कॉफी के प्रकार- कॉफी पसंद करने वालों के लिए 11 च्वाइस

कॉफी को पूरी दुनिया में पसंद किया जाता है। चाय के मुकाबले कॉफी की लोकप्रियता थोड़ी ही कम है। क्या आपको पता है कॉफी के कितने सारे टाइप होते हैं, इस आर्टिकल से आप इससे जुड़ी सारी जानकारी विस्तार में प्राप्त कर सकते हैं।

बोरिंग सुबह को आप एनर्जी भरी सुबह में एक कप कॉफी से बदल सकते हैं। पुराने जमाने से कैफीन से भरपूर कॉफी को बहुत पसंद किया जा रहा है। यह आपके दिमाग को जगा देती है। कॉफी पीते समय इसका स्वाद, खुशबू और किस तरह से यह बनाई गई है यह बहुत जरुरी है। ऐसे बहुत सारे बेवरेज हैं जिनको कॉफी बीन्स की मदद से बनाया जाता है और हर एक बेवरेज अपने आप में ही अलग है।

कॉफी एक ऐसा बेवरेज है जिससे कॉफी बीन्स को रोस्ट कर बनाया जाता है। यह कड़वे होते हैं लेकिन कॉफी बनाने के तरीके पर निर्भर करता है कि इसका स्वाद कैसा होगा। कॉफी को दूध, पानी के साथ बनाया जाता है और इसके स्वाद को आप अपने पसंद के अनुसार कर सकते हैं। अगर आपको कॉफी पीना बहुत पसंद है तो आपको इसके कैफीन के असर के बारे में भी पता होगा। आइए कॉफी से जुड़े बेवरेज के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त कर लेते हैं। क्या पता नीचे दी गई लिस्ट में से आपको कोई पसंदीदा बेवरेज हो-

कॉफी के प्रकार

1. एस्प्रेसो

एस्प्रेसो सबसे पॉपुलर बेवरेज नहीं है लेकिन इसको बाकी बेवरेज जैसे कि लाटे और कैपुचिनो बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसको सबसे प्योर कॉफी बेरवेज माना जाता है। इसको कॉफी बीन्स और गर्म पानी में परफेक्ट तरीके से मिक्स कर बनाया जाता है। खुशबूदार एस्प्रेसो होने से इसमें रोस्टेड कॉफी की खुशबू होनी चाहिए। पानी को उबला कर उसमें कॉफी बीन्स डालें, जितनी देर आप उबालेंगे उतनी ही स्ट्रोंग कॉफी बनेगी।

एस्प्रेसो को सबसे प्योर कॉफी बेरवेज माना जाता है।

2. कैपुचिनो

कॉफी में यह सबसे पॉपुलर प्रकार है। कैपुचिनो कॉफी बनाने के लिए एस्प्रेसो, गर्म दूध, झाग वाले दूध को बरिस्ता के द्वारा टोपिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता है। कॉफी बीन्स के साथ दूध में मिक्स होने पर जो फ्लेवर आता है उसके कारण कैपुचिनो को ज्यादा पसंद किया जाता है। इस तरीके से बनाने के कारण इसका फ्लेवर इतना अच्छा होता है।

कॉफी बीन्स के साथ दूध में मिक्स होने पर जो फ्लेवर
आता है उसके कारण कैपुचिनो को ज्यादा पसंद किया जाता है।

3. लाटे

लाटे और कैपुचिनो को एक ही तरीके से और एक ही सामग्री से बनाया जाता है। हालांकि लाटे कॉफी में स्टीम दूध को इस्तेमाल किया जाता है और झाग वाले दूध का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं किया जाता है। इसी के कारण लाटे ज्यादा क्रीमी होती है। इसको सुबह पी सकते हैं अगर आपको कुछ कड़वा खाना है।

लाटे कॉफी में स्टीम दूध को इस्तेमाल किया जाता है
और झाग वाले दूध का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं किया जाता है।

4. कैफे अमेरिकानो

कैफे अमेरिकानो को एस्प्रेसो से बनाया जाता है लेकिन इसके बावजूद यह बाकी सभी कॉफी से अलग है। इसमें दूध पूरी तरह से गायब है। एस्प्रेसो को गर्म पानी में डाला जाता है इसलिए इसका स्वाद रोस्टेड कॉफी बीन्स की तरह आता है। साथ ही आप इसमें शुगर भी डाल सकते हैं।

अमेरिकानो, एक तरह की एस्प्रेसो है जिसमें गर्म पानी की मात्रा ज्यादा है।

इसमें दूध नहीं डाला जाता है।

5. मोचा

अगर आप कॉफी पीने के अनुभव को यादगार बनाना चाहते हैं तो आप चॉकलेट से भरी कॉफी पी सकते हैं। इसमें आपको कड़वे- मीठे चॉकलेटी फ्लेवर के साथ रोस्टेड कॉफी का स्वाद मिलेगा। इसके चॉकलेटी फ्लेवर के कारण यह बच्चों में बहुत पॉपुलर है। जिन लोगों को कॉफी पीना पसंद है उन लोगों के लिए यह अच्छा ऑप्शन है।

इसमें आपको कड़वे- मीठे चॉकलेटी फ्लेवर के साथ रोस्टेड कॉफी का स्वाद मिलेगा।

6. आयरिश कॉफी

अगर आपको अपने दिन की शुरुआत करने के लिए एनर्जी के साथ करनी है तो यह बेवरेज आपकी पसंद बन सकता है। इसमें कैफेन और एस्प्रेसो होने के बावजूद इसमें डाली गई दूसरी चीजों से आपको नींद आ सकती है। इस बेवरेज में दूध की जगह विस्की और शुगर है। यह आपकी रोजाना की कॉफी नहीं हो सकती है क्योंकि इसमें अल्कोहॉल है और इसको नजदीकी कॉफी शॉप में पाना भी मुश्किल है।

इस बेवरेज में दूध की जगह विस्की और शुगर है

7. लॉंग ब्लैक

इस कॉफी को ऑस्ट्रेलिया में पिया जाता है। यह कॉफी कैफे अमेरिकानो की तरह है। लॉंग ब्लैक को दो स्ट्रोंग एस्प्रेसो से बनाया जाता है। अमेरिकानो और इसमें गर्म पानी की मात्रा का फर्क है। लॉंग ब्लैक कॉफी में पानी की मात्रा अमेरिकानो के मुकाबले कम होती है। जिससे यह स्ट्रोंग और कड़वी होती है।

8. कैफे क्रेमा

ब्लैक कॉफी की केटेगरी में कैफे क्रेमा का नाम है। जहां अमेरिकानो और लॉंग ब्लैक काफी को एस्प्रेसो से बनाया जाता है वहीं कैफे क्रेमा में (brewing) के समय गर्म पानी डाला जाता है। यह एस्प्रेसो नहीं है। बल्कि यह स्वाद और खुशबू में हल्का एस्प्रेसो है।

9. वियना

यह पारंपरिक क्रीम वाली कॉफी को विप्ड क्रीम और एस्प्रेसो से बनाया जाता है। बाकी की कॉफी की तरह इसको पानी और दूध से नहीं बनाया जाता है। विप्ड क्रीम को एस्प्रेसो में तब तक डाला जाता है जब तक कप भर नहीं जाता है। बाद में इस पर चॉकलेट चिप्स भी डाल सकते हैं।

10. मेलांज (Melange)

यह यूरोप में सबसे पॉपुलर फ्लवेर है, खासकर वियना में। कुछ लोग इसको कैपुचिनो समझते हैं क्योंकि इसको एस्प्रेसो, स्टीम दूध और फोम टोपिंग से बनाया जाता है। लेकिन अगर आप इसको ध्यान से देखेंगे तो फर्क पता चल जाएगा। इसमें टोपिंग के लिए जो फोम डाला जाता है उसकी मात्रा काफी होती है।

11. कैफे मैकचीटो

एक और एस्प्रेसो टाइप की कॉफी लेकिन यह पूरी तरह से एस्प्रेसो नहीं है। इसमें थोड़ी मात्रा में फोम मिल्क होता है जिसको कॉफी में डाला जाता है जिससे मिल्की टैक्शर और फ्लेवर आता है। मैकचीटो एक इटालियन शब्द है जिसका मतलब है छनी हुई कॉफी (stained coffee) या फिर आप कह सकते हैं कॉफी जिसमें दूध कम होता है।

आखिर में

कॉफी कई सारे प्रकार हैं। जितनी कॉफी पॉपुलर है उतनी ही इसके फ्लेवर भी पॉपुलर हैं। सबसे ज्यादा पॉपुलर फ्लेवर के बारे में ऊपर बताया गया है। कॉफी को सदियों से पीया जा रहा है। चाहें वो ब्लैक कॉफी हो या फिर एस्प्रेसो, एक बार कॉफी को पीने के बाद आपको इससे प्यार हो जाता है।

Story Tags :

Leave a Reply on कॉफी के प्रकार- कॉफी पसंद करने वालों के लिए 11 च्वाइस

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*