10 राजमा के फायदे- स्वस्थ डाइजेशन से लेकर गठिया का इलाज (10 Wonderful Benefits Of Kidney Beans| From Improving Digestion To Treating Arthritis)

सभी फलियों में से राजमा को सबसे ज्यादा पकाया जाता है। अगर ध्यान से खाया जाए तो राजमा के फायदे कई सारे हैं। इस आर्टिकल से आप राजमा के फायदे और नुकसान के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

राजमा, प्रोटीन का सबसे अच्छा आधार है और उत्तर भारतीय खाने में राजमा सभी को बेहद पंसद आता है जिससे कई भारतीयों की यादें जुड़ी हुई हैं। जब भी घर के खाने की बात होती है तो सबसे पहले राजमा- चावल का नाम आता है। राजमा जितने स्वादिष्ट होते हैं यह उतने ही पोष्टिक आहार से भरपूर होते हैं। राजमा के फायदे कई हैं जैसे कि यह सेहतमंद कार्बोहाइड्रेट के साथ- साथ कई जरुरी आहार से भरपूर हैं। राजमा की बात होती है तो अधिकतर लोग इसके स्वाद और फ्लेवर के बारे में बात करते हैं। आपको बता दें कि राजमा के फायदे से जुड़ी जानकारी पर भी खास ध्यान देना जरुरी है। फोलिक एसिड होने के कारण यह एनर्जी देने में मदद करता है। इस आर्टिकल से आप यह जान सकते हैं कि राजमा को डाइट में शामिल करना क्यों चाहिए। राजमा के फायदे और नुकसान इन हिंदी में जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

फोलिक एसिड होने के कारण यह एनर्जी देने में मदद करता है।

10 राजमा के फायदे (10 Wonderful Benefits Of Kidney Beans)

1. राजमा प्रोटीन से भरपूर होता है (Loaded With Protein)

राजमा के फायदे सबसे ज्यादा इसमें मौजूद प्रोटीन के कारण हैं। राजमा प्रोटीन से भरपूर है। यह मांसपेशियों और एनर्जी को प्रोड्यूज करने में मदद करता है। 100 ग्राम राजमा खाने से 24 ग्राम प्रोटीन प्राप्त होता है। प्रोटीन को खाने के बाद आपका पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है जिससे वजन कम होने में मदद मिलती है।

यह भी पढ़ेंं- वजन कम करने के उपाय (How To Lose Weight Naturally)

2. राजमा में भारी मात्रा में कैल्शियम होता है (High On Calcium Content)

कैल्शियम, जिसको हड्डियों और दांतों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए जाना जाता है, लो राजमा में भरपूर मात्रा में पाया जाता है। कैल्शियम, बाकी मिनरल्स की तरह शरीर से पानी के साथ निकल जाता है लेकिन खून में मौजूद कैल्शियम इसकी कमी पूरी कर देता है। अगर शरीर से निकाले जाने वाले कैल्शियम की मात्रा शरीर में कैल्शियम होने के वाले कैल्शियम से कम है तो आपकी हड्डियां कमजोर हो सकती हैं। यहां पर राजमा के फायदे काम आते हैं। राजमा कैल्शियम से भरपूर होते हैं जिससे शरीर में कैल्शियम की कमी नहीं होगी।

3. प्रतिरोधी स्टार्च से भरा (Filled With Resistant Starch)

राजमा में प्रतिरोधी स्टार्च मौजूद होता है जो एक तरह का घुलने वाला फाइबर होता है। इसके साथ राजमा के फायदे कई जुड़े हुए हैं। इसके फायदे हैं- भूख कम लगना, लो ब्लड शुगर लेवल और इंसूलिन में सुधार। अगर आप कम समय में वजन घटाना चाहतें हैं तो राजमा के फायदे आपके लिए काम कर सकते हैं।

इसके फायदे हैं- भूख कम लगना, लो ब्लड शुगर लेवल और इंसूलिन में सुधार।

4. राजमा एनर्जी देता है (Provides Energy)

राजमा में पाया जाना वाला सबसे महत्तवपूर्ण मिनरल है- आयरन। राजमा के फायदे आयरन की मात्रा शरीर में बनाए रखने के लिए हैं। जब शरीर से आयरन पानी के साथ बाहर निकल जाता है तो राजमा, आयरन को दोबारा लाने में मदद करता है।

आरयन बहुत जरुरी मिनरल है जो हीग्लोबिन प्रोड्यूज करने में मदद करता है जो पूरे शरीर में ऑक्सीजन ले जाने में मदद करता है। आयरन की कमी होने से शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो सकती है जिससे पूरे शरीर में एनर्जी की कमी हो सकती है जो आपको सुस्त बना सकती है। ऐसे होने पर एनीमिया भी हो सकता है। हालांकि राजमा का सही मात्रा में सेवन करने से आयरन की कमी नहीं होती है और शरीर मेंऑक्सीजन की मात्रा बनी रहती है।

5. फोलिक एसिड का अच्छा आधार (A Rich Source Of Folic Acid)

राजमा के फायदे में यह फायदा भी शामिल है कि यह फोलिक एसिड और विटामिन बी9 से भरपूर होता है। फोलिक एसिड का सेवन करने से सेहतमंद त्वचा रहती है और बढ़ती उम्र के आसार देरी से आते हैं।

राजमा हीग्लोबिन प्रोड्यूज करने के साथ- साथ एक और महत्तवपूर्ण काम करता है। यह शरीर में रेड ब्लड सेल प्रोड्यूज करने में मदद करता है। इसलिए राजमा का सेवन सही मात्रा में करने से एनीमिया जैसी बीमारी से बचाव रहता है।

6. गठिया के इलाज में मदद (Treating Arthritis)

राजमा के फायदे शरीर में कॉपर की मात्रा बढ़ाने में मदद करता है। गठिया में जोडों में सूजन आ जाती है जिससे शरीर में कॉपर की कमी हो सकती है। राजमा कॉपर से भरपूर होते हैं जिस कारण इनको गठिया के इलाज के फायदेमंद माना जा सकता है। इसके अलावा कॉपर को एक तरह का एंटीऑक्सीडेंट भी कहा जाता है जो फ्री रेडिकल से बचाव करता है और बढ़ती उम्र के आसार को जल्दी से नहीं लाता है।

7. सोचने की क्षमता में सुधार करता है

राजमा के फायदे इसमें मौजूद विटामिन बी के कारण भी कई सारे हैं। अगर डाइट विटामिन बी से भरपूर होती है तो भूलने की बीमारी के आसार कम हो जाते हैं। विटामिन बी के मूल कार्यों में से एक एसिटाइलकोलाइन को संश्लेषित (synthesize acetylcholine) करना है। यह एक कैमिकल है जो न्यूरोट्रांसमीटर की क्षमता को बढ़ाता है और दिमाग से जुड़ी परेशानियों के होने के आसार को कम कर देता है।

राजमा के फायदे इसमें मौजूद विटामिन बी के कारण भी कई सारे हैं।

8. राजमा डाइजेशन में सुधार करता है (Improves Digestion)

राजमा के फायदे में से यह फायदा आपको हैरान कर सकता है। राजमा प्रोटीन और डायट्री फाइबर से भरपूर होता है। राजमा, प्रोबायोटिक की तरह काम करता है। राजमा को खाने के बाद डाइजेशन धीरे हो जाता है जिससे शरीर अच्छे से हर एक आहार को अच्छे से अब्जॉर्ब कर सके। परेशानी तब होती है जब राजमा को कई मसालो और तेल के साथ बनाया जाता है जिससे यह भारी डिश हो जाती है। राजमा सभी को इतना पसंद है कि लोग राजमा को हद से ज्यादा खा लेते हैं जिससे आलस आने लगता है। अगर राजमा को कम मसालो और तेल के साथ बनाया जाए तो यह सेहतमंद डाइट में शामिल हो सकता है।

9. ज्यादा मात्रा में टिशू का जन्म (Increased Tissue Growth)

राजमा में मौजूद विटामिन बी6 का यह फायदा भी है कि यह टिशू को खराब होने से रोकता है जो बढ़ती उम्र में होता है। ऐसे होने पर बालों को झड़ना और आंखें कमजोर हो जाती हैं। शरीर को सेहतमंद रखने के लिए विटामिन बी6 का सेवन करना जरुरी है।

10. कोलेस्ट्रॉल के लिए एक सलाहकार (An Adversary To Cholesterol)

खराब कोलेस्टॉल के बढ़ने से दिल की सेहत खराब हो जाती है। हालांकि, घुलने वाले फाइबर होने के कारण कोलेस्टॉल की मात्रा कम रहती है। घुलने वाला फाइबर पचाया नहीं जाता है जिससे यह कोलेस्टॉल को बाहर निकालने में मदद करता है। 5 ग्राम घुलने वाला फाइबर का सेवन करने से खराब कोलेस्टॉल की मात्रा कम हो जाती है (1)।

यह भी पढ़ें- 9 फूड स्वस्थ दिल के लिए (Top 9 Heart Friendly Foods)

राजमा के नुकसान (Side-Effects Associated with the Consumption Of Kidney Beans)

राजमा के नुकसान की लिस्ट राजमा के फायदे से बहुत कम है। लेकिन फिर भी हर खाने की चीज़ के फायदे और नुकसान की जानकारी होनी जरुरी है। अधिक मात्रा में राजमा का सेवन करने से नुकसान भी हो सकते हैं। राजमा के नुकसान से जुड़ी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं।

benefits of rajma-mishry
अधिक मात्रा में राजमा का सेवन करने से नुकसान भी हो सकते हैं।

1. वजन बढ़ सकता है (Weight Gain)

राजमा, डायट्री फाइबर और प्रोटीन से भरपूर होता है। इन दोनों को पचने में समय लगता है। अगर राजमा का सेवन अधिक मात्रा में कर लिया जाए तो इससे वजन भी बढ़ सकता है और इसके पीछे का कारण इसमें मौजूद प्रोटीन और फाइबर है।

2. पेट से जुड़ी परेशानी (Stomach Related Issues)

राजमा के नुकसान इसमें मौजूद डायट्री फाइबर के कारण हो जाते हैं। घुलने वाले फाइबर का सेवन करने से खराब कोलेस्टॉल की मात्रा कम हो जाती है। लेकिन अगर इसका सेवन अधिक मात्रा में कर लिया जाए तो दस्त, पेट में गेस, पेट दर्द जैसी परेशानी हो सकती है।

राजमा हीमोग्लूटिनिन का एक अच्छा आधार है। अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से हीमोग्लूटिनिन, रेड ब्लड सेल को एक दूसरे से चिपका देता है जिससे गैस हो सकती है।

क्या राजमा खराब है? (Are Kidney Beans Bad?)

राजमा के फायदे कई सारे हैं। अगर आपको राजमा के नुकसान से बचना है तो इसका सेवन नियमित रूप से ही करें। राजमा के नुकसान से बचे रहने के लिए दिन में 3 कप से ज्यादा राजमा का सेवन ना करें। हफ्ते में कभी- कभी 1 कप राजमा खाना सेहतमंद है। सही मात्रा में राजमा का सेवन करने से आपको इससे फायदे जरुर मिलेंगे।

आखिर में

राजमा के फायदे की लिस्ट काफी लंबी है। लेकिन इसके फायदे आपको तभी मिलेंगे जब आप इसका सेवन सही मात्रा में करेंगे। किसी भी खाने की चीज़ को अपनी डाइट में शामिल करने से पहले उससे जुड़े फायदे और नुकसान की जानकारी अवश्य प्राप्त कर लें।

Leave a Reply on 10 राजमा के फायदे- स्वस्थ डाइजेशन से लेकर गठिया का इलाज (10 Wonderful Benefits Of Kidney Beans| From Improving Digestion To Treating Arthritis)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*