ्लेविन 17% (आरडीआई)
मैंगनीज 97% (आरडीआई)
सेलेनियम 54% (आरडीआई)

जौ के फायदे

अगर आप जौ के पौष्टिक तत्व के बारे में जानने के बाद इसको अपनी डाइट में शामिल करना चाहते हैं तो सबसे पहले जौ के फायदे  के बारे में जान लें। जौ के फायदे लगभग सर से लेकर पांव तक के लिए जुड़े हुए हैं। जौ के फायदे से जुड़ी सारी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

जौ की फसल
जौ के फायदे सेहत के लिए

1. जौ के फायदे स्वस्थ डाइजेशन के लिए

जैसा कि आप ऊपर दी गई टेबल में देख सकते हैं कि जौ में फाइबर मौजूद है और फाइबर पेट को स्वस्थ रखने में मदद करता है। पेट को स्वस्थ रखने के लिए सबसे जरुरी है कि आप फाइबर का सेवन करें। फाइबर खाने से पेट की गतिविधियां बढ़ जाती हैं जिससे खाना अच्छी तरह डाइजेस्ट होता है। आपको बता दें कि जौ खाने के फायदे कब्ज की परेशानी से राहत दिलाने में भी मदद करता है।

कई अध्ययन में यह पाया गया है कि जौ के फायदे कब्ज की दिक्कत दूर करने में मदद करते हैं। एक अध्ययन में पुराने कब्ज से गुजर रहे 16 लोगों को शामिल किया गया। इन लोगों को 10 दिन तक 9 ग्राम अंकुरित जौ खाने के लिए कहा गया, जिसके बाद मल त्याग (Bowel Movement) की क्षमता बढ़ गई।

इसके साथ ही जौ के फायदे पेट में अच्छे बैक्टीरिया को पैदा करने में मदद करते हैं। एक अध्ययन में 20 सेहतमंद लोगों को 4 हफ्तों के लिए 60 ग्राम जौ खाने के लिए कहा गया। अध्ययन के आखिर में यह पाया गया है कि पेट में अच्छे बैक्टीरिया पैदा होने में मदद मिली, सूजन कम हुई और ब्लड शुगर लेवल भी बैलेंस रहने लगा।

2. जौ खाने के फायदे सामान्य ब्लड शुगर लेवल के लिए

जौ के फायदे ब्लड शुगर लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। ऐसा होने से डायबिटीज से गुजर रहे लोगों को जौ खाने के फायदे शायद मिल सकते हैं। जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि जौ में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे शुगर का अब्जॉर्बशन धीरे- धीरे होता है। कई अध्ययन में भी यह बताया गया है कि जौ के फायदे ब्लड शुगर लेवल और इंसूलिन लेवल कम रखने में मदद करते हैं।

जौ के फायदे सामान्य ब्लड शुगर लेवल देखने के लिए एक अध्ययन में 10 ओवर वेट महिलाओं को शामिल किया गया। महिलाओं को जौ या ओट्स के साथ ग्लूकोज का सेवन करने के लिए कहा गया। अध्ययन के आखिर में यह देखा गया कि ओट्स और जौ खाने के फायदे ब्लड शुगर लेवल कम करने में मदद करते हैं। और साथ ही यह भी देखा गया कि जहां ओट्स से 29% – 30% तक ब्लड शुगर लेवल कम होता है वहीं जौ खाने से 59% – 65% ब्लड शुगर लेवल कम होता है।

जौ के अंकुरित पौधे
जौ की मदद से ब्लड शुगर लेवल सामान्य रहने में मदद मिल सकती है।

3. जौ के फायदे कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए

इस भाग-दौड़ भरी जिंदगी में कई बीमारी ऐसी हो जाती हैं जिनसे छुटकारा पाना आसान नहीं होता है। ऐसा होने पर डाइट का ध्यान रखना बेहद जरुरी है। और साथ ही यह बी ध्यान रखना चाहिए कि आपकी डाइट में क्या- क्या शामिल है। जौ में सॉल्युबल फाइबर होता है जो खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है।

एक अध्ययन में 44 हाई कोलेस्ट्रॉल से गुजर रहे आदमियों को शामिल किया गया। इन लोगों को चावल और जौ खाने के लिए कहा गया। अध्ययन के आखिर में इन लोगों में खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा सिर्फ चावल खाने वालो के मुकाबले कम होती हुई नज़र आई।

Buy Barley Flour Online

4. जौ खाने के फायदे वजन कम करने के लिए

जौ के फायदे वजन कम करने के लिए भी जाने जाते हैं। जैसा कि आपको पता है जौ में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है।वजन कम करने के लिए डाइट में फाइबर का सेवन जरुर होना चाहिए। फाइबर को पचने में ज्यादा समय लगता है जिससे शरीर को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है और मेटाबोलिज्म भी बढ़ता है। और साथ ही आपको भूख भी कम लगती है जिससे आप बार- बार खाना नहीं खाते हैं और इन सभी चीजों के मेल से वजन कम करने में मदद मिलती है।

कई अध्ययन में भी यह देखा गया है कि जौ खाने के फायदे वजन कम करने में मदद करते हैं। दो अध्ययन में यह पाया गया है कि जो लोग ब्रेकफास्ट में जौ खाते हैं उन लोगों को चावल और होल वीट खाने वाले लोगों के मुकाबले कम भूख लगती है।

संबंधित आर्टिकल: सत्तू के फायदे

वजन तौलने की मशीन
जौ के फायदे वजन कम करने में मदद करते हैं।

5. जौ के फायदे सेहतमंद दिल के लिए

जौ के फायदे सेहतमंद दिल रखने के लिए भी जाने जाते हैं। जौ खाने के फायदे खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं जो दिल की बीमारी के आसार बढ़ाने का मुख्य कारण है। इसके साथ ही सॉल्युबल फाइबर का सेवन करने से ब्लड प्रेशर भी सामान्य बना रहता है। इन दोनों के सामान्य रहने से दिल की बीमारी होने के आसार कम होने में मदद मिलती है। इसलिए दिल को स्वस्थ रखने के लिए सेहतमंद डाइट बेहद जरुरी है।

6. जौ खाने के फायदे डायबिटीज के लिए 

जौ के फायदे डायबिटीज के लिए भी जाने जाते हैं। जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि जौ खाने के फायदे ब्लड शुगर लेवल और इंसूलिन को सामान्य बनाए रखने में मदद करते हैं। ब्लड शुगर लेवल और इंसूलिन सामान्य रहने से टाइप 2 डीयबिटीज का खतरा कम होने में मदद मिल सकती है। आपको बता दें कि जौ में मैग्नीशियम पाया जाता है जो इंसूलिन प्रोडक्शन और शुगर के इस्तेमाल के लिए बेहद जरुरी है।

मधुमेह मशीन
जौ के फायदे डायबिटीज के लिए लाभदायक हैं।

7. जौ के फायदे मजबूत हड्डियों के लिए 

जौ में फास्फोरस, ज़िंक, मैंग्नीशियम, कॉपर जैसे तत्व पाए जाते हैं जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। बढ़ती उम्र में हड्डियों बहुत जल्दी कमज़ोर हो जाती हैं। अगर आप अभी से ही अपनी डाइट में जौ शामिल कर लेंगे तो आपको हड्डियों से जुड़ी दिक्कतें बहुत कम हो सकती हैं। जौ को डाइट में शामिल करना भी बेहद आसान है जिसकी जानकारी आप आगे इस आर्टिकल से ले सकते हैं।

8. जौ खाने के फायदे सूजन कम करने के लिए

आजकल बीमारियों का कुछ पता नहीं चलता है इसलिए बेहत है कि आप बैलेंस डाइट फोलो करें जिससे सारे पौष्टिक तत्व प्राप्त कर सकें। जौ के फायदे सूजन कम करने के लिए भी जाने जाते हैं। आपको बता दें कि जौ में बीटाइन नाम का तत्व पाया जाता है जो बीटाइन को कोलीन में बदल देता है। और यह कोलीन सूजन कम करने में मदद करता है। इसलिए आप चाहें को जौ को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

जौ के बीज
जौ के फायदे सूजन कम करने में मदद कर सकते हैं। इमेज क्रडिट –commons.wikimedia.org

9. जौ के फायदे गर्मियां सहन करने के लिए 

क्या आपको पता है जौ के फायदे गर्मियों में खासतौर पर जाने जाते हैं। गर्मियों में जौ का सेवन करने से गर्मी सहन करने में मदद मिलती है। जौ एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं जो बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। कई लोग लू भरे दिन में जौ का पानी पीते हैं जिससे लू और गर्मी लगने के आसार कम हो जाते हैं।

10. जौ खाने के फायदे दमा के लिए

ऐसा कहा जाता है कि जौ के फायदे अस्थमा में भी मदद करते हैं। इस विषय पर अभी और अद्ययन जारी हैं। अस्थमा से राहत पाने के लिए जौ भी डाइट में शामिल किया जा सकता है। लेकिन इसके बावजूद जौ डाइट में शामिल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

जौ की सुखी फसल
जौ के फायदे दमा में मदद करते हैं।

11. जौ के फायदे गठिया के लिए

बढ़ती उम्र की किसी भी बीमारी से बचने के लिए सही डाइट को फोलो करना बेहद जरुरी है। अधिकतर लोगों को बढ़ती उम्र में गठिया की शिकायत आमतौर पर होती जाती है। गठिया में जोड़ों में दर्द, सूजन, अकड़न आ जाती है। ऐसे में जौ के पानी के फायदे आपके काम आ सकते हैं। गठिया में जौ का पानी पी सकते हैं लेकिन फिर भी डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

12. जौ के फायदे सेहतमंद त्वचा के लिए

जौ के फायदे सेहत के साथ- साथ त्वचा के लिए भी जाने जाते हैं। आपको बता दें कि जौ में पौष्टिक तत्व त्वचा को बीमारी से बचाकर रखने में मदद करते हैं। इसके साथ ही जौ के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं जो फ्री रेडिकल से बचाव करने में मदद करते हैं। फ्री रेडिकल हानिकारक रोगजनक होते हैं जो स्वस्थ सेल के साथ मिल जाते हैं और नुकसान देते हैं। इसके साथ ही जौ के फायदे त्वचा में कोलेजन की मात्रा को भी बनाए रखते हैं जिससे त्वचा सेहतमंद रहती है।

त्वचा को सेहतमंद बनाने के लिए आप जौ का जूस पी सकते हैं जिससे त्वचा सेहतमंद रहने के साथ- साथ हाइड्रेट भी रहती है। जौ के जूस के फायदे त्वचा में नमी बनाए रखते हैं जिससे त्वचा रूखी और सूखी नहीं रहती है। इसके अलावा जौ के फायदे त्वचा पर बढ़ती उम्र के आसार जल्दी से नहीं दिखने देते हैं। चोट लगने पर भी आप जौ का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसा करने से घाव जल्दी भर जाता ही क्योंकि जौ में विटामिन सी पाया जाता है जो घाव और चोट को कम समय में सही करने में मदद करता है।

जौ से त्वचा सेहतमंद रहने में मदद मिलती है
जौ से त्वचा सेहतमंद रहने में मदद मिलती है

13. जौ के फायदे सेहतमंद बालों के लिए

जौ के फायदे सेहत और बालों के साथ- साथ बालों के लिए जाने जाते हैं। आपको बता दें कि जौ में विटामिन और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो बालों को पोषण से भरपूर रखने में मदद करते हैं। जौ में विटामिन सी और विटामिन ई भी पाया जाता जो एक प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट हैं। एंटीऑक्सीडेंट की मदद से बाल खराब नहीं होते हैं।

जौ के फायदे बालों को पोषण से भरपूर बनाने के साथ- साथ बालों को झड़ने से भू रोकते हैं। जौ के जूस पीने के फायदे बालों की जड़ों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं जिससे बालों का झड़ना कम होने में मदद मिलती है। जौ में आयरन मौजूद होता है जिससे बालों की जड़ें मजबूत हो जाती हैं। जौ का जूस पीने के अलावा आप जौ का पानी भी पी सकते हैं।

जौ के पानी के फायदे

इस आर्टिकल में आपने कई बार जौ के पानी के बारे में पढ़ा होगा। आपको बता दें कि जितने जौ के फायदे हैं उतने ही जौ के पानी के फायदे भी हैं। जौ का पानी जौ से बनाया जाता है और जौ का पानी बनाने की विधि से जुड़ी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं लेकिन इससे पहले जौ के पानी के फायदे से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर लें।

  • जौ के पानी के फायदे शरीर से टोक्सिक निकालने में मदद करते हैं। जिससे आंत, पेट स्वस्थ रहते हैं।
  • गैस, कब्ज से जुड़ी परेशानी होने पर जौ का पानी पिया जा सकता है।
  • वजन कम करने की डाइट में जौ का पानी भी शामिल किया जा सकता है।
  • कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर सामान्य करने के लिए भी जौ के पानी का सेवन किया जा सकता है।
  • जौ का पानी पीने से आंत के बैक्टीरिया आंत को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।
कटोरी में भिगोई हुई जौ
जौ के पानी के फायदे कई सारे हैं। इमेज क्रेडिट –commons.wikimedia.org

जौ का पानी बनाने की विधि

जौ के पानी के फायदे जानने के बाद आप इसे अपनी डाइट में शामिल करना चाहेंगे। जौ का पानी बनाने की विधि बेहद आसान है। जौ का पानी आप कुछ मिनटों में बना सकते हैं। जौ का पानी बनाने की विधि से जुड़ी सारी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

  • जौ का पानी बनाने के लिए सबसे पहले जौ को पानी से अच्छे से धो लें।
  • जौ अच्छे से धोने के बाद जौ बर्तन में डालें और इसमें पानी डालें और गैस पर उबालने के लिए रख दें।
  • इसमें आप चाहें तो नींबू का रस भी डाल सकते हैं।
  • जौ को पानी में अच्छे से उबालने के बाद इसे ठंडा होने के लिए रख दें।
  • पानी ठंडा होने के बाद छान लें।
  • इसमें स्वाद के लिए आप शहद या चीनी डाल सकते हैं।

जौ के प्रकार 

जौ के फायदे लेने के लिए आप जौ के कई प्रकार का सेवन कर सकते हैं। आपको बता दें कि जौ के कई प्रकार होते हैं। अलग- अलग प्रकार के जौ दिखने में, स्वाद में अलग होते हैं और साथ ही इनको अलग- अलग स्थिति में उगाया जाता है। जौ के प्रकार से जुड़ी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. हुल्ड जौ

हुल्ड जौ ऐसा जौ है जो सबसे कम प्रोसेस किया गया है और इसका कवर सख्त होता है जिस कारण से इसको निकालना मुश्किल हो जाता है।

2. पतवार जौ

आपको बता दें कि पतवार जौ हुल्ड जौ से बिल्कुल उलटा है। क्योंकि इस जौ का कवर सख्त नहीं होता है और फसल काटते समय इसका कवर अपने आप हट जाता है।

सफेद चीनी की थाली में जौ के बीज
पतवार जौ commons.wikimedia.org

3. जौ के दाने

जब जौ को कई टुकड़ों में काट दिया जाता है तो वो दाने या ग्रिट्स बन जाते हैं। मार्किट से जौ खरीदते समय जौ के प्रकार का खास ध्यान रखें।

4. जौ फ्लेक्स

जौ फ्लेक्स को देखने के बाद आपको ओट्स की याद आ सकती है क्योंकि इनको भी ओट्स के प्रोसेस से बनाया जाता है। इनको आप आसानी से पका सकते हैं और डाइट में बी बेहद आसानी से शामिल कर सकते हैं।

5. जौ का आटा

जौ के आटे को अकेले बहुत कम इस्तेमाल किया जाता है। इसको गेंहू के आटे के साथ इस्तेमाल किया जाता है। जौ के आटे को बेक्ड चीजें बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

6. जौ का दलिया

जौ का दलिया बनाने के लिए पूरी तरह से बाहर का कवर हटाया जाता है। आधा कवर हटाने पर रंग अलग होता है और पूरी तरह से कवर हटाने पर रंग कुछ और होता है।

प्लेट में जौ के बीज
जौ का दलिया इमेज क्रेडिट –commons.wikimedia.org

7. क्विक जौ का दलिया

फ्लेक रोलिंग प्रोसेस के दौरान इसको आदा पकाया और सूखाया जाता है जिस कारण से यह 10 मिनट में बन जाता है।

जौ से बनने वाली डिश

जौ के फायदे, जौ के प्रकार और जौ के पानी के फायदे के बारे में जानने के बाद आप जौ से स्वादिष्ट डिश भी बनाने चाहेंगे। आपको बता दें कि जौ का इस्तेमाल कई सारी डिश बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। जौ से बनने वाली डिश से जुड़ी जानकारी आप यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. जौ का सूप

यह आर्टिकल पढ़ने के बाद आप जौ को अपनी डाइट में शामिल करना चाहते हैं तो जौ का सूप डाइट में शामिल कर सकते हैं। जौ का सूप सेहतमंद होने के साथ- साथ बनाना भी आसान है।

जौ का सूप बनाने की विधि

  • जौ का सूप बनाने के लिए सबसे पहले जौ को लगभग 1- 2 घंटे लिए पानी में भिगाकर रख दें।
  • अब पतीला गैस पर रखें और इसमें तेल डालें।
  • तेल गर्म होने के बाद इसमें बारीक कटा हुआ लहसुन डालें।
  • अब इसमें अपनी पसंद की सब्जियां, नमक डालें और पकाएं।
  • सब्जियां पकने के बाद इसमें पानी से निकाला गया जौ डालें।
  • 5 मिनट पकने के बाद इसमें अपनी पसंद की स्थिरता के अनुसार पानी डालें और पकाएं।
  • अब दूसरे पैन में तेल डालें और फिर इसमें जीरा औरसरसों के बीज डालें और चटकने दें।
  • अब इस तड़के को सूप में डालें और मिलाएं।
  • आखिर में आप चाहें तो काला नमक भी डाल सकते हैं।
जौ का सूप
जौ का सूप डाइट में शामिल कर सकते हैं। इमेज क्रेडिट –commons.wikimedia.org

2. जौ की खिचड़ी

अगर आप मूंग दाल और चावल की खिजड़ी के अलावा कुछ और ट्राई करना चाहते हैं तो जौ की खिचड़ी ट्राई कर सकते हैं। जौ की खिचड़ी की रेसिपी बेहद सिंपल है।

जौ की खिचड़ी बनाने की विधि

  • जौ की खिचड़ी बनाने के लिए सबसे पहले प्रेशर कुकर में जौ और पानी डालें। प्रेशर कुकर की 2 सीटी आने दें।
  • अब फ्राई पैने में तेल डालें और गर्म होने दें।
  • तेल में जीरा, प्याज, टमाटर और अपनी पसंद की सब्जियां डालें और पकाएं।
  • सब्जियां पकने के बाद इसमें पका हुआ जौ डालें और पकाएं।
  • आखिर में हरा धनिया डालें और 5 मिनट के लिए पकाएं।
  • जौ की खिचड़ी तैयार है।

3. जौ का दलिया

जौ का दलिया कभी भी आसानी से बनाकर खाया जा सकता है। जौ का दलिया बनाना बेहद आसान है।

जौ का दलिया बनाने की विधि

  • जौ का दलिया बनाने के लिए सबसे पहले पतीले में 1 चम्मच घी या तेल डालें।
  • अब जौ का दलिया डालें और पकाएं।
  • दलिया पकने के बाद इसमें दूध डालें और 10 मिनट के लिए पकने दें।
  • दलिया और दूध पकने के बाद इसमें 1 कप दूध और डालें और उबाल आने दें।
  • आखिर में इसमें चीनी, इलायची डालें और जौ का दलिया तैयार है।

जौ के नुकसान

आपको बता दें कि जौ के फायदे के सामने जौ के नुकसान बहुत कम हैं। लेकिन जौ के नुकसान से जुड़ी जानकारी के बारे में पता होना भी बेहद जरुरी है क्योंकि छोटे- छोटे नुकसान भी बड़े बन सकते हैं। जौ का सेवन अधिक मात्रा में करने से या सही तरीके से ना करने पर हो सकते हैं। जौ के नुकसान से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

  • ग्लूटेन से गुजर रहे लोगों के लिए जौ एक अच्छा ऑप्शन नहीं है।
  • अधिक मात्रा में जौ का सेवन करने से पेट में परेशानी हो सकती है।
  • डायबिटीज से गुजर रहे लोगों को जौ का सेवन करते समय जौ की मात्रा का खास ध्यान रखना जरुरी है। अधिक मात्रा में जौ का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल और इंसूलिन बहुत कम हो सकता है।
  • जौ फाइबर से भरपूर होता है इसलिए इसको डाइट में छोटी- छोटी मात्रा में शामिल करें। ज्यादा मात्रा में अचानक से डाइट में शामिल करने से पेट में परेशानी हो सकती है।

आखिर में

वैसे तो लोग जौ का इस्तेमाल बहुत कम करते हैं लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए। जौ के फायदे पढ़ने के बाद आप से अपनी डिश में जरुर शामिल करना चाहेंगे। जौ के फायदे सामान्य ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर, कोलेस्ट्रॉल, सेहतमंद दिल से लेकर स्वस्थ त्वचा और बालों से भी जुड़े हुए हैं। इसका मतलब है कि एक अनाज से आपको सर से लेकर पांव तक के फायदे मिलते हैं। जौ के फायदे के साथ- साथ जौ के पानी के भी कई फायदे हैं।

इन सभी फायदो को लेने के लिए जौ का सेवन सही समय, सही मात्रा और सही तरीके से करना जरुरी है। जौ का सेवन सही तरीके से ना करने पर जौ के नुकसान भी हो सकते हैं। अगर आपको किसी अनाज से एलर्जी है तो जौ का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरुर लें। इसके बाद ही जौ को डाइट में सही तरीके से शामिल करें और स्वस्थ रहें।

FAQs

1. क्या जौ का पानी रोजाना पीना सही है?

जौ का पानी रोजाना सही मात्रा में पीना सही है। दिन में 1 से 2 गिलास पीना सही है। अधिक मात्रा में जौ का पानी पीने से पेट में परेशानी हो सकती है।

2. क्या जौ त्वचा के लिए अच्छा है?

जौ के फायदे त्वचा के लिए कई सारे हैं। जौ में सेलेनियम, ज़िंक, विटामिन बी पाए जाते हैं जो त्वचा को सेहतमंद बनाने में मदद करते हैं। इसके साथ ही जौ एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं जो फ्री रेडिकल बचाव करते हैं।

3. जौ का पानी पीने का सही समय क्या है?

जौ का पानी ठंडा करने के बाद ज्यादा अच्छा लगता है। दिन में 1-2 गिलास जौ का पानी पी सकते हैं। जौ का पानी सुबह, दोपहर, शाम में पी सकते हैं।

4. जौ का पानी पीने के क्या फायदे हैं?

जौ का पीने के कई फायदे हैं जैसे कि सामान्य कोलेस्ट्रॉल, ब्लड शुगर लेवल, ब्लड प्रेशर, वेट लॉस, स्वस्थ आंत, पेट आदि।

5. क्या जौ सेहत के लिए अच्छा है?

अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रीशन के अनुसार जौ में मौजूद बीटा ग्लूकेन कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है। ऐसे होने से कई खतरनाक बीमारी से बचाव किया जा सकता है।

खाने के फायदे से जुड़े अधिक आर्टिकल

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
4 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments