ग्रीन टी के 21 फायदे, प्रकार, विधि और नुकसान - मिश्री
ग्रीन टी के फायदे, प्रकार, विधि और नुकसान

ग्रीन टी के 21 फायदे, प्रकार, विधि और नुकसान

ग्रीन टी के फायदे पूरी दुनिया में पॉपुलर हैं। ग्रीन टी का सेवन सही समय और सही तरीके से करने पर ही ग्रीन टी के फायदे मिल सकते हैं। ग्रीन टी के फायदे से जुड़ी जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

सेहत के प्रति सतर्क लोगों की डाइट में यह बेवरेज जरूर मिलेगा। क्या आप पहचान सकते हैं?

ग्रीन टी के फायदे अधिकतर सभी सेहतमंद लोगों की डाइट में जरूर मिल जाएगा। ग्रीन टी को सबसे सेहतमंद वेबरेज माना जाता है। इसके फायदे पूरे शरीर को किसी ना किसी तरीके से मिलते हैं। इसे एंटी-एजिंग बेवरेज भी कहा जाता है। ग्रीन टी के फायदे एंटीऑक्सीडेंट और पौष्टिक आहार से भरपूर होते हैं जो शरीर और दिमाग को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करते हैं। काफी लंबे समय से ग्रीन टी का उपयोग चिकित्सा गुण के लिए किया जा रहा है। ग्रीन टी के फायदे में लो ब्लड प्रेशर से लेकर फ्री रेडिकल कम करने जैसे फायदे शामिल हैं।

आपको बता दें कि ब्लैक टी के मुकाबले ग्रीन टी ज्यादा सेहतमंद होती है और इसका कारण इन दोनों को प्रोसेस करने का तरीके है। अगर ग्रीन टी से मुकाबला करें तो ब्लैक टी को ऑक्सीकरण के संपर्क में ज्यादा लाया जाता है। ऑक्सीजन के संपर्क में आने से पौष्टिक आहार खत्म हो जाते हैं। ब्लैक टी का रंग काला इसलिए होता है क्योंकि इसे ऑक्सीजन के संपर्क में लाया जाता है। इस प्रोसेस को देखते हुए हम यह कह सकते हैं कि ग्रीन टी के फायदे कई सारे हैं।

इस आर्टिकल से आप ग्रीन टी के फायदे से जुड़ी जानकारी विस्तार से प्राप्त कर सकते हैं।

पौष्टिक तत्व मात्रा (100 ग्राम)
एनर्जी 0.96 किलो कैलोरी
कार्बोहाइड्रेट 0
फैट 0
प्रोटीन 0.2 ग्राम
पानी 99.9 ग्राम
कैफीन 12 मिली ग्राम

ग्रीन टी के फायदे

जब भी सेहत से जुड़ी बात होती है तो ग्रीन टी का नाम सबसे पहले दिमाग में आता है। क्या आपने कभी सोचा है कि ग्रीन टी पीना सेहतमंद क्यों है? आपको जानकर खुशी होगी कि इस आर्टिकल में आपको अपने सवालों के जवाब मिल जाएंगे। ग्रीन टी के फायदे सेहत के साथ-साथ त्वचा, बाल आदि से भी जुड़े हुए हैं। ग्रीन टी के फायदे से जुड़ी सारी जानकारी आप यहां से विस्तार से प्राप्त कर सकते हैं। आइए सबसे पहले बात करते हैं ग्रीन टी के फायदे सेहत के लिए क्या हैं।

1. सेहतमंद दिल

ग्रीन टी पीने से खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम हो जाती है जिससे दिल की बीमारियां होने के आसार कम हो जाते हैं। इसके लिए जरूरी है कि सेहतमंद दिल रखने के लिए ग्रीन टी शामिल कर सकते हैं। ग्रीन टी के फायदे इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट के कारण आते हैं। शरीर में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा ज्यादा होने से खून की मात्रा सामान्य बनी रहती है जिससे दिल की बीमारी होने के आसार कम हो जाते हैं। शरीर के हर अंग में सामान्य रूप से खून जाने से सभी अंग सेहतमंद तरीके से काम करते हैं।

2. सामान्य ब्लड प्रेशर

ग्रीन टी के फायदे ब्लड प्रेशर सामान्य रखने के लिए भी जाने जाते हैं। ब्लड प्रेशर की दिक्कत किडनी के द्वारा प्रोड्यूज किए गए एंजाइम के कारण होती है जिसको एंजियोटेनसिन परिवर्तित एंजाइम कहते हैं। ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहने से कई सारी बीमारियां दूर रहती हैं खासतौर पर दिल से जुड़ी बीमारियां। जिसके बाद कहा जा सकता है कि ग्रीन टी के फायदे ब्लड प्रेशर सामान्य और दिल को सेहतमंद रखने में मदद कर सकते हैं।

कांच के कप में ग्रीन टी
ग्रीन टी के फायदे सामान्य ब्लड प्रेशर के लिए

3. कैंसर

ग्रीन टी कैसे कैंसर के होने के आशंका कम करती है पर अध्ययन अभी जारी हैं। लेकिन कुछ अध्ययन में यह बताया गया है कि ग्रीन टी के फायदे शरीर में फ्री रेडिकल कम करने में मदद करते हैं। जब शरीर में सेल के जन्म लेने और मरने का प्रोसेस खराब हो जाता है तब कैंसर पैदा करने वाले सेल का बढ़ना तेज़ हो जाता है जिस कारण से कैंसर होने के आसार बढ़ जाते हैं। ऐसे होने पर कई तरह के कैंसर हो सकते हैं। अगर एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा शरीर में अच्छी बनी हुई है तो कैंसर सेल पैदा होने के आसार कई हद तक कम हो जाते हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट शरीर को किसी भी तरह की गंभीर बीमारी से शरीर का बचाव करने में मदद करते हैं।

4. टाइप 2 डायबिटीज

आजकल डायबिटीज आम बीमारी हो गई है। अगर आपको डायबिटीज से बचाव करना है तो ग्रीन टी के फायदे आपकी मदद कर सकते हैं। ग्रीन टी के फायदे इसमें मौजूद कैटेचिन नाम के कंपाउंड से आते हैं जो इंसुलिन की मात्रा कम रखते हैं। अब्जॉर्बशन रेट और कार्बोहाइड्रेट का डाइजेशन कम होने से ऐसा होता है। लेकिन इसके बावजूद डायबिटीज में ग्रीन टी का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

कांच के कप में चाय
ग्रीन टी के फायदे टाइप 2 डायबिटीज में लाभदायक

5. गठिया

क्या आपको पता है ग्रीन टी के फायदे गठिया में होने वाले दर्द में आराम देने में मदद मिल सकती है। ग्रीन टी में मौजूद ईजीसीजी शरीर में ऐसे अणुओं को जन्म लेने से रोकता है जो गठिया का दर्द और सूजन पैदा करने का मुख्या कारण है। लेकिन इसके बावजूद गठिया के दर्द के लिए ग्रीन टी का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर लें।

6. स्ट्रांग इम्यूनिटी

ग्रीन टी और शहद के फायदे इम्यूनिटी से जुड़े हुए हैं। ग्रीन टी एंटीजन और कैटेचिन से भरपूर होती हैं जो इन्फ्लूएंजा वायरस को खत्म करने में मदद करते हैं। एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा ज्यादा होने के कारण खांसी- जुकाम के लक्षण भी कम हो जाते हैं। इसलिए अंदर से स्ट्रोंग बनने के लिए ग्रीन का सेवन करना एक अच्छा ऑप्शन बन सकता है।

कप में चाय
ग्रीन टी के फायदे स्ट्रांग इम्यूनिटी के लिए

7. एंटी एजिंग

ऐसा कहा जाता है कि जो लोग ग्रीन टी पीते हैं वो लोग ज्यादा जीवन जीते हैं। और साथ ही बढ़ती उम्र में कई तरह की बीमारी होने के आसार भी कम हो जाते हैं। ग्रीन टी के फायदे बढ़ती उम्र में बहुत मदद करते हैं। इसलिए ग्रीन टी के फायदे डाइट में शामिल करना एक अच्छी आदत हो सकती है।

8. सेहतमंद दिमाग

कैफीन में एडेनोसिन को बाधित करने की क्षमता होती है, जो सेंट्रल नवर्स सिस्टम के लिए एक अवसाद (depressant) के रूप में कार्य करता है और नींद को बढ़ावा देता है। कैफीन इसका मुकाबला कर सकता है और मस्तिष्क के कामकाज को बढ़ावा देता है। दिमाग को चुस्त बनाए रखने के लिए ग्रीन टी का सेवन किया जा सकता है।

ग्रीन टी
ग्रीन टी के फायदे सेहतमंद दिमाग के लिए

9. स्वस्थ डाइजेशन

ग्रीन टी के फायदे में से सबसे जरुरी फायदा यह है कि यह डाइजेशन को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है। ग्रीन टी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जिस कारण से पाचन शक्ति स्वस्थ रहती है। यह आपने जरुर सुना होगा कि अगर पेट स्वस्थ है तो पूरा शरीर स्वस्थ रहता है क्योंकि हर बीमारी का जन्म पेट से ही होता है। ग्रीन टी पीने से पाचन शक्ति स्वस्थ रहने में मदद मिलती है जिससे शरीर बीमारियों से दूर रहता है।

10. वेट लॉस

ग्रीन टी के फायदे वजन कम करने के लिए सबसे ज्यादा पॉपुलर हैं। कई अध्ययन में साबित किया गया है कि रोजाना सही मात्रा में ग्रीन टी पीने से फैट बर्न होने में मदद मिलती है और फैट बर्न होने का मतलब है कि शरीर से एक्स्ट्रा चर्बी कम होना। यह सभी को पता है कि ग्रीन टी में कैफीन पाया जाता है और इसमें कैटेचिन भी पाया जाता है जो एक प्रकार का फ्लैवोनॉयड है जो एक तरह का एंटीऑक्सीडेंट है। यह एंटीऑक्सीडेंट फैट बर्न करने में मदद करता है जिससे वजन कम होने में मदद मिलती है।

चाय का कप और पत्तियां
ग्रीन टी के फायदे वेट लॉस के लिए

11. डिप्रेशन

जो लोग कम से कम 4 कप ग्रीन टी पीते हैं उन लोगों में डिप्रेशन होने के आसार कम रहते हैं। ग्रीन टी में अमीनो एसिड एल- थीनिन पाया जाता है जो खुशी वाले होर्मोन सेरोटोनिन और डोपामाइन को प्रोड्यूज करने में मदद करते हैं। खुशी वाले होर्मोन की मात्रा शरीर में होने से डिप्रेशन के आसार कम हो जाते हैं।

12. हैंगओवर

पार्टी करने के बाद हैंगओवर उतारने के लिए ग्रीन टी के फायदे काम आते हैं। या फिर आप ग्रीन टो को ड्रिंक करने से पहले भी पी सकते हैं। ग्रीन टी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट लिवर को खराब होने से बचाते है और लिवर को साफ रखने में भी मदद करते हैं।

चाय के कप में पानी और हरी पत्तियां
ग्रीन टी के फायदे हैंगओवर के लिए

13. स्वस्थ मुंह

ग्रीन टी के फायदे सेहत के साथ- साथ मुंह के लिए भी कई सारे हैं। ग्रीन टी पीने से दांतो में सड़न, खराब सांस और मसूंडों से जुड़ी परेशानी नहीं होती है। अध्ययनों के अनुसार, जो लोग ग्रीन टी का सेवन करते हैं उनको मुंह से जुड़ी दिक्कतें बहुत कम होती हैं। भारत में हुए एक अध्ययन में यह बताया गया है कि ग्रीन टी पेरियोडोंटल नाम की बीमारी जो मंसूडों से जुड़ी हुई है से बचाने में मदद सहायता करती है। इसके साथ ही ग्रीन टी दांतों में गंदगी जमा नहीं होने देती है।

14. डाउन सिंड्रोम

वैसे तो डाउन सिंड्रोम का कोई इलाज नहीं है लेकिन कुछ अध्ययन में यह दिखाया गया है कि ग्रीन के फायदे जिंदगी की क्वालिटी को अच्छा कर देते हैं।

हर्बल चाय
ग्रीन टी के फायदे डाउन सिंड्रोम के लक्षण कम करने के लिए

15. एनर्जी

आपको पहले भी बताया है कि ग्रीन टी के फायदे इसमें मौजूद कैटेचिन से आते हैं जो एनर्जी को बढ़ाने में मदद करते हैं। ग्रीन टी में कैफीन पाया जाता है और इसमें कैटेचिन भी पाया जाता है जो एक प्रकार का फ्लैवोनॉयड होता है जो एक तरह का एंटीऑक्सीडेंट है। जब कैटेचिन और कैफीन दोनों शरीर में ऊर्जा और एनर्जी प्रोड्यूज करने में मदद करते हैं जिससे शरीर एक्टिव रहता है।

16. स्वस्थ आंखें

ग्रीन टी के फायदे कई सारे हैं। आंखों से जुड़ी परेशानी से लोग कभी ना कभी जरुर गुजरते हैं और इस समय पर ग्रीन टी आपकी मदद करती है।

कैसे करें इस्तेमाल

इसके लिए आपको 2 ग्रीन टी बैग्स की जरुरत है।

दो ग्रीन टी बैग्स को फ्रिज में रख दें। थोड़ी देर बाद ग्रीन टी बैग्स को फ्रिज से निकालें और आंखों पर रख लें। ग्रीन टी बैग्स को आंखों पर 10-15 मिनट के लिए रखें और फिर चेहरा धो लें।

सफेद चाय का कप और हरी पत्तियां
ग्रीन टी के फायदे आंखों के लिए

17. मुंहासे

ग्रीन टी के फायदे त्वचा के लिए कई सारे हैं जैसे कि यह मुंहासे का कम करने में मदद करती है। ग्रीन टी में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो फ्री रेडिकल से लड़ने हैं और खराब त्वचा को सुधारने में मदद करते हैं। ग्रीन टी पीने से इम्यून सिस्टम भी मजबूत होता है। ग्रीन को मुहांसों के लिए कैसे इस्तेमाल किया जा सकता है से जुड़ी जानकारी आप यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

लोगों को अकसर मुंहासे की दिकक्त रहती है। ग्रीन टी पीने से त्वचा से काले धब्बे हट जाते हैं। यह सऊदी मेडिकल जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में साबित हुआ था जिसमें मुंहासे के इलाज के लिए 20% ग्रीन टी लोशन के उपयोग की जांच की गई थी और यह सफल रहा है।

कैसे करें इस्तेमाल

इसके लिए आपको ग्रीन टी, क्लींजर, स्प्रे बोतल, माइश्चराइजर और तौलिया की जरुरत है।

सबसे पहले ग्रीन टी बना लें। ग्रीन टी ठंडी होने के बाद इसे स्प्रे बोतल में डाल लें। क्लींजर से आपना चेहरा साफ कर तौलिए से पोंछ लें। अब स्प्रे की मदद से ग्रीन टी चेहरे पर छिड़क लें। थोड़ी देर बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें जिसके बाद आपको चेहरा नमी से भरपूर लगेगा। इस स्प्रेको आप रोजाना भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

18. झुर्रियां

आपको पहले भी बताया गया है कि ग्रीन टी के फायदे इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट के कारण हैं। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण यह बढ़ती उम्र के आसार को जल्दी से आने नहीं देता है। खान-पान सही ना होने के कारण चेहरे पर झुर्रियां समय से पहले आ जाती हैं। खान-पान सही करने के साथ-साथ आप ग्रीन टी की मदद से झुर्रियां कम करते हैं।

कैसे करें इस्तेमाल

इसके लिए आपको ग्रीन टी और शहद की जरुरत है।

ग्रीन टी पानी में भिगाएं और साथ ही शहद मिलाकर एक पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और फिर सूखने के बाद चेहरा ठंडे पानी से धो लें। इस पेस्ट को आप हफ्ते में 1 बार चेहरे पर लगा सकते हैं।

गर्म चाय
ग्रीन टी के फायदे झुर्रियां कम करने के लिए

19. सनबर्न

गर्मियों में त्वचा का ध्यान ना रखने पर सनबर्न हो सकता है। सूरज की हानिकारक किरणों के कारण त्वचा में जलन होने लगती है जिस कारण त्वचा पर निशान पड़ जाते हैं। सनबर्न के निशानों को हटाने के लिए आप ग्रीन टी का इस्तेमाल कर सकते हैं।

ग्रीन के फायदे त्वचा से जुड़े कई सारे हैं। ग्रीन टी पीने से सूरज की हानिकारक किरणों से बचाव रहता है। यह एक तथ्य है जो ब्रिटिश जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन में साबित हुआ है। इसमें यह बताया गया है कि ग्रीन टी पीने से लाल धब्बे और सूजन कम हो जाती है जो सूरज की किरणों से होते हैं।

कैसे करें इस्तेमाल

इसके लिए आपको ग्रीन टी, गर्म पानी और सूती कपड़े की जरुरत है।

सनबर्न का इलाज करने के लिए आपको बस पानी को उबालना है उसको सामान्य होने देना है और फिर ग्रीन टी मिलानी है। ग्रीन टी छान लें और इसमें एक कपड़ा डालें और फिर अपनी सनबर्न वाली त्वचा पर लगाएं। एंटीऑक्सीडेंट आपकी त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाकर रखता है।

20. सेहतमंद त्वचा

ग्रीन टी के फायदे से त्वचा से डेड सेल निकल जाते हैं और त्वचा स्वस्थ और सुंदर हो जाती है। यह अच्छे से त्वचा को साफ करती है जिससे त्वचा चमकने लगती है। त्वचा कई सारी चीजों का सामना करती है जिसके बाद त्वचा का नमी से भरपूर रहना जरुरी है। इसके लिए ग्रीन टी आपकी मदद कर सकती है।

कैसे करें इस्तेमाल

इसके लिए आपको ग्रीन टी और शहद की जरुरत है।

ग्रीन टी बनाएं और फिर ठंडी होने के बाद इसमें शहद मिलाएं। ग्रीन टी और शहद का पेस्ट बनने के बाद इसको चेहरे पर 15-20 मिनट के लिए लगाएं। अब अपना चेहरा ठंडे पानी से धों लें और फिर सूती तौलिए से पोंछ लें। चेहरे पोंछने के बाद सामान्य क्रीम लगा लें। यह पेस्ट हफ्ते में एक बार चेहरे पर लगाएं और त्वचा नमी से भरपूर बनाएं।

21. मजबूत बाल

ग्रीन टी के फायदे सेहत और त्वचा से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के बाद अब बात करते हैं ग्रीन टी के फायदे बालों के लिए। जी हां, सेहत और त्वचा के साथ-साथ ग्रीन टी से आप अपने बालों को भी मजबूत, सेहतमंद रख सकते हैं।

  • ग्रीन टी में वो सारे विटामिन होते हैं जो बालों को टूटने से रोकते हैं और बालों को सोफ्ट बना देते हैं।
  • बालों पर से खराब परत को हटा देता है जिससे जड़ों में खून का बहाव अच्छे से होता है।
  • कोलेस्ट्रॉल के बढ़ने से बाल कमजोर हो जाते हैं। ग्रीन टी के फायदे खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए जाने जाते हैं।
  • ग्रीन टी से बालों को धोने से बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं।
  • ग्रीन टी से बालों में रूसी नहीं होती है।
चाय
ग्रीन टी के फायदे त्वचा में नमी बनाए रखने के लिए

ग्रीन टी के प्रकार 

मार्केट में ग्रीन टी कई प्रकार में मौजूद हैं-

  • कैप्सूल या तरल अर्क में पूरक के रूप में मौजूद है।
  • ग्रीन टी पाउडर में के रूप में भी उपलब्ध है।
  • ग्रीन टी पत्तियों के रूप में भी उपलब्ध हैं।
  • ग्रीन टी के फायदे लेने के लिए ग्रीन टी बैग्स भी उपलब्ध हैं।
  • ग्रीन टी बोतल के रूप में भी उपलब्ध है जिसमें आर्टिफिशियल मिठास डाली जाती है।
  • ग्रीन टी का सेवन आप पसंदीदा फ्लेवर के अनुसार भी कर सकते हैं।

ग्रीन टी बनाने की विधि

ग्रीन टी के फायदे जानने के बाद अगर आप ग्रीन टी को अपनी डाइट में शामिल करना चाहते हैं तो यह बहुत अच्छी बात है। इसके लिए आपको ग्रीन टी बनाने की विधि के बारे में जानना जरुरी है। अगर ग्रीन टी सही से ना बनाए जाए तो आपको अनुभव ग्रीन टी पीने का खराब हो सकता है। ग्रीन टी बनाने की विधि से जुड़ी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. ग्रीन टी की पत्तियां

  • सबसे पहले पानी को उबाल लें।
  • अब गर्म पानी में ग्रीन टी की पत्तियों को 3 मिनट के लिए उबालें।
  • अब ग्रीन टी छान लें।
  • फ्लेवर के लिए आप 1 चम्मच शहद भी डाल सकते हैं।

टिप- ग्रीन टी पत्तियों को ज्यादा देर तक ना उबालें, नहीं तो ग्रीन टी कड़वी हो जाएगी।

ग्रीन टी पत्तियां
ग्रीन टी कैसे बनाएं

2. ग्रीन टी पाउडर

  • बर्तन में पानी उबाल लें और फिर इसे ठंडा होने दें।
  • अब इसमें आधा चम्मच ग्रीन टी पाउडर डालें और घुलने के लिए रख दें।
  • पानी का रंग भूरा होने के बाद इसको छान लें।
  • स्वाद के लिए आप इसमें शहद भी डाल सकते हैं।

3. ग्रीन टी बैग्स

  • एक कप पानी गर्म करें और फिर इसमें ग्रीन टी बैग डाल दें।
  • थोड़ी देर बाद ग्रीन टी बैग को कप से निकाल दें।
  • आपकी ग्रीन टी तैयार है।
  • स्वाद के लिए आप इसमें शहद भी मिला सकते हैं।

ग्रीन टी क्यों पीनी चाहिए?

  • ग्रीन टी में मौजूद कैफीन फैट बर्न करने में मदद करता है और शरीर की गतिविधियों को सुधारने में भी मदद करता है।
  • ग्रीन टी के फायदे इसमें मौजूद कैटेचिन नाम के एंटीऑक्सीडेंट से आते हैं। यह फैट बर्न करने के साथ- साथ मेटाबोलिज्म बढ़ाता है जिससे वजन कम होने में मदद मिलती है।
  • ग्रीन टी में कैलोरी की मात्रा कम होती है इसलिए ग्रीन टी के फायदे शाम को स्नैक्स में शामिल कर सकते हैं।
  • ग्रीन टी से मेटाबोलिज्म रेट सामान्य बना रहता है जिससे फैट ज्यादा बर्न होता है और इंसुलिन सुधारने में भी मदद मिलती है।
  • इसमें थीनिन नाम का कंपाउंड होता है। यह एक तरह का अमिनो एसिड है जो चिंता कम करने में मदद करता है और साथ ही दिमाग की सेहत अच्छा बनाए रखता है।
कांच के जार में ग्रीन टी
ग्रीन टी क्यों पीनी चाहिए

ग्रीन टी पीने का सही समय

किसी भी खाने की चीज को सही तरीके से और सही समय पर सेवन करने से ही उसके फायदे मिलते हैं। ग्रीन टी को कई सारे कारणों के लिए इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि वजन कम करने के लिए, सेहतमंद जिंदगी के लिए, स्वस्थ त्वचा के लिए, मजबूत बालों के लिए आदि। यह सभी फायदे लेने के लिए ग्रीन टी सही समय पर पीनी चाहिए।

  1. ग्रीन का सेवन खाने से 1-2 घंटे पहले करें।
  2. खाली पेट ग्रीन टी का सेवन ना करें क्योंकि इसमें कैफीन होता है जो खाली पेट नुकसान दे सकता है।
  3. ग्रीन टी में दूध या चीनी मिलकर सेवन ना करें।
  4. ग्रीन टी में शहद मिलाकर पीना ज्यादा सेहतमंद हो सकता है और साथ ही ग्रीन टी का स्वाद भी बढ़ जाता है।
  5. खाना खाने के तुरंत बा ग्रीन टी का सेवन ना करें।
  6. दिन में 2-3 कप ग्रीन टी से ज्यादा का सेवन ना करें।
  7. कसरत करने के पहले ग्रीन टी का सेवन कर सकते हैं जिससे एनर्जी बढ़ने में मदद मिलती है।
  8. खाने के साथ ग्रीन टी का सेवन नहीं करना चाहिए।
  9. सोने से तुरंत पहले ग्रीन टी नहीं पीनी चाहिए। ऐसा करने से नींद आने में परेशानी हो सकती है।
  10. सुबह उठते ही ग्रीन टी नहीं पीनी चाहिए क्योंकि इसमें कैटेचिन मौजूद होता है जो लिवर में परेशानी दे सकता है।

ग्रीन टी के नुकसान

ग्रीन टी पीने के फायदे की जानकारी होने के साथ- साथ आपको इसके नुकसान की भी जानकारी होनी चाहिए। वैसे तो ग्रीन टी के नुकसान से आपको डरने की जरुरत नहीं है लेकिन किसी भी चीज का सेवन अधिक मात्रा में करने से आपको उसके नुकसानों का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप सही मात्रा में ग्रीन टी का सेवन कर लेंगे तो आपको नीचे दी गई परेशानियां हो सकती हैं। ग्रीन टी के नुकसान से जुड़ी सारी जानकारी आप नीचे से पढ़ सकते हैं।

1. ब्लड प्रेशर बढ़ना

अगर ग्रीन टी बाकी किसी ड्रग के साथ लिया गया तो ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है। और साथ ही हार्ट रेट भी बढ़ सकता है। इसलिए ग्रीन टी का सेवन अकेले करना ज्यादा सुरक्षित है।

2. ब्लड थिनर

जो लोग खून पतला करने के दवाई खाते हैं उन लोगों को ग्रीन टी पीते समय सावधान रहना चाहिए। क्योंकि ग्रीन टी में विटामिन के होता है जो खतरा बन सकता है।

3. कैफीन

कॉफी की तरह ग्रीन टी में भी कैफीन होता है। अगर आपको कैफीन सूट नहीं करता है तो आपको नींद ना आना, बेचैनी, मितली, पेट खराब जैसा शिकायत हो सकती हैं।

आखिर में

ग्रीन टी के फायदे और नुकसान के बारे में जानने के बाद हम इसका सेवन शुरु कर सकते हैं। सेहतमंद जिंदगी जीने के लिए ग्रीन टी अब लोगों के जीवन का अहम हिस्सा बन गई है। ग्रीन टी के फायदे सेहत, त्वचा और बालों से जुड़े हुए हैं जिसके बाद हम यह कह सकते हैं कि ग्रीन टी पूरे शरीर को सेहतमंद रखने में मदद करती है।

जिस चीज़ के फायदे होते हैं उसके नुकसान भी होते हैं। ग्रीन टी के नुकसान तभी होंगे जब आप इसका सेवन सही मात्रा में नहीं करेंगे। इसलिए ग्रीन टी का सेवन अपने शरीर की जरुरत के अनुसार ही करें और स्वस्थ रहें।

आप किस तरह ग्रीन टी डाइट में शामिल करते हैं? हमें कमेंट में जरूर बताएं।

FAQs

ग्रीन टी पीने के फायदे से जुड़े दिलचस्प सवालों के जवाब यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. ग्रीन टी पीने का सही समय क्या है?

सभी लोगों को अपने शरीर, सेहत और दिनचर्या के अनुसार ग्रीन टी डाइट में शामिल करनी चाहिए। आमतौर पर देखा जाए तो ग्रीन टी का सेवन खाना खाने से 1-2 घंटे पहले करना चाहिए। सुबह, कसरत करने से पहले, सोने से पहले ग्रीन टी पी सकते हैं लेकिन ग्रीन टी पीने और सोने के बीच के समय में 2 घंटे का अंतर होना चाहिए।

2. ग्रीन टी कब नहीं पीनी चाहिए?

खाली पेट, खाने के साथ, सोने से तुरंत पहले ग्रीन टी नहीं पीनी चाहिए। ग्रीन टी में दूध और चीनी नहीं डालनी चाहिए।

3. ग्रीन टी के फायदे क्या हैं?

ग्रीन टी में कई सारी खूबियां हैं जो स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हैं। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण कई सारी बीमारियों से बचाव मिलता है। ग्रीन टी में कैफीन पाया जाता है जो सतर्क रखने में मदद करती है। इसके साथ ही ग्रीन टी में कैटेचिन भी पाया जाता है जो मुंह के बैक्टीरिया खत्म करने में मदद करते हैं।

4. क्या ग्रीन टी से दांत खराब होते हैं?

वैसे तो कॉफी, चाय, ग्रीन टी दांतों को खराब कर सकती है। लेकिन आपको बता दें कि अधिक मात्रा में किसी भी बेवरेज का सेवन करने से दांतों में सड़न पैदा हो सकती है। सभी बेवरेज के मुकाबले ग्रीन टी में सबसे ज्यादा मात्रा में टैनिन पाया जाता है जो दांतों के लिए अच्छा नहीं होता है।

5. वेट लॉस के लिए एक दिन में कितने कप ग्रीन टी पीनी चाहिए?

वजन कम करने के लिए 2-3 कप ग्रीन टी सही है। हर किसी के लिए सही मात्रा अलग-अलग होती है और यह कैफीन का सेवन और मेटाबोलिज्म पर भी निर्भर करता है। सिर्फ ग्रीन टी पीने से वजन कम होने में मदद नहीं मिलती है इसके साथ ही बैलेंस डाइट और कसरत भी जरूरी है।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments