अश्वगंधा के फायदे, उपयोग और नुकसान (Ashwagandha Benefits, Uses And Side Effects In Hindi)

ashwagandha benefits

अश्वगंधा के फायदे, उपयोग और नुकसान (Ashwagandha Benefits, Uses And Side Effects In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (Benefits Of Ashwagandha In Hindi) आयुर्वेद में करीब 3000 साल से उपयोग में लिए जा रहे हैं। अश्वगंधा के फायदे (Ashwagandha Ke Fayde) डाइट में आसानी से शामिल कर सकते हैं। अश्वगंधा पाउडर (Ashwagandha Powder) घर में कैसे बनाएं, यहां से जानें।

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) वैसे तो कई सदियों से जाने जाते हैं लेकिन हाल ही कुछ समय में इसके फायदे हर एक व्यक्ति लेना चाहता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि अश्वगंधा के फायदे बीमारियों से बचाव करने में मदद करते हैं। अश्वगंधा का पौधा भारत और नार्थ अफ्रीका में उगाया जाता है। अश्वगंधा एक तरह की जड़ी- बूटी है जिसे आयुर्वेद में दवाई बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। कई विशेषज्ञों का भी मानना है कि अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) कई बीमारियों को दूर करने में मदद कर सकते हैं। अश्वगंधा के फायदे लेने के लिए जरुरी है कि इसके बारे में स्मपूर्ण रूप से जानकारी प्राप्त करें। लेकिन आइए उससे पहले विस्तार से जानते हैं कि अश्वगंधा क्या है, अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) क्या हैं और अश्वगंधा का उपयोग किस प्रकार से किया जा सकता है।

Ashwagandha
अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) डाइट में शामिल करें।
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा क्या है? (What Is Ashwagandha In Hindi?)

अश्वगंधा का उपयोग आयुर्वेद में सदियों से दवाई के रूप में किया जाता आ रहा है। अश्वगंधा को आयुर्वेद में जड़ी- बूटी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसका पौधा भारत और नार्थ अफ्रिका में उगाया जाता है। भारत में इसका उपयोग बीमारियों से लड़ने, ताकत बढ़ाने के साथ – साथ कई लाभ पाने के लिए किया जाता है। अश्वगंधा पाउडर या अश्वगंधा चूर्ण को अश्वगंधा की जड़ और पत्तियों से निकाला जाता है और कई बीमारियों में इस्तेमाल किया जाता है। कई एक्स्पर्ट का भी मानना है कि अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) बीमारी में लाभदायक साबित हो सकते हैं।

what is Ashwagandha
अश्वगंधा क्या है?
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा के फायदे (Ashwagandha Benefits In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) लगभग 3000 साल से लिए जा रहे हैं। जैसा कि आपको पहले भी बताया है कि अश्वगंधा के फायदे आयुर्वेद में तो लिए ही जा रहे हैं इसके साथ ही आप डेली लाइफ में भी इसके फायदे ले सकते हैं। अश्वगंधा के फायदे सामान्य ब्लड शुगर से लेकर तनाव कम करने के लिए जाने जाते हैं। अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) से जुड़ी अधिक आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

अश्वगंधा के फायदे आयुर्वेद की दवाई की तरह (Ashwagandha Benefits In Ayurveda In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) सबसे ज्यादा तनाव कम करने के लिए जाने जाते हैं। आपको बता दें कि अश्वगंधा का उपयोग आयुर्वेद में काफी लंबे समय से किया जा रहा है। इसके साथ ही दवाई में भी अश्वगंधा का उपयोग किया जाता है। आयुर्वेदिक एक्स्पर्ट का मानना है कि अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) कई बीमारियों से बचाव या कम करने में मदद कर सकते हैं। अश्वगंधा पाउडर या अश्वगंधा चूर्ण का उपयोग कई बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता है।

Ashwagandha benefits
अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) दवाई की तरह
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा के फायदे तनाव कम करने के लिए (Benefits Of Ashwagandha May Reduce Stress In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) तनाव कम करने के लिए सबसे ज्यादा पॉपुलर हैं। चूहों पर किए गए अध्ययन में यह पाया गया है कि अश्वगंधा का सेवन करने से दिमाग में तनाव वाला रास्ता बन हो जाता है (1)। इंसानों पर किए गए अध्ययन में भी यह सामने आया है कि अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) तनाव कम करने में बहुत हद तक लाभदायक हैं.

अश्वगंधा के फायदे डिप्रेशन में लाभदायक (Ashwagandha Benefits May Reduce Depression In Hindi)

ऐसा कहा जा सकता है कि अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) तनाव के साथ – साथ डिप्रेशन कम करने में भी मदद कर सकता है। लेकिन आपको यह भी बता दें कि अश्वगंधा के फायदे डिप्रेशन के लिए कितने लाभदायक हैं के विषय पर अभी भी अध्ययन जारी हैं।

Ashwagandha for depression
अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) डिप्रेशन के लिए
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा के फायदे मजबूत मांसपेशियों के लिए (Benefits Of Ashwagandha For Muscle Mass In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) मांसपेशियों को मजबूत बनाने में भी मदद लाभदायक साबित हो सकते हैं। इंसानों पर किए गए कई अध्ययनों में देखा जा सकता है कि अश्वगंधा का सेवन रोजाना करने से मांसपेशियां मजबूत होती हैं और फैट कम करने में मदद मिलती है (2)।

अश्वगंधा के फायदे सामान्य कोलेस्ट्रॉल के लिए (Ashwagandha Benefits For Regulating Cholesterol In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) सेहतमंद दिल रखने के लिए जाने जाते हैं जिसके साथ- साथ कोलेस्ट्रॉल लेवल भी सामान्य बने रहने में मदद मिल सकती है। आपको बता दें कि जानवरों पर किए गए अध्ययन में यह पाया गया है कि अश्वगंधा का सेवन करने से ब्लड फैट कम होने में मदद मिलती है। और दूसरे अध्ययन में यह पाया गया है कि चूहों में कोलेस्ट्रॉल लेवल कम मिला है (3)। इसके बाद कहा जा सकता है कि अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) कोलेस्ट्रॉल लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद कर सकते हैं।

Ashwagandha for cholesterol
अश्वगंधा सामान्य कोलेस्ट्रॉल के लिए
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा के फायदे सामान्य ब्लड शुगर लेवल के लिए (Benefits Of Ashwagandha For Regulating Blood Sugar Level In Hindi)

कई अध्ययनों में पाया गया है कि अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) ब्लड शुगर लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। इंसानों पर किए गए कई अध्ययनों में यह दिखा है कि स्वस्थ लोग और डायबिटीज से गुजर रह लोग, दोनों में ही ब्लड शुगर लेवल सामान्य बने रहने में मदद मिल सकती है (4), (5), (6), (7)।

अश्वगंधा के फायदे अच्छी नींद के लिए (Ashwagandha Benefits For Good Sleep In Hindi)

अगर सुबह उठकर भी आपको थकान महसूस होती है तो इसका मतलब है कि आपकी नींद पूरी नहीं हुई है। नींद ना पूरी होने से पूरा दिन खराब हो सकता है। अच्छी नींद के लिए अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) आपकी मदद कर सकते हैं। ऐसा कहा जाता है कि अश्वगंधा का सेवन करने से अच्छी नींद आने में मदद मिल सकती है।

Ashwagandha for good sleep
अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) अच्छी नींद के लिए
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा के फायदे आंखों के लिए (Benefits Of Ashwagandha For Healthy Eyes In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) आंखों को स्वस्थ रखने के लिए भी जाने जाते हैं। अश्वगंधा चूर्ण का सेवन करने से आंखों की रोशनी लंबे समय के लिए स्वस्थ बनी रहेगी। अश्वगंधा चूर्ण का सेवन करने से पहले आप आयुर्वेदिक एक्स्पर्ट की सलाह जरुर लें। सही मात्रा में अश्वगंधा का सेवन करने से आपको भरपूर लाभ मिल सकते हैं।

अश्वगंधा के फायदे खांसी के लिए (Ashwagandha Benefits For Cough In Hindi)

जैसा कि आपको आयुर्वेद में अश्वगंधा का उपयोग दवाई के रूप में किया जाता है और साथ ही खांसी होने पर भी अश्वगंधा का उपयोग किया जाता है। अश्वगंधा का उपयोग खांसी के घरेलू उपाय के तौर पर किया जा सकता है।

Ashwagandha for cough
अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) खांसी के लिए
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा चूर्ण के फायदे कब्ज के लिए (Benefits Of Ashwagandha For Constipation In Hindi)

कब्ज की परेशानी बहुत दिक्कत दे सकती है। इसलिए इसका इलाज जल्द से जल्द करना चाहिए। शुरुआती कब्ज या फिर कभी – कभी कब्ज की समस्या होने पर घरेलू उपाय अपना सकते हैं। कब्ज की परेशानी में अश्वगंधा चूर्ण के फायदे आपकी मदद कर सकते हैं। अश्वगंधा चूर्ण का सेवन सही मात्रा और सही तरीके से करने पर कब्ज की दिक्कत से राहत मिल सकती है।

अश्वगंधा के फायदे बालों के लिए (Ashwagandha Benefits For Hair In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) बालों को समय से पहले सफेद होने नहीं देते हैं। अश्वगंधा का सेवन सही मात्रा और तरीके से करने से बाल जल्दी से सफेद नहीं होते हैं।

Ashwagandha for hair
अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) बालों के लिए
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा के फायदे त्वचा के लिए (Benefits Of Ashwagandha For Skin In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) त्वचा के लिए भी कई सारे हैं। अश्वगंधा की जड़ या पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें और फिर त्वचा पर लगा सकते हैं। ऐसा करने से पहले अपने हाथ पर पेस्ट लगाएं कि कोई जलन तो नहीं हो रही है उसके बाद ही त्वचा पर लगाएं।

अश्वगंधा के रूप (How To Use Ashwagandha In Different Ways In Hindi)

अश्वगंधा का उपयोग कई तरह से कर सकते हैं। अश्वगंधा आसानी से मिल जाता है और यह कई रूप में आसानी से उपलब्ध है जैसे कि

अश्वगंधा चूर्ण – अधिकतर लोग अश्वगंधा चूर्ण का उपयोग करते हैं। कब्ज की परेशानी के लिए इसका उपयोग आमतौर पर गुनगुने पानी के साथ किया जाता है।

अश्वगंधा जड़ – अश्वगंधा की जड़ का उपयोग चाय बनाने के लिए भी किया जा सकता है।

अश्वगंधा कैप्सूल – अश्वगंधा का उपयोग कैप्सूल के रूप में भी कर सकते हैं। कैप्सूल का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरुर लें।

Ashwagandha types
अश्वगंधा का उपयोग कई तरह से कर सकते हैं।
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा लिक्विड – डॉक्टर की सलाह के बाद ही अश्वगंधा लिक्विड का सेवन शुरु करें।

फल – अश्वगंधा का फल का सेवन करने से पहले एक्स्पर्ट की सलाह लें।

बीज – अश्वगंधा बीज का सेवन ध्यानपूर्वक करें।

अश्वगंधा पाउडर/ चूर्ण के फायदे (Ashwagandha Powder/ Churna Benefits In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) कई तरीके से लिए जा सकते हैं लेकिन आमतौर पर अश्वगंधा के फायदे अश्वगंधा पाउडर के तौर पर लिए जाते हैं। अश्वगंधा पाउडर का उपयोग कई तरीके से किया जा सकता है। अपनी इच्छा के अनुसार आप अश्वगंधा पाउडर का उपयोग कर सकते हैं।

अश्वगंधा की चाय का उपयोग सबसे पॉपुलर है। अश्वगंधा पाउडर को पानी में अच्छे से उबाला जाता है जिसके बाद अश्वगंधा चाय बनाई जाती है। इसके अलावा अश्वगंधा पाउडर का उपयोग दूध, शहद आदि के साथ भी किया जा सकता है।

Ashwagandha churna
अश्वगंधा पाउडर के फायदे
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा पाउडर घर में कैसे बनाएं (How To Make Ashwagandha Powder At Home In Hindi)

अब आप घर में ही अश्वगंधा चूर्ण या अश्वगंधा पाउडर आसानी से बना सकते हैं। अश्वगंधा चूर्ण बनाने के लिए आपको अश्वगंधा की जड़ चाहिए। वैसे तो अश्वगंधा की पत्तियों से भी पाउडर बना सकते हैं लेकिन अश्वगंधा की जड़ का उपयोग आमतौर पर किया जाता है। घर में अश्वगंधा पाउडर कैसे बनाएं से जुड़ी जानकारी आप नीचे से ले सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको अश्वगंधा की जड़ लें और अच्छे से धो लें।
  • अब इन जड़ों को धूप में अच्छे से सूखने दें।
  • अच्छे से जड़े सूखने के बाद इन्हें ब्लेंडर में डालें और ब्लेंड करें।
  • तब तक ब्लेंड करें जब तक पाउडर ना बन जाएं।
  • पाउडर बनने के बाद इसे छान लें और एयर टाइट डिब्बे में स्टोर करें और लंबे समय के लिए इस्तेमाल करें।
how to use ashwagandha
अश्वगंधा पाउडर घर में कैसे बनाएं
इमेज क्रेडिट – commons.wikimedia.org

अश्वगंधा का उपयोग कैसे करें (How To Use Ashwagandha In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) लेने के लिए आपको इसके उपयोग के बारे में पता होना चाहिए। अश्वगंधा का उपयोग कई तरीके से किया जा सकता है। अश्वगंधा के उपयोग से जुड़ी जानकारी नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

  • अश्वगंधा की जड़ के अर्क का उपयोग खाने में किया जा सकता है। ऐसा करने से तनाव कम होने में मदद मिल सकती है। अश्वगंधा का सेवन करने से पहले एक्स्पर्ट से सलाह जरुर लें।
  • अश्वगंधा की चाय पीने से शरीर अंदर से स्वस्थ रहता है और बीमार होने के आसार कम हो जाते हैं।
  • थकान होने पर अश्वगंधा का सेवन किया जा सकता है।

अश्वगंधा के नुकसान (Ashwagandha Side Effects In Hindi)

अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) कई सारे हैं लेकिन अश्वगंधा के नुकसान भी हैं। अधिक मात्रा या सही से सेवन ना करने पर अश्वगंधा के नुकसान भी हो सकते हैं। अश्वगंधा के नुकसान से जुड़ी जानकारी आप नीचे से प्राप्त कर सकते हैं।

  • लंबे समय के लिए लगातार अश्वगंधा का सेवन करने से दिक्कत हो सकती है।
  • डॉक्टर की सलाह के बाद ही अश्वगंधा को डाइट में शामिल करें।
  • डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल दवाई के साथ अश्वगंधा का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर लें।
  • किसी और दवाई के साथ अश्वगंधा का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह ना भूलें।
  • गर्भवति महिलाएं अश्वगंधा का सेवन ना ही करें तो बेहतर है।

आखिर में

आयुर्वेद में अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) काफी लंबे समय से लिए जा रहे हैं। अगर आपको भी अश्वगंधा के फायदे लेने हैं तो इसे अपनी डाइट में सही तरीके से शामिल करें। डाइट में अश्वगंधा शामिल करने से पहले जरुरी है कि आप अश्वगंधा के फायदे के बारे में जानकारी प्राप्त करें। अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) डाइट में कई रूप में शामिल किए जा सकते हैं जैसे कि अश्वगंधा पाउडर, अश्वगंधा की पत्तियां, अश्वगंधा की जड़, अश्वगंधा कैप्सूल आदि। आपको बता दें कि अधिक मात्रा में अश्वगंधा का सेवन करने से नुकसान भी हो सकते हैं। इसका सेवन लंबे समय के लिए लागतार ना करें। अश्वगंधा के फायदे (ashwagandha ke fayde) लेने के लिए एक्स्पर्ट से सलाह जरुर लें और स्वस्थ रहें।

FAQs

  1. अश्वगंधा के फायदे क्या हैं? (What are the benefits of ashwagandha?)

    अश्वगंधा के फायदे कई सारे हैं जैसे कि तनाव से राहत, कब्ज में आराम, खांसी का घरेलू उपाय, अच्छी नींद, स्वस्थ त्वचा और बाल आदि। अश्वगंधा का सेवन सही मात्रा और तरीके से करें।

  2. क्या अश्वगंधा का सेवन रोजाना कर सकते हैं? (Is it safe to take ashwagandha daily?)

    अश्वगंधा का सेवन रोजाना सही मात्रा में करने से फायदे मिल सकते हैं। इस बात का खास ध्यान रखें कि अश्वगंधा का सेवन लंबे समय के लिए लगातार ना करें। कुछ समय तक अश्वगंधा का सेवन करने के बाद ब्रेक लें और चाहें तो फिर से अश्वगंधा शुरु कर सकते हैं।

  3. अश्वगंधा का सेवन कब करना चाहिए? (When should I take ashwagandha?)

    अश्वगंधा का सेवन अगर आप लंबे समय के लिए करना चाहते हैं तो डॉक्टर या आयुर्वेदिक एक्स्पर्ट की सलाह के बाद ही करें। आमतौर पर अश्वगंधा का सेवन गर्म पानी, दूध आदि के साथ किया जाता है।

  4. क्या अश्वगंधा से वजन बढ़ता है? (Can ashwagandha cause weight gain?)

    इस विषय पर ऐसा कोई सबूत नहीं है कि अश्वगंधा से वजन बढ़ता है। और वैसे भी अश्वगंधा का सेवन करने मकसद हर किसी का अलग – अलग होता है। और अगर आपको वेट लॉस ही करना है तो डाइट और कसरत की मदद से किया जा सकता है।

  5. अश्वगंधा के नुकसान क्या हैं? (Is ashwagandha bad for you?)

    अधिक मात्रा में और सही तरीके से अश्वगंधा का सेवन ना करने से नुकसान हो सकते हैं। अधिक मात्रा में अश्वगंधा का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल में दिक्कत हो सकती है इसलिए डॉक्टर की सलाह के बाद ही अश्वगंधा का सेवन करें।

लेखक के बारे में

सुरभि शर्मा मिश्री में हिंदी लेखिका हैं। इ्न्हें सवाल पूछना बहुत पसंद है शायद इसी कारण से इनके आर्टिकल आपको विस्तार जानकारी के साथ मिलेंगे। इनका कहना है कि अपने शौक को करियर में बदलने से अच्छा और क्या हो सकता है। लिखने के साथ- साथ और भी कई शोक रहे हैं लेकिन अब इन्हें लगता है कि यह अपना पसंदीदा काम कर रही हैं। 

इस लेखक द्वारा अधिक लेख

सुरभि शर्मा

मेरा नाम सुरभि शर्मा है। मिश्री में मैं हिंदी लेखक के तौर पर काम करती हूं। मुझे दो काम बहुत पसंद हैं- लिखना और खाना और ताजुब की बात है कि मेरा काम भी इसी से जुड़ा हुआ है। खाने से जुड़ी सही और सटीक जानकारी लोगों को देने मैं अपनी जिम्मेदारी समझती हूं जिससे लोगों को हमेशा बेस्ट के बारे में पता चले। मेरी कोशिश हमेशा अपने रीडर्स को सही जानकारी देने की रहेगी।

Leave a Reply on अश्वगंधा के फायदे, उपयोग और नुकसान (Ashwagandha Benefits, Uses And Side Effects In Hindi)

Your email address will not be published. Required fields are marked *