8 शहद के फायदे (8 Natural Benefits Of Honey)

शहद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी- इंफ्लामेट्री की खूबी के साथ आता है। शहद उन कम मिश्रण में से है जो मीठा होने के साथ- साथ सेहतमंद भी है। सेहतमंद फायदों के साथ- साथ यह सुदंरता बढ़ाने के भी जाना जाता है। शहद के फायदे इन हिंदी में जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

शहद एक प्राकृतिक प्रोडक्ट है जिसे मधुमक्खी के द्वारा बनाया जाता है। जब हम मीठे और सेहतमंद चीज़ के बारे में सोचते हैं तो हमें शहद ही सबसे पहले याद आता है। शहद के फायदे कई सारे हैं। शहद को एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लामेट्री खूबी के लिए जाना जाता है। देसी इलाज के लिए शहद को चोट, घाव ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है साथ ही बाहरी रोगजनकों से सेल को खराब होने से बचाने में भी मदद करता है। इसमें अच्छी मात्रा में फ्रुक्टोज और ग्लूकोज पाया जाता है जो मीठा स्वाद देते हैं। शहद, स्वस्थ कैलोरी देने के लिए भी जाना जाता है। दिन में 1 चम्मच शहद खाने से आपको 43 कैलोरी मिलती है। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण शहद को आयुर्वेद के द्वारा इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। यहां से आप शहद के फायदे इन हिंदी में जानकारी विस्तार से प्राप्त कर सकते हैं।

वीडियो- शहद के फायदे

8 शहद के फायदे (8 Natural Benefits Of Honey)

1. शहद एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है (Honey is loaded With Anti-Oxidants )

शहद कई सारे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जैसे कि फिनोल और फ्लेवोनोइड्स। सूजन कम करने के समय शहद के फायदे बहुत सारे हो जाते हैं। इसके अलावा शहद इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में भी मदद करता है। एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा शरीर में बने रहने से मांसपेशियों को कोई खतरा नहीं होता है और साथ ही बढ़ती उम्र के आसार भी जल्दी से दिखाई नहीं देते हैं।

फिनोल और फ्लेवोनोइड्स ऐसे एंटीऑक्सीडेंट हैं जो पौधो में पाए जाते हैं। शहद को मधुमक्खी के द्वारा फूलदार पत्तों से निकाला जाता है इसलिए शहद में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं।

यह भी पढ़ें- किस शहद ब्रांड में चीनी नहीं है?

2. डाइजेशन में मदद (Aiding In Digestion)

एंटीऑक्सीडेंट को फ्री रेडिकल से लड़ने के लिए जाना जाता है। शहद में एंटीऑक्सीडेंट होने के कारण यह पेट में होने वाली सूजन से बचाव करने में मदद करता है जिससे पाचन शक्ति मजबूत होती है। शहद का सेवन करने से डाइजेशन से जुड़ी परेशानी कम होने में मदद मिलती है।

शहद के फायदे पेट में एसिड रीफल्क्स (acid reflux) से लड़ने में मदद करता है। यह एक ऐसी बीमारी है जो पेट में एसिड पैदा करती है और खाने की नली में जलन पहुंचाता है। एंटीऑक्सीडेंट होने के कारण यह फ्री रेडिकल से खाने की नली का बचाव करता है। शहद की मदद से लंबे समय के लिए पेट की परेशानी को दूर रहने में मदद मिलती है।

3. शहद खांसी- जुकाम के लिए प्राकृतिक इलाज है (A Natural Remedy For Cough And Cold)

एक रिसर्च में शहद को जुकाम की दवाई डेक्सट्रोमेथॉर्फ़न के खिलाफ टेस्ट किया गया था। इस रिसर्च में यह सामने आया है कि शहद, खांसी और जुकाम के लिए फायदेमंद है। शहद खांसी को कम करने में मदद करता है और पूरी दुनिया में आसानी से मिल जाता है (1)। शहद का सेवन करने से गले में हो रही परेशानी से राहत मिलती है।

शहद खांसी को कम करने में मदद करता है और पूरी
दुनिया में आसानी से मिल जाता है।

यह भी पढ़ें- कच्चा अनफिल्टर्ड शहद क्या है? फायदे और नुकसान (What Is Raw Unfiltered Honey? | Benefits & Risks)

4. वजन कम करने में मदद (Aids In Weight Loss)

शहद के फायदे वजन कम करने के लिए भी जाने जाते हैं। शहद का सेवन करने से शरीर में जमा फैट उसको एनर्जी में बदलता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल के लेवल को भी बढ़ा देता है। यह अमिनो एसिड से भरपूर है। शहद को गुनगुने पानी और नींबू के रस में मिलाकर पीया जाता है जो शरीर में मेटाबोलिज्म को बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा वजन कम करने के लिए शहद और दालचीनी का मिश्रण खा सकते हैं।

5. कसरत के लिए अच्छा (Good For Exercising)

शहद को कार्बोहाइड्रेट लेने का अच्छा आधार माना जाता है। 100 ग्राम शहद खाने से 82 ग्राम कार्बोहाइड्रेट मिलता है। कार्बोहाइड्रेट शरीर के लिए बहुत जरुरी है क्योंकि यही शरीर में एनर्जी पैदा करने का काम करते हैं।

शहद का सेवन करने से कार्बोहाइड्रेट शरीर में जाता है और मांसपेशियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। कार्बोहाइड्रेट को छोटे- छोटे शुगर मोलिक्यूल में तोड़ा जाता है जैसे कि फ्रुक्टोज और सुक्रोज। कसरत करते समय कार्बोहाइड्रेट एनर्जी लाने का काम करते हैं।

यह भी पढ़ें- 15 हाई फाइबर फूड (15 High-Fiber Food Items)

6. जखम भरने में मदद (Used For Treating Wounds)

सदियों से शहद को प्राकृतिक इलाज की तरह जखम भरने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। शहद के पतला होने के कारण इसको चोट पर आसानी से लगाया जा सकता है जिससे जलन नहीं होती है और आराम मिलता है।

एंटी बैक्टीरियल खूबी होने के कारण शहद को चोट पर लगाया जाता है। शहद के फायदे कई हैं जैसे कि शहद लगाने के बाद चोट पर बाहरी रोगजनकों नहीं आते हैं जिससे इंफेक्शन नहीं होता है। इसके अलावा शहद का पीएच लेवल भी अहम रुप निभाता है। शहद का एसिडिक पीएच लेवल है 3.2 से 4.5, जिससे खून को ऑक्सीजेन छोड़ने का मौका मिलता है और जखम जल्दी भर जाता है।

7. शहद मिनरल्स से भरपूर होता है (Honey is High On Minerals)

शहद के फायदे में से एक यह है फायदा है कि यह मिनरल्स से भरपूर होता है जैसे कि पोटैशियम और आयरन। शहद कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी सामान्य बनाए रखने में मदद करता है। पोटैशियम की मात्रा ज्यादा होने से यह शरीर से बाहर निकलकर ब्लैडर में आसानी से चला जाता है। लेकिन अगर आपके शरीर में सोडियम की मात्रा ज्यादा है तो यह एक्स्ट्रा पानी बाहर नहीं आने देगा जिससे ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है।

शहद में मौजूद पोटैशियम, सोडियम के लेवल को सामान्य बनाए रखने में मदद करता है और एक्स्ट्रा पानी को बाहर निकालने में भी मदद करता है जिससे ब्लड प्रेशर सामान्य बना रहता है।

शहद में मौजूद पोटैशियम, सोडियम के लेवल को सामान्य बनाए रखने में मदद करता है।

8. शहद के फायदे चेहरे और बालों पर (Honey is a Natural Product For Skin And Hair Care)

शहद के फायदे शरीर के लिए तो कई सारे हैं लेकिन इतने ही शहद के फायदे चेहरे और बालों के लिए भी हैं। एंटी-बैक्टीरियल खूबी होने के कारण, शहद को त्वचा पर लगाने से मुहांसे और सूजन नहीं होती है।

यहां तक की शहद को बालों की जड़ो पर लगाने से बालों में रूसी कम हो जाती है। अपने बालों को सही पोषण देना बेहद जरुरी है। सही पोषण देने से बाल सूखे नहीं होते हैं और स्वस्थ बाल उगते हैं।

शहद से नुकसान (Precautions With Honey)

शहद के फायदे सेहत, बालों और चेहरे के लिए बहुत सारे हैं लेकिन कई बार शहद से बहुत कम संख्या में होने वाले नुकसान भी हो सकते हैं। इस बात का सभी को खास ध्यान रखना चाहिए कि 1 साल से कम उम्र वाले बच्चों को शहद नहीं खिलाना चाहिए। क्योंकि शहद में बहुत कम मात्रा में मधुमक्खी का शहद होता है जो छोटे बच्चों के द्वारा पचाया नहीं जा सकता है जिससे बोटुलिज़्म नाम का ज़हर फैल सकता है।

यह भी पढ़ें- 6 शहद के नुकसान (6 Side-Effects Of Honey)

इसके अलावा अधिक मात्रा में शहद का सेवन करने से ब्लड ग्लूकोज लेवल बढ़ सकता है। ऐसा शहद में भारी मात्रा में पाए जाने वाले सुक्रोज के कारण हो सकता है। इतना ही नहीं, अधिक मात्रा में शहद का सेवन करने से ब्लड प्रेशर कम हो सकता है क्योंकि शहद में पोटैशियम पाया जाता है।

शहद में कैलोरी मात्रा होती है जिससे वजन बढ़ सकता है। शहद में कार्बोहाइड्रेट भी होता है जिसका सेवन करने से यह तुरंत टूट जाते हैं। और अगर यह एनर्जी जल्दी से इस्तेमाल नहीं की गई तो यह फैट के रुप में शरीर में जमा हो जाएगा जिससे वजन बढ़ जाएगा।

आखिर में

शहद, मीठा, स्वादिष्ट और सेहतमंद होने के त्तव है। इसका सेवन करने से स्वाद के साथ- साथ सेहत भी मिलती है। शहद के फायदे शरीर के साथ- साथ बालों, त्वचा और चेहरे के लिए भी हैं। ऐसी बहुत कम प्राकृतिक चीजें होती है जिससे इतने सारे फायदे होते हैं। लेकिन कभी- कभी प्राकृतिक चीज़ भी नुकसान दे देती है अगर इसका सेवन नियमित रुप से ना किया जाए। इसलिए शहद के फायदे लेने के लिए इसको सही तरीके से और सही मात्रा में ही सेवन करें।

FAQs

  1. खाली पेट शहद खाने से क्या होता है? (What are the benefits of honey on empty stomach?)

    सुबह खाली पेट गुनगुना पानी और शहद, लहसुन और शहद का मिश्रण खाने से वजन कम होने में मदद मिलती है। इसके साथ ही शहद का सेवन करने से पाचन शक्ति अच्छे से काम करती है जिससे पेट से जुड़ी परेशानियां जैसे कि गैस, कब्ज आदि होने के आसार कम हो जाते हैं।

  2. एक दिन में 1 चम्मच शहद का सेवन करना अच्छा है? (Is a spoonful of honey a day good for you?)

    शहद एक ऐसी खाने की चीज है जो मीठी होने के साथ-साथ सेहतमंद भी है। यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जो सेहत के लिए अच्छा है। शहद में कैलोरी की मात्रा ज्यादा होती है इसलिए शहद का सेवन सामान्य मात्रा में ही करें।

  3. बालों में शहद लगाने से क्या होता है? (What happen when honey is applied on hair?)

    बालों में शहद और दूध का मिश्रण लगाएं। यह मिश्रण 20 मिनट तक लगाएं और फिर शैंपू कर लें। यह मिश्रण लगाने से बालों की जड़ें मजबूत होती हैं और बालों का झड़ना कम होने में मदद मिलती है।

  4. शहद खाने के नुकसान क्या हैं? (What are the side effects of eating honey?)

    अधिक मात्रा में शहद का सेवन करने से नुकसान हो सकते हैं जैसे कि नींद आना, मितली महसूस होना, उलटी, कमजोरी, चक्कर आना आदि।

  5. शहद कब खराब होता है? (For how long honey can be stored?)

    आपको बता दें कि शहद एक ऐसी चीज है जो कभी खराब नहीं होती है। जी हां शहद कभी खराब नहीं होता है। और अगर आपका शहद कभी खराब भी हुआ है तो इसका मतलब है कि शहद में मिलावट है।

Story Tags :

Leave a Reply on 8 शहद के फायदे (8 Natural Benefits Of Honey)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*