गुड़ खाने के फायदे (Benefits Of Jaggery (Gud))
benefits of jaggery (gur)

गुड़ खाने के फायदे (Benefits Of Jaggery (Gud))

गुड़ (gud) का सेवन सही मात्रा में करने से कई सारे फायदे मिल सकते हैं। गुड़ खाने के फायदे (jaggery benefits in hindi) से जुड़ी अधिक जानकारी आप इस आर्टिकल से प्राप्त कर सकते हैं।

क्या आपके घर में खाना खाने के बाद गुड़ (gud) खाया जाता है? अधिकतर भारतीय घर में खाना खाने के बाद गुड (gud) का सेवन किया जाता है। आमतौर पर खाना खाने के बाद मीठा खाने का मन करता है जिसके लिए गुड़ (gud) बहुत अच्छा विकल्प है। कहा जाता है गुड (gud) सिर्फ सर्दियों में खाया जाता है लेकिन ऐसा नहीं है। गुड़ (gud) को आप पूरे साल खा सकते हैं क्योंकि गुड़ खाने के फायदे (gud khane ke fayde) कई सारे हैं जैसे कि स्वस्थ पाचन शक्ति, लिवर साफ करने में मदद, एनर्जी देने में मदद आदि। और अधिक गुड के फायदे (jaggery benefits in hindi) जानने के बाद आप इसे पूरे साल खाना शुरु कर देंगे। आज आप इस आर्किटल से गुड़ खाने के फायदे (gud khane ke fayde) से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

गुड़ खाने के फायदे (gud khane ke fayde) कई सारे हैं।

गुड़ खाने के फायदे (Benefits Of Jaggery (Gud))

गुड़ (gud) आपको स्वाद के साथ- साथ सेहत का भी वादा करता है। सेहत का वादा तभी पूरा हो पाएगा जब आप इसका सेवन सही मात्रा में करेंगे। गुड (gud) प्राकृतिक मिठास की तरह काम करता है। इसको आप कई डिश में भी डाल सकते हैं। गुड़ के फायदे (jaggery benefits in hindi) से जुड़ी विस्तार से जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. गुड़ के फायदे पेट के लिए (Jaggery Benefits For Stomach in Hindi)

आपके घर में अगर कोई खाना खाने के बाद गुड़ (gud) खाता है तो क्या आपने पूछा है कि वे गुड (gud) क्यों खाते हैं? इसका जवाब हमारे पास है। कुछ लोग स्वाद के लिए गुड़ (gud) खाते हैं वहीं कुछ लोग पाचन शक्ति को स्वस्थ बनाए रखने के लिए गुड़ (gud) खाते हैं। गुड (gud) खाने से पाचन शक्ति स्वस्थ रहती है इसके साथ ही अगर आपको कब्ज, गैस या एसिडिटी है तो आपको गुड खाने से फायदे (jaggery benefits in hindi) मिलेगा। गुड़ खाने से इन दिक्कतों से राहत मिलने में मदद मिलती है।

2. आंखों के लिए फायदेमंद है गुड़ (Benefits Of Jaggery For Eyes)

जी हां आपने सही पढ़ा है कि गुड़ (gud) आंखों के लिए बहुत फायदेमंद है। अगर आपको आंखों की समस्या है तो आप रोजाना गुड़ (gud) का सेवन कर सकते हैं। सही मात्रा में गुड (gud) का खाने से आंखें कमज़ोर होने से बची रहती हैं। इसके साथ ही आंखों की रोशनी बनी रहने में भी मदद मिलती है।

आंखों की रोशनी के लिए लाभदायक है गुड़।

3. गुड़ खाने के फायदे मजबूत हड्डियों के लिए (Jaggery Benefits For Strong Bones in Hindi)

अगर आपके घर में किसी को जोड़ों की परेशानी है तो आप उन्हें सही मात्रा में गुड़ (gud) खाने की सलाह दे सकते हैं। आपको बता दें कि गुड़ (gud) में कैल्शियम और फास्फोरस पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए जरुरी पोष्टिक तत्व है। इनका सेवन सही मात्रा में करने से हड्डियां मजबूत बनी रहने में मदद मिलती है। रोजाना गुड (gud) के साथ अदरक खाने से जोड़ों के दर्द में राहत मिलती है।

4. गले की खराश के लिए लाभदायक है गुड़ (Benefits Of Jaggery For Sore Throat)

गले में खराश होने पर भी गुड़ (gud) का इस्तेमाल किया जा सकता है। खांसी होने पर गले में दर्द और खराश हो जाती है, ऐसा होने पर आप गुड (gud) को गुनगुना कर सेवन कर सकते हैं। ऐसा करने से गले में राहत मिलती है। खांसी के घरेलू उपाय के तौर पर गुड़ का इस्तेमाल किया जा सकता है।

5. सर्दी- जुकाम के लिए लाभकारी गुड़ (Jaggery Benefits For Cough-Cold in Hindi)

सर्दी- जुकाम कभी भी हो सकता है और अगर खांसी का घरेलू उपाय कर लिया जाए तो इससे बेहतर क्या है। दवाई का सेवन करने से पहले घरेलू उपाय का उपयोग करना चाहिए। खांसी- जुकाम होने पर गुड़ (gud) का सेवन दूध या चाय के साथ करने से आराम मिल सकता है। गुड़ (gud) गर्म होता है जिस कारण सर्दी- जुकाम में जल्दी आराम मिलता है। गुड (gud) का सेवन अदरक के साथ भी कर सकते हैं या फिर गुड़ (gud) का काढ़ा भी बनाकर सेवन कर सकते हैं।

गुड़ खांसी-जुकाम से राहत देने में मदद करता है।

6. गुड़ ब्लड प्रेशर सामान्य बनाए रखने में मददगार होता है (Benefits Of Jaggery For Maintaining Blood Pressure)

हाई ब्लड प्रेशर होने पर भी गुड़ (gud) का सेवन किया जा सकता है। हाई ब्लड प्रेशर में गुड (gud) खाने से ब्लड प्रेशर सामान्य बने रहने में मदद मिलती है।

7. एनर्जी देने में मदद करता है गुड़ (Jaggery Benefits Gives Energy)

अगर आपको दिनभर थकान महसूस होती है तो गुड (gud) का सेवन कर सकते हैं। रोजाना सही मात्रा में गुड़ खाने से शरीर को एनर्जी मिलती है जिससे थकान महसूस नहीं होती है। इसके साथ ही गुड़ का सेवन करने से शरीर का तापमान भी सामान्य बना रहता है।

8. आयरन की कमी को पूरा करता है गुड़ (Jaggery Full Fills Iron Deficiency)

अगर आपके शरीर में आयरन की कमी है तो गुड (gud) का सेवन कर सकते हैं। आयरन की कमी पूरी करने के लिए गुड़ एक अच्छा विकल्प है। सही मात्रा में गुड़ (gud) खाने से आयरन की कमी पूरी होने में मदद मिलती है। गुड को डाइट में शामिल करने से पहले डॉक्टर से भी सलाह ले सकते हैं।

9. खून की कमी दूर करने में मदद करता है गुड़ (Jaggery Full Fills Blood Deficiency)

जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि गुड़ (gud) का सेवन करने से आयरन की कमी दूर होने में मदद मिलती है। इसके साथ ही गुड़ खाने (gud) से खून की कमी भी नहीं होती है। अगर आप में हिमोग्लोबिन की कमी है तो गुड का सेवन (gud) कर सकते हैं।

गुड़ से खून की कमी दूर होने में मदद मिलती है।

10. गुड़ इम्युनिटी मजबूत करने में लाभदायक (Benefits Of Jaggery For Strong Immunity)

गुड़ (gud) एंटीऑक्सीडेंट और मिनरल्स से भरपूर होता है जिससे फ्री रेडिकल का खतरा कम रहता है और इम्युनिटी को स्ट्रोंग बनाने में मदद मिलती है। इम्युनिटी स्ट्रोंग होने से इंफ्केशन का भी खतरा कम रहता है।

गुड़ से बनने वाली डिश (Jaggery Dishes)

गुड़ से कई डिश बनाई जा सकती है। अगर आप नई- नई डिश बनाने का शौक रखते हैं तो आप गुड़ से भी कई डिश बना सकते हैं। गुड़ से बनने वाली डिश से जुड़ी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं।

1. गुड़ का हलवा (Gud Ka Halwa)

अगर आप सूजी और आटे के हलवे में कुछ अलग करने चाहते हैं तो गुड़ का हलवा एक अच्छा ऑप्शन है। इसके लिए आपको सबसे पहले घी में सूजी को रोस्ट करना है और फिर गुड़ और पानी मिलाकर हलवा पकाना है। हलवा तब तक पकाना है जब तक इसकी स्थिरता हलवे जैसी ना हो जाए। इसमें दूध भी डाला जा सकता है। आखिर में गुड़ के हलवे में ड्राई फ्रूट्स भी डाल सकते हैं।

2. गुड़ का पुलाव (Jaggery Pulao)

ज़ाहिर सी बात है कि गुड़ का पुलाव मीठा होगा। गुड़ का पुलाव बनाने के लिए चावल को दूध, मसाले, ड्राई फ्रूट और गुड़ से बनाया जाता है।

पुलाव में गुड़ डालकर और स्वादिष्ट बनाएं।

3. गुड़ के लड्डू (Jaggery Ladoo)

गुड़ के लड्डू बहुत लोगों की पसंद होते हैं। गुड़ के लड्डू नारियल, चावल का आटा और गुड़ से बनाया जाता है। यह लड्डू भी सामान्य लड्डू की तरह बनाए जाते हैं लेकिन इसमें मिठास के लिए गुड़ क इस्तेमाल किया जाता है।

4. गुड़ की चिक्की (Jaggery Chikki)

चिक्की का नाम लेते ही मुंह में पानी आ जाती है। इसको आप घर में भी बना सकते हैं। गुड़ और मूंगफली की चिक्की सबसे पॉपुलर है। कढ़ाई में घी गर्म कर लें और इसमें गुड़ डालें और गुड़ पिघलने दें। गुड़ की चाशनी बनने के बाद इसमें मूंगफली के छिले हुए दाने डालें। अब इस मिश्रण को प्लेट में निकाल लें और फिर चिक्की को काट लें। आपकी चिक्की तैयार है।

5. गुड़ की रोटी (Gur Ki Roti)

गुड़ की रोटी बनानी बेहद आसान है। गुड़ की रोटी बनाने के लिए अपने सामान्य रोटी वाले आटे में गुड़ का पाउडर डालें और आटा लगा लें। अब तवे पर रोटी बनाएं और मज़े से खाएं।

आखिर में

गुड़ के फायदे कई सारे हैं अगर इसका सेवन सही मात्रा में और सही तरीके से किया जाए। आपको बता दें कि अधिक मात्रा में गुड़ खाने से गुड़ के नुकसान भी हो सकते हैं जैसे कि वजन बढ़ना, ब्लड शुगर लेवल बढ़ना, इंफेक्शन का खतरा बढ़ना आदि। इन सभी नुकसान से बचने के लिए गुड़ का सेवन सही तरीके से करना चाहिए। गुड़ को कई तरीके से खाया जा सकता है। जो तरीका आपको पसंद उस तरीके से सही मात्रा में गुड़ खाएं।

FAQs

  1. क्या गुड़ वजन कम करने के लिए लाभदायक है? (Is jaggery good for weight loss?)

    यह हैरानी की बात है लेकिन सच भी है कि सही मात्रा में गुड़ का सेवन करने से वजन कम होने में मदद मिल सकती है। गुड़ (gud) पोटैशियम पाया जाता है जो मेटाबोलिज्म को बढ़ाने में मदद करता है जिससे वजन कम होने में मदद मिलती है।

  2. क्या रिफाइंड चीनी के मुकाबले गुड़ ज्यादा सेहतमंद होता है? (Is Jaggery healthier than sugar?)

    ऐसा माना जाता है कि रिफाइंड चीनी के मुकाबले गुड़ (gud) थोड़ा ज्यादा सेहतमंद होता है। लेकिन इसको लेकर अभी कोई दावा नहीं किया जा सकता है। लेकिन आहार की बात करें तो गुड़ में विटामिन और मिनरल्स पाए जाते हैं जो चीनी के मुकाबले अच्छे हैं।

  3. क्या गुड़ बालों के लिए लाभदायक है? (Is jaggery good for hair growth?)

    बालों को बढ़ाने के लिए सही मात्रा में आयरन का सेवन करना जरुरी है। आयरन लेने के लिए आप अपनी डाइट में गुड़ (gud) शामिल कर सकते हैं। गुड़ के अलावा हरी सब्जी, खजूर आदि में भी आयरन पाया जाता है।

  4. गुड़ के नुकसान क्या हैं? (What are the disadvantages of jaggery?)

    अधिक मात्रा में गुड़ (gud) का सेवन करने से नुकसान हो सकता है जैसे कि वजन बढ़ना, अपच, ब्लड शुगर लेवल बढ़ना, इंफ्केशन का खतरा बढ़ना आदि।

लेखक के बारे में

सुरभि शर्मा मिश्री में हिंदी लेखिका हैं। इ्न्हें सवाल पूछना बहुत पसंद है शायद इसी कारण से इनके आर्टिकल आपको विस्तार जानकारी के साथ मिलेंगे। इनका कहना है कि अपने शौक को करियर में बदलने से अच्छा और क्या हो सकता है। लिखने के साथ- साथ और भी कई शोक रहे हैं लेकिन अब इन्हें लगता है कि यह अपना पसंदीदा काम कर रही हैं। 

इस लेखक द्वारा अधिक लेख

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments