सूजी खाने के फायदे- सूजी डाइट में शामिल करने के बेहतरीन कारण (Benefits Of Semolina: Top Reasons To Add More Suji To Your Diet)

सूजी का आटा मार्किट में आसानी से मिल जाता है और इसके कई सारे फायदे भी हैं। सूजी को इस्तेमाल करने के फायदे जानें और इसे अपनी डाइट में शामिल करें। सूजी के फायदे इन हिंदी में जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

सूजी को दुरुम गेहूं से बनाया जाता है। अब सूजी खाने के फायदे के कारण यह पूरी दुनिया में पॉपुलर हो रही है। वैसे तो सूजी से सूप और खिचड़ी बनाई जा सकती है लेकिन ज्यादातर सूजी से पास्ता बनाया जाता है। यही कारण जिससे इसको पास्ता का आटा भी कहा जाता है। सूजी- मोटी, ब्राउन और सामान्य गेंहू से ज्यादा सेहतमंद होती है जो आप मार्किट से खरीदते हैं। सूजी के फायदे इन हिंदी में जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

वीडियो- सूजी के फायदे यहां से देखें

सूजी के फायदे और इसको अपनी डाइट में क्यों शामिल करना चाहिए?

इससे जुड़ी जानकारी के लिए पढ़ते रहें।

1. पोष्टिक आहार से भरपूर

सूजी कई सारे पोष्टिक आहार से भरपूर है जैसे कि विटामिन और मिनरल्स जो आपकी सेहत को अच्छा बनाए रखने में मदद करते हैं। 60 ग्राम कच्चे सूजे के आटे में 198 कैलोरी पाई जाती है। जब आप सूजी के आटे का सेवन करते हैं तो आपको नीचे दिए गए सूजी खाने के फायदे मिलते हैं-

  • पूरे दिन का 41% थायमिन (विटामिन बी) मिलता है।
  • पूरे दिन का 36% फोलेट मिलता है।
  • पूरे दिन का 29% राइबोफ्लेविन मिलता है।
  • पूरे दिन का 13% आयरन मिलता है।
  • पूरे दिन का 8% मैग्नीशियम मिलता है।
  • पूरे दिन का 7% फाइबर मिलता है।
  • 40 ग्राम कार्बोहाइड्रेट मिलता है।
  • 7 ग्राम प्रोटीन मिलता है।
  • 1 ग्राम से कम फैट मिलता है।

जो भी खाने में प्रोटीन और फाइबर होता है वो आपके पेट को लंबे समय के लिए भरकर रखता है। यह आपको बार- बार खाने से रोकता है जिससे आपकी भूख कम हो जाती है और आपको वजन कम करने में मदद मिलती है। फाइबर और प्रोटीन होने के कारण आपको सूजी के फायदे भी मिलते हैं। कम खाना खाने के बाद भी आपको पूरे दिन शरीर में एनर्जी महसूस होती है। यह सूजी में मौजूद थायमिन (विटामिन बी) और फोलेट के कारण होता है।

benefits of soji
सूजी आपको बार- बार खाने से रोकती है जिससे आपकी भूख कम हो जाती है
और आपको वजन कम करने में मदद मिलती है।

2. स्वस्थ पाचन शक्ति

सूजी फाइबर से भरपूर होती है इसलिए यह पाचन शक्ति को स्वस्थ और एक्टिव बनाए रखने में मदद करती है। इसके अलावा सूजी खाने के फायदे कई हैं जैसे कि सूजी में जो डायट्री फाइबर पाए जाते हैं उसकी मदद से पेट में अच्छे बैक्टीरिया का जन्म होता है। अच्छे बैक्टीरिया शरीर में मैटाबोल्जिम रेट बढ़ा देते हैं और कई परेशानी से दूर रखने में मदद करते हैं जैसे कि गैस बनना, खाना न पचना, पेट में सूजन आदि।

एक अध्ययन में कुछ लोगों को सूजी और होल वीट अनाज से 5 ग्राम फाइबर 2 हफ्ते के लिए रोजाना खाने के लिए कहा गया। दो हफ्तों के बाद लोगों को यह लगा कि पेट में कब्ज और सूजन से उन्हें काफी राहत मिली है।

3. वजन कम करने में मदद

फाइबर आपके पूरे शरीर को स्वस्थ रखने के साथ- साथ वजन कम करने में भी मदद करता है। अगर आप प्राकृतिक तरीके से वजन कम करने की सोच रहे हैं तो आपको अपने खाने में फाइबर से भरपूर खाने को शामिल करना चाहिए। भूख लगने वाले होर्मोन को फाइबर दबाकर रखता है। वहीं प्रोटीन आपके पेट को लंबे समय के लिए भरकर रखने में मदद करता है जिससे आप लिमिटिड मात्रा में खाना खाते हैं। वजन कम करने के सूजी को डाइट में शामिल करें और सूजी खाने के फायदे उठाएं।

एक अध्ययन में 250 महिलाओं ने भाग लिया जिसमें सभी महिलाओं ने 20 महीनों तक डायट्री फाइबर का सेवन किया है। इस दौरान महिलाएं जब भी फाइबर का सेवन 1 ग्राम बढ़ा देती हैं तब 0.5 ग्राम वजन कम हो जाता है। बाकी के अध्ययन में यह साबित हुआ है कि जो लोग हाई प्रोटीन डाइट लेते हैं वो लोग सामान्य प्रोटीन डाइट के मुकाबले 1.7 पाउंड ज्यादा वजन घटाते हैं।

संबंधित आर्टिकल
वजन कम करने के उपाय (How To Lose Weight Naturally)
इंटरमिटेंट डाइट (आईएम)- रुक- रुक कर खाने से क्या वजन कम हो सकता है?
लो कैलोरी के फायदे- लो कैलोरी फूड फॉर वेट लॉस।

4. सेहतमंद दिल

सूजी के फायदे में से एक यह है कि यह इसमें फाइबर है। फाइबर से भरपूर खाना खाने से दिल की बीमारी होने के कम आसार होते हैं। क्योंकि फाइबर खराब कोलेस्ट्रॉल को का लेवल कम करता है और अच्छे कोलैस्ट्रॉल का लेवल बढ़ा देता है। रोजाना सूजी का सेवन करने से शरीर में फाइबर की मात्रा बढ़ जाती है जो दिल को स्वस्थ रखने में मदद करता है। यह फोलेट और मैग्नीशियम से भी भरपूर होता है जो दिल को स्वस्थ रखने मनें मदद करते हैं।

इस बात को साबित करने के लिए कई अध्ययन किए गए हैं-

  • जो लोग हाई- फाइबर फूड खाते हैं जैसे कि सूजी, उन लोगों को लो फाइबर खाने वाले लोगों के मुकाबले 24% तक कम दिल की बीमारी होती है।
  • 3 हफ्ते तक 23 ग्राम फाइबर सूजी और बाकी फूड से सेवन करने से 5% तक खराब कोलैस्ट्रॉल का लेवल कम हो जाता है।
  • जो लोग फोलेट से भरपूर खाना खाते हैं वो लोग न खाने वाले लोगों के मुकाबले 38% कम आसार दिल की बीमारे के होते हैं।
  • रोजाना 100 एमजी मैग्नीशियम खाने से दिल की बीमारी और स्ट्रोक होने के 2% और 7% कम आसार हो जाते हैं।

क्या अब भी हमें आपको समझाने की जरुरत है कि सूजी को अपनी डाइट में शामिल करना क्यों जरुरी है?

why should we eat soji
फाइबर से भरपूर खाना खाने से दिल की बीमारी होने के कम आसार होते हैं।

5. ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करता है

मैग्नीशियम और फाइबर दोनों ऐसे मिनरल्स हैं जो ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखने में मदद करते हैं और टाइप 2 डायबटीज और दिल की बीमारी से भी दूर रहने में मदद करते हैं। सूजी में यह दोनों पाए जाते हैं जिससे आप सूजी पर भरोसा कर सकते हैं कि आपका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहेगा।

मैग्नीशियम इंसुलिन को अच्छी तरह से प्रतिक्रिया करने के लिए आपकी कोशिकाओं को ट्रिगर करता है। और वहीं फाइबर कार्बोहाइड्रेट अवशोषण (absorption) को धीरे कर देता है। यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध किया गया है कि यह दोनों अचानक से बढ़ने वाले ब्लड शुगर लेवल को बढ़ने नहीं देता है।

कई टेस्ट में साबित हो चुका है कि मैग्नीशियम से भरपूर खाना खाने पर डायबटीज के आसार 14% तक कम हो जाते हैं। वहीं फाइबर का सेवन करने से हीमोग्लोबिन ए1सी का लेवल 0.5% तक कम हो जाता है।

6. रक्ताल्पता (Anemia) होने के कम आसार

सूजी आयरन से भरपूर होती है। पूरे दिन का 13 आयरन आपको 56 ग्राम सूजी के आटे का सेवन करने से मिल जाता है। इससे आपके शरीर में रेड ब्लड सेल बनती हैं और एनीमिया, लो हीमोग्लोबिन, थकान और डीहाइड्रेशन होने के आसार कम हो जाते हैं।

सबसे जरुरी जानने वाली बात यह है कि सूजी में मौजूद आयरन दरसल नॉन- हेमे टाइप का है। इसका मतलब यह है कि यह शरीर के द्वारा पूरी तरह से अवशोषण (absorption) नहीं कर पाता है क्योंकि यह जानवर का प्रोडक्ट है। इसलिए आपको हमेशा आयरन का सेवन विटामिन सी के साथ करना चाहिए क्योंकि विटामिन, आयरन को अवशोषण (absorption) करने में मदद करता है।

7. एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर

सूजी के आटे में 37 एमजी एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जिसको सेलेनियम कहा जाता है। यह इम्यूनिटी और सेल मेमब्रेन की सेहत को अच्छा करने का काम करते हैं। सूजी के फायदे की शुरुआत ही स्वस्थ इम्यून सिसिटम से होती है। एंटीऑक्सीडेंट, फ्री रेडिकल के द्वारा किए गए खराबी से लड़ने में मदद करते हैं। जिससे यह झुर्रियाँ, चेहरे पर लाइन और बाकी बढ़ती उम्र के आसार को होने के रोकती है। सेलेनियम इम्यूनिटी को स्ट्रोंग करने के लिए काम करता है जिससे आपके शरीर का बचाव इंफेक्शन, सूजन और बाकी की बीमारी से रहता है।

soji in diet
सेलेनियम इम्यूनिटी को स्ट्रोंग करने के लिए काम करता है जिससे
आपके शरीर का बचाव इंफेक्शन, सूजन और बाकी की बीमारी से रहता है।

इन बातों का ध्यान रखें

हाई ग्लूटेन होने के कारण सूजी को पास्ता बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। अगर आपको ग्लूटेन की परेशानी है तो इसका सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरुर लें। अगर आपको पहले से ही पता है कि आपको सीलिएक बीमारी (Celiac disease) है तो सूजी का सेवन न करें। कई बार ऐसा होता है कि आपको सीलिएक बीमारी नहीं होती है लेकिन ग्लूटेन के प्रति नाज़ुक होते हैं। आप अपने शरीर को बेहतर तरीके से जानते हैं इसलिए सूजी को अपनी डाइट में शामिल करने से पहले एक बार सारे टेस्ट करवाएं और डॉक्टर से भी जरुर सलाह लें।

आखिर में

सूजी का आटा मार्किट में आसानी से मिल जाता है और यह कई सारे पोष्टिक आहार से भरपूर है। अब जब आपको यह पता चल गया है कि सूजी खाने के फायदे कितने सारे हैं तो अभी इसे अपनी डाइट में शामिल करें और सूजी के फायदे लेना शुरु कर दें। बच्चों को सूजी से बना होम मेड पास्ता खिलाएं जो बच्चों को बेहद पसंद आएगा और आपको इस बात का अफसोस भी नहीं होगा जब बच्चें पास्ता खाएंगे। सूजी के साथ अलग- अलग डिश बनाएं और इसके फायदे उठाएं।

FAQs

  1. सूजीमें कौन सा विटामिन पाया जाता है? (Which vitamin is found in semolina?)

    सूजी में कई सारे पोष्टिक आहार पाए जाते हैं जैसे कि विटामिन ए, विटामिन बी1, विटामिन बी2, विटामिन बी3, विटामिन बी6, फोलेट बी9, विटामिन सी। इसके अलावा सूजी में फास्फोरस, पोटैशियम, सोडियम, जिंक, कैल्शियम और आयरन पाया जाता है।

  2. क्या सूजी पेट के लिए अच्छी है? (Is semolina good for stomach?)

    सूजी को पेट के लिए अच्छा कहा जा सकता है। 1/3 कप में 2 ग्राम फाइबर पाया जाता है। सूजी में मौजूद डाइटरी फाइबर पाचन शक्ति को स्वस्थ करने में मदद करता है।

  3. सूजी किसी चीज के लिए अच्छी है? (What is semolina good for?)

    सूजी में ऐसे कई सारे पोष्टिक आहार होते हैं जो शरीर के लिए लाभदायक होते हैं। सूजी को वजन कम करने के लिए भी जाना जाता है। इसके साथ ही सूजी के फायदे स्वस्थ दिल और पाचन शक्ति के लिए भी हैं।

  4. क्या सूजी वजन कम करने के लिए अच्छी है? (Is semolina good for weight loss?)

    100 ग्राम सूजी में 360 कैलोरी और जीरो कोलेस्ट्रॉल होता है। सूजी वजन कम करने के लिए इस्तेमाल की जा सकती है अगर इसको सेहतमंद स्नैक्स के साथ खाया जाए। सेहतमंद स्नैक्स में प्रोटीन और फाइबर होना जरुरी है जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है।

  5. क्या सूजी डायबिटीज के लिए अच्छी होती है? (Is sooji good for diabetics?)

    डायबिटीज लो ब्लड कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर लेवल से जुड़ा हुआ है जो हाई फाइबर से जुड़ा हुआ है। सूजी में हाई फाइबर होता है जिस कारण से सूजी का सेवन डायबिटीज में नहीं करने की सलाह दी जाती है।

Leave a Reply on सूजी खाने के फायदे- सूजी डाइट में शामिल करने के बेहतरीन कारण (Benefits Of Semolina: Top Reasons To Add More Suji To Your Diet)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*