दालचीनी के 11 सेहतमंद फायदे, उपयोग और नुकसान - मिश्री
दालचीनी के सेहतमंद फायदे, उपयोग और नुकसान

दालचीनी के 11 सेहतमंद फायदे, उपयोग और नुकसान

दालचीनी के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या हैं? दालचीनी खाने के फायदे क्या हैं? दालचीनी का उपयोग कैसे करें से जुड़ी सारी जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

इस मसाले को खाने में खुशबू और फ्लेवर लाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है और साथ ही इसके सेहत से जुड़े कई फायदे हैं। क्या आप पहचान सकते हैं?

दालचीनी – यह एक तरह का मसाला है जिसे खाने में सजावट और फ्लेवर लाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। दालचीनी के पेड़ सिनामोन के अंदर की सतह से दालचीनी मिलती है। दालचीनी के फायदे कई सारे हैं जैसे कि सिनामोन पेड़ से निकाली गई सतह को दवाई के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। दालचीनी के फायदे सबसे ज्यादा खाने में इस्तेमाल किए जाते हैं। मार्किट में लाने से पहले दालचीनी को इसके पेड़ से निकालकर, सुखाकर और फिर काटकर मार्केट में बेचा जाता है।

वैसे तो दालचीनी के कई सारे प्रकार हैं लेकिन खाने के लिए 4 प्रकार की दालचीनी का इस्तेमाल किया जाता है। सभी प्रकार की दालचीनी में कूमेरिन होता है जो लिवर के खराब होने का कारण बन सकता है। सीलोन दालचीनी में सबसे कम मात्रा में कूमेरिन पाया जाता है इसलिए इसका इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है। इस आर्टिकल से आप दालचीनी के फायदे, प्रकार, उपयोग, दालचीनी पाउडर और पानी बनाने की विधि और दालचीनी के नुकसान से जुड़ी जानकारी विस्तार से प्राप्त कर सकते हैं।

दालचीनी के पौष्टिक तत्व कई सारे हैं जिनके बारे जानकारी होना जरूरी है। दालचीनी के फायदे इन्हीं पौष्टिक तत्व से पाए जाते हैं। इस मसाले का सेवन करने से कौन-से पौष्टिक तत्व प्राप्त होते हैं कि जानकारी चीने दी गई टेबल से ले सकते हैं।

पोषण मात्रा– 2.6 ग्राम
एनर्जी 6.42
कार्बोहाइड्रेट 2.1 ग्राम
कैल्शियम 26.1 मिलीग्राम (एमजी)
आयरन 0.21 एमजी
मैग्नीशियम 1.56 ग्राम
फास्फोरस 1.66 ग्राम
पोटेशियम 11.2 ग्राम
विटामिन ए 0.39 माइक्रोग्राम

दालचीनी के फायदे 

दालचीनी में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व के कारण दालचीनी के फायदे बढ़ जाते हैं। दालचीनी के फायदे लगभग शरीर के हर अंग से जुड़े हुए हैं। दालचीनी खाने के फायदे डाइट में सही तरीके से शामिल करने से ही दालचीनी के फायदे होते हैं। दालचीनी के फायदे से जुड़ी पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आप यह आर्टिकल पढ़ सकते हैं।

1. औषधीय गुण

बंधी हुई दालचीनी की लकडियां
दालचीनी के फायदे दवाई में इस्तेमाल किए जाते हैं

दालचीनी में यौगिक की मात्रा अधिक होती है जो स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। यह मेटाबोलिज्म अच्छा करने में मदद करते हैं। दालचीनी के फायदे सबसे ज्यादा इसी कंपाउंड के कारण पाए जाते हैं। इसके साथ ही दालचीनी की अलग खुशबू और फ्लेवर भी इसी कंपाउंड की वजह से है। इसलिए दालचीनी के फायदे दवाई के रूप में भी इस्तेमाल किए जा सकते हैं।

2. एंटीऑक्सीडेंट

दालचीनी की लकड़ी और दालचीनी मसाला
दालचीनी के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं

दालचीनी के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर हैं। डाइट एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होनी चाहिए और दालचीनी खाने के फायदे एंटीऑक्सीडेंट अपने साथ लेकर आते हैं। फ्री रेडिकल रोगजनक तत्व हैं जो शरीर के स्वस्थ सेल के साथ मिल जाते हैं और इन्हें खराब करने की कोशिश करते हैं। अगर आपकी डाइट एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है तो यह एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल नष्ट करने में मदद करते हैं और बीमार होने के आसार कम हो जाते हैं। इसलिए दालचीनी के फायदे डाइट में शामिल जरूर करने चाहिए।

एक अध्ययन में 26 मसालों की एंटीऑक्सीडेंट मात्रा को मापा गया, आखिर में देखा गया कि दालचीनी विजेता है जिसने लहसुन और ओरिगैनो जैसे मसालों को पीछे छोड़ दिया है।

3. इंफेक्शन से बचाव 

दालचीनी के पाउडर पर दालचीनी की लकड़ियां
दालचीनी के फायदे इंफेक्शन से बचाव कर सकते हैं।

दालचीनी में पाया जाने वाला यौगिक सभी तरह के वायरस से बचाव करने में मदद करता है। फंगी के द्वारा किए गए इंफेक्शन से बचाव दालचीनी के तेल से हो सकता है। शरीर में पैदा होने वाले बैक्टीरिया को दालचीनी के फायदे रोकने में मदद कर सकते हैं। दालचीनी के फायदे एंटी-माइक्रोबियल गुणों से भी भरपूर होते हैं जो दांतों की सड़न, सांस में बदबू से भी राहत देते हैं।

संबंधित आर्टिकल: अदरक के विकल्प – वही स्वाद, वहीं फ्लेवर

4. कैंसर के आसार

दालचीनी के बीच में स्टार नाइस मसाला
दालचीनी के फायदे

इस बात का पुख्ता सबूत नहीं है कि दालचीनी के फायदे कैंसर से बचाव करने में लाभदायक हैं। लेकिन ऐसा हो सकता है कि दालचीनी खाने के फायदे कैंसर पैदा करने वाले सेल को पैदा होने से रोकने में कुछ हद तक मदद कर सकते हैं। टेस्ट ट्यूब और जानवरों पर किए गए अध्ययन में यह देखा गया है कि दालचीनी का अर्क कैंसर से बचाव करने में मदद कर सकते है। लेकिन यह अध्ययन अभी इंसानों पर होना बाकी है।

5. स्वस्थ दिमाग

दालचीनी, स्टार नाइस, हींग रखी हुई है
दालचीनी के फायदे स्वस्थ दिमाग के लिए

दालचीनी के फायदे दिमाग से जुड़ी गंभीर बीमारियों में मददगार साबित हो सकते हैं। न्यूरोडीजेनेरेटिव रोग दिमाग के द्वारा सही से काम ना करने को कहा जाता है। सबसे आम न्यूरोडीजेनेरेटिव रोग है- अल्जाइमर और पार्किंसंस। चूहों पर किए गए अध्ययन में साबित हुआ है कि दालचीनी से न्यूरॉन्स और मोटर अच्छे से काम करती है। लेकिन अभी यह अध्ययन इंसानों पर होना बाकी है।

Buy Cinnamon Online

6. सामान्य ब्लड शुगर लेवल

कांच की कटोरी में दालचीनी
दालचीनी के फायदे सामान्य ब्लड शुगर लेवल के लिए

दालचीनी के फायदे ब्लड शुगर लेवल कम रखने के लिए भी जाने जाते हैं। यह डायबिटीज से गुजर रहे लोगों के लिए फायदेमंद है। दालचीनी, कार्बोहाइड्रेट को जल्दी से डाइजेस्टिव ट्रेक्ट के द्वारा अब्जॉर्ब नहीं करने देती है जिससे शरीर में ग्लूकोज कम मात्रा में पहुंचता है। आमतौर पर आधा से 1 चम्मच तक दालचीनी का सेवन किया जा सकता है। लेकिन इसके बावजूद जो लोग डायबिटीज से गुजर रहे हैं वो लोग डाइट में दालचीनी शामिल करने से पहले डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

7. डायबिटीज

दालचीनी की बहुत सारी लकड़ियां
दालचीनी के फायदे डायबिटीज में लाभदायक हो सकते हैं

कई लोगों के शरीर में इंसुलिन बनने में बाधा आती है। इंसुलिन शरीर में मैटाबोलिज्म को सामान्य बनाए रखता है और एनर्जी का इस्तेमाल करता है। साथ ही ब्लड शुगर को सेल तक पहुंचाता है। जिन लोगों के शरीर में इंसुलिन नहीं बन पाता है उन लोगों को मेटाबोलिक सिंड्रोम या फिर टाइप 2 डायबिटीज होने का खतरा रहता है। दालचीनी के फायदे यहां काम आ सकते हैं।

दालचीनी इंसुलिन बनने वाली बाधा को हटाने में मदद करता है और शरीर में इंसुलिन की गतिविधियों को सुधारने में मदद करता है।

संबंधित आर्टिकल: सोंठ के लाजवाब 11 फायदे

8. सेहतमंद दिल

दालचीनी की बंधी हुई लकड़ियां और दालचीनी पाउडर
दालचीनी के फायदे सेहतमंद दिल के लिए

दालचीनी के फायदे दिल की बीमारी से बचाव करने के लिए भी जाना जाता है। 1 ग्राम या फिर ½ चम्मच रोजाना दालचीनी खाने के फायदे खून बनने में मदद कर सकते हैं। इसके साथ ही दालचीनी के फायदे खराब कोलेस्ट्रॉल लेवल कम और अच्छे कोलेस्ट्रॉल लेवल को ज्यादा बनाए रखने में मदद करता है।

एक अध्ययन में इस बात को साबित किया गया है। जानवरों पर किए गए अध्ययन में यह पता चला है कि दालचीनी से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। यह सारे दालचीनी के फायदे दिल को सेहतमंद बनाए रखते हैं जिससे दिल की बीमारी होने के आसार भी कम हो जाते हैं।

9. एंटी- इंफ्लामेट्री

दालचीनी की लकड़ियां और पाउडर
दालचीनी के फायदे बीमारी होने से बचाव करता है

दालचीनी के फायदे एंटी- इंफ्लामेट्री गुणों से भरपूर है। दालचीनी खाने के फायदे इंफेक्शन से लड़ने में मदद करते हैं और खराब टिश्शू को सही करने में भी मदद करते हैं। दालचीनी के एंटीऑक्सीडेंट में एंटी- इंफ्लामेट्री के गुण होते हैं जो टिश्शू को खराब नहीं होने देते हैं।

More Options Of Cinnamon To Buy

10. स्वस्थ आंखें

दालचीनी और स्टार नाइस
दालचीनी के फायदे स्वस्थ आंखों के लिए

कुछ अध्ययन के अनुसार दालचीनी आंखों के लिए लाभदायक है। दालचीनी के फायदे आंख में सूजन और सूखी आंखों के लिए लाभदायक हैं। दालचीनी खाने के फायदे अकेले भी लिए जा सकते हैं या फिर किसी और जड़ी- बूटी के साथ भी खा सकते हैं। सही मात्रा में दालचीनी का सेवन करने से कई परेशानियों से राहत मिल सकती है।

11. कीडे़ भगाने के लिए

2013 में हुए एक अध्ययन- औषधीय एन्टोमोलॉग में साबित किया गया है कि दालचीनी का तेल कीडों को दूर भगाने में मदद करता है। अगर आपके घर में बारिश के मौसम में या फिर किसी खाने की चीज पर कीड़ें आ जाते हैं तो वहां पर दालचीनी का तेल छिड़क दें। ऐसा करने से कीड़ों का आना कम हो सकता है।

संबंधित आर्टिकल: जावित्री के बेहतरीन 9 फायदे

दालचीनी का पानी पीने के फायदे 

कांच के गिलास में दालचीनी का पानी और साथ में नींबू भी है
दालचीनी का पानी पीने के फायदे

दालचीनी के फायदे कई सारे हैं लेकिन आपको बता दें कि दालचीनी का पानी पीने के फायदे भी कई सारे हैं। दालचीनी का पानी डाइट में आसानी से शामिल किया जा सकता है। दालचीनी का पानी पीने नीचे दिए गए फायदे मिल सकते हैं।

  • पीरियड्स में होने वाले दर्द से राहत पाने के लिए दालचीनी का पी सकते हैं।
  • अगर आप वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं तो डाइट में दालचीनी का पानी शामिल कर सकते हैं। दालचीनी का पानी पीने से पेट भरा रहता है जिससे भूख कम लगती है।
  • जोड़ों और गठिया के दर्द से परेशान लोग दालचीनी का पानी पी सकते हैं।
  • इम्युनिटी स्ट्रोंग करने के लिए दालतीनी का पानी मदद करता है।

दालचीनी के प्रकार

दालचीनी के फायदे कई प्रकार की दालचीनी से लिए जा सकते हैं। दालचीनी के प्रकार सूरत, रंग, खुशबू और स्वाद के आधार पर बांटे गए हैं। आमतौर पर खाने के लिए 4 तरह की दालचीनी का उपयोग किया जाता है।

1. सीलोन दालचीनी

इस तरह की दालचीनी को ट्रू दालचीनी या मैक्सिकन दालचीनी भी कह सकते हैं। सीलोन दालचीनी का पेड़ रेतीली मिट्टी में उगता है। इसकी टहनी बाकी दालचीनी के मुकाबले पतली होती है। जैसा कि आपको पहले भी बताया गया है कि इसमें कूमेरिन की मात्रा सबसे कम होती है। अगर आपको रोजाना दालचीनी का सेवन करना है तो सीलोन दालचीनी एक अच्छा ऑप्शन है।

दालचीनी की लकड़ियों के बीच में हरा पत्ता
सीलोन दालचीनी बाकी दालचीनी के मुकाबले पतली होती है।

2. इंडोनेशियन दालचीनी

इस प्रकार की दालचीनी को कोरंटजी दालचीनी या पैडंग कैसिया भी कहा जाता है। इस प्रकार की दालचीनी को लगभग 70 नोर्थ अमेरिका के लोगों के द्वारा इस्तेमाल किया जाता है। इसकी टहनी मोटी, मसालेदार और स्ट्रांग खुशबू वाली होती है। यह दालचीनी, सीलोन दालचीनी से सस्ती है।

3. साइगॉन दालचीनी

इस तरह की दालचीनी को वियतनामी कैसिया या वियतनामी दालचीनी भी कहा जाता है। इसके स्ट्रांग टेस्ट और खुशबू के कारण इस टाइप की दालचीनी पॉपुलर हो गई है। यह स्पाइसी और स्वीट है और साथ ही इसमें कूमेरिन की मात्रा सबसे ज्यादा होती है।

4. कैसिया दालचीनी

इस प्रकार की दालचीनी को चाइनीज दालचीनी भी कहा जाता है। इसका स्वाद हल्का कड़वा, तीखा और कम मीठा है। यह कई चाइनीज दवाइयों में इस्तेमाल की जाती है और इसकी क्वालिटी इसे उगाए जाने वाली मिट्टी पर निर्भर करती है।

कटोरी में दालचीनी की लकड़ियां
कैसिया दालचीनी को चाइनीज दालचीनी भी कहा जाता है।

दालचीनी का उपयोग कैसे करें

लकड़ी के डिब्बे में बहुत सारी दालचीनी
दालचीनी का उपयोग कैसे करें

दालचीनी के फायदे जानने के बाद जरूरी है कि आप यह जानें कि दालचीनी का उपयोग कैसे किया जा सकता है। दालचीनी का उपयोग खट्टी- मिठी डिश में दिलचस्प तरीके से किया जा सकता है जिससे जुड़ी जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

  • चीनी की जगह दालचीनी का इस्तेमाल कर सकते हैं। दलिया में एक चुटकी डाल सकते हैं।
  • बेकिंग के समय दालचीनी का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • स्मूदी, जूस में डाल सकते हैं।
  • योगर्ट और दही में डाल सकते हैं।
  • सूप में दालचीनी डालकर खा सकते हैं।
  • चाय स्वादिष्ट और सेहतमंद बनाने के लिए दालचीनी का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • सब्जियों में दालचीनी से अलग स्वाद ला सकते हैं।
  • ड्राई फ्रूट्स रोस्ट कर दालचीनी डाल सकते हैं।
  • दालचीनी का पानी भी पी सकते हैं।
  • घर में कोई डेजर्ट या मिठाई बनाते समय दालचीनी का इस्तेमाल कर सकते हैं।

दालचीनी पाउडर घर में कैसे बनाएं

अगर आप शुद्ध दालचीनी पाउडर अपनी डाइट में शामिल करना चाहते हैं तो आसानी से बना सकते हैं। इसके मार्केट से साबुत दालचीनी स्टिक मार्केट से लेकर आएं।

दालचीनी पाउडर बनाने की विधि

  • दालचीनी पाउडर बनाने के लिए दालचीनी स्टिक के छोटे- छोटे टुकड़ें कर लें।
  • इन टुकड़ों को ग्राइंडर में डालें और ग्राइंड करें।
  • जब तक पाउडर ना बन जाए तब तक ग्राइंड करें।
  • दालचीनी पाउडर बनने के बाद इससे छान लें।
  • दालचीनी पाउडर तैयार है। इसे एयर टाइट कंटेनर में स्टोर करें।

दालचीनी पानी घर में कैसे बनाएं

दालचीनी का पानी आमतौर पर वेट लॉस डाइट में शामिल किया जाता है। इसके अलावा दालचीनी के फायदे कई सारे हैं।

दालचीनी का पानी बनाने की विधि

  • दालचीनी का पानी बनाने के लिए एक गिलास पानी लें और इसमें छोटी दालचीनी स्टिक और 1 चम्मच सौंफ के दाने डालें।
  • यह मिश्रण पूरी रात भिगने दें।
  • सुबह यह पानी छान लें और गुनगुना गर्म कर लें।
  • दालचीनी का पानी तैयार है।

कितनी मात्रा में रोजाना दालचीनी का सेवन करना चाहिए?

अभी तक इस बात का पुख्ता सबूत नहीं है कि दालचीनी कई बीमारी से लड़ने में मदद करती है। जिस कारण इसका कितना सेवन करना चाहिए यह तय नहीं किया गया है। लेकिन ½ से 1 चम्मच रोजाना दालचीनी खाना फायदेमंद है। और यह बात तो हम सबको अच्छे से पता है कि किसी भी चीज के फायदे लेने के लिए उसको सही मात्रा में ही लेना चाहिए। किसी भी चीज का सेवन अधिक मात्रा में करने से उसके नुकसान ही मिलते हैं।

दालचीनी के नुकसान

दालचीनी एक सेहतमंद मसाला है। इससे आपको कोई नुकसान नहीं हो सकता है जब तक आप इसका सेवन सही मात्रा में कर रहे हैं। लेकिन अगर आप इसका सेवन सही मात्रा में नहीं कर रहे हैं तो आपको यह सारे नुकसान हो सकते हैं जिसकी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं-

  • अधिक मात्रा में दालचीनी का सेवन करने से मुंह और होठ पर जलन हो सकती है।
  • कुछ लोगों को दालचीनी से एलर्जी भी हो सकती है।
  • अगर इसे सीधा त्वचा पर लगा लिया जाए तो जलन और लाल धब्बे हो सकते हैं।
  • कैसिया दालचीनी का सेवन ज्यादा मात्रा में करने से लिवर की परेशानी से गुजर रहे लोगों को दिक्कत हो सकती है।
  • अगर डायबिटीज से गुजर रहे लोगों को दालचीनी का सेवन करना है तो उससे पहले डॉक्टर से जरुर सलाह लें। क्योंकि दालचीनी में प्राकृतिक रुप ब्लड शुगर लेवल कम करने की खूबी होती है।
  • गर्भवति महिलाएं बिना किसी की सलाह लिए बिना दालचीनी का सेवन न करें।

आखिर में

दालचीनी एक सेहतमंद मसाला है जिसका सेवन सही मात्रा में करना चाहिए। इस आर्टिकल से आपको दालचीनी के फायदो के साथ- साथ इसके नुकसान के बारे में भी पता चल गया होगा इसलिए दालचीनी के फायदे लेने के लिए इसका सेवन सही मात्रा में ही करें। लगभग एक दिन में आधा से 1 चम्मच के बीज दाचलीनी का सेवन रोजाना किया जो सकता है।

इसके अलावा दालचीनी के पानी और पाउडर का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। दालचीनी का उपयोग कई तरह से किया जा सकता है। सही तरीके से दालचीनी का उपयोग करें और स्वस्थ रहें।

क्या आप दालचीनी का इस्तेमाल करते हैं? किस तरह आप इस फ्लेवर से भरपूर मसाले का उपयोग करते हैं? हमें कमेंट में बताएं।

FAQs

दालचीनी के फायदे से जुड़े दिलचस्प सवालों के जवाब यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. एक दिन में कितनी मात्रा में दालचीनी खानी चाहिए?

कई अध्ययन में आधे से 1 चम्मच तक दालचीनी खाने की सलाह दी गई है। वहीं दूसरे अध्ययनों में 1 से 6 ग्राम का दालचीनी खाने की सलाह दी गई है।

2. क्या दालचीनी खाने से वजन कम होता है?

रातभर दालचीनी स्टिक और सौंफ भिगाकर और फिर छानने के बाद गुनगुना पानी कर पीने से वजन कम होने में मदद मिल सकती है। दालचीनी का पानी पीने से पेट भरा रहता है जिससे भूख कम लगती है।

3. दालचीनी के नुकसान क्या हैं?

अधिक मात्रा में दालचीनी खाने से लिवर में दिक्कत हो सकती हैं। इसके अलावा दालचीनी से एलर्जी भी हो सकती है। डायबिटीज से गुजर रहे लोग दालचीनी का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें। त्वचा पर दालचीनी इस्तेमाल करने से पहले थोड़ी जगह पर दालचीनी लगाएं, अगर जलन हो रही हो दालचीनी का उपयोग ना करें।

4. क्या दालचीनी रोजाना खा सकते हैं?

रोजाना सही मात्रा में दालचीनी खाने से दालचीनी के फायदे मिल सकते हैं। एक दिन में आधा चम्मच से 1 चम्मच तक दालचीनी खा सकते हैं।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
7 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments