क्या आप करक्यूमिन ढूंढ रहे हैं? इनको जरुर ट्राए करें (Looking For Curcumin? Here Are A few Food Items That You Should Try)

क्या आप करक्यूमिन ढूंढ रहे हैं? इनको जरुर ट्राए करें (Looking For Curcumin? Here Are A few Food Items That You Should Try)

करक्यूमिन एक तरह का कंपाउंड है जो पौधों की जड़ों में पाया जाता है और अदरक के परिवार से संबंध रखता है। करक्यूमिन को एक्टिव एंटीऑक्सीडेंट की खूबी के लिए जाना जाता है जिसको दुनिया भर के खाने में इस्तेमाल किया जाता है।

करक्यूमिन एक एक्टिव कंपाउंड है जिस कारण हल्दी को चमकीला गोल्डन रंग मिलता है। रंग के साथ- साथ हल्दी के अधिकतर फायदे इसमें मौजूद करक्यूमिन के कारण ही हैं। हल्दी को 4000 साल से इस्तेमाल किया जा रहा है जिस कारण से इसके सेहत और सुंदरता से जुड़े फायदे की लिस्ट बहुत लंबी है। इस सुनेहरा हर्ब में एंटी- बैक्टीरियल और एंटी- इंफ्लामेट्री की खूबी है, जिस वजह से कई सदियों से हल्दी आयुर्वेद के इलाज में शामिल है। हल्दी के फायदे कई हैं जैसे कि स्वस्थ दिल, मूड अच्छा होता है और वजन कम करने में मदद। इसलिए इसमें कोई शक की बात नहीं है कि हल्दी को भारतीय खाने में इस्तेमाल क्यों किया जाता है। मॉर्डन दवाई के जन्म के बाद से करक्यूमिन- जो हल्दी में पाया जाने वाला जरुरी कंपाउंड है- को लेकर सेहत और त्वचा से जुड़े फायदो के कारण पॉपुलर होता जा रही है। करक्यूमिन किन खाने की चीजों में मिलता है से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने से पहले करक्यूमिन के फायदे के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेते हैं।

Looking For Curcumin?
हल्दी के अधिकतर फायदे इसमें मौजूद करक्यूमिन के कारण ही हैं।

करक्यूमिन के फायदे (Benefits Of Curcumin)

आयुर्वेद के समय से हल्दी और बाकी की खाने की चीजें जिनमें करक्यूमिन पाया जाता है, इससे जुड़े फायदो के कारण हल्दी को अभी तक इस्तेमाल किया जा रहा है। करक्यूमिन में एंटी- माइक्रोबियल खूबी होती है जिसकी मदद से बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में मदद मिलती है। इसके साथ ही इसमें एंटी- इंफ्लामेट्री की खूबी भी है जिस कारण से यह आस्थमा, ऑटोइम्यून समस्याएं और खाने से होने वाली एलर्जी से गुजर रहे लोगों के लिए फायदेमंद है। अगर आप सोच रहे हैं कि करक्यूमिन के फायदे सिर्फ इतने ही हैं तो शायद आप गलत हैं क्योंकि करक्यूमिन में एंटीऑक्सीडेंट की भी खूबी है जो फ्री रेडिकल से बचाव करती है।

यह भी पढ़ें- हल्दी और करक्यूमिन में क्या अंतर है (What Is The Difference Between Turmeric And Curcumin)

करक्यूमिन से भरपूर सामग्री (Ingredients Rich In Curcumin)

अगर आप ऐसी सामग्री ढूंढ रहे हैं जो करक्यूमिन से भरपूर हैं तो आपको बता दें कि कुछ ऐसे मसाले हैं जिनमें करक्यूमिन पाया जाता है। इन मसालों को खाने का फ्लेवर और सूरत को अच्छा बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

1. हल्दी (Turmeric)

हल्दी को आयुर्वेद के समय से इस्तेमाल किया जा रहा है। हल्दी को इसका चमकीला सुनेहरा रंग इसमें मौजूद करक्यूमिन से मिलता है। हल्दी के फायदे इसमें मौजूद करक्यूमिन के कारण होते हैं। हल्दी को करक्यूमिन का अच्छा आधार माना जाता है जो दिमाग और शरीर के सेहत के लिए फायदेमंद है।

Looking For Curcumin?
हल्दी और अदरक में करक्यूमिन पाया जाता है।

2. अदरक (Ginger)

अदरक और हल्दी में से क्या बेहतर है जिससे आपको आप खाने में सही मात्रा में करक्यूमिन पाने के लिए शामिल कर सकते हैं? अदरक के फायदे कई हैं और कई फायदे इसमें मौजूद करक्यूमिन के कारण हैं। करक्यूमिन लेने के लिए लोगों के दिमाग में यह सवाल जरुर आता है। आपको बता दें कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है क्योंकि दोनों के ही फ्लेवर अलग हैं जिनको अलग- अलग डिश में इस्तेमाल किया जा सकता है।

करक्यूमिन का सेवन करना पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है। इन मसलों में करक्यूमिन पाया जाता है जो शरीर और दिमाग के लिए फायदेमंद है। इस एक्टिव कंपाउंड में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी- माइक्रोबियल और एंटी- इंफ्लामेट्री खूबी होती है।

यह भी पढ़ें- मिश्री रिव्यू- बेस्ट हल्दी ब्रांड (Best Turmeric (Haldi) Brand)

करक्यूमिन से भरपूर खाना – पूरी दुनिया के खाने की लिस्ट (Curcumin Rich Foods: Cuisines From Around The World)

करक्यूमिन को हल्दी में पाया जाता है। अगर हल्दी किसी खाने में मौजूद है तो इसका मतलब है कि उसमें करक्यूमिन भी मिलेगा। यहां से आप ऐसी डिश के बारे में जानकारी ले सकते हैं जिनमें करक्यूमिन पाया जाता है।

1. भारतीय खाना (Indian Cuisine)

भारतीयों को मसाले बहुत पसंद हैं और इनमें से हल्दी ऐसा मसाला है जिसको अधिकतर सभी भारतीय डिश में हल्दी का इस्तेमाल इसके फ्लेवर के कारण किया जाता है। इसके साथ ही हल्दी के दूध में भी सही मात्रा में करक्यूमिन पाया जाता है। हल्दी दूध में एंटी- इंफ्लामेट्री और एंटी- माइक्रोबियल खूबी होती है।

Looking For Curcumin?
हल्दी ऐसा मसाला है जिसको अधिकतर सभी भारतीय डिश में हल्दी का इस्तेमाल इसके फ्लेवर के कारण किया जाता है।

2. थाई खाना (Thai Cuisine)

भारतीय डिश की तरह ही थाई खाने में भी सही मात्रा में करक्यूमिन पाया जाता है क्योंकि इसमें हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है। भारी मात्रा में करक्यूमिन लेने के लिए आपको थाई रेड करी सॉस खानी चाहिए। इस सॉस को सेंकी हुई सालमन मछली के साथ खा और बना सकते हैं जिससे पोषण की मात्रा बढ़ जाती है। रेड सॉस में हल्दी के साथ- साथ अदरक भी होती है जो करक्यूमिन लेने का एक और आधार है।

Looking For Curcumin?
रेड सॉस में हल्दी के साथ- साथ अदरक भी होती है जो करक्यूमिन लेने का एक और आधार है।

3. चाइनीज खाना (Chinese Cuisines)

बाकी मसालों की तरह हल्दी को पारंपरिक चाइनीज खाने में प्राचीन समय से इस्तेमाल किया जा रहा है। शुरुआत में हल्दी को कम मात्रा में खाया जाता था। कर्कुमा सुगंधित और करकुमा लोंगा, दो ऐसे प्रकार हैं जिस रूप में हल्दी को प्राचीन चाइनीज दवाई में इस्तेमाल किया जाता था।

Looking For Curcumin?
बाकी मसालों की तरह हल्दी को पारंपरिक चाइनीज खाने में
प्राचीन समय से इस्तेमाल किया जा रहा है।

4. जापानी खाना (Japanese Cuisines)

जापानी खाने में कई सारी डिश हैं जिनमें करक्यूमिन के लिए हल्दी और अदरक को इस्तेमाल किया जाता है। जापान में हल्दी की चाय उकोन्चा का जन्म हुआ है।

Looking For Curcumin?
जापान में हल्दी की चाय उकोन्चा का जन्म हुआ है।

5. इंडोनेशिया खाना (Some Recipes From Indonesia Are Also High On Curcumin)

नसी कुनिंग (Nasi Kuning) हल्दी के फ्लेवर से भरपूर राइस डिश है, इंडोनेशिया खाने का यह मौलिक खाना है। बाकी एशिया देशों की तरह इंडोनेशिया में भी मसालों को पसंद किया जाता है। प्राचीन काल में व्यापारियों के द्वारा इंडोनेशिया में भारत से मसालों को लाया गया था। कई सदियों से यह इंडोनेशिया खाने की मुख्य सामग्री है।

6. पश्चिम में करक्यूमिन (Curcumin In The West)

जितनी भी डिश हमने बताई है उनमें पश्चिम डिश में हल्दी को रंग के लिए इस्तेमाल किया जाता है। उदाहरण के लिए सरसों की सॉस में हल्दी को पीला रंग देने के लिए इस्तेमाल किया जाता है जिससे यह करक्यूमिन से भरपूर हो जाती है।

आखिर में

आपको क्या खाना पसंद है, करक्यूमिन का सेवन इस पर निर्भर करता है कि आप उस डिश को कैसे बना रहे हैं और मसालों को कैसे इस्तेमाल कर रहे हैं। सही मात्रा में अदरक और हल्दी को खाने में डालने का मतलब है कि आप सही मात्रा में करक्यूमिन का सेवन कर रहे हैं।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments