वजन कम करने के उपाय (How To Lose Weight Naturally)

प्राकृतिक तरीके से वजन घटाने से अच्छा कुछ और नहीं हो सकता है। इसके लिए आपको रोजाना रुटीन फोलो करना जरुरी है। वजन कम करने के उपाय की जानकारी इस आर्टिकल से ले सकते हैं।

यह तो सभी को पता है कि वजन बढ़ाने से ज्यादा मुश्किल वजन घटाना होता है। वजन कम करने के उपाय कई सारे हैं लेकिन क्या आप प्राकृतिक रुप से वजन कम कर रहे हैं? आपको बता दें कि अगर आप वजन घटाने की सोच रहें हैं तो अच्छी बात है लेकिन क्या आप स्वस्थ तरीके से वजन घटाएंगे? वजन घटाने के लिए हमेशा प्राकृतिक, स्वस्थ और सुरक्षित तरीके से अपनाना चाहिए। आंकड़ों को देखा जाए तो 3 में से 1 इंसान वजन घटाने में लगा हुआ है। और वो ऐसे ऑप्शन देखता है जिससे कम समय में वजन घटाया जा सके। सही डाइट (जिसमें हरी सब्जियां और फल शामिल हो) को सही समय पर फोलो करने से आप प्राकृतिक तरीके से वजन कम कर सकते हैं। आपको एक रुटीन बनाना होगा जिसमें आपका मेटाबोलिज्म काम करेगा जिससे फैट नष्ट हो जाएगा। इसके अलावा आपको लो कैलोरी वाली चीजें खानी होगी। वजन कैसे घटाएं इन हिंदी में जानकारी यहां से ले सकते हैं।

इस आर्टिकल में पढ़ें-

  • वजन कम करने के उपाय
  • वजन घटाने के तरीके
  • वजन कम करने के लिए क्या खाना चाहिए

वजन कम करने के उपाय (Tips To Loss Weight Naturally)

वजन घटाने के सही कंसेप्ट को जानने से पहले यह जानना जरुरी है कि स्वस्थ तरीके से वजम कम करना क्या होता है और अस्वस्थ तरीके से वजम कम करना क्या होता है। वजन कम करने के उपाय यहां से पढ़ सकते हैं। सबसे पहले अस्वस्थ तरीके की बात करते हैं। इसमें शरीर में कसरत की कमी होती है जिससे मोटापा हो सकता है जो बाकी बीमारी का कारण बन जाता है।

वहीं स्वस्थ वजन वही होता है जिसमें मांसपेशियां और हड्डियां मजबूत होती हैं। यह हम स्वस्थ खाना और कसरत से प्राप्त कर सकते हैं। वजन कम करने का सही मतलब है कि अस्वस्थ फैट को स्वस्थ से बदलना। यहां से आप वजन घटाने के नुस्खों के बारे में पढ़ सकते हैं।

इसके अलावा आप यहां से उन खाने की चीजों के बारे में जानकारी ले सकते हैं जिनको वजन घटाने के लिए खाया जा सकता है।

exercise daily for weight loss
हम स्वस्थ खाना और कसरत से वजन कम कर सकते हैं।

वजन घटाने के तरीके (प्राकृतिक रुप से)

1. ज्यादा फाइबर खाना चाहिए, फाइबर क्या है?

जो लोग लो फैट डाइट को फोलो करते हैं उनके लिए फाइबर बहुत जरुरी है। फाइबर क्या है? फाइबर एक तरह का कार्बोहाइड्रेट जो मनुष्य के शरीर के द्वारा आसानी से पचाया जा नहीं सकता है। इसको पचाने के लिए शरीर को एक्सट्रा एनर्जी की जरुरत पड़ती है। खाना पचाने के समय शरीर में कैलोरी और फैट नष्ट होते हैं, इनको नेगेटिव- कैलोरी फूड कहा जाता है। फाइबर से भरपूर खाना खाने से आपको पेट लंबे समय के लिए भरा रहेगा और वजन घटाने में मदद मिलेगी।

2. कसरत के समय को थोड़ा- थोड़ा बढ़ाएं

जो लोग रोजाना कसरत करते हैं उनको स्वस्थ जीवन की असल मतलब पता है। लेकिन जरुरत से ज्यादा कसरत करने का मतलब यह नहीं है कि आप अपनी क्षमता से बाहर जाकर कसरत करनी है। इसका मतलब यह है कि रोजाना अपनी कसरत का समय बढाएं जिससे आपके शरीर का एक्सट्रा फैट नष्ट हो जाएगा। लगातार कसरत करने से मांसपेशियों पर जोर पड़ता है जिससे नई मांसमेशियां बनने लगती हैं। इसके लिए आपको प्रोटीन की जरुरत होगी जो हमारा अगला प्वाइंट है। प्रोटीन का सेवन करने से आपके शरीर को कसरत करने की एनर्जी मिलेगी जिससे आपको फैट खत्म हो जाएगा।

यह भी पढ़ें- इंटरमिटेंट डाइट (आईएम) क्या होती और इसको कैसे फोलो करें, यहां से पढ़ें।

3. खाने में प्रोटीन को जरुर शामिल करें

अधिकतर लोगों को लगता है कि खाना कम कर देने से वजन कम हो जाता है। लेकिन आपको बता दें कि यह बहुत बड़ी गलतफहमी है। ऐसी डाइट से आपके शरीर में कैलोरी की मात्रा कम हो जाएगी जिससे मेटाबोलिज्म धीरे हो जाएगा। मेटाबोलिज्म क्या होता है? वजन के बढ़ने या फिर घटने का कारण मेटाबोलिज्म को माना जाता है। शरीर में हो रही सभी गतिविधियों को करने के लिए एनर्जी की जरुरत होती है। जितनी एनर्जी की जरुरत पड़ती है उसकी न्यूनतम मात्रा को मेटाबोलिज्म कहते हैं।

कम खाने वाली डाइट थोड़े समय तक के लिए ही होती है और लंबे समय के लिए परेशानी दे सकती है। प्रोटीन, हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए जाना जाता है। प्रोटीन डाइट को लेने से आपकी हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत होती हैं। इस डाइट से ज्यादा कसरत करने की क्षमता मिलती है जिससे फैट नष्ट होता है और मांसपेशियों की डेंसिटी बढ़ती है। इसके लिए आपको अपना मेटाबोलिज्म सामान्य बनाएं रखना जरुरी है।

protein diet for weight loss
प्रोटीन डीइट को लेने से आपकी हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत होती हैं।

4. शुगर खाना बंद

सिर्फ फैट का सेवन करने से वजन नहीं बढ़ता है, इसके अलावा मीठा खाने से भी वजन बढ़ता है। हमारे शरीर में शुगर को इंसुलिन के द्वारा तोड़ दिया जाता है जिसके बाद इसको एनर्जी की तरह इस्तेमाल किया जाता है। अगर शुगर का सेवन अधिक मात्रा में किया जाता है तो इंसुलिन, शुगर तोड़ने का पूरा काम नहीं कर पाता है। जिस कारण बचा हुआ शुगर हमारे लिवर, मांसमेशियों या फिर शरीर के दूसरे अंगो में जमा हो जाता है और वजन बढ़ाने का कारण बन जाता है।

5. कैलोरी की संख्या जानना जरुरी है

वजन कम करते समय कैलोरी को गिनते रहना जरुरी है। कैलोरी क्या है? कैलोरी वो एनर्जी की यूनिट होती है जो काम करते समय इस्तेमाल होती है। जिन कैलोरी का इस्तेमाल नहीं होता है वो शुगर की तरह फैट के रुप में शरीर में जमा हो जाती है। कैलोरी की संख्या को गिनना एक मुश्किल काम हो सकता है क्योंकि यह हर किसी के लिए अलग हो सकती है। कैलोरी का सेवन करना आपके शरीर, आकार और आप दिन में कितना शारीरिक काम करते हैं उस पर निर्भर करता है। एक सामान्य व्यक्ति में कितनी कैलोरी की मात्रा होती है? उदाहरण के लिए, एक एक्टिव पुरुष को दिन में 2600 से 2800 के बीच कैलोरी का सेवन करना चाहिए। वहीं एक एक्टिव महिला को दिन में 2000 से 2200 कैलोरी का सेवन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें- लो कैलोरी डाइट के फायदे, यहां से पढ़ें।

6. सोने की आदत को सुधारें

आपको वजन और नींद में को संबंध नहीं दिख रहा होगा लेकिन इनके बीच संबंध है। आपके सोने से शरीर की गतिविधी और एनर्जी पर असर पड़ता है। सोने का समय जरूरी क्यों है? नींद का सीधा तालुक भूख के होर्मोन से है- घ्रेलिन और लेप्टिन। लेप्टिन होर्मोन के कारण आपको पेट भरा हुआ लगता है वहीं घ्रेलिन होर्मोन से आपको पेट खाली लगता है जो भूख को बढ़ाता है। सही मात्रा में नींद लेने से लेप्टिन की मात्रा बढ़ जाती है और घ्रेलिन की मात्रा कम हो जाती है। जिससे वजन कम होने में मदद मिलती है।

proper sleep for weight loss
नींद का सीधा तालुक भूख के होर्मोन से है- घ्रेलिन और लेप्टिन।

वजन कम करने के लिए क्या खाना चाहिए

वजन कम करते समय इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि वजन कम करने के लिए क्या खाएं क्या न खाए। लोगों को लगता है कि कुछ आहार न खाने से वजन कम हो जाता है लेकिन आपको बता दें कि डाइट में बैलेंस होना जरुरी है। आपको अपने शरीर की जरुरत के अनुसार जरुरी आहार का सेवन करना चाहिए। अगर आप अभी भी यह सोच रहें हैं कि यह कैसे होगा तो आप इसकी जानकारी नीचे से ले सकते हैं।

1. अंडे का सफेद हिस्सा

वजन कम करने की डाइट में प्रोटीन की जरुरत होती है। इसके लिए आप अपने दिन की शुरुआत अंडे का सफेद हिस्सा खाकर कर सकते हैं। ब्रेकफास्ट में यह खाने से आपका मेटाबोलिज्म और वजन दोनों बने रहेंगे। अंडे के सफेद हिस्से में कम कैलोरी होती है जिससे शरीर में ज्यादा ब्लड ग्लूकोस रहेगा और इंसूलिन भी अच्छे से काम करेगा। इसके साथ ही ब्लड शुगर का लेवल सामान्य बना रहेगा।

2. प्रोबायोटिक्स का सेवन करें

प्रोबायोटिक्स या फिर जिन चीजों में लाइव बैक्टीरिया होते हैं वो वजन कम करने में मदद कर सकते हैं। प्रोबायोटिक्स क्या है? प्रोबायोटिक्स को खाद्य पदार्थों में पाया जाता है। यह आपकी आंतो में मौजूद होते हैं जो बैक्टीरिया का संतुलन बनाएं रखने में मदद करते हैं।

जब प्रोबायोटिक्स को खाया जाता है तब शरीर में आहार का समावेश (nutrient absorption) तेज हो जाता है। जिस कारण मैटाबोलिज्म (मैटाबोलिज्म क्या होता है? ऊपर से पढ़ें) भी तेज हो जाता है जिससे फैट, एनर्जी में बदल जाता है। प्रोबायोटिक्स के लिए आप दही या फिर योगट (yogurt) खा सकते हैं जो वजन कम करने में मदद करता है।

यह भी पढ़ें- दही के 10 फायदे, यहां से पढ़ें।

3. फल और सब्जी ज्यादा खाएं

अगर इस प्वाइंट को शामिल न भी किया जाता तो ज्यादा फर्क नहीं पड़ता क्योंकि सभी को पता है कि डाइट में फल और सब्जी का होना कितना जरुरी है। इन दोनों से शरीर को जरुरी आहार मिलते हैं। ज्यादा फाइबर का सेवन करने से पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है और आप बार- बार नहीं खाते हैं जिससे वजन भी नहीं बढ़ता है।

eat fruits and vegetables for weight loss
डाइट में फल और सब्जी का होना कितना जरुरी होता है।

4. ग्रीन टी

वजन कम करने की राह में ग्रीन टी को जरुर शामिल करना चाहिए। इसमें एंटीऑक्सीडेंट होने के कारण यह मेटामोलिज्म को बढ़ाने में मदद करता है। ग्रीन टी में जो कैफीन होता है वो एनर्जी देता है।

आपको इस बात का खास ध्यान रखना है कि आपकी ग्रीन टी में फ्लेवर और मिठास नहीं होनी चाहिए। ऐसा होने से ग्रीन टी के फायदे खत्म हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें- बेस्ट ग्रीन टी बैग्स की जानकारी, यहां से पढ़ें।

5. मिर्च खानी चाहिए

मिर्च भी वजन कम करने में मदद कर सकती है। मिर्च में कैप्साइसिन नाम का कंपाउंड होता है जो वजन कम करने में मदद करता है। कैप्साइसिन, शरीर में एनर्जी को बढ़ाता है और फैट को ऑक्सीडेशन करता है। फूड और न्यूट्रिशन में महत्वपूर्ण समीक्षा में यह रिपोर्ट जारी की गई है।

6. नारियल का तेल

नारियल तेल को हम वजन कम करने के लिए सबसे जरुरी कह सकते हैं। इसका सेवन करने से शरीर में फैट नष्ट हो जाता है और एनर्जी लेवल बढ़ जाता है।

आखिर में

इस आर्टिकल से अब आपको यह पता चल गया होगा कि आप कैसे स्वस्थ और प्राकृतिक तरीके से अपना वजन घटा सकते हैं। यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप अपने रुटीन को कैसे फोलो करते हैं और कौन सा रुटीन आपके लिए सही रहेगा। आपको बता दें कि सही मात्रा में सभी आहार शरीर के लिए महत्तवपूर्ण होते हैं। इसलिए किसी भी आहार को पूरी तरह से अपनी डाइट से न हटाएं। ऐसा करने से भविष्य के लिए यह नुकसानदायक हो सकता है। इसलिए प्राकृतिक तरीके से वजन कम करना ही सबसे बेहतर तरीका है।

Leave a Reply on वजन कम करने के उपाय (How To Lose Weight Naturally)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*