अलसी के 15 अद्भुत फायदे, उपयोग और नुकसान - मिश्री
अलसी के अद्भुत फायदे, उपयोग और नुकसान

अलसी के 15 अद्भुत फायदे, उपयोग और नुकसान

अलसी के बीज देखने में छोटे होते हैं लेकिन अलसी के फायदे बड़े होते हैं। अलसी के बीज डाइट में कैसे शामिल करें, यहां से जानें।

क्या आप भी अलसी के बीज के बारे में अकसर लोगों के द्वारा सुनते हैं? इन छोटे- छोटे बीज में ऐसी क्या खूबियां हैं? क्यों इन्हें इतना महत्व दिया जाता है?

आजकल बीमारियां इतनी बढ़ गई हैं जिसके बाद लोग अपनी सेहत को लेकर बहुत सतर्क हो गए हैं। सेहत के प्रति सतर्क होने के कारण लोग सेहतमंद खाने की तलाश में हैं और उनमें से एक है अलसी के बीज। आपको बता दें कि अलसी के बीज पिछले कुछ समय से काफी पॉपुलर हो रहे हैं क्योंकि अलसी के फायदे शरीर के लगभग हर एक अंग से जुड़े हुए हैं। जैसे कि अलसी के बीज स्वस्थ दिल, कम कोलेस्ट्रॉल, सेहतमंद पाचन, निखरी त्वचा और मजबूत बाल रखने में मदद करता है।

वैसे तो अलसी की तासीर गर्म होती है लेकिन सही मात्रा में सेवन करने से अलसी के फायदे आसानी से मिल सकते हैं। इसका सेवन करते समय ज्यादा पानी पीने की सलाह भी दी जाती है। अलसी के फायदे और नुकसान के साथ-साथ इसका उपयोग कैसे करना चाहिए से जुड़ी जानकारी आप यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

पोषण 100 ग्राम के अनुसार
एनर्जी 534 किलो कैलोरी
डाइटरी फाइबर 27.3 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट 28.88 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल 0 एमजी
प्रोटीन 18.29 ग्राम
फैट 42.16 ग्राम

अलसी के फायदे

अलसी के बीज डाइट में सही मात्रा में शामिल करने से इसके कई सारे फायदे मिल सकते हैं। जैसे कि अलसी का बीज पौष्टिक आहार से भरपूर होता है जो शरीर के लिए लाभदायक होते हैं। अलसी के बीज देखने में चाहे कितने भी छोटे हो लेकिन इनके फायदे बड़े हैं। अगर आप इन्हें अपनी डाइट में शामिल करते हैं तो किस तरह के अलसी के फायदे मिलते हैं से जुड़ी विस्तार से जानकारी आप यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. पोषण से भरपूर

कांच के डिब्बे में अलसी के बीज
अलसी बीज के फायदे

आपको बता दें कि यह छोटे-छोटे बीज कई सारे पौष्टिक आहार से भरपूर होते हैं जो मनुष्य के शरीर के लिए लाभदायक साबित हो सकते हैं। अलसी के फायदे इसमें मौजूद प्रोटीन, फाइबर, मिनरल्स और विटामिन के कारण जाने जाते हैं। अगर आपको अपनी डाइट को एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लामेट्री गुणों से भरपूर रखना है तो अलसी के बीज डाइट में शामिल कर सकते हैं।

इन सभी आहार के अलावा अलसी के फायदे कई सारे हैं। इनमें ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है। ओमेगा-3 फैटी एसिड का सेवन करने से दिल की बीमारी होने के आसार कम हो जाते हैं। इसके साथ ही ब्लड क्लाटिंग होने की संभावना भी कम हो जाती है क्योंकि ओमेगा-3 फैटी एसिड प्लेटलेट्स को इकट्ठा नहीं होने देता है।

ओमेगा-3 फैटी एसिड मछली में पाया जाता है। शाकाहारी लोग अलसी के बीज, अखरोट, सोयाबीन तेल, चिया सीड्स आदि से ओमेगा-3 फैटी एसिड प्राप्त कर सकते हैं।

2. सेहतमंद डाइजेशन

कटोरी में अलसी के बीज
अलसी बीज के फायदे सेहतमंद डाइजेशन के लिए

अलसी में अच्छी मात्रा और अच्छी क्वालिटी के डाइटरी फाइबर पाए जाते हैं। आपको बता दें कि फैट, प्रोटीन कार्बोहाइड्रेट की तरह फाइबर शरीर के द्वारा पचता नहीं है। फाइबर का सेवन करने से कई सारे फायदे मिलते हैं जैसे कि कोलेस्ट्रॉल लेवल सामान्य बना रहता है जिससे दिल भी सेहतमंद रहता है। फाइबर का सेवन करने से खाने आसानी से पच जाता है जि कब्ज होने के आसार कम हो जाते हैं।

जिन लोगों को पेट से जुड़ी परेशानियां अकसर रहती हैं उन लोगों को अलसी खाने की सलाह दी जाती है लेकिन इसके बावजूद डॉक्टर से सलाह जरूर लें। अलसी के फायदे फाइबर से भरपूर होते हैं जो स्वस्थ डाइजेशन के लिए लाभादायक है। अलसी को पचने में समय लगता है जिससे डाइजेशन प्रोसेस में शरीर के द्वारा ज्यादा मेहनत लगती है। ऐसी स्थिति में कैलोरी बर्न होती है और मेटाबोल्जिम भी बढ़ जाता है। यह सभी कार्य एक साथ अच्छे से होने के कारण आप सेहतमंद रहते हैं।

संबंधित आर्टिकल: रोजाना खाने के लिए लाजवाब सीड्स

3. सामान्य ब्लड शुगर लेवल

अलसी के बीज
अलसी के फायदे सामान्य ब्लड शुगर लेवल के लिए

आपको बता दें कि अलसी के फायदे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने से भी जुड़े हुए हैं। डायबिटीज में फाइबर को पचने में समय लगता है जिससे शुगर अब्जॉर्बशन भी धीरे हो जाता है और ब्लड शुगर लेवल सामान्य बना रहता है। सही मात्रा में फाइबर का सेवन करने से टाइप 2 डायबिटीज होने के आसार कम हो सकते हैं।

डाइटरी फाइबर ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में मदद करता है। फाइबर का सेवन करने के बाद इन्हें पचने में समय लगता है और इस समय डाइजेशन प्रोसेस धीरे हो जाता है। इस समय अग्न्याशय को इंसुलिन बनाने का समय मिल जाता है जो शुगर मोलिक्यूल को तोड़ने का काम करते हैं। इस स्थिति में ब्लड शुगर लेवल अचानक से बढ़ता नहीं है। अलसी के बीज का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है जो डायबिटीज से गुजर रहे लोगों के लिए अच्छा ऑप्शन बन सकता है।

लेकिन इसके बावजूद, अलसी के बीज रोजाना डाइट में शामिल करने से पहले एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें।

Buy Flaxseeds Online

4. वेट लॉस

अलसी बीज के फायदे वेट लॉस के लिए

हर कोई वजन कम करने के लिए अलग-अलग डाइट और तरीके ढूंढते हैं। अगर आप भी वजन कम करने की डाइट में कुछ सेहतमंद शामिल करना चाहतें हैं तो अलसी के बीज एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है। अलसी के फायदे वेट लॉस में मदद कर सकते हैं क्योंकि यह फाइबर से भरपूर होते हैं।डाइटरी फाइबर का सेवन करने से मेटाबोल्जिम बढ़ जाता है और डाइजेशन रेट कम हो जाता है जिससे वजन कम होने में मदद मिलती है।

इसके अलावा अलसी के बीज का सेवन करने से पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है जिससे भूख कम लगती है आप बार-बार खाना नहीं खाते हैं जिससे कैलोरी का सेवन भी कम हो जाता है।

वेट लॉस के लिए अलसी के फायदे बहुत आसानी से लिए जा सकते हैं। रातभर एक गिलास पानी में अलसी के बीज भिगाकर रखें। सुबह पानी छान लें और खाली पेट पानी का सेवन करें। ऐसा आप हफ्ते में दो या तीन बार कर सकते हैं।

5. सेहतमंद दिल

कटोरी में एकोवाडो के ऊपर अलसी के बीज
अलसी के फायदे सेहतमंद दिल के लिए

दिल से जुड़ी बीमारियां बढ़ने का कारण डाइट का ध्यान ना रखने हो सकता है। सेहतमंद दिल के लिए अलसी के फायदे आप आसानी से ले सकते हैं। अलसी के बीज में ओमेगी-3 फैटी एसिड पाया जाता है जो दिल को स्वस्थ रखने के लिए जाना जाता है। सही मात्रा में ओमेगी-3 फैटी एसिड का सेवन करने से ईकोसोनॉइड और साइटोकिन्स का लेवल शरीर में कम रहता है। यह दो मोलिक्यूल सूजन पैदा करने वाले एजेंट होते हैं। ओमेगी-3 फैटी एसिड इन एजेंट को कम करने में मदद करता है।

इसके अलावा दिल में सही मात्रा और सही तरह से खून का बहाव करता है जिससे सेहतमंद दिल रहने में मदद मिलती है।

अलसी के फायदे कोलेस्ट्रॉल लेवल, ब्लड प्रेशर लेवल सामान्य बनाए रखने में लाभदायक होते हैं जिससे दिल की सेहत भी स्वस्थ बनी रहती है।

6. सामान्य कोलेस्ट्रॉल

हम्मस के ऊपर अलसी के बीज
अलसी बीज के फायदे सामान्य कोलेस्ट्रॉल के लिए

अलसी के बीज में सॉल्युबल फाइबर पाया जाता है जिससे खराब कोलेस्ट्रॉल लेवल कम रहता है और साथ ही ब्लड कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कम हो जाता है। अलसी के फायदे फाइबर से भरपूर होते हैं जो सीधे- सीधे सामान्य कोलेस्ट्रॉल लेवल से जुड़ा है। फाइबर का सेवन करने से दिल भी सेहतमंद रहता है।

अलसी के बीज का सेवन रोजाना सही मात्रा में करने से खराब कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होने में मदद मिलती है। शरीर में अधिकतर बीमारी खराब कोलेस्ट्रॉल के कारण होती है। अलसी के फायदे कोलेस्ट्रॉल कम करने में काफी हद तक मदद करते हैं। इसका कारण ओमेगा-3 फैटी एसिड बताया जाता है जो अलसी में भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

7. सामान्य ब्लड प्रेशर

सफेद कटोरी में अलसी के बीज
अलसी के फायदे सामान्य ब्लड प्रेशर के लिए

आज के समय में हाई या लो ब्लड प्रेशर अधिकतर लोगों में आसानी से मिल जाएगा। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ब्लड प्रेशर हाई या लो होना इतना आम क्यों गया है? क्योंकि लोगों की डाइट में ऐसे आहार बहुत कम होते हैं जो ब्लड प्रेशर, शुगर लेवल और कोलेस्ट्रॉल लेवल सामान्य बनाए रखते हैं।

अगर आप कुछ ऐसा ढूंढ रहे हैं तो अलसी के बीज एक अच्छा ऑप्शन है। अलसी के बीज में लिनोलिक एसिड, लिगनेन और फाइबर पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर सामान्य बनाए रखने में मदद कर सकता है।

ऐसा एक अध्ययन में पाया गया है कि अलसी के बीज का सेवन करने से ब्लड प्रेशर कम हो सकता है। लेकिन इसके बावजूद डॉक्टर से सलाह जरूर लें। सेहतमंद डाइट, कसरत के साथ अलसी के बीज का सेवन करने से ब्लड प्रेशर सामान्य बनाए रखने में मदद मिल सकती है।

8. सर्दी- खांसी

खांसती हुई लड़की
अलसी बीज के फायदे सर्दी-खांसी में लाभदायक होते हैं

सर्दी-खांसी होने का कोई समय नहीं होता है। शुरुआती सर्दी- खांसी में घरेलू उपाय अपनाना ज्यादा बेहतर माना जाता है। अलसी के बीज में एंटी- इंफ्लामेट्री और एंंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जिस कारण से अलसी के फायदे सर्दी-खांसी के लिए बढ़ जाते हैं। सर्दी- खांसी के घरेलू उपाय में अलसी के बीज भी शामिल हैं।

अपनी सामान्य चाय में अलसी का पाउडर मिलाकर पीने से सर्दी- खांसी में आराम मिल सकता है। एक कप पानी में अलसी पाउडर डालकर पानी उबालें। स्वाद के लिए शहद और नींबू डाल सकते हैं। ज्यादा दिक्कत होने पर डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

संबंधित आर्टिकल: भांग के बीज के लाजवाब फायदे और उपयोग

9. जोड़ों का दर्द

दर्द के कारण कोहनी को छूती हुई लड़की
जोड़ों के दर्द में अलसी के बीज मददगार साबित हो सकते हैं

अलसी के बीज में एंटी-इंफ्लामेट्री गुण होते हैं जिस वजह से अलसी के फायदे जोड़ों के दर्द के लिए लाभदायक हैं। जरूरी नहीं है कि जोड़ों का दर्द सिर्फ बढ़ती उम्र में होता है, ज्यादा ताकत या फिर एक जगह लंबे समय के लिए बैठे या खड़े रहने से भी जोड़ों में दर्द होने लगता है। इस समय में अलसी के फायदे आपके काम आ सकते हैं।

अलसी का तेल लगाने से दर्द से राहत मिल सकती है। इसके अलावा अलसी का पाउडर गुनगुने सरसों के तेल में मिलाकर हल्के हाथ से मालिश कर सकते हैं। ओमेगा-3 फैटी एसिड का सेवन करने भी दर्द में आराम मिल सकता है। इसके लिए चम्मच अलसी के बीज का सेवन कर सकते हैं। क्या अलसी के बीज गठिया के दर्द में आराम दे सकता है? इस विषय पर अभी भी अध्ययन जारी है।

10. स्वस्थ पेट

दर्द के कारण पेट दबाता हुआ आदमी
अलसी के बीज से पेट की दिक्कतें कम होने में मदद मिल सकती है

अधिकतर बीमारी पेट से शुरु होती है और अगर आपका पेट स्वस्थ है तो आप भी स्वस्थ हैं। जिन लोगों को अकसर पेट से जुड़ी परेशानी रहती है उनको इस परेशानी के बारे में अच्छा से पता होगा। अलसी के फायदे फाइबर से भरपूर होते हैं और स्वस्थ पेट के लिए फाइबर महत्वपूर्ण माना जाता है।

अगर आपको आमतौर पर कब्ज रहता है तो अलसी के बीज इसमें लाभदायक साबित हो सकता है। लेकिन अगर आपकी पेट से जुड़ी समस्या लंबे समय से है तो अलसी डाइट में शामिल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

अलसी के फायदे त्वचा के लिए

आपको बता दें कि अलसी के फायदे सेहत के साथ-साथ त्वचा के लिए भी होते हैं। धूल, मिट्टी, प्रदूषण के कारण त्वचा से जुड़ी दिक्कतें भी बढ़ गई हैं। खासतौर से त्वचा पर कम से कम कैमिकल का इस्तेमाल करने की कोशिश करनी चाहिए। त्वचा को कैमिकल से बचाने के लिए ज्यादातर घरेलू उपाय अपनाएं जा सकते हैं।

वैसे ही अलसी के बीज का उपयोग त्वचा के लिए भी किया जा सकता है। अलसी के बीज के फायदे त्वचा के लिए से जुड़ी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. मुंहासे से बचाव

चेहरे पर मुंहासे दिखाती हुई लड़की
अलसी बीज के फायदे मुंहासों से बचाव कर सकता है

वातावरण में मौजूद गंदगी के कारण त्वचा पर मुंहासे हो जाते हैं। यह आपकी त्वचा पर धाग धब्बे छोड़ सकता है इसलिए समय रहते इन पर ध्यान देना जरूरी है। अलसी की मदद से आप फेस पैक बना सकते हैं। फैस पैक बनाने से जुड़ी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

कैसे करें इस्तेमाल

अलसी का फेस पैक बनाने के लिए एक चम्मच अलसी पाउडर और पानी की जरूरत है। कप में एक चम्मच अलसी का पाउडर लें और इसमें तीन से चार चम्मच पानी मिला लें। इन दोनों का पेस्ट बना लें और चेहरे पर लगाएं। पेस्ट सूखने के बाद चेहरा धो लें।

2. एंटी एजिंग

इस भाग-दौड़ भरी जिंदगी में अगर बढ़ती उम्र के आसार समय से पहले दिखने लग गए हैं तो इन पर ध्यान देना जरूरी है। एंटी- एजिंग के लक्षणों में भी अलसी के फायदे आपकी मदद कर सकते हैं। अलसी के फायदे इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, फाइबर, फैटी एसिड के कारण मौजूद हैं। इन सभी गुणों के कारण अलसी के बीज एंटी- एजिंग में मददगार साबित हो सकते हैं।

इस दौरान आप अलसी का तेल झुर्रियों पर लगा सकते हैं। सही मात्रा, सही समय पर अलसी का तेल चेहरे पर लगाने से एंटी- एजिंग के आसार देरी से आने में मदद मिल सकती है।

3. स्ट्रेच मार्क्स

त्वचा पर निशान किसी भी कारण से हो सकते हैं जैसे कि गर्भवस्था के बाद, वजन कम करने के बाद, किसी तरह की बीमारी आदि। त्वचा पर खिंचाव के निशान हटाना आसान नहीं होता है लेकिन नामुमकिन भी नहीं है। खिंचाव के निशान कम करने के लिए घरेलू उपाय करने की सलाह ज्यादा दी जाती है।

खिंचाव के निशान पर अलसी के तेल की हल्की मालिश से निशान कम होने में मदद मिलती है। अलसी के तेल से मालिश आप रोजाना भी कर सकते हैं।

अलसी के फायदे बालों के लिए

अलसी एक ऐसी चीज है जिससे आप सेहत, त्वचा और बालों से जुड़े फायदे ले सकते हैं। बालों के खराब होने का कारण कई सारे हो सकते हैं जैसे कि धूल-मिट्टी, प्रदूषण, कैमिकल वाले शैंपू या कंडीशनर का इस्तेमाल आदि। अगर किसी और कारण से भी आपके बाल खराब हुए हैं तो अलसी के फायदे आप आसानी से ले सकते हैं।

1. डैंड्रफ

अलसी में एंटी-इंफ्लामेट्री, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं जिस कारण से अलसी के फायदे बालों के लिए बढ़ जाते हैं खासतौर पर डैंड्रफ के लिए। डैंड्रफ होने पर अलसी के तेल से बालों की हल्की मालिश करने से डैंड्रफ कम होने में मदद मिलती है।

2. बालों का झड़ना

बालों का झड़ना कई सारे कारणों से हो सकता है जैसे कि खराब खान-पान, सही पोषण का सेवन ना करना, मौसम में बदलाव आदि। बाल आपकी खूबसूरती को बढ़ाने में मदद करता है और ज़ाहिर सी बात है कि इनका ख्याल रखना भी जरुरी है। बालों का झड़ना रोकने के लिए अलसी का उपयोग किया जा सकता है। अलसी का उपयोग करने से बालों की जड़ों को पोषण भरपूर मात्रा में मिलता है जिस कारण बाल मजबूत बनते हैं। अलसी का उपयोग बालों के लिए आप ऐसे कर सकते हैं।

कैसे करें इस्तेमाल

इसके लिए आपको पानी और अलसी के बीज चाहिए। सबसे पहले दो कप पानी उबालें और फिर इसमें चार चम्मच अलसी के बीज डालें। पानी को अच्छे से उबालें। पानी सामान्य होने के बाद अब इसे बालों में लगा लें और फिर धो लें।

अलसी का उपयोग कैसे करें 

बिखरे हुए अलसी के बीज
अलसी के बीज का उपयोग कई तरह से करें

अलसी के फायदे जानने के बाद आप इसे उपयोग करना चाहेंगे। सही तरीके से और सही मात्रा में किसी भी चीज का सेवन करने से उसके फायदे मिलते हैं। अलसी के बीज का सेवन कई तरीकों से किया जाता है जिससे जुड़ी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

  • मार्केट से अलसी आसानी से खरीद सकते हैं। मार्केट से अच्छी क्वालिटी के अलसी के बीज खरीदें और घर में पीसकर इनका सेवन करें। अलसी के बीज का सेवन साबुत करने से इसके फायदे कम मिलते हैं। और पीसकर इसका सेवन करना ज्यादा फायदेमंद होता है।
  • अलसी अपने सलाद के ऊपर डालकर खा सकते हैं।
  • सलाद के अलावा अलसी को स्मूदी, दलिया, सूप, योगर्ट के साथ भी खा सकते हैं।
  • मार्केट से ब्राउन या फिर गोल्डन अलसी खरीदें।
  • अपनी रोजाना वाली चाय में अलसी मिलाना शुरू कर सकते हैं।
  • अगर आप घर में कुछ बेक कर रहे हैं तो अलसी का इस्तेमाल करने की कोशिश करें। अलसी का इस्तेमाल ब्रेड, पैनकेक, मफिन, रोल्स आदि में कर सकते हैं।
  • स्मूदी या जूस में अलसी डालने से पहले से इसे भिगा लें।
  • एयर टाइट डिब्बे में अलसी के बीज रखें।
  • अलसी के तेल का इस्तेमाल त्वचा और बालों की हल्की मालिश के लिए कर सकते हैं।
  • अगर आप घर में मेयो बना रहे हैं अलसी का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • ब्रेकफास्ट में अलसी शामिल करने से इसकी फायदे बढ़ जाते हैं।

अलसी के नुकसान

किसी भी चीज का सेवन सही मात्रा में करने से ही उसके फायदे मिलते हैं। वैसा ही अलसी के साथ भी। सही मात्रा में अलसी का सेवन करने से आपको ऊपर दिए गए फायदे मिल सकते हैं। लेकिन अलसी के बीज का सेवन सही मात्रा में या फिर अधिक मात्रा में किया गया तो अलसी के नुकसान भी हो सकते हैं। अधिक मात्रा में अलसी का सेवन करने से नीचे दिए गए नुकसान हो सकते हैं।

  • कच्ची अलसी का सेवन करना खतरनाक हो सकता है क्योंकि कच्ची अलसी में जहरीले पदार्थ होते हैं।
  • अलसी का सेवन करने के साथ तरल पदार्थ का भी सेवन करें जिससे पेट से जुड़ी परेशानी ना हो।
  • अधिक मात्रा में अलसी का सेवन करने से पेट से जुड़ी परेशानी बढ़ सकती हैं जैसे कि गैस, पेट में दर्द आदि।
  • अलसी के तेल का इस्तेमाल खाने में करने की सलाह नहीं दी जाती है। अलसी के तेल का इस्तेमाल पहले से बनी डिश में कर सकते हैं और फिर माइक्रोवेव में गर्म कर सकते हैं।
  • अगर आप खून पतला करने वाली दवाई ले रहे हैं तो अलसी का सेवन ना करें।
  • अगर आप कोलेस्ट्रॉल कम करने की दवाई ले रहे हैं तो अलसी का सेवन डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही करें।
  • गर्भवति महिलाओं को अलसी का बीज खाने की सलाह नहीं दी जाती है।
  • ब्लड प्रेशर से गुजर रहे हैं उन लोगों को अलसी खाने की सलाह नहीं दी जाती है।
  • अलसी की तासीर गर्म होती है जिस कारण से इसका सेवन नियमित रूप से करने के लिए कहा जाता है।
  • अगर आपको किसी बीज से एलर्जी है तो हो सकता है कि आपको अलसी के बीज से भी एलर्जी हो। एलर्जी होने पर आपको लाल धब्बे, खुजली हो सकती है।

आखिर में

अलसी ऐसा बीज है जिसके फायदे सेहत के साथ- साथ त्वचा और बालों के लिए भी हैं। सही मात्रा में अलसी के बीज का सेवन करने से कई सारे फायदे मिल सकते हैं जैसे कि सामान्य ब्लड प्रेशर, कम कोलेस्ट्रॉल, वजन कम करने में मदद, सेहतमंद त्वचा, मजबूत बाल आदि। अलसी का सेवन करते समय इस बात का ध्यान रखें कि तरल पदार्थ का सेवन भी ज्यादा करें। कच्ची अलसी खाने से पेट से जुड़ी दिक्कतें हो सकती हैं।

अलसी के तेल का इस्तेमाल खाना बनाने के लिए ना करें। इसका इस्तेमाल त्वचा और बालों के लिए किया जा सकता है। अगर आपको अलसी खानी है तो इसका सेवन पानी में रातभर भिगाकर या दही, सलाद, स्मूदी आदि के साथ कर सकते हैं।

आप अलसी अपनी डाइट में कैसे शामिल करते हैं? हमें कमेंट में जरूर बताएं।

FAQs

अलसी के बीज से जुड़े जरूरी सवालों के जवाब यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. अलसी क्या होती है?

अलसी के बीज छोटे ऑयल सीड्स हैं जो मध्य पूर्व से उत्पन्न हुए हैं। अलसी में भारी मात्रा में पोष्टिक आहार पाए जाते हैं जिस कारण से यह काफी पॉपुलर हैं। अलसी में ओमेगा-3 फैटी एसिड, फाइबर आदि पाए जाते हैं। शाकाहारी लोगों के लिए अलसी के माध्यम ओमेगा-3 फैटी एसिड लेने का आधार अच्छा है।

2. अलसी बालों में कैसे लगाएं?

अलसी बालों के लिए बहुत लाभदायक है। बालों में अलसी लगाने के लिए एक कप पानी उबालें और फिर इसमें 4 चम्मच अलसी के बीज डालें। अब पानी फिर से उबलने दें। पानी सामान्य होने के बाद बालों में लगा लें और फिर धो लें।
इसके अलावा अलसी का तेल गुनगुना गर्म कर भी बालों में लगा सकते हैं। और फिर शैंपू से बाल धो लें।

3. अलसी खाने से शरीर को क्या फायदे मिलते हैं?

अलसी खाने से कई सारे फायदे मिलते हैं जैसे कि ब्लड शुगर लेवल और कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम रहता है, वजन कम करने में मदद, पाचन शक्ति स्वस्थ रहती है, दिल में खून का बहाव अच्छे से होता है।

4. अलसी के बीज को कैसे खाना चाहिए?

अलसी को कई तरीके से खाया जा सकता है जैसे कि पानी भिगाकर, सलाद के ऊपर डालकर, स्मूदी में मिलाकर, अलसी की चाय, योगर्ट में डालकर, कुकीज़ में मिलाकर आदि।

5. अलसी खाने से क्या नुकसान होता है?

अलसी का सेवन अधिक मात्रा में करने से कई नुकसान हो सकते हैं जैसे कि ब्लड प्रेशर कम होना, पेट में परेशानी जैसे कि गैस, पेट में दर्द आदि, अलसी से एलर्जी, गर्भवति महिलाओं को अलसी का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती है।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments