कुलथी दाल के फायदे, उपयोग और नुकसान – सबसे ज्यादा पौष्टिक दाल

कुलथी दाल के अद्भुत फायदे, उपयोग और नुकसान

कुलथी दाल के फायदे, उपयोग और नुकसान – सबसे ज्यादा पौष्टिक दाल

कुलथी दाल क्या है, कुलथी दाल के फायदे, उपयोग, नुकसान से जुड़ी जानकारी यहां से प्राप्त करें। और साथ ही कुलथी दाल के फायदे डाइट में कैसे शामिल करें, यहां से जानें।

कुलथी दाल: यह पूरी तरह मुमकिन है कि आपने कुलथी दाल का नाम पहली बार सुना होगा। चाहे आपने कुलथी दाल (Horse Gram) का नाम पहले सुना हो या नहीं लेकिन अब कुलथी दाल के फायदे जानने बेहद जरुरी हैं। कुलथी दाल के बारे में कहा जाता है कि यह पृथ्वी पर सबसे ज्यादा पौष्टिक दाल है। यू.एस की राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी का मानना है कि भविष्य में कुलथी दाल के फायदे बहुत पॉपुलर और लाभदायक हो सकते हैं। कुलथी दाल के फायदे प्रोटीन से भरपूर हैं इसलिए इसका सेवन पूरी दुनिया में किया जाता है। इस आर्टिकल से आप कुलथी दाल क्या है, पोष्टिक तत्व, फायदे, उपयोग और नुकसान से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

कुलथी दाल गोल आकार में जमी हुए
कुलथी दाल के फायदे (Benefits Of Horse Gram) डाइट में जरुर शामिल करें। इमेज क्रेडिट –commons.wikimedia.org

विषय सूची

कुलथी दाल क्या है?

कुलथी एक मतलब चना होता है। अंग्रेज़ी में कुलथी दाल को के नाम से जाना जाता है और पहले इसका इस्तेमाल इसके नाम के अनुसार किया जाता था। कुलथी दाल का उपयोग घोड़े, भेड़, बकरी आदि के खाने के तौर पर किया जाता था। लेकिन कई अध्ययन के बाद यह पाया गया है कि कुलथी दाल प्रोटीन से भरपूर होती है जो मनुष्य के लिए भी लाभदायक है। जैसे की ऊपर भी बताया गया है कि कुलथी दाल के फायदे भविष्य में बहुत पॉपुलर होने वाले हैं इसलिए इस दाल का उपयोग कुपोषण को दूर करने के लिए भी किया जाता है। कुलथी दाल की पौष्टिक तत्व से जुड़ी जानकारी नीचे दी गई टेबल से ले सकते हैं।

कुलथी दाल के पौष्टिक तत्व 

कुलथी दाल को इसके पौष्टिक तत्व के कारण सबसे ज्यादा जाना जाता है। कुलथी दाल में प्रोटीन की मात्रा सबसे ज्यादा होती है। इसके अलावा इसमें कई सारे पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जिससे जुड़ी जानकारी नीचे से ली जाती है।

 

पोषण मात्रा – 100 ग्राम
कैलोरी 321 किलो कैलोरी
फाइबर 5.3%
प्रोटीन 22%
कार्बोहाइड्रेट 57.2%
कैल्शियम 287 एमजी
फास्फोरस 311 एमजी
फैट 0.50%
आयरन 6.77 एमजी
थियामिन 0.4 एमजी
राइबोफ्लेविन 0.2 एमजी
नियासिन 1.5 एमजी

कुलथी दाल के फायदे 

कुलथी दाल के पौष्टिक तत्व जानने के बाद आप चाहेंगे कि इसे डाइट में शामिल किया जाए। लेकिन डाइट में शामिल करने से पहले कुलथी दाल के फायदे जरुर जान लें। कुलथी दाल के फायदे आपकी रोजाना की परेशानियों से राहत दिला सकता है। कुलथी दाल के फायदे से जुड़ी विस्तार से जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

कुलथी दाल के फायदे कई सारे हैं।

1. कुलथी दाल- एक प्रकार की औषधि

कुलथी दाल का इस्तेमाल सबसे ज्यादा औषधि के रूप में किया जाता है इसलिए हो सकता है कि आपने इसका नाम कम सुना हो। कुलथी दाल का इस्तेमाल अस्थमा, पथरी, पीलिया, बुखार आदि में किया जाता है। बीमारी में कुलथी की दाल, पानी, सूप पीना लाभदायक होता है।

2. कुलथी दाल के फायदे वजन कम करने के लिए

कुलथी दाल के फायदे सबसे ज्यादा वजन कम करने के लिए जाने जाते हैं। कुलथी दाल में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है। लंबे समय के लिए पेट भरा रहने से आप बार- बार खाना नहीं खाते हैं। इसके साथ ही कुलथी की दाल में कैलोरी की मात्रा कम होती है जिससे कैलोरी का सेवन कम किया जाता है। कई अध्ययन में भी यह पाया गया है कि कुलथी दाल फैटी टिश्शू पर डायरेक्ट अपना असर दिखाती है जिससे फैट कम होता है जिससे वेट लॉस होने में मदद मिलती है।

डंबल्स
कुलथी दाल के फायदे वजन कम करने में मदद करते हैं।

3. कुलथी दाल खाने के फायदे सामान्य कोलेस्ट्रॉल के लिए

कुलथी दाल में प्राकृतिक रूप से फैट बर्न करने के गुण हैं। इसके साथ ही कई अध्ययन में भी यह पाया गया है कि कुलथी दाल के फायदे खराब कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम और अच्छे कोलेस्ट्रॉल लेवल को बढ़ने में मदद करती है। इसलिए कहा जा सकता है कि कुलथी दाल के फायदे कोलेस्ट्रॉल सामान्य बनाए रखने में मदद कर सकते हैं।

4. कुलथी दाल के फायदे डायबिटीज के लिए 

कुलथी दाल के फायदे डायबिटीज के लिए भी बताए गए हैं। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी ने यह पाया है कि दिन में एक बार कुलथी दाल खाने से डायबिटीज से गुजर रहे लोगों को लाभ मिलता है। कुलथी दाल डाइट में शामिल करने से इंसूलिन कम रहता है जिससे शुगर लेवल अचानक से बढ़ता या कम नहीं होता है। डायबिटीज से गुजर रहे लोग कुलथी दाल डाइट में शामिल कर सकते हैं लेकिन इसके बावजूद डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

संबंधित आर्टिकल: सभी दालों के नाम फोटो के साथ

5. कुलथी दाल खाने के फायदे पथरी के लिए 

कुलथी दाल के फायदे पथरी के इलाज के लिए लाभदायक माने जाते हैं। शरीर में कैल्शियम की मात्रा ज्यादा होने से पथरी होने के आसार बढ़ जाते हैं। यहां पर कुलथी की दाल के फायदे काम आते हैं। कुलथी दाल में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो कैल्शियम के जमाव को कम करने में मदद मिलती है। इसके साथ ही यह देखा गया है कि जिन लोगों को पथरी होती है वो लोग कुलथी के पानी का सेवन करते हैं जिसकी रेसिपी की जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं। कुलथी का पानी पथरी के लिए डाइट में शामिल करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

6. कुलथी दाल के फायदे स्वस्थ लिवर के लिए 

कुलथी दाल में दो सेहतमंद कंपाउंड पाए जाते हैं- फ्लेवोनोइड्स और पॉलीफेनोल्स। यह दोनों कंपाउंड लिवर को खतरनाक केमिकल से बाचकर रखते हैं और स्वस्थ तरीके से काम करने में मदद करते हैं।

कुलथीदाल
कुलथी दाल के फायदे लिवर को केमिकल से बचाकर रखने में मदद करता है।

7. कुलथी दाल खाने के फायदे छालों में लाभदायक 

जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि कुलथी दाल में फ्लेवोनोइड्स नाम का कंपाउंड पाया जाता है जो पेट को साफ रखने में मदद करता है। पेट साफ रहने से छोले होने के आसार कम हो जाते हैं और अगर छाले हैं तो ठीक करने में मदद करते हैं।

8. कुलथी दाल के फायदे बुखार में

सर्दी, बुखार होने पर कुलथी दाल के फायदे आपकी मदद कर सकते हैं। सर्दी या बुखार होने पर कुलथी दाल का सेवन किया जा सकता है। जिसके बाद कहा जा सकता है कि कुलथी दाल के फायदे खांसी-जुकाम के घरेलू उपाय की तरह इस्तेमाल किए जा सकता है।

कुलथी दाल के फायदे बुखार में लाभदायक होते हैं।

9. कुलथी दाल खाने के फायदे स्वस्थ डाइजेशन के लिए

कुलथी दाल के फायदे फाइबर के लिए पहले भी बताए गए हैं। स्वस्थ पाचन शक्ति रखने के लिए भी कुलथी दाल के फायदे काम आते हैं। पाचन शक्ति स्वस्थ रखने के लिए फाइबर का सेवन करना चाहिए और कुलथी दाल में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है। कब्ज, दस्त या पेट से जुड़ी किसी भी परेशानी से राहत पाने के लिए कुलथी दाल के फायदे आपकी मदद कर सकते हैं।

10. कुलथी दाल के फायदे त्वचा के लिए 

कुलथी दाल के फायदे त्वचा के लिए भी कई सारे हैं। कुलथी दाल के गुण त्वचा को साफ और पोषण से भरपूर रखने में मदद करते हैं। त्वचा के लिए कुलथी दाल का इस्तेमाल पीसकर त्वचा पर किया जा सकता है। ऐसा करने से डेड सेल निकलते हैं जिससे स्वस्थ साफ हो जाती है। इसके साथ ही सनबर्न से भी बचाव मिलता है।

11. कुलथी दाल के फायदे बालों के लिए

कुलथी दाल के फायदे बालों को मजबूत बनाने में भी मदद करते हैं। कुलथी दाल खाने से बाल मजबूत बनते हैं। कुलथी का सेवन आप दाल, सूप या पानी के रूप में कर सकते हैं। कुलथी से बालों को जरुरी पौष्टिक आहार मिलते हैं।

कुलथी दाल का उपयोग कैसे करें 

कुलथी दाल का उपयोग कई तरह से किया जा सकता है। कुलथी दाल का उपयोग आप पाउडर, पानी, दाल, उबालकर भी कर सकते हैं। और इनको कैसे बनाया जाता है से जुड़ी जानकारी भी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. कुलथी पाउडर

कुलथी पाउडर आप घर में भी बना सकते हैं। कुलथी पाउडर का इस्तेमाल आप वेट लॉस के लिए कर सकते हैं।

कुलथी पाउडर बनाने की विधि

  • कुलथी पाउडर बनाने के लिए सबसे पहले कुलथी दाल पैन में रोस्ट करें।
  • इसके बाद तिल रोस्ट करें।
  • अब सूखी लाल मिर्च, काली मिर्च और जीरा रोस्ट करें।
  • आखिर में इसमें हींग और स्वादानुसार नमक डालें।
  • सभी रोस्ट की गई सामग्री को ग्राइंडर में डालें और ग्राइंड करें।
  • कुलथी का पाउडर तैयार है।
कुलथी दाल पाउडर
कुलथी दाल पाउडर घर में बनाएं।

2. कुलथी का पानी

कुलथी दाल के फायदे आप कुलथी के पानी से भी ले सकते हैं। कुलथी का पानी आप आसानी से बना सकते हैं।

कुलथी पानी बनाने की रेसिपी

  • कुलथी पानी बनाने बनाने के लिए आपको कुलथी का पाउडर और पानी या लस्सी की जरुरत है।
  • एक गिलास पानी या लस्सी लें।
  • अब एक चम्मच कुलथी पाउडर अच्छे से मिक्स करें और रोज खाली पेट इसका सेवन करें। ऐसा करने से पेट से जुड़ी कई बीमारियां दूर हो सकती हैं।

3. अंकुरित कुलथी दाल

कुलथी दाल को उगाकर भी खा सकते हैं। इसको भी वैसे ही उगाना है जैसे आप बाकी अनाज जैसे कि मूंग, चने उगाते हैं।

  • रातभर के लिए कुलथी दाल में पानी डालकर रखें।
  • अगली सुबह पानी निकाल दें।
  • अब इन्हें बिना पानी के रखें।
  • 2 से 3 दिन में कुलथी दाल अंकुरित हो जाएगी।
उगे हुए कुलथी दाल
कुलथी दाल उगाकर भी खा सकते हैं।

4. कुलथी दाल उबालकर खाएं

कुलथी दाल का सेवन उबालकर भी कर सकते हैं। अगर आपके पास सुबह समय कम होता है तो सिर्फ कुलथी दाल को उबालकर खाना भी एक सेहतमंद ऑप्शन है।

  • इसमें आपको सिर्फ कुलथी दाल को पानी में उबालना है।
  • जब तक सोफ्ट ना हो जाए तब तक उबालें।
  • उबलने के बाद नमक और काली मिर्च डालकर खाएं।

कुलथी दाल से बनने वाली डिश

कुलथी दाल जितनी सेहतमंद है उतनी ही खाने में स्वादिष्ट भी लगती है। कुलथी दाल से आप कई सारी स्वादिष्ट डिश बना सकते हैं। कुलथी दाल से बनने वाली डिश की रेसिपी से जुड़ी जानकारी नीचे से ले सकते हैं।

1. कुलथी दाल

कुलथी दाल बनाने की विधि बाकी दाल बनाने की तरह ही है। बस फर्क इतना है कि आपको कुलथी दाल को रातभर भिगाना और फिर प्रेशर कुकर में 8 से 9 सीटी लगानी है।

कुलथी दाल बनाने की रेसिपी

  • कुलथी दाल बनाने के लिए सबसे पहले रातभर दाल पानी में भिगाकर रखें।
  • अगले दिन, प्रेशर कुकर में तेल, हल्दी, नमक डालकर मीडियम गैस पर दाल रख दें और 8 से 9 सीटी आने दें।
  • अब कुलथी दाल के लिए तड़का तैयार करें।

2. कुलथी दाल का सूप

अगर आपको अपने सूप को और भी ज्यादा सेहतमंद बनाना है तो इसे कुलथी की दाल से बना सकते हैं। कुलथी की दाल से सूप बनाने की रेसिपी बाकी सूप की तरह ही है।

कुलथी सूप बनाने की रेसिपी

  • कुलथी सूप बनाने के लिए 30 से 45 मिनट के लिए कुलथी दाल पानी में उबालें। या तब तक उबालें जब तक यह सोफ्ट ना हो जाए।
  • अब पैन में तेल डालें और गर्म होने दें।
  • तेल गर्म होने के बाद इसमें जीरा, लहसुन, अदरक, हरी मिर्च और प्याज डालें।
  • इन सभी को अच्छे से भुने।
  • अब कसा हुआ टमाटर डालें और पकाएं।
  • टमाटर पकने के बाद इसमें उबली हुई कुलथी दाल डालें और पकाएं।
  • कुलथी दाल पकने के बाद जैसी स्थिरता आपको सूप की चाहिए उतना पानी डालें।
  • पानी डालने के बाद सूप पकाएं।
  • पकने के बाद गैस बंद करें और आपका कुलथी दाल का सूप तैयार है।
कुलथी दाल का सूप भी बना सकते हैं।

3. कुलथी दाल के पराठे

कुलथी दाल के पराठे बनाने बेहद आसान हैं। इसके लिए आपको कुलथी दाल रातभर पानी में भिगाकर रखनी है।

  • रातभर भिगाई गई कुलथी दाल को ग्राइंडर में ग्राइंड कर लें।
  • लहसुन, अदरक, हरी मिर्च, नमक डालकर अलग से ग्राइंड करें।
  • जैसे आप आलू के पराठे बनाते हैं वैसे ही कुलथी के पराठे बनाए।
  • पराठे में कुलथी की दाल की फिलिंग करें और तवे में सेकें।
  • कुलथी के स्वादिष्ट पराठे तैयार हैं।

4. कुलथी दाल के पकोड़े

अगर आपको अपने पकोड़े में अलग स्वाद लाना है तो कुलथी की दाल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसकी रेसिपी भी आम पकोड़ो से मिलती है।

  • रातभर पानी में भिगाई गई कुलथी दाल को ग्राइंड कर लें।
  • अब ग्राइंड की दाल में बारी क कटा हुआ लहसुन, अदरक, हरी मिर्च, लाल मिर्च और स्वादानुसार नमक डालें।
  • इस मिश्रण को इक्ट्ठा करने के लिए इसमें चावल का आटा डालें और अच्छे से गूंथे।
  • अब कढ़ाई लें और तेल गर्म करें।
  • गर्म तेल में और कुलथी की दाल के पकोड़ो को डीप फ्राई करें।
  • कुलथी दाल के पकोड़ो को सॉस या लाल चटनी के साथ खा सकते हैं।

कुलथी दाल के नुकसान 

कुलथी दाल के फायदे जानने के साथ- साथ जरुरी है कि आप कुलथी दाल के नुकसान से जुड़ी जानकारी भी प्राप्त कर लें। कुलथी दाल का सेवन करते समय कुलथी दाल के नुकसान से जुड़ी जानकारी भी होनी जरुरी है।

  • गर्भवति महिलाएं डॉक्टर की सलाह के बाद ही कुलथी दाल का सेवन करें।
  • कुलथी दाल में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है इसलिए सही मात्रा में ही कुलथी दाल खाएं।
  • गैस की परेशानी से गुजर रहे लोग कुलथी दाल का सेवन ना करें।

आखिर में

आमतौर पर कुलथी दाल का सेवन नहीं किया जाता है लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए। कुलथी दाल के फायदे जानने के बाद आप चाहेंगे कि इसको डाइट में शामिल किया जाए। कुलथी दाल को डाइट में शामिल करने से आपको शरीर से जुड़े कई फायदे मिल सकते हैं।

इसके साथ ही आप यहां से कुलथी दाल डाइट में शामिल करने के कई ऑप्शन प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन इसके साथ ही कुलथी दाल के नुकसान से जुड़ी जानकारी भी होनी चाहिए क्योंकि अधिक मात्रा में कुलथी दाल खाने से नुकसान भी हो सकते हैं।

FAQs

1. क्या कुलथी दाल रोजाना खा सकते हैं?

रोजाना सही मात्रा में कुलथी दाल का सेवन किया जा सकता है। वेट लॉस डाइट में कुलथी दाल को शामिल करना एक अच्छा ऑप्शन है।

2. कुलथी दाल पथरी में लाभदायक होती है?

अधिक मात्रा में कैल्शियम जमा होने से पथरी हो जाती है। कुलथी दाल एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है जो पथरी को कम करने में मदद करती है। लेकिन इसके बावजूद डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

3. क्या कुलथी दाल खाने से वजन कम होने में मदद मिलती है?

कुलथी दाल में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है और जिससे कम खाया जाता है। इसके साथ ही कुलथी दाल में कैलोरी कम होती है जिससे वेट लॉस में मदद मिलती है।

4. कुलथी दाल के फायदे बालों के लिए किस प्रकार हैं?

कुलथी दाल का पानी पीने से कई सारे पौष्टिक तत्व प्राप्त होते हैं जिससे बाल में सेहतमंद और मजबूत बनते हैं।

टीम मिश्री

टीम मिश्री शोधकर्ता, समीक्षक, डिजिटल कंटेंट प्रोड्यूसर और लेखकों की टीम है जो टेस्ट किचन में हर रिव्यू का हिस्सा होते हैं। यह सभी प्रोडक्ट की रिव्यू, टेस्ट करते हैं और रिजल्ट पर पहुंचने से पहले उस प्रोडक्ट की विशेषताएं, अच्छी और बुरी बातों के बारे में विस्तार से चर्चा, विचार-विमर्श करते हैं। सभी रिव्यू में टीम के सदस्यों से महत्वपूर्ण सुझाव प्राप्त किए गए हैं और जहां से बाइलाइन पूरी टीम से संबंधित है - टीम मिश्री!

Comments (7)

  • Kailash Chhetri Reply

    मरी अपरेशन हुआ है। टाका है क्या में यह दाल का सेवन क। सकता हुँ ?

    February 3, 2021 at 9:44 am
  • Vaibhav L Kurhade Reply

    Bahut hi sundar aur vistar poorv lekhan hai. Bahut bahut dhanyawad Surabhi ji.

    April 26, 2021 at 4:01 pm
    • mishryhindi Reply

      हैलो वैभव
      ऐसे कई आर्टिकल आप हमारी वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं। आप किस तरह से कुलथी दाल के फायदे अपनी डाइट में शामिल करते हैं?
      धन्यवाद।

      April 26, 2021 at 4:06 pm
  • Soumya Das Reply

    We used to have this dal . In our village they used to soak , boil with salt n turmeric and grind the dal. Then give tadka with oil mustard seeds, Lal mirch n curry leaves. Finally add little imli paste and jaggery. This khatta mitha dal is not only healthy but also tasty… Just an after thought looking at the flip side that it makes gas then why don’t we put ajwain may be during tadka….do try..

    May 4, 2021 at 9:44 am
    • mishryhindi Reply

      हैलो सौम्या दास
      कुलथी दाल बनाने की शानदार रेसिपी हमारे रिडर्स के साथ शेयर करने के लिए बहुत- बहुत धन्यवाद। इसमें कोई शक की बात नहीं है कि कुलथी दाल खाने में लाजवाब होती है और साथ ही इसके फायदे भी बहुत सारे हैं। क्या आपने कुलथी दाल का उपयोग दाल बनाने के अलावा किसी और तरीके से किया है?

      May 4, 2021 at 10:58 am
  • Dalip singh Reply

    Bahut upyogi jankari ke liye dhanyavad

    May 30, 2021 at 9:38 am
    • mishryhindi Reply

      हैलो दिलिप सिंह
      कुलथी दाल बहुत लाभदायक है। आप किस तरह से कुलथी दाल डाइट में शामिल करते हैं? आप इसकी रेसिपी के बारे में भी बता सकते हैं।
      धन्यवाद।

      May 31, 2021 at 3:14 pm

Leave a Reply on कुलथी दाल के फायदे, उपयोग और नुकसान – सबसे ज्यादा पौष्टिक दाल

Your email address will not be published. Required fields are marked *