बेसन खाने के फायदे- कैसे करें सेवन

बेसन में प्रोटीन और फाइबर होता है। इसके अलावा यह लो कैलोरी और ग्लूटेन फ्री होता है और यह आपकी सेहत को अच्छा बनाएं रखने में मदद करेगा।

बेसन ऐसे खाने की चीज़ जो हर भारतीय घर में पाई जाती है। इसका इस्तेमाल पूरे साल नहीं होता हैं लेकिन मानसून आते ही बेसन भी सभी के घर में आ जाता है। क्योंकि बारिश के मौसम में बेसन के पकौड़े खाने का मजा ही कुछ और होता है। साउथ एशिया देशों में जैसे कि भारत, पाकिसतान, नेपाल और बांगलादेश में बेसन का ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। गेंहू के आटे के मुकाबले बेसन में कौलोरी की मात्रा कम होती है। 100 ग्राम बेसन में 22 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है जो इसके खुद के वजन से 1/5 ज्यादा है। जिससे यह कहा जा सकता है कि बेसन प्रोटीन लेने का एक अच्छा माध्यम है।

लेकिन सिर्फ यह दो बातें बेसन की सारी खूबियों के बारे में नहीं बताती हैं। हाई प्रोटीन और लो कैलोरी के अलावा बेसन खाने के फायदे कई सारे हैं जिसके बारे में आप नीचे से पढ़ सकते हैं।

वीडियो- बेसन के फायदे यहां से देखें

बेसन के स्वास्थ्य फायदे

बेसन खाने के फायदे गिनने शुरु किए तो लिस्ट काफी लंबी हो जाएगी। इसलिए हम आपके लिए उन जरुरी फायदो को लेकर आएं हैं जो आपकी डाइट के लिए लाभदायक साबित हो सकते हैं।

1. ग्लूटेन फ्री

हाल की के कुछ सालों में लोगों को ग्लूटेन एलर्जी होने लगी है। ग्लूटेन एलर्जी में लोगों को उन सभी खाने से एलर्जी होती है जिसमें ग्लूटेन होता है। यह एक तरह का प्रोटीन है जो गेंहू, मैदा आदि में पाया जाता है। ग्लूटेन से गुज़र रहे लोगों को रोटी , ब्रेड से परहेज होता है। इसके लिए लोग रोटी और ब्रेड के अलावा ऑप्शन ढूंढते हैं। बेसन खाने के फायदे कई है जैसे कि बेसन ग्लूटेन फ्री होता है। बेसन से रोटी, पैनकेक और बेसन के चीले बनाए जा सकते हैं।

2. ब्लड शुगर लेवल को सामान्य बनाएं रखने में मदद

बेसन में सॉल्युबल फाइबर होता है जिससे पाचन शक्ति पोषण को लेने के दर को कम कर देती है। बल्ड शुगर हाई तब होता है जब पैंक्रियास के द्वारा शुगर के टुकड़े करने के लिए इंसुलिन काफी नहीं होता है। जब शुगर मोलेक्युल्स का दर कम हो जाता है तब पैंक्रियास को इंसुलिन बनाने का समय मिल जाता है जिससे वो शुगर मोलेक्युल्स के टुकड़े कर सके जिससे ब्लड शुगर सामान्य रहता है।

3. कोलेस्ट्रॉल बनाएं रखता है

बेसन में सॉल्युबल फाइबर और लो कैलोरी होने के कारण यह ब्लड कोलेस्ट्रॉल को सामान्य बनाएं रखने में मदद करता है। बेसन में हाई फाइबर मौजूद होता है जो शरीर में से एक्सट्रा कोलेस्ट्रॉल निकालने में मदद करता है। इसके अलावा बेसन में जीरो कोलेस्ट्रॉल होता है जिससे यह कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने के लिए अच्छा ऑप्शन बन जाता है।

बेसन में हाई फाइबर मौजूद होता है जो शरीर में से एक्सट्रा कोलेस्ट्रॉल निकालने में मदद करता है।

4. आयरन से भरपूर

आयरन का सेवन करने के लिए बेसन एक अच्छा माध्यम है। आयरन हमारे शरीर के सभी हिस्सो में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है। यह एक जरुरी मिनरल है जो हीमोग्लोबिन बनाने के काम आता है। हीमोग्लोबिन एक तरह का प्रोटीन है जो खून में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है। बेसन का सही मात्रा में सेवन करने से शरीर में ऑक्सीजन की कमी नहीं होती है और एनीमिया या हाइपोक्सिमिया जैसी बीमारी से बचे रहते हैं।

5. वजन घटाने में मदद

जब भी कोई वजन कम करने की कोशिश करता है वो अपनी डाइट में बेसन को जरुर शामिल करता है। इसमें फाइबर होने के कारण यह आपका पेट लंबे समय के लिए भरा रखता है जिससे आप बार- बार खाना नहीं खाते हैं। साथ ही इसमें कैलोरी की मात्रा भी कम होती है जो वजन कम करने से लिए जरुरी होता है।

6. अच्छी नींद

बेसन को अपनी डाइट में शामिल करने से नींद अच्छी आती है। इसमें ट्रिप्टोफैन, सेरोटोनिन और अमीनो एसिड होता है जो हमारे शरीर में अच्छे भाव लाने में मदद करते हैं, जिससे हमें नींद भी अच्छी आती है।

बेसन के फायदे चेहरे के लिए

7. डेड सेल को हटाता है

बेसन का इस्तेमाल करने से शरीर के साथ- साथ सुदंरता को भी बढ़ाने में मदद करता है। बेसन को दूध और हल्दी के साथ मिलाकर त्वचा पर लगाने से डेड स्किन हट जाती है और नई स्किन आ जाती है। चेहरे पर बेसन लगाने के फायदे पुराने जमाने से लिए जा रहे हैं। बेसन को त्वचा पर लगाकर स्क्रब करने से टैन भी चली जाती है और त्वचा फिर से निखर जाती है।

8. एंटी- इंफ्लामेट्री

एंटी- इंफ्लामेट्री होने के कारण से ही बेसन को त्वचा के लिए लाभदायक माना जाता है। बेसन से मुँहासो का प्राकृतिक इलाज होता है। बेसन लगाने से हमारी त्वचा पर एक परत आ जाती है जो बीमारी को हमारी त्वचा पर आने नहीं देती है।

9. त्वचा को जरुरी पोषण देता है

अगर आपकी त्वचा सूखी है तो बेसन लगाने से त्वचा में नमी वापस आ जाएगी। इसके साथ ही बढ़ती उम्र के लक्षण जल्दी से दिखाई नहीं देते हैं। त्वचा पर बेसन लगाने से यह आसपास की नमी को हमारी त्वचा में ले आता है जिसके बाद स्किन ड्राए नहीं रहती है।

10. बालों के लिए अच्छा

बेसन शरीर और त्वचा के लिए तो अच्छा है ही इसके अलावा यह बालों के लिए भी लाभदायक है। आप बेसन में अंडा और नारियल तेल या फिर बादाम का तेल मिलकार बालों में लाग सकते हैं। इससे बालों की जड़ मजबूत होती है और बालों का सूखापन भी चला जाता है।

बेसन का कैसे करें सेवन

अब हमें यह पता चल गया है कि बेसन को अपनी डाइट में शामिल करने से कितने सारे फायदे मिल सकते हैं। अधिकतर लोग बेसन के पकौड़े खाते हैं लेकिन यह तले हुए होते हैं। बेसन को खाने का हेल्दी तरीका आप नीचे से देख सकते हैं।

1. बेसन के चीले

बेसन के चीले बनाने के लिए आपको सबसे पहले बेसन में पानी या फिर लस्सी मिलाकर आटा गुथना है। इसमें आप कटे हुए प्याज, टमाटर और मसाले डाल सकते हैं। बेसन के चीला को वैसे ही बनाया जाता है जैसे साउथ इंडियन डोसा बनाया जाता है।

बेसन का चीला, गट्टे की सब्जी बनाने से पहले बेसन का आटा लगाना होता है।

2. बेसन के गट्टे की सब्जी

बेसन के गट्टे की सब्जी पारंपरिक राजस्थानी डिश है। इसको बनाने के लिए सबसे पहले बेसन का आटा लगाया जाता है। इसके बाद बेसन के छोटे- छोटे गोल टुकडे (गट्टे) किए जाते हैं। मसाले को तैयार करने के बाद बेसन के गट्टों को सब्जी में डाला जाता है और गट्टे की सब्जी बनाई जाती है। यह भारत के पश्चिमी भाग में खास पसंद की जाती है।

3. बेसन खांडवी

ढोकला, बेसन खांडवी सभी भारत के पश्चिमी भाग के पॉपुलर स्नैक्स है, इनका जन्म गुजरात में हुआ है। इनको अधिकतर बेसन के साथ पानी या फिर लस्सी के साथ मिलाकर आटा लगाया जाता है और फिर यह डिश बनाई जाती है। बेसन और दही का मिश्रण पेट के लिए बहुत लाभदायक होता है।

आखिर में

आखिर में यह कहा जा सकता है कि बेसन हर तरीके से प्राकृतिक है और इससे अच्छा कुछ नहीं हो सकता है। इसमें प्रोटीन, फाइबर है और लो कैलोरी, ग्लूटेन फ्री है। बेसन हमारी पूरी हेल्थ का ध्यान रखता है जैसे कि शरीर, त्वचा, बाल आदि। अब जब आपको बेसन के इतने फायदे पता चल गए हैं तो आप इसको अपनी डाइट में कब शामिल कर रहे हैं। और इसके साथ ही हेल्दी लाइफ जीना शुरु करें।

Leave a Reply on बेसन खाने के फायदे- कैसे करें सेवन

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*