अमूल कैमल मिल्क रिव्यू (Amul Camel Milk Review)

अमूल कैमल मिल्क रिव्यू (Amul Camel Milk Review)

अमूल कैमल मिल्क (Amul Camel Milk) गाय के दूध से अलग है। अधिक जानकारी इस रिव्यू से प्राप्त करें।

मिश्री रेटिंग

पोषण की जानकारी
4 / 5
4
हामारा अनुभव
4 / 5
4
4
SUPERB!

Quick Review Summary

अमूल कैमल मिल्क (Amul Camel Milk) सुविधाजनक बोतल पैकेजिंग में आता है। पीने के बाद इसका स्वाद नमकीन है और इसमें मीठा नहीं मिलाया गया है। अमूल कैमल मिल्क की स्थिरता रेगुलर टोन्ड मिल्क जैसी है।

कैमल मिल्क धीरे-धीरे पूरी दुनिया में बहुत पॉपुलर होता जा रहा है। शुरुआत से ही मध्य पूर्व में ऊंट का इस्तेमाल परिवहन के लिए इस्तेमाल किया जाता आ रहा है और बाद में दूध के स्रोत के रूप में भी उपयोग किया गया। फूड एंड बेवरेज इंडस्ट्री लगातार बढ़ रही है और नए- नए प्रोडक्ट का आपके लिए रिव्यू किया जाता है जिससे आपको बेस्ट मिल सके। हमने अमूल कैमल मिल्क का रिव्यू किया है जिससे आप इसकी ख़ासियत के बारे में जान सकें। अमूल कैमल मिल्क का रिव्यू करते समय हमने इसके स्वाद, खुशबू, टैक्शर, पैकेजिंग और यह भी देखा कि यह गाय के दूध से कितना अलग है। इन सभी सवालों के जवाब इस रिव्यू से प्राप्त करें।

क्विक रिव्यू

अमूल कैमल मिल्क की स्थिरता टोन्ड मिल्क की तरह है और इसे पीने के बाद का स्वाद नमकीन है।

कीमत – 25/- रुपए*

मात्रा – 200 एमएल

*कीमत रिव्यू के समय

*पैक पर दी गई जानकारी के अनुसार

  • इस प्रोडक्ट के 100 एमएल से 42 किलो कैलोरी एनर्जी मिलती है।
  • पैक खोलने से पहले फ्रिज में रखने की जरूरत नहीं है।
  • इस प्रोडक्ट की शेल्फ लाइफ 180 दिन की है।

यूएचटी से होमोजिनाइज्ड कैमल मिल्क ( UHT Treated Homogenised Camel Milk)

फैट – 2% कम से कम, एसएनएफ- 6% कम से कम।

अमूल कैमिल मिल्क का क्विक रिव्यू

कीमत और पैकेजिंग – अधिकतर अमूल के बेवरेज की तरह अमूल कैमल मिल्क सफेद प्लास्टिक बोतल में पैक किया गया है। बोतल पर मानक नीले रंग का ढक्कन है। एक बोतल 200 एमएल की है जिसकी कीमत 25/- रुपए है।

अमूल कैमल मिल्क

देखने में और स्थिरता –  बोतल खोलने पर हमें किसी तरह की अलग खुशबू नहीं आई, खुशबू गाय के दूध की तरह ही थी। स्थिरता की जांच करने के लिए हमने बोतल में से दूध कांच के गिलास में निकाल दिया। अमूल कैमल मिल्क की स्थिरता न ज्यादा गाढ़ी न ज्यादा पतली थी। इसके साथ ही कैमल मिल्क देखने में मिल्की व्हाइट रंग का था।

अमूल कैमल मिल्क - स्थिरता

स्वाद – जैसे ही हमने बोतल खोली तो टॉप पर झाग बने हुए थे। जब हमने दूध गिलास में डाला तब झाग गिलास में मिक्स हो गए थे। अमूल कैमल मिल्क पीने के बाद का स्वाद नमकीन था जिसकी उम्मीद भी थी।

अमूल कैमल मिल्क - स्वाद

कैमल मिल्क महंगा क्यों है? कैमल मिल्क का उपयोग अफ्रीका और मध्य पूर्वी देशों में किया जाता है। गाय के दूध और कैमल मिल्क के प्रोडक्शन में बहुत अंतर होता है जिस कारण से कैमल मिल्क गाय के दूध के मुकाबले 30 गुना ज्यादा महंगा होता है। कैमल एक दिन में 3- 4 लीटर दूध ही देती है वहीं गाय एक दिन में 50 लीटर तक दूध देती है। इसके साथ ही गाय के खाने के मुकाबले ऊंट का खाना ज्यादा महंगा आता है। कई अध्ययन में यह भी बताया गया है कि कैसे कैमल मिल्क इंसुलिन का प्राकृतिक स्रोत है और ऑटिज्म स्पेक्ट्रम डिस्ऑर्डर (Autism Spectrum Disorder) सही होने में मदद मिल सकती है। हालांकि अभी तक वैज्ञानिक तौर पर इस बात की पुष्टी नहीं की गई है। सोय मिल्क और बादाम के दूध की तरह कैमल मिल्क शुद्ध शाकाहारी (vegans) के लिए नहीं है।

अमूल कैमल मिल्क रिव्यू में हमने स्वाद और स्थिरता पर ध्यान दिया है। अमूल, भारत की सबसे बड़ी सहकारी डेयरी (cooperative dairy) है। यही ब्रांड भारत में सबसे पहले कैमल दूध लेकर आई है। हालांकि अमूल कैमल मिल्क किफायती है और प्लांट बेस्ड मिल्क के मुकाबले यह सस्ता है। लेकिन अमूल कैमल मिल्क सभी सुपर मार्किट में उपलब्ध नहीं है। अमूल कैमल मिल्क कुछ ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध है।

*अगर आप हमारे रिव्यू से सेहमत हैं तो लाइक करें और अगर नहीं तो बताएं क्यों।

*अगर आप कोई प्रोडक्ट रिव्यू करवाना चाहते हैं तो यहां बताएं।

*फूड एंड बेवरेज में रोज़ाना कुछ न कुछ नया आता रहता है। हमारे रिव्यू आपको किचन का सामान खरीदनें में मदद करेंगे।

*हमारे रिव्यू निष्पक्ष हैं और रिव्यू के लिए सभी प्रोडक्ट हमारे द्वारा खरीदें गए हैं। इससे जुड़ी सारी जानकारी आप यहां से पढ़ सकते हैं।

*इस रिव्यू के लिए किसी भी ब्रांड ने स्पान्सर नहीं किया है। सभी खर्चा हमारे द्वारा किया गया है।

Leave a Reply on अमूल कैमल मिल्क रिव्यू (Amul Camel Milk Review)

Your email address will not be published. Required fields are marked *