पारले मिलानो मिनीज़ चॉकलेट चिप कुकीज़: #फर्स्टइंप्रेशन (Parle’s Milano Minis Chocolate Chip Cookies: #FirstImpressions)

पारले मिलानो मिनीज़ चॉकलेट चिप कुकीज़: #फर्स्टइंप्रेशन (Parle’s Milano Minis Chocolate Chip Cookies: #FirstImpressions)

पारले मिलानो मिनीज़ चॉकलेट चिप कुकीज़ टेस्टी, क्रंची होने के साथ छोटे- छोटे चॉकलेट चिप से भरे हुए है। इसकी हर बाइट सोफ्ट और क्रंची लगती है।

अगर आप टेस्टी, क्रंची चॉकलेट ढूंढ रहे हैं तो पारले मिलानो पर आकर आपकी खोज खत्म हो सकती है। पारले आपके लिए मिलानो मिनीज़ चॉकलेट चिप कुकीज़ लेकर आया है जो आपके लिए एक स्वादिष्ट स्नैक्स बन सकता है। यह आपका ट्रेवल पार्टनर भी बन सकता है। इसके अलावा यह चॉकलेट चिप से भरपूर है जो हर कुकी को और भी अच्छा बना देता है।

पारले मिलानो मिनीज़ चॉकलेट चिप कुकीज़ से जुड़ी जरुरी बातें

  1. इसमें फ्लेवर मिले हुए हैं (जैसे कि चॉक्लेट और वैनीला)।
  2. इसकी शेल्फ लाइफ 6 महीने की है।
  3. यह कुकीज़ ताड़ के तेल (palm oil) से बनाई गई है।
  4. इनको कूल और ड्राए जगह पर रखना चाहिए।

पारले मिलानो मिनीज़ चॉकलेट चिप कुकीज़,100 ग्राम

इसका साइज परफेक्ट है जिसको आप अपना ट्रेवल पार्टनर बना सकते हैं।

मात्रा- 100 ग्राम, कीमत- 77/- रुपए*

*रिव्यू के समय

#फर्स्टइंप्रेशन पारले मिलानो मिनीज़ चॉकलेट चिप कुकीज़

पारले मिलानो मिनीज़ चॉकलेट चिप कुकीज़ को छोटी चॉकलेट चिप कुकीज़ कह सकते हैं। यह हमारे द्वारा पारले चॉकलेट चिप कुकीज़ के विजेता का छोटा संस्करण (mini version) कह सकते हैं। मिलानो मिनी टेस्ट, क्रंची चॉकलेट चिप से भरी हुई चॉकले है। इसका फ्लेवर मक्खन की तरह है, सोफ्ट और क्रंची भी है जिससे हर बाइट लाजवाब बन जाती है।

इसके एक छोटे बोक्स को कई दिनों तक खाया जा सकता है। इसका ढक्कन टाइट है जो इसमें नमी को जाने नहीं देता है। इन कुकीज़ को हमें दूसरे डब्बे में डालने की जरुरत महसूस नहीं हुई। हमने कुकीज़ को एक हफ्ते तक खाया और एक बार खुलने पर इनमें नमी नहीं आई।

बोक्स एयर टाइट है लेकिन उसके बाबजूद कुकीज़ को साबुत रखना थोड़ा मुश्किल रहा। किसी को भी टूटी हुई कुकीज़ खाना पसंद नहीं है और तब, जब इन कुकीज़ का साइज पहले से ही छोटा है। जब हमने पहली बार डिब्बा खोला था तब भी कुछ कुकीज़ टूटी हुई थी। इससे यह साबित होता है कि कुकीज़ की बनावट से कोई फर्क नहीं पड़ता है बल्कि डिब्बे से ज्यादा असर पड़ता है। ट्रांसपोटेशन के दौरान कुकीज़ एक दूसरे से टकराकर टूट गई होंगी जिससे यह बिखर जाती हैं।

हालांकि, कुकीज़ के टूटे हुए टुकड़े टेस्टी हैं और इसके स्वाद के कारण हमने इसे दोबारा खा सकते हैं।

अगर आप हमारे रिव्यू से सेहमत हैं तो लाइक करें और अगर नहीं तो बताएं क्यों। अगर आप कोई प्रोडक्ट रिव्यू करवाना चाहते हैं तो यहां बताएं।

फूड एंड बेवरेज में रोज़ाना कुछ न कुछ नया आता रहता है। हमारे रिव्यू आपको किचन का सामान खरीदनें में मदद करेंगे। हमारे रिव्यू निष्पक्ष हैं और रिव्यू के लिए सभी प्रोडक्ट हमारे द्वारा खरीदें गए हैं। इससे जुड़ी सारी जानकारी आप यहां से पढ़ सकते हैं।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments