विटामिन ई डाइट के 7 उत्कृष्ट फायदे और नुकसान - मिश्री
विटामिन ई डाइट के 7 उत्कृष्ट फायदे और नुकसान - मिश्री

विटामिन ई डाइट के 7 उत्कृष्ट फायदे और नुकसान

क्या आपने कभी सोचा है कि हरी सब्जियों को सेहतमंद डाइट का अहम हिस्सा क्यों माना जाता है? इसका जवाब है कि यह विटामिन ई से भरपूर होती हैं। अधिक जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

विटामिन ई के फायदे इसके माइक्रोआहार और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण हैं। यह मेटाबोलिज्म को सही से काम करने में मदद करता है। इसके अलावा विटामिन ई के फायदे इम्यून सिस्टम को मजबूत , सेहतमंद दिल और सबसे जरुरी फ्री रेडिकल से लड़ने में मदद करने के हैं। विटामिन ई से जुड़ी फायदो की लिस्ट आप इस आर्टिकल से प्राप्त कर सकते हैं। साथ ही किस में विटामिन ई पाया जाता है की जानकारी ले सकते हैं। विटामिन ई के फायदे इन हिंदी में जानकारी इस आर्टिकल से ले सकते हैं।

बाकी पौष्टिक तत्व की तरह विटामिन ई बेहद जरूरी होता है। आमतौर पर विटामिन ई के फायदे सेहतमंद त्वचा और आंखों के लिए जाना जाता है। अगर आपकी डाइट में विटामिन ई पर्याप्त मात्रा में शामिल है तो इंफेक्शन या बीमार होने के आसार कम हो सकते हैं। विटामिन ई डाइट से जुड़ी विस्तार से जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. एंटीऑक्सीडेंट

विटामिन ई में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट की क्वालिटी इसके कई सारे फायदो का कारण है और यह सेहतमंद सेल को बनाए रखने में मदद करता है। एंटीऑक्सीडेंट को फ्री रेडिकल से बचाव करने के लिए जाना जाता है। फ्री रेडिकल शरीर की स्वस्थ सेल के साथ मिलकर शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। फ्री रेडिकल के स्वस्थ सेल से मिलने से पहले एंटीऑक्सीडेंट इससे मिल जाते हैं और शरीर को फ्री रेडिकल से होने वाले खतरे से बचाकर रखते हैं।

2. सेहतमंद दिल

कोलेस्ट्रॉल लेवल सही रहने से दिल की सेहत भी अच्छी बनी रहती है। कोलेस्ट्रॉल अपने आप लिवर में बनता है जो सेल के काम करने लिए होता है। जब कोलेस्ट्रॉल फ्री रेडिकल के संपर्क में आ जाता है तब यह शरीर के लिए खतरनाक हो जाता है जिससे यह ब्लड वेसल्स में रुकावट बन सकता है।

विटामिन ई का सेवन करने से शरीर में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा बढ़ जाती है जिससे फ्री रेडिकल का खतरा कम हो जाता है।

बीज
सूरजमुखी के बीज विटामिन ई से भरपूर होते हैं।

3. स्वस्थ मांसपेशियां

विटामिन ई का सेवन करने से मांसपेशियों में पोष्टिक आहार सही मात्रा में बना रहता है और खून का बहाव भी सामान्य बना रहता है। डाइइट में विटामिन ई के होने से शरीर में एनर्जी बनी रहती है और फ्री रेडिकल भी दूर रहते हैं।

4. सेहतमंद आंखें

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण बढ़ती उम्र के आसार जल्दी से दिखाई नहीं देते हैं। आंख की मैक्यूला का व्यपजनन (macular degeneration) से बचाव करता है जो आंखो की बीमारी का मुख्य कारण है। विटामिन ई के फायदे बढ़ाने के लिए इसको आप अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं। डाइट में विटामिन ई, जिंक होने से सेल सेहतमंद रहते हैं और पूरा शरीर स्वस्थ रहता है।

मिट्टी के बर्तन में बादाम
बादाम विटामिन ई से भरपूर होते हैं।

5. स्वस्थ दिमाग

फ्री रेडिकल से सूजन होती है और यह दिमाग से जुड़ी कई बीमारी जैसे कि भूलने की बीमारी, पागलपन आदि का मुख्य कारण है। सही मात्रा में विटामिन ई का सेवन एंटीऑक्सीडेंट जैसे कि विटामिन सी के साथ करने से फ्री रेडिकल के खतरे से सेहतमंद सेल के बचाव रहता है।

6. सेहतमंद त्वचा

त्वचा मेंन नमी की मात्रा बढ़ाने के लिए विटामिन ई का सेवन किया जाता है। ऐसा करने से त्वचा जवान, ताज़ा, चमकदार और पोषण से भरपूर रहती है। विटामिन ई का सेवन करने से बढ़ती उम्र के आसार जैसे कि झुर्रियां, धब्बे और त्वचा का खिंचाव बना रहता है।

कांच की कटोरी में ऑलिव ऑयल
ऑलिव ऑयल विटामिन से भरपूर होता है।

7. सेहतमंद बाल

शरीर में खून का बहाव अच्छा बनाने के लिए विटामिन ई का सेवन करना जरुरी है। इससे बालों की जडों में खून का बहाव अच्छा रहता है और जडों को सही मात्रा में पोषण मिलता रहता है।

8. स्ट्रांग इम्यूनिटी

विटामिन ई की मदद से बी- सेल प्रोड्यूज होती हैं जो बाहर से होनी वाली बीमारी से बचाव करते हैं। डाइट में विटामिन ई को शामिल करने से दस्त, खांसी और जुखाम से बचाव रहता है। विटामिन ई सेल के विकास और सुधार करने का काम करता है।

सेहतमंद ब्रेकफास्ट
कीवी और एवोकाडो विटामिन ई से भरपूर होते हैं

विटामिन ई से भरपूर फूड

विटामिन ई के फायदे जानने के बाद अब आप इसको अपनी डाइट में शामिल करना चाहेंगे। लेकिन इसके लिए आपको पता होना चाहिए है कि विटामिन ई से भरपूर फूड्स कौन- से हैं। आपको चिंता करने की जरुरत नहीं है क्योंकि यह काम भी हमने आपके लिए कर दिया है। नीचे से आप विटामिन ई से भरपूर फूड की लिस्ट की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

1. गेहूं के बीज का तेल

विटामिन ई से भरपूर खाने की बात हो रही है तो गेंहू के बीज का तेल लिस्ट में जरुर शामिल होना चाहिए। 1 चम्मच गेंहू के बीज के तेल में 20.23 मिली ग्राम विटामिन ई पाया जाता है।

2. पालक

पालक के फायदे कई सारे हैं। 100 ग्राम पालक में 2.03 मिली ग्राम विटामिन ई पाया जाता है जिस कारण से पालक को डाइट में जरुर शामिल करना चाहिए।

कटोरी में पालक के पत्ते
पालक विटामिन ई अच्छा स्रोत है।

3. एवोकाडो

एवोकैडो के फायदे की बात की जाए तो आपको बता दें कि इसकी पोष्टिक आहार की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। 100 ग्राम एवोकैडो से आपको 2.07 मिली ग्राम विटामिन ई मिलता है। इसके साथ ही 100 ग्राम में आपको 10 ग्राम विटामिन सी भी मिलता है जो विटामिन लेने के लिए लाभदायक है।

4. नट्स

नट्स विटामिन ई के साथ- साथ प्रोटीन से भरपूर होते हैं। बादाम में सबसे ज्यादा मात्रा में विटामिन ई पाया जाता है। 100 ग्राम बादाम में 25.62 मिली ग्राम विटामिन ई पाया जाता जो इसके वजन का 1/4th होता है।

सूरजमुखी के बीज (Sunflower Seeds)

सूरजमुखी के बीज विटामिन ई से भरपूर होते हैं। पोषण पाने के लिए आप इनको अपनी स्नैक्स में शामिल कर सकते हैं। 100 ग्राम सूरजमुखी के बीज में 35.17 मिली ग्राम विटामिन ई पाया जाता है।

ड्राई फ्रूट्स
ड्राई फ्रूट्स में भरपूर मात्रा में विटामिन ई पाया जाता है।

विटामिन ई डाइट

अब आपको विटामिन ई के फायदे और नुकसान के बारे में पता चल गया है तो आइए विटामिन ई डाइट के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेते हैं। विटामिन ई डाइट में इन खाने की चीजों को शामिल कर सकते हैं-

  1. तेल – सूरजमुखी के बीज और बाकी के तेल के बीज आदि।
  2. सब्जियां – अधिकतर हरी सब्जियां और पत्तेदार सब्जियां।
  3. नट्स – बादाम, काजू, मूंगफली आदि।
हरी सब्जियां
हरी सब्जियां विटामिन ई से भरपूर होती हैं।

विटामिन ई के नुकसान

विटामिन ई का सेवन करने से पहले कुछ बातों का खास ध्यान रखना चाहिए। हालांकि विटामिन ई को लेकर अध्ययन जारी हैं, विटामिन ई सा सेवन भारी मात्रा में करने से नुकसान हो सकते हैं।

विटामिन ई में खून पतला करने का गुण होता है। सही मात्रा में सेवन करने से इससे फायदे मिल सकते हैं और यह शरीर में खून के बहाव को सामान्य बनाए रखता है। विटामिन ई का सेवन अधिक मात्रा में करने से प्लेटलेट की मात्रा कम हो जाती है। यह ऐसा होने से चोट लगने पर मुश्किल हो सकती है।

विटामिन ई प्राकृतिक रूप से कोलेस्ट्रॉल की परेशानी को भी दूर कर देता है। लेकिन अगर आप कोई दवाई खा रहे हैं तो विटामिन ई का सेवन नियमित रूप से ही करें।

FAQs

विटामिन ई डाइट के फायदे से जुड़े दिलचस्प सवालों के जवाब यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. विटामिन ई किसमें पाया जाता है?

कई खाने की चीजों में विटामिन ई पाया जाता है जैसे कि पालक, एवोकाडो, नट्स, सूरजमुखी के बीज, हरी सब्जियां, मूंगफली, बादाम, मक्का का तेल, सोयाबीन का तेल आदि।

2. एक दिन में कितनी मात्रा में विटामिन ई का सेवन करना चाहिए?

आमतौर पर विटामिन ई का सेवन 15 मिली ग्राम से ज्यादा नहीं होना चाहिए। विटामिन ई की कमी होने पर हरी सब्जियां, ड्राई फ्रूट आदि का सेवन किया जा सकता है।

3. विटामिन ई की कमी के लक्षण क्या हैं?

विटामिन ई की कमी होने पर मांसपेशियों में दर्द, सही से ना दिखना, बीमार रहना के आसार दिखाई दे सकते हैं। ऐसे आसार होने पर डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

4. विटामिन ई के फायदे त्वचा के लिए क्या हैं?

विटामिन ई त्वचा के लिए बेहद जरूरी है। विटामिन ई की मदद से त्वचा में नमी बनी रहती है और फ्री रेडिकल से बचाव रहता है जिससे बढ़ती उम्र के आसार जल्दी से दिखाई नहीं देते हैं।

आखिर में

इस आर्टिकल से आप विटामिन ई के फायदे और नुकसान के बारे में जानकारी ले सकते हैं। इसके साथ ही आप उन खाने की चीजों के बारे में भी जान सकते हैं जिनको विटामिन ई डाइट में शामिल करना चाहिए। किसी भी खाने की चीज़ को डाइट में शामिल करने से पहले उसके फायदे और नुकसान के बारे में जान ले और इसके बाद ही शामिल करें। और साथ ही अपने शरीर की जरुरत के अनुसार ही विटामिन ई का सेवन करें।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments