कोहिनूर दुबार बासमती राइस रिव्यू (Kohinoor Dubar Basmati Rice Review)

कोहिनूर दुबार बासमती राइस रिव्यू (Kohinoor Dubar Basmati Rice Review)

kohinoor basmati rice review

कोहिनूर दुबार बासमती राइस रिव्यू (Kohinoor Dubar Basmati Rice Review)

कोहिनूर दुबार बासमती राइस (Kohinoor Dubar Basmati Rice) खुशबूदार है और चावल अच्छे से फूल जाते हैं। रोजाना इस्तेमाल करने के लिए अच्छा ऑप्शन है।

मिश्री रेटिंग

स्वाद
4 / 5
4
टैक्शर
4 / 5
4
खुशबू
4 / 5
4
पकाने का समय
4 / 5
4
4
SUPERB!

Quick Review Summary

कोहिनूर दुबार बासमती राइस (Kohinoor Dubar Basmati Rice) मीडियम- लंबे चावल हैं। चावल में बासमती की अलग खुशबू है और यह अच्छे से पक जाते हैं। यह चिपचिपे नहीं है।

अगर आपको लगता है कि बासमती का मतलब सिर्फ बिरयानी चावल होता है तो शायद आपको दोबारा सोचने की जरूरत है। पूरी दुनिया में बासमती चावल अपनी अलग खुशबू के लिए पॉपुलर है। लेकिन सारे बासमती चावल बिरयानी या पुलाव के लिए नहीं होते हैं। बासमती चावल में भी विभिन्न प्रकार हैं जैसे कि दुबार, तिबार, शरबती, सेला, पूसा आदि। इन सभी बासमती चावल का साइज और कीमत अलग होती है।

बासमती चावल के कुछ प्रकार कई पॉपुलर ब्रांड के 1 किलो, 5 किलो और 10 किलो पैकेजिंग में उपलब्ध हैं। इस बार हमने कोहिनूर दुबार बासमती राइस का रिव्यू किया है। रिव्यू करते समय हमने चावल की लंबाई, खुशबू, पकने का समय और रंग पर ध्यान दिया है। कोहिनूर दुबार बासमती राइस से जुड़ी अधिक जानकारी आप इस रिव्यू से प्राप्त कर सकते हैं।

रिव्यू में आगे बढ़ने से पहले आपको दुबार चावल के बारे में जानकारी होनी चाहिए। दुबार बासमती चावल क्या है? दुबार चावल टूटा हुआ लंबा बासमती चावल होता है जिसकी लंबाई बासमती चावल की 75% होती है। लंबे बासमती चावल की तरह यह खुशबूदार होते हैं और रोजाना इस्तेमाल करने के लिए बेस्ट है।

इस सेक्शन से आप बासमती चावल पकाने का तरीका, खुशबू, टैक्शर, रंग और कोहिनूर दुबार बासमती राइस के साइज के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

1. पकाने का तरीका

पैक पर दी गई जानकारी के अनुसार कोहिनूर दुबार बासमती राइस को दो तरीके से पका सकते हैं। पहला, खुले बर्तन में और दूसरा, बंद बर्तन में। 

खुले बर्तन में पकाने का तरीका

  • बर्तन में 4 कप पानी डालें और उबालें।
  • 1 कप चावल डालें। नमक, बटर/ तेल डालें (इच्छानुसार)।
  • बिना ढक्कन के 7-8 मिनट के लिए पकाएं और बीच- बीच में मिक्स करें।
  • एक्स्ट्रा पानी निकाल कर 15 मिनट के लिए रख दें। अब खाएं और खिलाएं।

बंद बर्तन में पकाने का तरीका

  • बर्तन में 2 कप पानी डालें और उबालें।
  • 1 कप चावल डालें। नमक, बटर/ तेल डालें (इच्छानुसार)।
  • ढक्कन ढक कर तब कर पकाएं जब तक सारा पानी भाप बन जाए।
  • अब 5 मिनट के लिए चावल रख दें। और खाएं और खिलाएं।

हमने कैसे चवाल बनाएं

  • हमने बजाज राइस कुकर में चावल बनाएं (बेस्ट राइस कुकर रिव्यू का विजेता)।
  • हमने ½ कप भीगे हुए चावल और 1 कप पानी डालें।
  • स्वाद बढ़ाने के लिए हमने नमक और बटर डाला। हमने भारत में बेस्ट बटर ब्रांड का विजेता प्रेसिडेंट बटर का इस्तेमाल किया है।
  • चावल अच्छे से 17 मिनट में बन गए थे।
बजाज राइस कुकर में कोहिनूर दुबार बासमती चावल बनाते समय
बजाज राइस कुकर में कोहिनूर दुबार बासमती चावल बनाते समय
कोहिनूर दुबार बासमती चावल बनाते समय हमने बटर भी डाला था
कोहिनूर दुबार बासमती चावल बनाते समय हमने बटर भी डाला था

2. फ्लेवर

बासमती चावल का फ्लेवर अलग होता है जैसे कि नटी और फूलों की खुशबू वाला। कोहिनूर दुबार बासमती चावल में प्यारा फ्लेवर है जो बटर डालने से बढ़ गया था।

3. टैक्शर और रंग

सही मायने में कहा जाए तो बासमती चावल फल्फी होते हैं और एक दूसरे से चिपकते नहीं है। प्राकृतिक रूप से पुराने चावल दिखने में खिले- खिले होते हैं जिस वजह से बासमती चावल को पसंद किया जाता है। कोहिनूर दुबार बासमती चावल में खिले- खिले रहने की क्वालिटी होती है। चावल का सेहतमंद सफेद रंग होता है। चावल पीले या बेरंग नहीं होते हैं।

4. खुशबू

पूरी दुनिया में बासमती चावल खुशबूदार होने के कारण पॉपुलर है। बासमती चावल में हल्की नटी और फूलों वाली खुशबू होने के कारण यह अलग है। इसलिए बासमती चावल की खुशबू पर ध्यान देना बेहद जरूरी है।

रिव्यू के समय बासमती चावल बनाते समय पूरी टेस्ट किचन खुशबू से भर गई थी। यहां तक की बिना पके बासमती चावल भी खुशबूदार थे।

5. चावल का साइज

आमतौर पर बिरयानी बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाले चावल के मुकाबले दुबार चावल छोटे होते हैं। साइज की जांच के लिए हमने उबले हुए कोहिनूर दुबार बासमती चावल की जांच की और देखा कि क्या इसका इस्तेमाल रोजाना बनने वाली इंडियन रेसिपी में किया जा सकता है।

6. कीमत

कोहिनूर दुबार बासमती चावल के 1 किलो पैक की कीमत 125/- रुपए है।

7. पोषण की जानकारी

*पैक पर दी गई जानकारी के अनुसार

सर्विंग साइज – बिना पके 100 ग्राम चावल

 

एनर्जी (किलो कैलोरी) 296
प्रोटीन (g) 7
फैट (कुल) (g) 0.3
कार्बोहाइड्रेट (g) 66
डायटरी फाइबर 3
शुगर <0.1

 

8. उपलब्ध साइज

कोहिनूर दुबार बासमती चावल दो साइज में आते हैं – 1 किलो बैग और 5 किलो बैग।

कोहिनूर दुबार बासमती चावल रिव्यू

कोहिनूर दुबार बासमती चावल प्रोडक्ट की जानकारी
कीमत 125/- रुपए
मात्रा 1 किलो
उपलब्ध साइज 1 किलो, 5 किलो
उपलब्धता ऑनलाइन और ऑफलाइन
शेल्फ लाइफ 24 महीने

 

कोहिनूर दुबार बासमती चावल रिव्यू के समय हमने सूखे और चावल पकाने के बाद इस प्रोडक्ट के बारे में हमारा यह कहना है।

बिना पके हुए चावल का रंग दबा हुआ सफेद है। दुबार चावल का साइज उतना ही है जितना होना चाहिए, लंबे चावल का 75%। इसमें कुछ टूटे हुए चावल है और कुछ का साइज और लंबाई बरकरार। 

चावल अच्छे से पक गए थे और एक दूसरे से चिपके भी नहीं थे। बासमती चावल में प्यारी खुशबू और टैक्शर था। यह नए चावल नहीं थे और अच्छे पुराने चावल थे। ऐसा हम इसलिए कह सकते हैं क्योंकि यह अच्छे से पक गए थे और चिपके भी नहीं थे। नए चावल आमतौर पर चिपचिपे होते हैं और पकाते समय ज्यादा पानी इस्तेमाल होता है।

कोहिनूर दुबार बासमती चावल का रंग दबा हुआ सफेद है
कोहिनूर दुबार बासमती चावल का रंग दबा हुआ सफेद है
कोहिनूर दुबार बासमती चावल फल्फी और खिले खिले हैं
कोहिनूर दुबार बासमती चावल फल्फी और खिले खिले हैं

खूबियां

  • 1 किलो पैक की कीमत 125/- रुपए है।
  • इस प्रोडक्ट की शेल्फ लाइफ 24 महीने की है।
  • कोहिनूर दुबार बासमती चावल पुराने है।
  • पैक पर दी गई जानकारी के अनुसार चावल दो तरीके से बना सकते हैं- खुले बर्तन में पकाना और बंद बर्तन में पकाना।

अच्छी बातें

  • बासमती चावल खुशबूदार है।
  • चावल फल्फी थे और एक दूसरे से चिपके नहीं थे। 
  • दुबार चावल की लंबाई सही है।

किसके लिए बेस्ट है?

दुबार चावल उनके लिए बेस्ट है जो रोजाना उबले हुए चावल, जीरा चावल, घी चावल और पुलाव खाना पसंद करते हैं।

FAQs

1. कौन- से चावल बेस्ट है – दुबार या तिबार? (Which rice is better – Dubar or Tibar?)

दुबार और तिबार चावल में इनके साइज में अंतर होता है। तिबार चावल के मुकाबले दुबार चावल बड़े होते हैं। ‘कौन- सा बेहतर’ है का जवाब इस पर निर्भर करता है कि चावल का इस्तेमाल किसके लिए किया जा रहा है। अगर आप खिचड़ी या खीर बना रहे हैं तो चावल का साइज ज्यादा जरूरी नहीं है। इस काम के लिए नए चावल का इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है। पुलाव और बिरयानी बनाने के लिए चावल का साइज ध्यान में रखना जरूरी है।

2. क्या दुबार बिरयानी के लिए अच्छा है? (Is Dubar good for biryani?)

बिरयानी बनाने के लिए लंबे बासमती चावल का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन रोजाना इस्तेमाल के लिए दुबार चावल का इस्तेमाल किया जा सकता है।

3. कोहिनूर दुबार बासमती चावल के 1 किलो पैक की कीमत क्या है? (What is the cost of 1 kg Kohinoor Dubar Basmati Rice?)

कोहिनूर दुबार बासमती चावल के 1 किलो पैक की कीमत 125/- रुपए है।

4. पूरी दुनिया में सबसे बड़ी बिरयानी किसके द्वारा बनाई गई है? (Who made the largest biryani in the world?)

दुनिया की सबसे बड़ी बिरयानी कोहिनूर फूड्स लिमिटेड (भारत) के द्वारा दिल्ली में 2008 में बनाई गई थी। ब्रांड के द्वारा गिनीज रिकॉर्ड भी बनाया गया है।

आखिर में

कोहिनूर डाबर बासमती चावल खुशबूदार है और अच्छे से पके थे। इनमें गांठ या चावल चिपचिपे नहीं बनते हैं। चावल खिले- खिले और लंबे थे। पुलाव बनाने के लिए अच्छा ऑप्शन है।

रोजाना इस्तेमाल के लिए आप किस तरह के बासमती चावल का उपयोग करते हैं? हमें कमेंट में जरूर बताएं।

*अगर आप हमारे रिव्यू से सेहमत हैं तो लाइक करें और अगर नहीं तो बताएं क्यों।

*अगर आप कोई प्रोडक्ट रिव्यू करवाना चाहते हैं तो यहां बताएं

*फूड एंड बेवरेज में रोज़ाना कुछ न कुछ नया आता रहता है। हमारे रिव्यू आपको किचन का सामान खरीदनें में मदद करेंगे।

*हमारे रिव्यू निष्पक्ष हैं और रिव्यू के लिए सभी प्रोडक्ट हमारे द्वारा खरीदें गए हैं। इससे जुड़ी सारी जानकारी आप यहां से पढ़ सकते हैं

*इस रिव्यू के लिए किसी भी ब्रांड ने स्पान्सर नहीं किया है। सभी खर्चा हमारे द्वारा किया गया है।

टीम मिश्री

टीम मिश्री शोधकर्ता, समीक्षक, डिजिटल कंटेंट प्रोड्यूसर और लेखकों की टीम है जो टेस्ट किचन में हर रिव्यू का हिस्सा होते हैं। यह सभी प्रोडक्ट की रिव्यू, टेस्ट करते हैं और रिजल्ट पर पहुंचने से पहले उस प्रोडक्ट की विशेषताएं, अच्छी और बुरी बातों के बारे में विस्तार से चर्चा, विचार-विमर्श करते हैं। सभी रिव्यू में टीम के सदस्यों से महत्वपूर्ण सुझाव प्राप्त किए गए हैं और जहां से बाइलाइन पूरी टीम से संबंधित है - टीम मिश्री!

Leave a Reply on कोहिनूर दुबार बासमती राइस रिव्यू (Kohinoor Dubar Basmati Rice Review)

Your email address will not be published. Required fields are marked *