शहद के ज्यादा सेवन से हो सकते हैं यह 6 नुकसान– मिश्री
शहद के ज्यादा सेवन से हो सकते हैं यह नुकसान

शहद के सेवन से हो सकते हैं यह 6 नुकसान– शिशु के लिए ज़हर

शहद के नुकसान- शहद को फायदे के लिए पूरी दुनिया में जाना जाता है। लेकिन क्या आपको पता है अनियमित रुप से शहद का सेवन करने से वजन बढ़ सकता है। इसके अलावा शिशु को शहद नहीं खिलाना चाहिए। शहद के नुकसान की जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

शहद एक ऐसी चीज़ है जो मीठी होने के साथ- साथ सेहतमंद भी है। इसलिए बाकी ऐसी चीजों के मुकाबले शहद को ज्यादा लाभदायक माना जाता है। शहद, मधुमक्खी के द्वारा निकाला जाता है जिसको इंसान सदियों से इस्तेमाल कर रहे हैं। कई अध्ययन यह बहुत आसानी से साबित हुआ है कि शहद के फायदे कई सारे हैं। लेकिन यह बात सभी को पता है कि जिस चीज़ के फायदे होते हैं उसके नुकसान भी होते हैं। जी हां, शहद के नुकसान भी हैं। नियमित रुप से ना खाने पर शहद के नुकसान आपको झेलने पड़ सकते हैं। शुद्ध शहद का सेवन करना लाभदायक होता है लेकिन शुद्ध शहद के बारे में पता लगाना थोड़ा मुश्किल है। यहां से आप शहद के नुकसान के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं जिससे आप शहद को सही मात्रा में अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। शहद के नुकसान की जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

कांच के जार में शहद
शहद के कई नुकसान हो सकते हैं

6 शहद के नुकसान

बाकी सभी खाने चीजों की तरह शहद को डाइट में सही मात्रा में शामिल करना चाहिए। ऐसा करने से शहद के नुकसान आपको नहीं होंगे। यहां से आप शहद के नुकसान के बारे में जानकारी ले सकते हैं जिससे आप शहद का सेवन सही मात्रा में करेंगे।

संबंधित आर्टिकल: शहद के लाजवाब फायदे

1. शिशु के लिए ज़हर

इसकी सलाह हर किसी के द्वारा दी जाती है कि शिशु को शहद का सेवन नहीं करवाना चाहिए खासकर तब जब शिशु 1 साल से कम आयु का है। शहद के नुकसान शिशु को हो सकते हैं क्योंकि मधुमक्खी के द्वारा शहद निकालने पर शहद में मधुमक्खी का ज़हर बहुत कम मात्रा में आ जाता है जिसको शिशु पचा नहीं सकते हैं। शिशु के अंग अभी इतने मजबूत नहीं होते हैं। ऐसी स्थिति में दस्त, फूलना, कमजोर तरीके से रोना जैसी परेशानी हो सकती है। ज्यादा खराब हालत में सांस लेने में भी परेशानी हो सकती है। इसलिए शिशु को शहद के सेवन से दूर रखना चाहिए और सेवन करवाने से पहले बच्चों के डॉक्टर से जरुर सलाह लें।

2. दातों में सड़न

बाकी सभी मीठी चीजों की तरह शहद के नुकसान दातों को हो सकते हैं। शहद खाने के बाद अच्छे से मुंह साफ ना करने से दातों में सड़न पैदा हो सकती है। प्राकृतिक रुप से चीनी होने से शहद सड़न को पैदा करता है। इसके पीछे का कारण साफ है कि शहद में मौजूद मिठास मुंह के बैक्टीरिया का खाना होता है जिससे मुंह में बैक्टीरिया पैदा हो जाते हैं और दातों को खराब कर देते हैं। मुंह को साफ रखने से सड़न दूर रहती है।

संबंधित आर्टिकल: शहद का इस्तेमाल त्वचा और बालों के लिए कैसे करें?

3. वजन बढ़ सकता है 

शहद चीनी के मुकाबले अच्छा होता है लेकिन मीठा तो होता ही है। 1 चम्मच शहद में 64 कैलोरी होती है। अगर आप वजन कम करने की राह में हैं तो शहद के नुकसान आपको हो सकते हैं। अधिक मात्रा में किसी भी मीठी खाने की चीज़ का सेवन करने से वजन बढ़ जाता है। शहद में प्राकृतिक चीनी होती है इसलिए आप इस बात का खास ध्यान रखें कि शहद का सेवन सही मात्रा में ही करें और वजन कम करने की राह में इससे नुकसान ना पहुंचे।

संबंधित आर्टिकल: कच्चा अनफिल्टर्ड शहद क्या है?

एक चम्मच से शहद गिरते हुए कटोरी में
अगर आप वजन कम करने की राह में हैं तो शहद के नुकसान आपको हो सकते हैं।

4. ब्लड शुगर लेवल बढ़ना

शहद के नुकसान से सबसे बड़ा नुकसान कहा जा सकता है। लेकिन यह सारे नुकसान आपको शहद को सही मात्रा में ना खाने से ही हो सकते हैं। अधिक मात्रा में शहद का सेवन करने से ग्लूकोज का सेवन बढ़ जाता है जिसको इंसूलिन के द्वारा तोड़ा नहीं जाता है। जिस कारण से ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है।

5. एलर्जी

कुछ लोगों को पराग से एलर्जी (allergic to pollen) हो सकती है जिसमें उनको शहद से भी एलर्जी हो सकती है। एलर्जी होने पर शहद के नुकसान कई हो जाते हैं जैसे कि चेहरे पर सूजन, उल्टी, मितली आदि। हालांकि शहद से होने वाली एलर्जी के किस्से बहुत कम हैं लेकिन फिर भी शहद को अपनी डाइट में शामिल करने से पहले डॉक्टर से जरुर सलाह लें। इस तरह की एलर्जी प्रोपोलिस के कारण होती है, प्रोपोलिस एक पदार्थ है जिसको मधुमक्खी के द्वारा छत्ता बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

6. फूड पॉइजनिंग

शहद जो एक बार खा लेता है फिर उसको शहद खाने की आदत हो जाती है। यह मीठा होता है लेकिन फिर भी नियमित रुप से इसका सेवन करने से ब्लड ग्लूकोज लेवल कम बना रहता है। शरीर पर शहद का असर एंटी- माइक्रोबियल होता है, लेकिन फिर भी इसमें खमीर, और बीजाणु-गठन बैक्टीरिया (spore-forming bacteria) लंबे समय के लिए रहते हैं। हालांकि एंटी- माइक्रोबियल खूबी होने के कारण यह माइक्रोब के होने को बैलेंस कर देता है। लेकिन इसके भी बहुत कम आसार होते हैं कि यह बाहर के प्रभाव जैसे कि हवा और गंदगी से खराब हो जाए और पाचन शक्ति को नुकसान दें।

आखिर में

इस आर्टिकल में हमने शहद के नुकसान यहां बताएं हैं, इसके बाद आप शहद का सेवन सही मात्रा में ही करें। सही मात्रा में शहद का सेवन करने से आपको शहद के नुकसान देखने को नहीं मिलेंगे। इस बात को जरुर ध्यान में रखें कि आपके शरीर को कितनी मात्रा में शहद की जरुरत है और इसी के अनुसार अपनी डाइट में शामिल करें।

अगर शहद के अलावा भी आप मीठे पदार्थ का सेवन कर रहे हैं तो दिन में 2 चम्मच से ज्यादा शहद का सेवन का ना खाएं। शहद, कार्बोहाइड्रेट लेना का एक अच्छा आधार है जो कसरत करने से पहले खाने के लिए लाभदायक हो सकता है।

FAQs

1. शहद के नुकसान क्या हैं?

शहद के नुकसान भी हो सकते हैं जैसे कि पेट में दर्द, एलर्जी, ब्लड शुगर लेवल, लो ब्लड प्रेशर आदि।

2. अधिक मात्रा में शहद खाने से क्या हो सकता है?

जिन लोगों को ब्लड शुगर की दिक्कत है उन लोगों को डॉक्टर की सलाह के बाद ही शहद का सेवन करना चाहिए। अधिक मात्रा में शहद खाने से ब्लड शुगर लेवल अच्नक से बढ़ सकता है। इसके अलावा ज्यादा मात्रा में शहद खाने से वजन भी बढ़ सकता है।

3. क्या शहद से डाइजेशन सुधर सकता है?

अधिक मात्रा में शहद खाने से पेट से जुड़ी कई परेशानियां हो सकती हैं जैसे कि पेट में दर्द, रुकावट आदि। इसलिए पेट स्वस्थ रखने के लिए शहद का सेवन सही मात्रा में ही करें।

4. एक दिन में कितनी मात्रा में शहद खाना चाहिए?

अगर आप किसी और माध्यम से शुगर का सेवन नहीं कर रहे हैं तो एक दिन में दो चम्मच शहद का सेवन कर सकते हैं।

5. क्या शहद इंफेक्शन से बचा सकता है?

शहद को एंटीबायोटिक की तरह भी इस्तेमाल किया जाता है। चोट लगने पर घाव पर शहद लगाने से घाव जल्दी भरने में मदद मिलती है।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
6 Comments
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments