पनीर के 20 अद्भुत फायदे, उपयोग और नुकसान - मिश्री
पनीर के अद्भुत फायदे, उपयोग और नुकसान

पनीर के 20 अद्भुत फायदे, उपयोग और नुकसान

पनीर के फायदे डाइट में बहुत आसानी से शामिल किए जा सकते हैं। पनीर के फायदे से जुड़ी जानकारी यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

यह दूध से बनता है और इसे कच्च या पकाकर खाया जा सकता है और प्रोटीन लेने का यह अच्छा आधार है। क्या आप पहचान सकते हैं?

प्रोटीन से भरपूर डाइट में दूध और दूध के प्रोडक्ट अहम रूप निभाते हैं। दूध के प्रोडक्ट में से पनीर एक ऐसा प्रोडक्ट है जो भारत में काफी पॉपुलर है और घर में कई सेहतमंद डिश बनाने के काम आता है। जितना इसे ग्रेवी और करी के रूप में पसंद किया जाता है उतना ही इसे कच्चा भी पसंद किया जाता है।

जैसा कि सभी को पता है कि पनीर प्रोटीन लेने का सबसे सिंपल और स्वादिष्ट आधार है। लेकिन आपको बता दें कि इसके अलावा पनीर के फायदे कई सारे हैं। पनीर के फायदे से जुड़ी जानकारी आप यहां से प्राप्त कर सकते हैं।

पनीर के फायदे

पनीर ना पसंद करने वाले लोगों को ढूंढना मुश्किल हो सकता है। पनीर को बनाना और पचाना बहुत आसान है। इसमें कई सारे पौष्टिक आहार पाए जाते हैं। मांसपेशियों के विकास के लिए पनीर बहुत जरूरी होता है क्योंकि यह प्रोटीन से भरपूर है। भारत में पनीर शाकाहारी लोगों के द्वारा प्रोटीन की कमी दूर करने के लिए खाया जाता है।

1. मजबूत हड्डियां

पनीर के फायदे में से यह फायदा सबको पता है कि यह हड्डियां मजबूत करने में मदद करता है। इसमें मौजूद कैल्शियम बच्चों में हड्डियों को मजबूत करने में मदद करता है। 

2. स्वस्थ डाइजेशन

पनीर में फास्फोरस पाया जाता है जो डीएनए और आरएनए बनाना में अहम रूप निभाता है। इसमें फॉस्फेट होने के कारण यह खाना पचाने में और शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है। इसके अलावा पनीर के फायदे यह है कि यह शरीर में एनर्जी को बढ़ाने में भी मदद करता है।

कटा हुआ पनीर
पनीर के लाभ स्वस्थ डाइजेशन के लिए

3. गर्भावस्था

गर्भवति महिलाओं को प्रोटीन और कैल्शियम चाहिए होता है जो बच्चे के विकास के लिए बहुत जरूरी होता है। पनीर के फायदे मां और शिशु को सेहतमंद बनाए रखने में मदद करते हैं।

4. कसरत

पनीर को प्रोटीन का भंडार कहा जा सकता है। पनीर के फायदे सबसे ज्यादा खेल- कूद करने वाले लोगों के लिए और सेहत के प्रति सतर्क करने वाले लोगों को मिलते हैं। खासकर उनके लिए जो बॉडी बनाने के लिए कसरत करते हैं। कैसिइन बहुत धीमी गति से पचने वाला प्रोटीन है जो एनर्जी देता है जिस कारण से पनीर को डाइट में शामिल करने के पनीर के फायदे और ज्यादा हो जाते हैं।

संबंधित आर्टिकल: टॉप 30 पनीर की दिलचस्प डिश

कसा हुआ पनीर
पनीर के फायदे कसरत के लिए

5. स्वस्थ दिल और सामान्य ब्लड प्रेशर लेवल

पनीर जैव रासायनिक प्रतिक्रियाओं को बढ़ावा देता है, कई एंजाइम को पैदा करता है, मांसपेशियों और नसों के काम में मदद करता है और इम्यून सिस्टम को सहारा देता है। ऊपर पनीर के फायदे बताए गए के अलावा यह ब्लड शुगर लेवल को सामान्य बनाए रखता है, कब्ज, माइग्रेन का ध्यान रखता है और कोलेजन को बढ़ा देता है।

6. जैविक कार्य

पनीर के फायदे जिंक होने के कारण बढ़ जाते हैं। पनीर खाने के फायदे कई हैं जैसे कि इम्यून सिस्टम, डाइजेशन स्वस्थ करता है, कंट्रोल डायबिटीज, चिंता से लड़ने में मदद, रात में ना दिखने वाली बीमारी का इलाज, स्वस्थ आंखे, भूख कम होने से रोकता है, प्रोस्टेट की परेशानी से बचाता है और विभिन्न इंफेक्शन से भी लड़ता है।

चीज़
पनीर के लाभ जैविक कार्य सुधारने के लिए

7. स्ट्रेस कम करने के लिए

पनीर के फायदे पोटैशियम के कारण भी कई हैं। पोटैशियम होने के कारण पनीर तरल पदार्थ से संतुलन बनाए रखने का भी काम करता है। यह मांसपेशियों और दिमाग के लिए महत्वपूर्ण है। यह मांसपेशियों को अकड़ने नहीं देता है। सही मात्रा में पोटैशियम का सेवन करने से दिमाग में स्ट्रोक होने के आसार कम हो जाते हैं। यह चिंता के लेवल को भी कम करता है।

8. विटामिन बी कॉम्लेक्स

पनीर विटामिन बी का अच्छा आधार है। बी12 को दिमाग से सही काम करने के लिए जरूरी माना जाता है और यह आयरन अब्जॉर्ब करने में मदद करता है। राइबोफ्लेविन कार्बोहाइड्रेट को एनर्जी में बदलने में मदद करता है। पैंटोथेनिक एसिड एक सिंथेसाइज़र के रूप में कार्य करता है और हमारे शरीर में प्रोटीन, फैट, कार्बोहाइड्रेट और अमीनो एसिड को बनाने में मदद करता है। थायमिन पाइरूवेट डिहाइड्रोजनेज सिस्टम में शुगर को एनर्जी में बदलने में मदद करता है। वहीं नियासिन, डाइजेशन, एनर्जी को प्रोड्यूज और कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है। फोलेट, गर्भवति महिलाओं में शिशु के विकास में मदद करता है, रेड ब्लड सेल को प्रोड्यूज करता है और दिल को सेहतमंद करने में भी मदद करता है।

कटोरी में पनीर
पनीर के फायदे स्ट्रेस कम करने के लिए

9. स्वस्थ दांत

पनीर के फायदे इसमें मौजूद प्रोटीन, कैलेशियम के कारण हैं जिससे हड्डियों और दांतों को मजबूत करने में मदद मिलती है। इससे शरीर का बचाव कई बीमारी से रहता है जैसे कि ऑस्टियोपोरोसिस, जोड़ों में दर्द और दांतों की समस्या जैसे दांतों में सड़न और मसूड़ों की समस्याएं आदि। लैक्टोज का लेवल कम होने से यह दांतों को हानिकारक शुगर से बचाकर रखता है। पनीर के फायदे में से यह एक महत्वपूर्ण फायदा है।

10. एनर्जी

कसरत करने के बाद पनीर के फायदे तुरंत एनर्जी देने में दिखाई देते हैं। शरीर में कैलोरी की जरुरत को पूरा करता है। इसके अलावा हड्डियों विकास में भी मदद करता है। इसलिए पनीर के फायदे हर किसी के लिए होते हैं।

संबंधित आर्टिकल: आईडी नेचुरल पनीर रिव्यू

पनीर डिश
पनीर के लाभ तुरंत एनर्जी देते हैं

11. गठिया

पनीर में ओमेगा- 3 फैटी एसिड और ओमेगा- 6 फैटी एसिड पाया जाता है जो रुमेटीयड आर्थराइटिस और बाकी की हड्डियों से जुड़ी परेशानी से लड़ने में मदद करता है।

12. दांतों में सड़न

पनीर में विटामिन डी के साथ कैल्शियम भी होता है जो दांतों को सड़न से बचाकर रखता है और स्वस्थ दांत रखने में सहायता करता है।

सलाद पर पनीर
पनीर के फायदे दांतों में सड़ने के लिए

13. हाई प्रोटीन

पनीर के फायदे वजन कम करने के लिए भी जाने जाते हैं। पनीर हाई प्रोटीन खाना है जिसमें मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसैचुरेटेड फैट पाया जाता है जो वजन कम करने में मदद करता है। इसके अलावा इंसूलिन भी सामान्य बना रहता है।

14. मेटाबोलिज्म

इसमें डायट्री फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है जिससे मेटाबोलिज्म में सुधार होने से डाइजेशन में भी सुधार हो जाता है। ऐसे पनीर के फायदे मेटाबोलिज्म सुधारने में मदद करते हैं।

चीज़ काटते हुए
पनीर के फायदे मेटाबोलिज्म सुधारने के लिए

15. सेहतमंद दिल

पनीर लिपिड प्रोफाइल को सामान्य बनाए रखता है जो ब्लड प्रेशर को कम रखता है दिल से जुड़ी बीमारी जैसे कि हार्ट अटैक, स्ट्रोक होने के आसार को कम कर देता है।

16. कंट्रोल ब्लड प्रेशर

पनीर में मौजूद पोटैशियम हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है।

संबंधित आर्टिकल: पतंजली पनीर रिव्यू

प्लेट में चीज़
पनीर के फायदे सामान्य ब्लड प्रेशर के लिए

17. ओमेगा- 3 फैटी एसिड

ओमेगा- 3 फैटी एसिड पनीर में मौजूद होता है। इसके होने से पनीर के फायदे डायबटीज से गुजर रहे लोगों को होते हैं। यह होमोसिस्टीन लेवल को कम करने में मदद करता है।

18. टाइप-2 डायबिटीज

पनीर के फायदे में से एक यह है कि यह टाइप- 2 डायबटीज होने के आसार को कम कर देता है। इंसूलिन के विकास, मैक्रो और माइक्रोवस्कुलर के काम में सुधार करके ग्लूकोज और हाइपर टेंशन में सुधार करता है।

19. एंटीऑक्सीडेंट

सेलेनियम एक बहुत महत्तवपूर्ण एंटीऑक्सीडेंट होता है जो सेल को डीएनए को नुकसान से बचाकर रखता है। यह माना जाता है कि सही मात्रा में सेलेनियम का सेवन करने से प्रोस्टेट कैंसर होने के आसार कम हो जाते हैं। एक नए अध्ययन में सामने आया है कि जिन लोगों को पेट का कैंसर है और वो लोग डेयरी प्रोडक्ट का सेवन करते हैं तो उनके जीने का समय बढ़ जाता है। (रिसर्च अभी जारी है)

पनीर
पनीर के फायदे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर

पनीर का उपयोग

पनीर के फायदे कई सारे हैं। बॉडी बनाने के लिए पनीर में भारी मात्रा में प्रोटीन और कैल्शियम पाया जाता है। यह हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाने में मदद करता है और शरीर को खराब नहीं होने देता है। पनीर खासकर बच्चों के लिए लाभदायक होता है क्योंकि यह इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है और खांसी, अस्थमा जैसी बीमारी को दूर रखने में मदद करता है। पनीर खाने से महिलाओं में मेनोपॉज चिंता कम करता है। यह पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस का विकास को देर से करता है।

पनीर में जिंक की मात्रा ज्यादा होती है जिससे शुक्राणु संबंधी रोग होने के आसार कम हो जाते हैं। शाकाहारी लोगों के लिए पनीर के माध्यम से शरीर में प्रोटीन की जरुरत पूरी करने के लिए इसका सेवन करना जरुरी है। कई फास्ट- फूड कैफे और रेस्तरां में पनीर की कई डिश पॉपुलर हैं जैसे कि कढ़ाई पनीर, पनीर बटर मसाला और शाही पनीर। रसगुल्ला एक मीठी मिठाई है जिसको छेना से बनाया जाता है और छेना को पनीर से बनाया जाता है जिसकी डिमांड मार्किट में बहुत है।

सफेद और पीला चीज़
पनीर का उपयोग कैसे करें

डेयरी प्रोडक्ट होने के कारण पनीर में फैट से भरपूर है। जो लोग गतिरहित जीवन जी रहे हैं या फिर जिनको पहले से दिल की बीमारी है उन लोगों के लिए अधिक मात्रा में पनीर का सेवन हाई कोलेस्टॉल के खतरे को बढ़ा देता है। पनीर खाने के साथ- साथ कसरत करना आपको ज्यादा फायदे देगा।

अगर आपको डेयरी प्रोडक्ट से एलर्जी है तो हो सकता है कि पनीर से भी आपको एलर्जी हो।

इसके अलावा आपको पनीर सिर्फ विश्वसनिय विक्रेता से ही खरीदना चाहिए। खराब क्वालिटी का पनीर या फिर अस्वस्थ जगह में बनाया गया पनीर आपको स्किन एलर्जी दे सकता है। या फिर दस्त भी लग सकते हैं जिससे शरीर से पानी ज्यादा मात्रा में निकलेगा। बेकार पनीर खाने पेट खराब हो सकता है। पनीर में नमी की मात्रा ज्यादा होती है जिससे इसकी शेल्फ लाइफ कम हो जाती है। पनीर को हमेशा ताज़ा ही खाना चाहिए। पनीर में मौजूद सेडियम से हाइपर टेंशन हो सकती है जिससे दिल की बीमारी के आसार बढ़ जाते हैं।

आखिर में

हर चीज़ के फायदे और नुकसान होते हैं। वैसे ही पनीर के फायदे और नुकसान दोनों ही हैं। पनीर के फायदे लेने के लिए आपको इसका सेवन सही मात्रा में करना होगा। अनियमित रूप से इसका सेवन करने आपको कई सारी परेशानी हो सकती हैं। ज्यादा पनीर खाने से खासकर ज्यादा तेल औ मसालों में पकाने से आपका वजन भी बढ़ सकता है।

पनीर के नुकसान को ध्यान में रखकर अगर इसका सेवन किया जाए तो शाकाहारी डाइट में पनीर लाभदायक साबित हो सकता है। इससे प्रोटीन, विटामिन और कई मिनरल्स मिलते हैं। यह आपको स्वस्थ जिंदगी जीने में मदद करता है।

पनीर से बनने वाली आपकी फेवरेट डिश क्या है? हमें कमेंट में बताएं।

FAQs

 

जी हां, पनीर रोजाना सही मात्रा में खा सकते हैं। पनीर के फायदे कई सारे हैं। शाकाहारी लोगों को पनीर जरुर खाना चाहिए क्योंकि पनीर में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है जो सेहतमंद रखने में मदद करता है।

पनीर खाने से पेट लंबे समय के लिए भरा रहता है क्योंकि को पचने में ज्यादा समय लगता है। जिस कारण से भूख कम लगती है और बार- बार खाना नहीं खाते हैं जिससे वेट लॉस में मदद मिलती है और वजन बढ़ता नहीं है।

यह बात सच है कि पनीर में फैट पाया जाता है लेकिन यह फैट सेहत के लिए अच्छा होता है जो बुरे कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है और साथ ही कोलेस्ट्रॉल को सामान्य बनाए रखता है।

एक दिन में 20 ग्राम से ज्यादा पनीर का सेवन नहीं करना चाहिए। लेकिन अगर आप सेहत के प्रति सर्तक हैं और पनीर को रोजाना डाइट में शामिल करना चाहते हैं तो आप डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।

Subscribe to our Newsletter

0 0 votes
User Rating
Notify of
Notify of
guest
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments