अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट: #फर्स्टइंप्रेशन (Amul Sugar-Free Dark Chocolate: #FirstImpressions)

अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट स्वादिष्ट है। इसको खाने पर आपको पुरानी अमूल मिल्क चॉकलेट याद आ जाएगी जो भारत में बहुत पॉपुलर थी।

डार्क चॉकलेट एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती हैं जो सेहत को कई फायदे दे सकते हैं। डार्क चॉकलेट में मौजूद कोको फ्लेवानोल्स में एंटीऑक्सीडेंटके गुण होते हैं जो सोचने की क्षमता को बढ़ाते हैं। अगर आपको झुर्रियों को चिंता है तो अपनी चिंता खत्म कर सकते हैं क्योंकि डार्क चॉकलेट को एंटी-एजिंग फूड के तौर पर भी जाना जाता है। लेकिन इसका सेवन नियमित रूप से ही करें।

सुपर मार्किट डार्क चॉकलेट से भरी हुई है वो भी अलग-अलग फ्लेवर के साथ जैसे कि बैरीज़, ऑरेंज, नट्स और यहां तक की मिर्च भी। हमने अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट टेस्ट की है। इसको खाने के बाद हमारा यह कहना है।

अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट (Amul Sugar-Free Dark Chocolate) से जुड़ी जरुरी बातें

*पैकेजिंग पर दी गई जानकारी के अनुसार

  1. इस प्रोडक्ट की सलाह बच्चों को नहीं दी जाती है।
  2. 100 ग्राम सर्विंग में 475 कैलोरी मिलती है।
  3. अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट में आर्टिफिशियल मिठास है (माल्टिटोल) जिसका शरीर पर रेचक प्रभाव (laxative effect) हो सकता है।

अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट

अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट स्वादिष्ट है। इसको खाने के बाद आपको पुरानी अमूल मिल्क चॉकलेट की याद आ जाती है।

*कीमत- 125/- रुपए

*कीमत रिव्यू के समय

#फर्स्टइंप्रेशन अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट

जो हमने अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट ट्राई की है उसमें 55% कोको है। यह उतनी गाढ़ी नहीं है जितनी यह हो सकती है।

लेकिन सबसे पहले जानते हैं कि डार्क चॉकलेट होती क्या है? जिस चॉकलेट में मिल्क सोलिड नहीं होते हैं जिस कारण यह दिखने में डार्क दिखती है और रेगुलर मिल्क चॉकलेट के मुकाबले कड़वी भी होती है। डार्क चॉकलेट में शुगर होती है लेकिन बाकी चॉकलेट के मुकाबले कम होती है।

अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट में मिल्क सोलिड नहीं है और साथ ही शुगर भी नहीं है जिससे यह शुगर फ्री डार्क चॉकलेट बन जाती है।

सामग्री की बात करें तो इसमें चीनी की जगह माल्टिटोल (maltitol) डाला गया है जो चीनी के फ्लेवर के सबसे करीब है। यह धीरे-धीरे पचता है। चीनी के मुकाबले यह शुगर लेवल को बढ़ा देता है और इंसुलिन लेवल को धीरे कर देता है। हालांकि यह कार्बोहाइड्रेट है जिसका सेवन नियमि रूप से करना चाहिए। डाबिटीज से गुजर रह लोग कभी-कभी इस चॉकलेट के 1-2 पीस खा सकते हैं। इसमें मौजूद माल्टिटोल कुछ लोगों में दस्त की परेशानी दे सकती है लेकिन ऐसी तभी होगा जब इसका सेवन भारी मात्रा में किया जाएगा।

यह चॉकलेट बच्चों के लिए नहीं है। इस चॉकलेट में चीनी कम होने का मतलब यह नहीं है कि बच्चें ज्यादा चॉकलेट खा सकते हैं।

स्वाद की बात करें तो अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट स्वादिष्ट है। इस चॉकलेट से आपको पुरानी अमूल मिल्क चॉकलेट की याद आती है। चीनी का विकल्प होने के कारण यह बहुत ज्यादा कड़वी नहीं लगती है।

जहां तक बाकी ब्रांड की बात है उसके मुकाबले इसका कीमत सही है।

अगर आपको चॉकलेटबेहद पसंद हैं और आप रोजाना की कैलोरी और शुगर की मात्रा कम करना चाहते हैं तो अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट एक अच्छा ऑप्शन है। अगर आप वजन कम करने की सोच रहे हैं तो नियमित रूप से इसका सेवन करना गलत नहीं होगा।

*अगर आप हमारे रिव्यू से सेहमत हैं तो लाइक करें और अगर नहीं तो बताएं क्यों।
अगर आप कोई प्रोडक्ट रिव्यू करवाना चाहते हैं तो यहां बताएं।

*फूड एंड बेवरेज में रोज़ाना कुछ न कुछ नया आता रहता है। हमारे रिव्यू आपको किचन का सामान खरीदनें में मदद करेंगे।
*हमारे रिव्यू निष्पक्ष हैं और रिव्यू के लिए सभी प्रोडक्ट हमारे द्वारा खरीदें गए हैं। इससे जुड़ी सारी जानकारी आप यहां से पढ़ सकते हैं।
*इस रिव्यू के लिए किसी भी ब्रांड ने स्पान्सर नहीं किया है। सभी खर्चा हमारे द्वारा किया गया है।

Story Tags :

Leave a Reply on अमूल शुगर फ्री डार्क चॉकलेट: #फर्स्टइंप्रेशन (Amul Sugar-Free Dark Chocolate: #FirstImpressions)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*