अश्वगंधा के 12 रोचक फायदे, उपयोग और नुकसान - मिश्री
अश्वगंधा के रोचक फायदे, उपयोग और नुकसान

अश्वगंधा के 12 रोचक फायदे, उपयोग और नुकसान

अश्वगंधा के फायदे आयुर्वेद में करीब 3000 साल से उपयोग में लिए जा रहे हैं। अश्वगंधा के फायदे डाइट में आसानी से शामिल कर सकते हैं। अश्वगंधा पाउडर घर में कैसे बनाएं, यहां से जानें।

अश्वगंधा के फायदे वैसे तो कई सदियों से मौजूद हैं लेकिन हाल ही कुछ समय में इसके फायदे हर एक व्यक्ति लेना चाहता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि अश्वगंधा के फायदे बीमारियों से बचाव करने में मदद करते हैं। इसका पौधा भारत और नार्थ अफ्रीका में उगाया जाता है। अश्वगंधा एक तरह की जड़ी- बूटी है जिसे आयुर्वेद में दवाई बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

कई विशेषज्ञों का मानना है कि अश्वगंधा के फायदे कई बीमारियों को दूर करने में मदद कर सकते हैं और अच्छे स्वास्थ्य में मदद मिलती है।

इसके फायदे लेने के लिए जरूरी है कि इसके बारे में सम्पूर्ण रूप से जानकारी प्राप्त करें। लेकिन आइए उससे पहले विस्तार से जानते हैं कि अश्वगंधा क्या है, अश्वगंधा के फायदे क्या हैं और अश्वगंधा का उपयोग किस प्रकार से किया जा सकता है।

अश्वगंधा का उपयोग आयुर्वेद में सदियों से दवाई के रूप में किया जा रहा है। अश्वगंधा का इस्तेमाल आयुर्वेद में जड़ी- बूटी के रूप में किया जाता है। इसका पौधा भारत और नार्थ अफ्रिका में उगाया जाता है। भारत में इसका उपयोग बीमारियों से लड़ने, ताकत बढ़ाने के साथ– साथ कई लाभ पाने के लिए किया जाता है। अश्वगंधा पाउडर या चूर्ण को अश्वगंधा की जड़ और पत्तियों से निकाला जाता है और कई बीमारियों के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। कई एक्सपर्ट का मानना है कि अश्वगंधा के फायदे बीमारी में लाभदायक साबित हो सकते हैं।

अश्वगंधा के फायदे

अश्वगंधा के फायदे लगभग 3000 साल से लिए जा रहे हैं। जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि इसके फायदे आयुर्वेद के साथ- साथ दिनचर्या में भी शामिल हो गए हैं। अश्वगंधा के फायदे सामान्य ब्लड शुगर से लेकर तनाव कम करने मदद लाभदायक हैं। अश्वगंधा के फायदे से जुड़ी अधिक जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

1. आयुर्वेद की दवाई

अश्वगंधा के फायदे सबसे ज्यादा तनाव कम करने के लिए जाने जाते हैं। आपको बता दें कि अश्वगंधा का उपयोग आयुर्वेद में काफी लंबे समय से किया जा रहा है। इसके साथ ही दवाई में भी अश्वगंधा का उपयोग किया जाता है। आयुर्वेदिक एक्सपर्ट का मानना है कि अश्वगंधा के फायदे कई बीमारियों से बचाव या कम करने में मददगार साबित हो सकते हैं।

2. कम तनाव

अश्वगंधा के फायदे तनाव कम करने के लिए सबसे ज्यादा पॉपुलर हैं। चूहों पर किए गए अध्ययन में यह पाया गया है कि अश्वगंधा का सेवन करने से दिमाग में तनाव का रास्ता बंद हो जाता है। इंसानों पर किए गए अध्ययन में भी यह सामने आया है कि अश्वगंधा के फायदे तनाव कम करने में बहुत हद तक लाभदायक हैं।

संबंधित आर्टिकल: वाहदम अश्वगंधा सिनेमन इंस्टेंट चाय प्रीमिक्स

अश्वगंधा पाउडर
अश्वगंधा के फायदे तनाव कम करने के लिए

3. डिप्रेशन

ऐसा कहा जा सकता है कि अश्वगंधा के फायदे तनाव के साथ – साथ डिप्रेशन में भी मदद कर सकते हैं। लेकिन आपको यह भी बता दें कि अश्वगंधा के फायदे डिप्रेशन के लिए कितने लाभदायक हैं के विषय पर अभी भी अध्ययन जारी हैं।

4. मजबूत मांसपेशियों

अश्वगंधा के फायदे मांसपेशियों को मजबूत बनाने में भी मदद लाभदायक साबित हो सकते हैं। इंसानों पर किए गए कई अध्ययनों में देखा जा सकता है कि अश्वगंधा का सेवन रोजाना करने से मांसपेशियां मजबूत होती हैं और फैट कम करने में मदद मिलती है।

अश्वगंधा की पत्तियां
अश्वगंधा के फायदे मजबूत मांसपेशियों के लिए

5. सामान्य कोलेस्ट्रॉल

अश्वगंधा के फायदे सेहतमंद दिल रखने के लिए जाने जाते हैं और इसके साथ कोलेस्ट्रॉल लेवल भी सामान्य बने रहने में मदद मिल सकती है। आपको बता दें कि जानवरों पर किए गए अध्ययन में यह पाया गया है कि अश्वगंधा का सेवन करने से ब्लड फैट कम होने में मदद मिलती है। और दूसरे अध्ययन में यह पाया गया है कि चूहों में कोलेस्ट्रॉल लेवल कम मिला है। इसके बाद कहा जा सकता है कि अश्वगंधा के फायदे कोलेस्ट्रॉल लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद कर सकते हैं।

6. सामान्य ब्लड शुगर लेवल

कई अध्ययनों में पाया गया है कि अश्वगंधा के फायदे ब्लड शुगर लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। इंसानों पर किए गए कई अध्ययनों में यह दिखा है कि स्वस्थ लोग और डायबिटीज से गुजर रह लोग, दोनों में ही ब्लड शुगर लेवल सामान्य बने रहने में मदद मिल सकती है।

अश्वगंधा की हरी पत्तियां
अश्वगंधा के फायदे सामान्य ब्लड शुगर लेवल के लिए

7. अच्छी नींद

अगर सुबह उठकर भी आपको थकान महसूस होती है तो इसका मतलब है कि आपकी नींद पूरी नहीं हुई है। नींद ना पूरी होने से पूरा दिन खराब हो सकता है। अच्छी नींद के लिए अश्वगंधा के फायदे आपकी मदद कर सकते हैं। ऐसा कहा जाता है कि अश्वगंधा का सेवन करने से अच्छी नींद आने में मदद मिल सकती है।

8. स्वस्थ आंखें

अश्वगंधा के फायदे आंखों को स्वस्थ रखने के लिए भी जाने जाते हैं। अश्वगंधा चूर्ण का सेवन करने से आंखों की रोशनी लंबे समय के लिए स्वस्थ बनी रहेगी। अश्वगंधा चूर्ण का सेवन करने से पहले आप आयुर्वेदिक एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें। सही मात्रा में अश्वगंधा का सेवन करने से आपको भरपूर लाभ मिल सकते हैं।

अश्वगंधा
अश्वगंधा के फायदे आंखों के लिए

9. खांसी

जैसा कि आपको आयुर्वेद में अश्वगंधा का उपयोग दवाई के रूप में किया जाता है और साथ ही खांसी होने पर भी अश्वगंधा का उपयोग किया जाता है। अश्वगंधा का उपयोग खांसी के घरेलू उपाय के तौर पर किया जा सकता है।

10. कब्ज

कब्ज की परेशानी बहुत दिक्कत दे सकती है। इसलिए इसका इलाज जल्द से जल्द करना चाहिए। शुरुआती कब्ज या फिर कभी – कभी कब्ज की समस्या होने पर घरेलू उपाय अपना सकते हैं। कब्ज की परेशानी में अश्वगंधा चूर्ण के फायदे आपकी मदद कर सकते हैं। अश्वगंधा चूर्ण का सेवन सही मात्रा और सही तरीके से करने पर कब्ज की दिक्कत से राहत मिल सकती है।

संबंधित आर्टिकल: झंडू अश्वगंधा आंवला हर्बल इंफ्यूशन

पेट दर्द
अश्वगंधा चूर्ण के फायदे कब्ज के लिए

11. सेहतमंद बाल

अश्वगंधा के फायदे बालों को समय से पहले सफेद होने नहीं देते हैं। अश्वगंधा का सेवन सही मात्रा और तरीके से करने से बाल जल्दी से सफेद नहीं होते हैं।

12. अश्वगंधा के फायदे त्वचा

अश्वगंधा के फायदे त्वचा के लिए भी कई सारे हैं। अश्वगंधा की जड़ या पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें और फिर त्वचा पर लगा सकते हैं। ऐसा करने से पहले अपने हाथ पर पेस्ट लगाएं कि कोई जलन तो नहीं हो रही है उसके बाद ही त्वचा पर लगाएं।

संबंधित आर्टिकल: बैम्बिनो टरमरिक मिल्क

अश्वगंधा के रूप

अश्वगंधा का उपयोग कई तरह से कर सकते हैं। अश्वगंधा आसानी से मिल जाता है और यह कई रूप में आसानी से उपलब्ध है जैसे कि

1. अश्वगंधा चूर्ण

अधिकतर लोग अश्वगंधा चूर्ण का उपयोग करते हैं। कब्ज की परेशानी के लिए इसका उपयोग आमतौर पर गुनगुने पानी के साथ किया जाता है।

2. अश्वगंधा जड़

अश्वगंधा की जड़ का उपयोग चाय बनाने के लिए भी किया जा सकता है।

3. अश्वगंधा कैप्सूल

अश्वगंधा का उपयोग कैप्सूल के रूप में भी कर सकते हैं। कैप्सूल का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

4. अश्वगंधा लिक्विड

डॉक्टर की सलाह के बाद ही अश्वगंधा लिक्विड का सेवन शुरु करें।

5. फल

अश्वगंधा का फल का सेवन करने से पहले एक्स्पर्ट की सलाह लें।

6. बीज

अश्वगंधा बीज का सेवन ध्यानपूर्वक करें।

अश्वगंधा पाउडर/ चूर्ण के फायदे

अश्वगंधा के फायदे कई तरीके से लिए जा सकते हैं लेकिन आमतौर पर अश्वगंधा के फायदे अश्वगंधा पाउडर के तौर पर लिए जाते हैं। अश्वगंधा पाउडर का उपयोग कई तरीके से किया जा सकता है। अपनी इच्छा के अनुसार आप अश्वगंधा पाउडर का उपयोग कर सकते हैं।

अश्वगंधा की चाय का उपयोग सबसे पॉपुलर है। अश्वगंधा पाउडर को पानी में अच्छे से उबाला जाता है जिसके बाद अश्वगंधा चाय बनाई जाती है। इसके अलावा अश्वगंधा पाउडर का उपयोग दूध, शहद आदि के साथ भी किया जा सकता है।

अश्वगंधा पाउडर घर में कैसे बनाएं

अब आप घर में ही अश्वगंधा चूर्ण या अश्वगंधा पाउडर आसानी से बना सकते हैं। अश्वगंधा चूर्ण बनाने के लिए आपको अश्वगंधा की जड़ चाहिए। वैसे तो अश्वगंधा की पत्तियों से भी पाउडर बना सकते हैं लेकिन अश्वगंधा की जड़ का उपयोग आमतौर पर किया जाता है। घर में अश्वगंधा पाउडर कैसे बनाएं से जुड़ी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको अश्वगंधा की जड़ लें और अच्छे से धो लें।
  • अब इन जड़ों को धूप में अच्छे से सूखने दें।
  • अच्छे से जड़े सूखने के बाद इन्हें ब्लेंडर में डालें और ब्लेंड करें।
  • तब तक ब्लेंड करें जब तक पाउडर ना बन जाएं।
  • पाउडर बनने के बाद इसे छान लें और एयर टाइट डिब्बे में स्टोर करें और लंबे समय के लिए इस्तेमाल करें।

अश्वगंधा का उपयोग कैसे करें

अश्वगंधा के फायदे लेने के लिए आपको इसके उपयोग के बारे में पता होना चाहिए। अश्वगंधा का उपयोग कई तरीके से किया जा सकता है। अश्वगंधा के उपयोग से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

  • अश्वगंधा की जड़ के अर्क का उपयोग खाने में किया जा सकता है। ऐसा करने से तनाव कम होने में मदद मिल सकती है। अश्वगंधा का सेवन करने से पहले एक्स्पर्ट से सलाह जरूर लें।
  • अश्वगंधा की चाय पीने से शरीर अंदर से स्वस्थ रहता है और बीमार होने के आसार कम हो जाते हैं।
  • थकान होने पर अश्वगंधा का सेवन किया जा सकता है।

अश्वगंधा के नुकसान

अश्वगंधा के फायदे कई सारे हैं लेकिन अश्वगंधा के नुकसान भी हैं। अधिक मात्रा या सही से सेवन ना करने पर अश्वगंधा के नुकसान भी हो सकते हैं। अश्वगंधा के नुकसान से जुड़ी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

  • लंबे समय के लिए लगातार अश्वगंधा का सेवन करने से दिक्कत हो सकती है।
  • डॉक्टर की सलाह के बाद ही अश्वगंधा को डाइट में शामिल करें।
  • डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल दवाई के साथ अश्वगंधा का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
  • किसी और दवाई के साथ अश्वगंधा का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह ना भूलें।
  • गर्भवति महिलाएं अश्वगंधा का सेवन ना ही करें तो बेहतर है।

आखिर में

आयुर्वेद में अश्वगंधा के फायदे काफी लंबे समय से लिए जा रहे हैं। अगर आपको भी अश्वगंधा के फायदे लेने हैं तो इसे अपनी डाइट में सही तरीके से शामिल करें। डाइट में अश्वगंधा शामिल करने से पहले जरूरी है कि आप अश्वगंधा के फायदे के बारे में जानकारी प्राप्त करें।

अश्वगंधा के फायदे डाइट में कई रूप में शामिल किए जा सकते हैं जैसे कि अश्वगंधा पाउडर, अश्वगंधा की पत्तियां, अश्वगंधा की जड़, अश्वगंधा कैप्सूल आदि। आपको बता दें कि अधिक मात्रा में अश्वगंधा का सेवन करने से नुकसान भी हो सकते हैं। इसका सेवन लंबे समय के लिए लागतार ना करें। अश्वगंधा के फायदे लेने के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें और स्वस्थ रहें।

स्ट्रांग इम्यूनिटी के लिए आप क्या करते हैं?

FAQs

अश्वगंधा के फायदे से जुड़े दिलचस्प सवालों के जवाब यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

1. अश्वगंधा के फायदे क्या हैं?

अश्वगंधा के फायदे कई सारे हैं जैसे कि तनाव से राहत, कब्ज में आराम, खांसी का घरेलू उपाय, अच्छी नींद, स्वस्थ त्वचा और बाल आदि। अश्वगंधा का सेवन सही मात्रा और सह तरीके से करें।

2. क्या अश्वगंधा का सेवन रोजाना कर सकते हैं?

अश्वगंधा का सेवन रोजाना सही मात्रा में करने से फायदे मिल सकते हैं। इस बात का खास ध्यान रखें कि अश्वगंधा का सेवन लगातार लंबे समय के लिए ना करें। कुछ समय तक अश्वगंधा का सेवन करने के बाद ब्रेक लें और चाहें तो फिर से अश्वगंधा का सेवन शुरू कर सकते हैं।

3. अश्वगंधा का सेवन कब करना चाहिए?

अश्वगंधा का सेवन अगर आप लंबे समय के लिए करना चाहते हैं तो डॉक्टर या आयुर्वेदिक एक्सपर्ट की सलाह के बाद ही करें। आमतौर पर अश्वगंधा का सेवन गर्म पानी, दूध आदि के साथ किया जाता है।

4. क्या अश्वगंधा से वजन बढ़ता है?

इस विषय पर ऐसा कोई सबूत नहीं है कि अश्वगंधा से वजन बढ़ता है। और वैसे भी अश्वगंधा का सेवन करने मकसद हर किसी का अलग होता है। और अगर आपको वेट लॉस करना है तो बैलेंस डाइट और कसरत की मदद से कर सकते हैं।

5. अश्वगंधा के नुकसान क्या हैं?

अधिक मात्रा में और सही तरीके से अश्वगंधा का सेवन ना करने से नुकसान हो सकते हैं। अधिक मात्रा में अश्वगंधा का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल में दिक्कत हो सकती है इसलिए डॉक्टर की सलाह के बाद ही अश्वगंधा का सेवन करें।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments